बिहार : सुशील मोदी ने ट्वीट कर लालू प्रसाद यादव पर तीखा हमला बोला - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 12 अक्तूबर 2020

बिहार : सुशील मोदी ने ट्वीट कर लालू प्रसाद यादव पर तीखा हमला बोला

sushil-modi-attack-lalu-yadav
पटना. गलती से भी अगर उनकी सरकार बनी, तो वे दस लाख लोगों को नौकरी नहीं, दस लाख कट्टे जरूर थमा सकते हैं. बिहार के उपमुख्यमंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट कर राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के मुखिया लालू प्रसाद यादव पर तीखा हमला बोला है.  उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में कहा कि देश के लाखों गरीबों को मनरेगा जैसी योजना देने वाले रघुवंश प्रसाद सिंह का राजद ने इतना अपमान किया कि उन्हें एम्स के बेड से ही पार्टी से अपना इस्तीफा भेजना पड़ा था. लालू प्रसाद उन्हें मनाने में विफल रहे. डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि रघुवंश प्रसाद जिस बाहुबली को पार्टी में शामिल करने के खिलाफ अंतिम सांस तक लड़े, उसकी पत्नी को टिकट देकर राजद ने रघुवंश बाबू के आदर्शों और गरीबों के सम्मान पर दबंगई का बुलडोजर चला दिया.वहीं राजद ने बलात्कार के मामले में सजायाफ्ता और फरार अभियुक्त की पत्नियों तथा बाहुबली अनंत सिंह को पार्टी का टिकट देकर साबित कर दिया कि लालू-राबड़ी राज की दबंगई-कुशासन के लिए तेजस्वी प्रसाद यादव का माफी मांगना बेमानी था. भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने कहा कि जो लोग लोकतंत्र बचाने के लिए यात्रा करने की नौटंकी करते थे, उनके एक विधायक से जब दलित मतदाता ने पांच साल के काम ब्योरा मांग लिया, तो विधायक जी फोन पर ही उसे भद्दी-भद्दी गालियां देने लगे. जगदीशपुर से राजद के उम्मीदवार मुकदमा वापस लेने के लिए पुलिस को थाना उड़वाने की धमकी देते रिकार्ड कर लिए गये.  सुशील मोदी ने आगे कहा कि सोशल मीडिया पर चलने वाले दोनों ऑडियो-वीडियो टेप यदि सही हैं, तो जाहिर है कि लालू प्रसाद की पार्टी बिहार में फिर जंगल राज लाना चाहती है. गलती से भी अगर उनकी सरकार बनी, तो वे दस लाख लोगों को नौकरी नहीं, दस लाख कट्टे जरूर थमा सकते हैं.  इस पर प्रतिक्रिया देते हुए मनीष कुमार कहते हैं कि और आप 10 लाख नौकरी पर कुंडली मारे बैठे रहिएगा ?? ये जो वर्षो से पद रिक्त पड़े है, यह15 साल NDA की निक्कमी सरकार की एक उपलब्धि हैं.ये जो रिक्ति हैं, किसी की बाप की नहीं हैं, जो दबा के बैठे हैं। बेरोजगार रोहित कुमार ने कहा कि एक मौका तो जरूर देंगे 10 लाख न सही 5 लाख ही मिलेंगे आपकी सरकार में कितनी मिल गई, 2014 में वैकेंसी आई आज तक अधूरी है. के के सिंह ने कहा कि क्षमा करेंगे माननीय उपमुख्य मंत्री जी,आदरणीय मोदी जी के चेहरे पर जितनी सीट जीत जांय , अपनी पूंजी आप लोगों की शून्य है। कौन वर्ग ऐसा है जो आज सरकार के कार्यों से संतुष्ट है.बिना घूस के कोई काम नहीं होता है.अधिकारी सुनते नहीं.विकास तो ऐसा है कि मुंगेर रेल सड़क पथ रो रहा है.यह जंगल राज नहीं है?

कोई टिप्पणी नहीं: