बिहार : किन्नर होकर पहचान प्रदर्शित करते नही : रेशमा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 20 अक्तूबर 2020

बिहार : किन्नर होकर पहचान प्रदर्शित करते नही : रेशमा

reshma-third-gender-candidate
गोपालगंज. लोक जनशक्ति पार्टी ने थर्ड जेंडर प्रत्‍याशी को उतारकर सभी राजनीतिक दलों को चौंका दिया है.वह चौंकाने वाला शख्स है राम दर्शन प्रसाद उर्फ मुन्‍ना किन्‍नर.  बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में किस्मत अजमाएंगे.हथुआ विधानसभा के लोग हथुआ सीट पर राम दर्शन प्रसाद उर्फ मुन्‍ना किन्‍नर को विजयी बनाकर   विधानसभा में भेजने को कटिबद्ध हैं.इससे पहले हथुआ के लोग जिला परिषद में जिला पार्षद बना चुके हैं. रेशमा प्रसाद ने हथुआ विधानसभा के प्रत्याशी पर कहा है कि वह15 सालों से राजनीति कर रहा है.जो व्यक्ति राजनीति में है.पुरुष,महिला और तृतीय लिंगी वोटर लिस्ट 2004 से बनते हैं और अभी तक उसने अपने आप को कभी ट्रांसजेंडर बोला भी नहीं है.तृतीय लिंग वोटर आईडी नहीं लिया है. आधार कार्ड भी नहीं लिया है तो वह खुद को कैसे किन्नर बोल रहे हैं.आप लिख सकते हैं कि वह दावा करती हैं और अपने आप को घोषित करती हैं कि वह एक किन्नर है परंतु उनके पास अभी तक तृतीय लिंगी वोटर आईडी कार्ड पैन कार्ड आधार कार्ड या कोई भी ऐसी पहचान पत्र नहीं है जिससे वह अपने आप को  तृतीय लिंगी कह सकें.ऐसे लोग राजनीति में आकर क्या करेंगे?भगवान जाने जो खुद की पहचान के लिए अग्रसर ना हो. जिले के छह विधानसभा सीटों के दाखिल नामांकन पत्रों की संवीक्षा की गई.संवीक्षा का हिंदी में मतलब: संवीक्षित, संवीक्ष्य किसी चीज या बात के विल्कुल ठीक होने की ऐसी जाँच पड़ताल जिसमें ब्यौरे की छोटी से छोटी भूल चूक पर भी पूरा पूरा ध्यान रखा जाता है.संवीक्षा के दौरान नामांकन पत्र दाखिल करने वाले कुल 110 प्रत्याशियों में से 13 लोगों के नामांकन पत्र को त्रुटि के आधार पर रद कर दिया गया.जिन नामांकन पत्रों को रद किया गया है, उनमें बरौली विधानसभा सीट से जाप के सिबल पर नामांकन दाखिल करने वाले विजय प्रताप सिंह तथा हथुआ से द प्लूरल्स पार्टी के टिकट पर नामांकन करने वाले प्रत्याशी मनीष कुमार यादव प्रमुख हैं .नामांकन पत्रों की संवीक्षा के बाद जिले के छह विधानसभा सीटों के लिए कुल 97 प्रत्याशी चुनाव मैदान में रह गए हैं.03 नवम्बर को चुनाव है. एलजेपी दूसरे चरण के लिए प्रत्‍याशियों के चयन में एक बार फ‍िर सवर्णों और दलितों पर मेहरबान दिख रही है. लिस्‍ट में भूमिहारों और मैथिल ब्राह्मणों के साथ कई दलितों को टिकट दिया गया है. इसके अलावा महिला उम्‍मीदवारों की भी अच्‍छी संख्‍या है. अब पार्टी ने हथुआ सीट पर थर्ड जेंडर को उतार कर बाजी मार ली है. दूसरे चरण में जिले के छह विधानसभा सीटों के दाखिल नामांकन पत्रों की संवीक्षा की गई.संवीक्षा के दौरान नामांकन पत्र दाखिल करने वाले कुल 110 प्रत्याशियों में से 13 लोगों के नामांकन पत्र को त्रुटि के आधार पर रद कर दिया ग.जिन नामांकन पत्रों को रद किया गया है, उनमें बरौली विधानसभा सीट से जाप के सिबल पर नामांकन दाखिल करने वाले विजय प्रताप सिंह तथा हथुआ से द प्लूरल्स पार्टी के टिकट पर नामांकन करने वाले प्रत्याशी मनीष कुमार यादव प्रमुख हैं.नामांकन पत्रों की संवीक्षा के बाद जिले के छह विधानसभा सीटों के लिए कुल 97 प्रत्याशी चुनाव मैदान में रह गए हैं.

शनिवार को नामांकन पत्रों की जांच के दौरान बैकुंठपुर विधानसभा सीट से नामांकन पत्र दाखिल करने वाले सभी 13 प्रत्याशियों के नामांकन वैध पाए गए.जिसमें निवर्तमान विधायक मिथिलेश तिवारी, राजद के प्रेमशंकर प्रसाद, राकांपा की वंदना सिंह, पूर्व विधायक व निर्दलीय मंजीत कुमार सिंह, द प्लूरल्स पार्टी के अतुल कुमार गौतम, जनवादी पार्टी के उत्तम कुमार चौहान, जन संघर्ष विराट पार्टी के भैरव सिंह, निर्दलीय मनोज कुमार रंजन, निर्दलीय मदन राय, निर्दलीय मोहन महतो, निर्दलीय रंजीत सिंह, निर्दलीय राजेंद्र प्रसाद तथा निर्दलीय सुरेश कुमार सिंह शामिल हैं.कुचायकोट विधानसभा सीट से निर्दलीय नामांकन पत्र दाखिल करने वाले राकेश चौधरी तथा नेपाल साह का नामांकन पत्र रद कर दिया गया .इस प्रकार इस सीट से निवर्तमान विधायक जदयू के अमरेंद्र कुमार पाण्डेय कांग्रेस के काली प्रसाद पाण्डेय, लोजपा के रवि पाण्डेय, रालोसपा की सुनीता देवी, बहुजन मुक्ति पार्टी के मोहाहिद राजा, भारतीय जननायक पार्टी के एसुब अनवर, हिदू समाज पार्टी के विनय राय, अपना किसान पार्टी के विश्वकर्मा शर्मा, निर्दलीय सुधांशु कुमार पाण्डेय, निर्दलीय अजीत कुमार चौबे, निर्दलीय सुनील कुमार जायसवाल, निर्दलीय सदमान अली तथा निर्दलीय हरिनारायण सिंह अब चुनाव मैदान में है.हथुआ विधानसभा सीट से द प्लूरल्स पार्टी के मनीष कुमार यादव का नामांकन पत्र रद कर दिया गया.अब इस सीट से सूबे के समाज कल्याण मंत्री सह जदयू प्रत्याशी रामसेवक सिंह, राजद के राजेश कुमार सिंह, लोजपा के रामदर्शन प्रसाद उर्फ मुन्ना किन्नर, राकंपा के सबीब आलम बहुजन समाज पार्टी के सुरेंद्र राम, भारतीय राष्ट्रीय दल के सुरेंद्र राम, वंचित समाज पार्टी के अभिनंदन पाठक, जनता पार्टी के काशीनाथ सिंह, राष्ट्रीय जनजागरण मोर्चा के इंद्रजीत गुप्त, बहुजन मुक्ति मोर्चा के मोहम्मद मुस्तफा, निर्दलीय सुरेंद्र गुप्ता, निर्दलीय डॉ. शशिभूषण राय, निर्दलीय श्रीराम भगत, निर्दलीय मकसुदन प्रसाद सिंह तथा निर्दलीय राजकुमार श्रीवास्तव चुनाव मैदान में रह गए हैं.भोरे सुरक्षित सीट से सुनैना देवी का नमांकन पत्र रद कर दिया गया है. इस सीट से जदयू के सुनील कुमार, भाकपा माले के जितेंद्र पासवान, मनोज कुमार बैठा, विशाल कुमार भारती, जितेंद्र कुमार राम, अजय कुमार भारती, दुलारचंद्र राम, विनोद बैठा, सुरेंद्र राम, जितेंद्र राम व रिकी देवी के नामांकन पत्र वैद्य पाए गए हैं.गोपालगंज विधानसभा सीट से संवीक्षा के दौरान जनसंभावना पार्टी के कमलेश प्रसाद का नामांकन रद कर दिया गया. इस सीट से निवर्तमान विधायक व भाजपा प्रत्याशी सुभाष सिंह, कांग्रेस के आसिफ गफूर, बसपा के अनिरुद्ध प्रसाद उर्फ साधु यादव, राकांपा के सिकंदर आजम, जन संघर्ष दल के अब्दुल सलाम, राष्ट्रीय रिपब्लिक पार्टी के इम्तेयाज अहमद, हिदू समाज पार्टी के चंदन सिंह, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के प्रमोद कुमार, जन अधिकार पार्टी के मिथिलेश कुमार गुप्ता, अपना किसान पार्टी के मोतीलाल प्रसाद, जनता पार्टी के राजु कुमार यादव, अखिल हिद फारवर्ड ब्लाक के विनय कुमार, द प्लूरल्स पार्टी के विवेक कुमार चौबे, भारतीय इंसान पार्टी के मो. हायातुल्लाह के अलावा निर्दलीय राजीव कुमार, ललन प्रसाद बिद, वकार अहमद, विनेाद कुमार राय, शंभू सिंह, शिवजी प्रसाद, संजय कुमार प्रसाद संजय चौबे तथा सुनीता शर्मा चुनाव मैदान में रह गई हैं. बरौली विधानसभा सीट से जाप के प्रत्याशी विजय प्रताप सिंह के अलावा जयनाथ प्रसाद यादव, हरेराम शर्मा, मुकेश कुमार राय, योगेंद्र भगत, शिव कुमार, अनिल कुमार, प्रमोद कुमार का नामांकन रद कर दिया गया.अब इस सीट से भाजपा के रामप्रवेश राय, राजद के रेयाजुल हक राजू, एनसीपी के सचिन कुमार सिंह, बसपा के शाह आलम, जनता पार्टी की पूनम प्रसाद, भारतीय इंसान पार्टी के महम्मद फैयाज आलम, जनतांत्रिक लोकहित पार्टी के सत्येंद्र कुमार पटेल, राष्ट्रीय जन कांग्रेस के मो. शमसाद, प्लूरल्स पार्टी के रमेश कुमार गुप्ता, भारतीय बहुजन कांग्रेस पार्टी की मंजू कुमारी, प्रमेंद्र कुमार यादव, शिव कुमार, रुदल महतो, सुनील कुमार यादव, अभिषेक रंजन, चितलाल साह सहित 20 लोगों के नामांकन सही पाए गए हैं. मुन्ना किन्नर वर्तमान समय में हथुआ के जिला पार्षद हैं. इससे पहले वह 2007 में वे जिला पार्षद का चुनाव लड़ चुके हैं मगर इस चुनाव में उन्‍हें हार का सामना करना पड़ा था. इसके बाद 2012 में उन्‍होंने फुलवरिया से और 2015 में हथुआ से पार्षद का चुनाव जीता. मुन्‍ना की गिनती जुझारू नेताओं में होती है जो स्‍थानीय समस्‍याओं को लेकर हमेशा से मुखर रहे हैं. 

कोई टिप्पणी नहीं: