विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 18 ऑक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 18 अक्तूबर 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 18 ऑक्टूबर

अवैध डिनेर्च्ड स्प्रिट युक्त दवा पदार्थो की जांच हेतु समिति गठित

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा जिले में संचालित मेडीकल स्टोर्स एवं अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठानो में अवैध रूप से ‘‘डिनेर्च्ड स्प्रिट’’ युक्त दवा पदार्थो के विक्रय की जांच हेतु समिति गठित करने का आदेश जारी कर दिया है।  कलेक्टर द्वारा गठित समिति में अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व), कार्यपालिक मजिस्ट्रेट, अनुविभागीय अधिकारी, पुलिस, थाना प्रभारी, संबंधित थाना प्रभारी, उप निरीक्षक के अलावा आबकारी उप निरीक्षक, प्रभारधीन वृत्त क्षेत्र क्रमशः विदिशा अ-ब, बासौदा सिरोंज, कुरवाई को तथा औषधी निरीक्षक विदिशा को शामिल किया गया है।  कलेक्टर डॉ जैन ने जांच समिति को निर्देशित किया है कि सम्पूर्ण विदिशा जिले में संचालित मेडीकल स्टोरो की गहन जांच कर यह सुनिश्चित करें कि उनके द्वारा अवैध रूप से ‘‘डिनेर्च्ड स्प्रिट’’  युक्त दवाओं, पदार्थो एवं अन्य हानिकारक  उत्पादो का भण्डारण एवं विक्रय तो नही किया जा रहा है यदि किसी दुकान में उपरोक्त पदार्थो का विक्रय किया जाना पाया जाता है तो संबंधित दुकान संचालक के विरूद्व नियमानुसार आपराधिक प्रकरण दर्ज करने की कार्यवाही करें।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने इसके अलावा जिला आबकारी अधिकारी श्री शैलेष जैन को भी आदेश दिया है कि विदिशा जिले की सम्पूर्ण देशी, विदेशी मदिरा दुकानो का आबकारी अमले के द्वारा गहन निरीक्षण व परीक्षण कराया जाए ताकि किसी भी प्रकार की अनियमितता पाए जाने पर विधिसम्मत कार्यवाही किया जाना सुनिश्चित करें। 

कोविड 19 अनुकूल व्यवहार परिवर्तन सघन अभियान 

विदिशा जिले में भी कोविड 19 अनुकूल व्यवहार परिवर्तन सघन अभियान सात अक्टूबर से शुरू हुआ है जो 30 नवम्बर तक क्रियान्वित किया जाएगा। अभियान की निहित बिन्दुओं से अवगत होकर क्रियान्वित कराने के निर्देश महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने समस्त परियोजना अधिकारियों को दिए है। कोविड 19 संक्रमण काल में कोविड संक्रमण के प्रकरण लगातार पाए जा रहे है साथ ही लॉकडाउन की अनलॉक प्रक्रिया लागू होने से विभिन्न गतिविधियो के प्रारंभ होने तथा लोगो के एक स्थान पर एकत्रित होने की स्थिति निर्मित हो रही है। शीत ऋतु में वातावरण का तापमान कम हो जाता है जो वायरस के प्रसार के लिए उपयुक्त हो सकता है।  कोविड 19 संक्रमण से शीतकाल में बचाव हेतु व्यवहार परिवर्तन की आवश्यकता को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से सात अक्टूबर से तीस नवम्बर तक  अनुकूल व्यवहार परिवर्तन सघन अभियान चलाया जा रहा है जिसकी थीम सावधानी में ही सुरक्षा है और पंचलाइन कोरोना से बचने के लिए जरूरी है मास्क पहने, धोते रहे हाथ रखे दो गज की दूरी इत्यादि।  व्यवहार परिवर्तन सघन जांच अभियान के तहत महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा जो कार्यवाही सम्पादित की जाएगी उसमें आंगनबाडी कार्यकर्ताओं द्वारा टेकहेम राशन वितरण के लिए गृह भेंट के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु उक्त संदेशो का प्रचार-प्रचार कराया जाएगा। इसके अलावा आंगनबाडी केन्द्रों एवं क्षेत्रों में होने वाली बैठकों में चर्चाओं के माध्यम से बचाव के संदेशो का प्रचार-प्रसार किया जाएगा। इसके लिए प्रत्येक परियोजना स्थल पर पृथक-पृथक कार्ययोजना तैयार की गई है ताकि अभियान के उद्वेश्यों का अक्षरशः पालन कराया जाना सुनिश्चित हो।  क्रमांक 90 अहरवाल 

पोषण मटका का आयोजन

vidisha news
आंगनबाडी केन्द्रों पर पोषण अभियान के अंतर्गत पोषण मटका एवं साप्ताहिक बाल भोज कार्यक्रमों का आयोजन प्रत्येक परियोजना के अंतर्गत आंगनबाडी केन्द्रों में किया जा रहा है। आंगनबाडी केन्द्रों पर पोषक तत्वों पर आधारित खाद्य पदार्थो का वितरण खासकर उन बच्चों को वितरित किया जा रहा है जो शारीरिक रूप से कमजोर है।  पोषण मटका का कंसेप्ट मुख्य रूप से आंगनबाडी केन्द्रो के प्रति आमजनो का रूझान बढे और क्षेत्र के कुपोषित बच्चों को समय पर सुपोषण हेतु आवश्यक खाद्य पदार्थो की आपूर्ति सहयोग से भी संभव हो सकें। प्रत्येक आंगनबाडी केन्द्र पर एक पोषण मटका रखा गया है जिसमें आंगनबाडी केन्द्र में आने वाले गणमान्य नागरिक, आमजन एवं बच्चो के अभिभावक स्वेच्छा से जो भी खाद्य सामग्री दान करना चाहते है वे सामग्री को मटके में डाल देते है। सप्ताह के एक दिन मटके में संग्रहित खाद्य सामग्री को तैयार कराकर आंगनबाडी केन्द्रों में दर्ज कुपोषित बच्चो के मध्य व्यंजनों के रूप में परोसी जाती है।  एकीकृत बाल विकास विदिशा शहरी परियोजना के परियोजना अधिकारी श्री संजय सिंह ने बताया कि शनिवार को बडा बाजार में स्थित आंगनबाडी केन्द्र क्रमांक 93, 94 एवं 26 में आयोजन किया गया था। उक्त आंगनबाडी केन्द्रों की कार्यकर्ता कल्पना विशवास, दृष्टि नामदेव और सलेहा खॉन के द्वारा पोषण मटका का वृहद आयोजन किया गया और स्थानीय दर्ज बच्चों को सुपोषण खाद्य पदार्थो का वितरण किया गया है।  

अवैध मदिरा की धरपकड़ जारी

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में आबकारी विभाग द्वारा जिले में अवैध मदिरा के क्रय-विक्र्रय एवं भण्डारण की धरपकड़ कार्य युद्वगति से जारी है। जिला आबकारी अधिकारी श्री शैलेष जैन के मार्गदर्शन में क्रियान्वित विशेष अभियान के तहत शनिवार को विदिशा में मुखबिरो से प्राप्त सूचना के आधार पर कार्यवाही की गई है। सहायक आबकारी अधिकारी एवं कंट्रोल रूम प्रभारी श्री राहुल ढोंके ने बताया कि आबकारी विभाग के वृत्तो विदिशा अ एवं विदिशा ब में शनिवार को प्राप्त गुप्त सूचनाओं के आधार पर ग्राम बालाबरखेडा, ऊदलाखेडी, परिहार ढाबा में दबिश देकर 31 पाव देशी मसाला मदिरा, 14 पाव देशी प्लेन मदिरा एवं 12 लीटर हाथ भट्टी मदिरा जप्त कर कुल पांच प्रकरण आबकारी अधिनियमों की धाराओं के तहत पंजीबद्व किए गए है। कार्यवाही में बरामद मादक पदार्थो का बाजार मूल्य लगभग साढे आठ हजार रूपए आंकलित किया गया है। 

स्वास्थ्य कार्यो की समीक्षा 

vidisha news
विदिशा बीएमओ डॉ एके उपाध्याय के द्वारा पीपलखेडा सेन्टर क्षेत्र में स्वास्थ्य कार्या की समीक्षा की। उन्होंने अनमोल एप एवं एचएमआईएस की रिपोर्ट के आधार पर समीक्षा करते हुए विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों को निर्देश दिए है कि हाईरिस्क महिलाओं की जांच प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में कराया जाना सुनिश्चित हो इसी प्रकार टीकाकरण के कार्यो मे किसी भी प्रकार की कोताही ना बरती जाए। टीकाकरण संग्रह के उपयोग में लाए जाने वाले कोल्ड चैन पाइंट का भी उनके द्वारा निरीक्षण किया गया।

छह क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित

नेशनल पोर्टल पर प्रदर्शित जानकारी के अनुसार कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट प्राप्त होने पर जिला आरआरटी के निर्णय अनुसार छह नवीन क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित किय गया है कि जानकारी देते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि ग्राम पमारिया नटेरन, ग्यारसपुर में ग्राम सतपाडा के अलावा, विदिशा विकासखण्ड में पूरनपुरा, इन्दिरा काम्प्लेक्स, वार्ड नम्बर दस रायपुरा, काछीकुंआ गल्ला मंडी रोड नवीन कंटेनमेंट जोन घोषित किए गए है। संबंधित कंटेनमेंट जोन के लिए स्थानीय बीएमओ को नोडल अधिकारी का दायित्व सौंपा गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: