बीजेपी सरकार ने मामला क्लॉज किया और वर्तमान सरकार ने ऑपन किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 नवंबर 2020

बीजेपी सरकार ने मामला क्लॉज किया और वर्तमान सरकार ने ऑपन किया

अर्नब की गिरफ्तारी के बाद अन्वय नाइक की पत्नी ने कहा कि मैं वर्ष 2018 को नहीं भूलूंगी। मेरे पति ने अपने सुसाइड नोट में तीन नामों का उल्लेख किया था, लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई थी। मेरे पति की मौत के पीछे अर्नब गोस्वामी हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस की कार्रवाई हमारे लिए न्याय है....

anway-wife-blame-fadnavis
मुंबई। मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी को गिरफ्तार कर लिया है। उन पर आरोप है कि तीन कम्पनी मिलकर 5 करोड़ 40 लाख रूपये 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक का चुकता नहीं किया। आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण अन्वय नाइक और उसकी मां कुमुद नाइक ने कथित रूप से आत्महत्या कर ली। बीजेपी के शासनकाल में साक्ष्य के अभाव में मामला क्लॉज कर दिया। आत्महत्या करने के लिए उकसाने के दो साल पुराने मामले में बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। अर्नब की गिरफ्तारी के बाद अन्वय नाइक की पत्नी ने कहा कि मैं वर्ष 2018 को नहीं भूलूंगी। मेरे पति ने अपने सुसाइड नोट में तीन नामों का उल्लेख किया था, लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई थी। मेरे पति की मौत के पीछे अर्नब गोस्वामी हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस की कार्रवाई हमारे लिए न्याय है। 

अन्वय नाइक की बेटी अदन्या नाइक ने कहा कि अर्नब ने मेरे पिता को धमकी दी थी और उनसे कहा था कि वह मेरे पिता का करियर खराब कर देगा। अर्नब ने मेरे पिता के क्लाइंट  समेत सभी से मेरे पिता को कोई काम नहीं देने को कहा था।   अधिकारी ने बताया कि 2018 में एक आर्किटेक्ट और उनकी मां ने कथित तौर पर गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी द्वारा उनके बकाये का भुगतान न किए जाने के कारण आत्महत्या कर ली थी। इस वर्ष मई में महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने आर्किटेक्ट अन्वय नाइक की बेटी अदन्या नाइक की नई शिकायत के आधार पर फिर से जांच का आदेश दिये जाने की घोषणा की थी। देशमुख ने बताया था कि अदन्या ने आरोप लगाया है कि अलीबाग पुलिस ने गोस्वामी के चैनल द्वारा बकाया भुगतान ना करने के मामले में जांच नहीं की। उसका दावा है कि इस कारण ही उसके पिता और दादी ने मई 2018 में आत्महत्या कर ली थी। पुलिस ने बताया कि आत्महत्या के मामले में गोस्वामी को रायगढ़ जिले के अलीबाग ले जाया गया है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि अलीबाग पुलिस की एक टीम ने गोस्वामी को यहां लोअर परेल स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया। पुलिसकर्मी, गोस्वामी को धकेलते हुए वैन में बैठाते देखे गये। इस दौरान गोस्वामी ने दावा किया कि पुलिस ने उन्हें अपने साथ ले जाने से पहले उनके घर में, उन पर हमला किया।  वायरल हुए एक वीडियो में गोस्वामी के घर पहुंचे पुलिसकर्मी उनसे यह कहते हुए दिख रहे हैं कि वह उनके साथ शांति से चलें। इस बात पर दोनों के बीच मामूली हाथापाई होती दिख रही है। वहीं पुलिस वैन से गोस्वामी ने दावा किया कि उनके और उनके बेटे के साथ बदसलूकी की गई और उन्हें उनके ससुरालवालों से भी मिलने नहीं दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: