सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 18 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 18 नवंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 18 नवम्बर

गुरु को चढ़ाया रुमाला, मत्था टेका, की अरदास


sehore news
सीहोर। विधायक सुदेश राय गुरुद्वारा पहुंचे। गुरु साहब को रुमाला चढ़ाया। ज्ञानी जी का आशीर्वाद लिया। नागरिकों की सुख समृद्धि के लिए अरदास की। इस दौरान श्रीमती अरुणा राय भी साथ में रही। सिख समाज की ओर से भाजपा सीहोर मंडल उपाध्यक्ष सन्नी सरदार ने विधायक दंपति की अगवानी की। गुरुद्वारा परिसर में उपस्थित भाजपा सोशल मीडिया प्रभारी महिला भाजपा का मोर्चा नेत्री सुनीता राठौर, भाजपा सीहोर मंडल उपाध्यक्ष सनी सरदार पुरन सिंह राजपाल, महेंद्र सिंह खनूजा, मनजीत माफी, गुड्डू छाबड़ा ने गुरुद्वारा पहुंचे विधायक सुदेश राय समाजसेवी श्रीमती अरुणा राय का पुष्प  मालाओं से स्वागत कर जन्मदिन की शुभकामनाएं बधाई दी। 


जोड़े जाए गरीब दिव्यांगों के कांटे गए राशन कार्डं, राष्ट्रीय मानव अधिकार मंच ने की प्रशासन से मांग


sehore news
सीहोर। राष्ट्रीय मानव अधिकार मंच गरीबों दिव्यांगों के हित में तहसील चौराहा  पर धरना देकर प्रदर्शन करेगा। मंच प्रदेशाध्यक्ष नौशाद खान के नेतृ़त्व में कार्यकर्ता गरीब दिव्यांगों के कांटे गए राशन कार्डं वापस सूची में नहीं जोडऩे के विरोध में ज्ञापन भी देंगे। श्री खान ने कहा की हमेशा शासन और प्रशासन ने गरीब योजना का लाभ देने के मामले में गरीबों के साथ हीं सौतेला व्यवहार किया है। बीजेपी सरकार और प्रशासन ने मिलकर गरीबों को ही मोहरा बनाया है राशन कार्ड हो गरीबी रेखा का कार्ड  हो  प्रधानमंत्री आवास योजना हो सब में भेदभाव किया जा रहा है। राष्ट्रीय मानव अधिकार मंच के कार्यकर्ता आगामी 1 महीने में  हितग्राहियों को आवास योजना का पैसा नहीं दिए  जाने और गरीबी रेखा के राशन कार्ड हितग्राहियों को नहीं दिलाए  जाने पर तहसील चौराहे पर धरना देंगे।  मंच के कुतुबुद्दीन शेख मंच के प्रदेश महामंत्री किशनलाल मनवा,आफताब अली मंच मौलाना खान, सेवा यादव, अजहर बाबा,सगीर भाई,अफजाल पठान, घनश्याम यादव ने गरीब दिव्यांगों  के  हित  में किए  जाने वाले धरना  प्रदर्शन में  शामिल होने की अपील की है। 


जिला अस्पताल  में जच्चा वार्डं के हैं बुरे हाल समाजवादी पार्टी  ने  कमिश्नर को दिया ज्ञापन 
 

sehore news
सीहोर। ट्रामा सेंटर ड्रामा सेंन्टर बना हुआ है। यह पर मरीजों की रोज-रोज फजियत होती है। डॉक्टर कभी ड्यूटी पर नही मिलते हैं। अधिकांश समय डॉक्टर स्वयं की निजी क्लिनिक पर मोटी कमाई करते है। जिला अस्पताल की अव्यवस्थाओं को समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष इंदिरा भील ने भोपाल पहुंचकर कमिश्नर कविंद्र कियावत को ज्ञापन c है। श्रीमति भील ने कहा की सरकारी वेतन ले  रहे डॉक्टर मरीजों को  भी निजी अस्पताल में बुलते हैं। सबसे बुरे हाल जच्चा बच्चा वार्ड के हैं। ड्यूटी पर उपस्थित नर्से व दाईयाँ मरिजों व उनके परिजनों से अभद्र व्यवहार करती है  और अवैधानिक  रूप से पैसों की भी मांग करती है। भाजपा शासन काल में अधिकारियों कर्मचारियों पर कोई कार्यवाही नही की जा रही है। जिला चिकित्सालय की व्यवस्थाऐं शीघ्र ठीक करवाई जाने खास तौर पर जच्चा बच्चा वाडों की व्यवस्था सुधराई जाने  और लापरवाह नर्सों व दाईयों को हटाए  जाने की मांग समाज वादी पार्टी के द्वारा की गई है। 


ग्रेज्युटी राशि के लिये भटक रहे पीडब्ल्यूडी सेवानिवृत कर्मचारी


sehore news
सीहोर। ग्रेज्युटी राशि के लिये भटक रहे पीडब्ल्यूडी के अनेक सेवानिवृत कर्मचारियों  के हित में लोक निर्मांण विभाग स्थाई कर्मी संघ ने बुधवार को यूनियन अध्यक्ष इंदिरा भील के नेतृत्व में भोपाल संभाग कमीश्नर व विभाग आयुक्त को ज्ञापन देकर समस्या  के निराकरण की मांग की है। जिलाध्यक्ष श्रीमति  भील ने बताया की लोक निर्माण विभाग द्वारा तीन साल पूर्व सेवा निवृत्त हुए गेंगमनों को अबतक ग्रेज्युटी राशि का भुगतान नही किया है।  कर्मचारियों  के अन्य देयक मदों का भी भुगतान रोक लिया गया है। अधिकारियों द्वारा जानबूझ कर सेवानिवृत्त कर्मचारियों को प्रताडि़त किया जा रहा है। सेवानिवृत्त कर्मचारी गंगाराम, हेमराज, सिद्धु, देवा, रामप्रसाद, लतीफ खाँ, बापू, चैनसिंह, गुड्डु खाँ, मूलचंद सहित अन्य कर्मचारियों को तीन साल ग्रेज्युईटी दिलाई जाए।  


मूलभूत सुविधाओं को तरस रहे अटल बिहारी वाजपेय कॉलोनी के नागरिक नगर पालिका अध्यक्ष को दिया ज्ञापन


sehore news
सीहोर। मनुबेन स्कूल मंडी के पीछे स्थित अटल बिहारी वाजपेय कॉलोनी के नागरिक मूलभूत सुविधाओं को तरस रहे है। बुधवार को नगर पालिका कार्यालय पहुंचकर नपाध्यक्ष अमिता अरोरा को सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए नागरिकों ने ओमप्रकाश रैकवार के  नेतृत्व में ज्ञापन दिया है। रहवासियों ने कहा की अटल बिहारी बस्ती वार्ड क्रमांक २३ अंतर्गत आती है  बस्ती में मूलभूत सुविधाएं आज तक नहीं मिली है बस्ती में सड़क नाली पानी का अभाव बना हुआ है। बुद्धजनों को पेंशन योजना का लाभ नहीं मिल रहा है। पात्र  गरीबों  के  नाम  सूची से काट दिए गए  है। राशन नहीं मिल रहा है।   सौ साल पुराने कुएं से नागरिक  पाने का पानी भरने को विवश हो रहे है। बस्ती में  पानीके के पानी उपलब्धता के कोई इंतजाम नहीं है। कुंए में कई बार गाय गिर गई है पानी प्रदुषित  है। बस्ती में पक्की सडक का निर्माण नहीं किया गया है। जिससे रहवारिसों को आवागमन में बहुत परेशानी होती है। बस्ती में बिजली व्यवस्था भी ठीक नहीं है। साफ सफाई के लिए भी कोई कर्मचारी नहीं जाता है।  पात्र नागरिकों को मुख्यमंत्री आवास योजना का लाभ भी नहीं दिया जा रहा है।  बारिश  के  दौरान नाले का पानी घरों  में घुस  जाता  है पानी निकासी के कोई इंतजाम  नहीं  किए  गए है। नागरिकों ने  सभी समस्योओं के  निराकरण  कराने  और मूलभूत  सुविधाएं उपलब्ध कराने की मांग नपाध्यक्ष से की है।


11 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 88 है


sehore news
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान 11 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर कोतवाली चौराहा, इंग्लिशपुरा से 2-2 व्यक्ति, माता मंदिर चौराहा से 1 व्यक्ति, आष्टा के सिविल अस्पताल क्षेत्र से 1 व्यक्ति, नसरुल्लागंज के स्थानीय से 1 तथा लाड़कुई से 2 व्यक्ति, इछावर के वार्ड नंबर 9 तथा रेहटी से 1-1 व्यक्ति की करोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। कुल एक्टिव/ पॉजीटिव की संख्या 88 है। 19 व्यक्तियों को रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया। कुल रिकवर की संख्या 2105 है। पॉजीटिव व्यक्तियों की मृत्यु संख्या 41 है। 441 सैम्पल लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से 48 सैम्पल लिए गए, नसरूल्लागंज 100, आष्टा से 101, इछावर से 47, श्यामपुर से 53 सैम्पल लिए गए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2234 है जिसमें से 41 की मृत्यु हो चुकी है 2105 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/ पॉजीटिव की संख्या 88 है। आज 441 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जांच के लिए अब तक भेजे गए कुल सेंपलों की संख्या 40302 है। कुल निगेटिव सेंपलों की संख्या 37556 है। आज 176 सेंपलों की जांच निगेटिव प्राप्त हुई है। कुल 441 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति या उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।


अनुपयोगी शासकीय संपत्ति के चिन्हांकन हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त  

कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा समस्त विभाग प्रमुखों को निर्देशित किया गया है कि शासन के निर्देशानुसार अनुपयोगी शासकीय संपत्ति का चिन्हांकन एवं पोर्टल पर दर्ज किया जाएगा। इस संबंध में कलेक्टर श्री गुप्ता द्वारा डिप्टी कलेक्टर श्री रवि वर्मा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। श्री वर्मा मुख्य सचिव के निर्देशानुसार कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे एवं समय-समय पर की गई कार्यवाही से कलेक्टर को अवगत कराते रहेंगे। यह आदेश तत्काल प्रभावशील है। 



चाइल्ड लाइन 20 नवंबर तक मनाया जाएगा दोस्ती सप्ताह


sehore news
चाइल्ड लाइन द्वारा प्रतिवर्ष 14 से 20 नवंबर को बाल दिवस सप्ताह मनाया जाता है। इसे चाइल्ड लाइन से दोस्ती उत्सव के रूप में मनाते हैं। इस बार चाइल्ड लाइन द्वारा इस सप्ताह में कोरोना को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रम किए जा रहे हैं। इसी के अंतर्गत मंडी क्षेत्र वार्ड 23 में बच्चों के साथ चाइल्ड लाइन से दोस्ती रंगोली उत्सव मनाया गया जिसमें 23 प्रतिभागियों में भाग लिया। 3 विजेता बच्चों को पुरस्कार वितरण वार्ड पार्षद श्री रामप्रकाश चैधरी द्वारा किया गया। कार्यक्रम में 60 बच्चों और 50 वयस्कों को चाइल्ड लाइन सेवा 1098 की जानकारी प्रदान की गई। चाइल्ड लाइन सीहोर जिला समन्वयक श्री राजेन्द्र सिंह द्वारा बताया गया कि बच्चों और वयस्कों को जागरूक करने और चाइल्ड लाइन को अपना दोस्त बनाने का यह कायक्रम 20 नवंबर तक विभिन्न स्थानों को आयोजित किया जाएगा।


विज्ञान संचार पर पांच दिवसीय कार्यशाला आज से लोक संचार के माध्यम से विज्ञान प्रसार के लिए भारत सरकार की पहल 


प्रदेश के सुदूर अंचलों तक विज्ञान प्रसार और भारत की वैज्ञानिक उपलब्धियों के जन जागरण के लिए विज्ञान एवं प्रौद्योगिक मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से पांच दिवसीय विज्ञान संचार कार्यशाला सीहोर में 19 नवंबर से शुरू होने जा रही है। कार्यशाला में कठपुतली जैसे लोक संचार के पारंपरिक माध्यमों से विज्ञान प्रसार की बारीकियां सिखाई जाएंगी। 23 नवंबर तक चलने वाली इस कार्यशाला आयोजन शासकीय उत्कृष्ट हायर सेकेंडरी स्कूल क्र -1 में किया जा रहा है। कार्यशाला का आयोजन भोपाल की सर्च एंड रिसर्च डवलपमेंट सोसायटी द्वारा किया जा रहा है। सोसायटी की अध्यक्ष डॉ. मोनिका जैन ने बताया कि पांच दिवसीय कार्यशाला में कठपुतली बनाने का प्रशिक्षण देने के लिए विषय-विशेषज्ञ मौजूद रहेंगे। ज्ञान-विज्ञान और जन-जागरूकता से जुड़े विषयों पर स्क्रिप्ट राइटिंग का भी प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए भी प्रोफेशनल स्क्रिप्ट राइटर और विशेषज्ञ प्रतिभागियों का मार्गदर्शन करेंगे। उन्होंने बताया कि यह सभी विशेषज्ञ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय साथ कई वर्षों से विज्ञान संचार के लिए कार्य कर रहे हैं। कार्यशाला के शुभारंभ अवसर पर स्थानीय जनप्रतिनिधि, स्कूल-कॉलेज के शिक्षक एवं गणमान्य नागरिक मौजूद रहेंगे।

ये होंगे प्रतिभागी- कार्यशाला में स्कूल एवं कॉलेज के शिक्षक, यूजी और पीजी के विद्यार्थी, रिसर्च स्कॉलर, पत्रकार, गृहणी, मैदानी अधिकारी-कर्मचारी, स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि, सामाजिक कार्यकर्ता तथा आंगनबाड़ी एवं आशा कार्यकर्ता भाग ले सकते हैं। कार्यशाला में समापन अवसर पर अंतिम दिन म्युजिकल कठपुतली शो होगा। इसमें प्रतिभागियों द्वारा बनाई गई कठपुतलियों और लिखी गई स्क्रिप्ट पर आधारित होगा।

विज्ञान संचारक बनेंगे प्रतिभागी- सोसायटी के सचिव डॉ. सिरवैया ने बताया कि कार्यशाला में प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद प्रतिभागी विज्ञान संचारक के रूप में कार्य कर सकेंगे। वे शहरी क्षेत्रों के साथ ग्रामीण अंचलों में आमजनों को सामान्य विज्ञान के साथ-साथ वैश्विक महामारी कोरोना जैसी महामारियों से बचाव के प्रति जागरुक कर सकेंगे। साथ ही वैज्ञानिक एवं तकनीकी प्रयोगों की जानकारी देकर आजीविका विकास की दिशा में कार्य कर सकेंगे।

इसलिए जरूरी है विज्ञान संचार- ग्रामीण क्षेत्रों और सुदूर आदिवासी अंचलों में रहने वाले आमजनों में वैज्ञानिक दृष्टिकोण और विज्ञान के जरिए शैक्षणिक, सामाजिक और आर्थिक विकास में विज्ञान संचारकों महत्वपूर्ण भूमिका है। लोक संचार के पारंपरिक साधनों से यह काम आसानी से किया जा सकता है। इसमें बताया जाएगा कि किस तरह सुबह जागने से लेकर रात को सोने तक विज्ञान हमारे साथ चलता है। छोटी सावधानियों और उपायों से कैसे बीमारियों से बचा जा सकता है। छोटी-छोटी तकनीकों के माध्यम से कैसे हम हमारे कामों को आसान बना सकते हैं। ऐसे ले सकते हैं कार्यशाला में भाग- इस नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यशाला में भाग लेने के लिए इच्छुक व्यक्ति मोबाइल नंबर 9424455625 पर संपर्क कर सकते हैं।     


निमोनिया जानलेवा हो सकता है, बच्चों को निमोनिया से बचायें 


ठंड ने दस्तक दे दी है। ऐसे में शून्य से 5 वर्ष तक के बच्चों में निमोनिया के संक्रमण से बचाव के लिये सावधानियों को अपनाना बेहद आवश्यक है। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग द्वारा नागरिकों के लिये एडवाईजरी जारी की है कि निमोनिया जानलेवा हो सकता है। निमोनिया के उपचार में देरी बच्चे के लिये खतरनाक हो सकती है। बच्चों में बुखार, खांसी, श्वांस तेज चलना, पसली चलना अथवा पसली धसना निमोनिया के लक्षण हैं। ऐसे लक्षण दिखाई देने पर बच्चों को निमोनिया से उपचार के लिये तुरंत चिकित्सक अथवा निकटतम स्वास्थ्य केन्द्र में ले जायें। सभी शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं में शिशुओं को निमोनिया से बचाव में बेहद कारगर व्हैक्सीन पीसीव्ही भी निःशुल्क उपलब्ध है। अपने शिशुओं को 1.5, 3.5 एवं 9 माह में निमोनिया से बचाव हेतु पीसीव्ही व्हैक्सीन की पूर्ण डोज निःशुल्क अवश्य लगवायें। बच्चों को ठंड से बचाव के लिये अभिभावकों से आग्रह किया है कि बच्चों को दो-तीन परतों में गर्म कपडे पहनायें। ठंडी हवा से बचाव के लिये शिशु के कान को ढंके, तलुओं को ठण्डेपन से बचाव के लिये बच्चों को गर्म मोजे पहनायें। निमोनिया के उपचार के लिये आवश्यक औषधियां अस्पतालों में निःशुल्क उपलब्ध हैं। चिकित्सक के परामर्श अनुसार निमोनिया का पूर्ण उपचार आवश्यक रूप से लें और अपने बच्चों को सुरक्षित रखें। 

कोई टिप्पणी नहीं: