बच्चों के लिए सुविधायें जरूरी : हरदीप पुरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 5 नवंबर 2020

बच्चों के लिए सुविधायें जरूरी : हरदीप पुरी

children-neeed-facility-hardip-puri
नयी दिल्ली, 04 नवंबर, केंद्रीय आवासन और शहरी मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को छोटे बच्चों और उनके परिवारों के लिए शहर विकसित करने , डेटा क्षमता मूल्यांकन ढांचा और 100 स्मार्ट शहरों के सिटी डेटा अधिकारियों (सीडीओ) के लिए एक ऑन-लाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत की, श्री पुरी ने यहां एक समारोह में ऑनलाइन इन कार्यक्रमों का उद्घाटन करते हुए कहा कि बचपन से ही छोटे बच्चों और उनके परिवारों के प्राथमिक सार्वजनिक क्षेत्र को और अधिक सुरक्षित बनाना होगा। भारतीय शहरों में मजबूत सामाजिक एवं आर्थिक विकास परिणामों की नींव इस चुनौती से निपटने में मदद कर सकती है। उन्होंने कहा कि अपर्याप्त सार्वजनिक परिवहन के अलावा भोजन, स्वास्थ्य देखभाल और बच्चों की देखभाल जैसी चुनौतियां परिवारों के सामने आती हैं। ऐसी चुनौतियों का सामना करने और बच्चों को जीवन में एक अच्छी शुरुआत देने में विचारशील शहरी नियोजन और डिजाइन एक प्रमुख भूमिका निभा सकते हैं। इसमें आस-पास की ऐसी स्थिति समाहित है जो बेहद नज़दीक हो और बुनियादी ज़रूरतों को पूरा करता हो और एक परिवार की आवश्यकता पैदल 15 मिनट की दूरी पर उपलब्ध होने चाहिए। उन्होंने कहा कि हरित सार्वजनिक स्थान घर के करीब होने चाहिए और देखभाल करने वालों के लिए बुनियादी सुविधाएं होनी चाहिए। इस अवसर पर आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा, मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी और अन्य पक्षधारकों ने भी इस कार्यक्रम में भाग लिया। 

कोई टिप्पणी नहीं: