बिहार : विदेशी औरतें पूरे अनुष्ठान के साथ छठ पूजा की क्रिया में भाग लेती - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 19 नवंबर 2020

बिहार : विदेशी औरतें पूरे अनुष्ठान के साथ छठ पूजा की क्रिया में भाग लेती

foreign-women-celebrate-chhath-bihar
पटना। छठ के इस पावन महापर्व पर देश से ही नहीं बल्कि विदेशों से भी लोग आकर यहां पर अपनी श्रद्धा भक्ति जाहिर करते नजर आ रहे हैं। पटना के कंकड़बाग में स्थित हमें कुछ विदेशी नागरिकों का नजारा देखने को मिला जहां पर विदेशी औरतें पूरे अनुष्ठान के साथ छठ पूजा की क्रिया में भाग लेती नजर आईं। आपको बता दें कि यह अलीना है जो कि रूस से भारत आई हैं ताकि वह छठ पूजा मना सकें। वह ना ही हिंदी सही से समझती है ना ही अंग्रेजी सही से बोल पाती हैं। सिर्फ रसिया भाषा में ही पारंगत हैं ऐसे में ज्यादा जानकारी लेने पर पता चला है कि 6 साल पहले उन्होंने अनिल से शादी की थी और अनिल फिनलैंड में रियल स्टेट का काम करते हैं। फ़िनलैंड रूस और नॉर्वे की सर ज़मीन पर पड़ता है। पहले कुछ समय तक अलीना की सास छठ पूजा पर जो भी क्रियाएं करती थी उसको अलीना बहुत गौर से देखती थी और समझती थीं। बिना हिंदी और अंग्रेजी जाने उन्होंने पूरी पूजा की विधि समझ ली और सांस के बाद अब वह खुद इस रस्म को निभाती नजर आ रही है। नहाए खाए और 36 घंटे के निर्जल व्रत को भी उन्होंने बखूबी पूरा किया और उनका कहना है कि बचपन से लेकर आज तक कभी वह भूखी नहीं रही थी लेकिन व्रत रखने के बाद उन्हें कुछ खास परेशानी नहीं हुई आगे उन्होंने कहा कि घर पर सभी सदस्यों ने मिलकर सफाई कर ली है गेहूं को धोने की प्रक्रिया भी पूरी कर ली है और गुड़ चावल की सफाई भी हो गई है अब अगले दिन खरना करना है। अलीना के घरवालों को बिल्कुल भी इस महापर्व का मतलब नहीं पता है लेकिन अलीना अब एक एक चीज से वाकिफ है और वह काफी खुश है। साथ ही वह कहती है कि मैं इस परंपरा को छूटने नहीं दूंगी। यह सारी बातें उन्होंने रशियन में कहीं जिसको उनके पति द्वारा अनुवाद करके बताया गया। कोई और चीज बतानी या समझानी होती है तो उनके पति अनिल ही अनुवाद करके बताते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: