झाबुआ(मध्यप्रदेश) की खबर 02 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 3 नवंबर 2020

झाबुआ(मध्यप्रदेश) की खबर 02 नवम्बर

सेना से रिटायर हो कर लोटे सेनिक का किया भावभीना स्वागत

jhabua news
पारा । समिपस्थ ग्राम महुडीपाडा के राजेन्द्र सिह चैहान देश सेवा करके बाईस वर्ष के बाद रिटायर होकर गत दिवस अपने ग्रह ग्राम महुडी पाडा पहुचे जहा पर ग्राम वासियो ने ढोल मांदल कि थाप पर नाचते हुए पुष्पमाला पहना कर उनका भावभीना स्वागत किया। प्राप्त जानकारी के अनुसार राजैन्द्रसिह चोहान निवासी ग्राम महुडीपाडा गत रात्री मे महार रेजिमेंन्ट मे गंगानगर से नायक पद पर रिटायर होकर अपने घर पर पहुचे जहा ग्राम वासियो ने राजेन्द्र का  पुष्पवर्षा कर व पुष्पमाला पहना कर ढोल मांदल के साथ नाचते गाते हुऐ भावभीना स्वागत किया। राजेन्द्र कि नियुक्ति सेना की महार रेजिमेंट मे नायक पद पर सन 1998 मे हुई थी। प्रशिक्षण के बाद 15 वि बटालियन मे उत्तराखण्ड के रानीखेत मे उनकी पोस्टीग हुई थी। जहा से 1999 कारगील युद्ध मे  जम्मु कशमिर के बालटाल मे अपनी देश सेवा देते हुए संधर्षपुर्णै लडाई लडी व विजय प्राप्त होने बाद अखनुर सेक्टर के एलसी पर पोस्टीग हुई । वहा से पंजाब के भटीण्डा मे फिर अरुणचल प्रदेश के रेशारनी  तवांग मे अपनी सेवाए दी। श्री चोहान ने बताया कि एक फिर से जम्मु कश्मिर के पुंछ मेडार मे सेवा देने का अवसर मिला वहा पर भी बहुत संघष पुर्ण रहा। बाद मे रिटायरमेंट के अंतिम दिनो मे राजस्थान के गंगानगर जिले के लालगढ जटान मे सेवाए देते हुए वही रिटायरमेंट 31 अक्टुबर को हुआ। श्री चोहान ने यह भी बताया कि देश सेवा मे उनका सम्पुर्ण जीवन कार्यकाल संघर्ष पुर्ण व गौरवमयी रहा। उनका कहना हे कि आगे भी यदि देश सेवा करने का अवसर उनको मिलता हे तो वे सदेव इसके लिए तैयार हे।

मप्र का इतिहास दषकों पुराना रहा है -ः भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक,

भप्र के 65वें स्थापना दिवस की समस्त जिलेवासी एवं प्रदेषवासियों को जिला भाजपा ने दी शुभकामनाएं

झाबुआ। 1 नवंबर 2020 को मप्र के 65वें स्थापना दिवस की समस्त प्रदेषवासियांे सहित झाबुआ जिलेवासियों को भी जिला भाजपा संगठन की ओर से अनेकों शुभकामनाएं प्रेषित की गई है। अपने शुभकामना संदेष में भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक ने कहा कि इसी तरह सत्त मप्र और झाबुआ जिला निरंतर प्रगति और उन्नति के मार्ग पर प्रषस्त होता रहे तथा आधुनिक भारत की तर्ज पर आधुनिक मप्र भी बनने की ओर निरंतर अग्रसर है। भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक ने बताया कि मप्र का इतिहास दषकों पुराना रहा है। मप्र प्राकृतिक संपदाआंे से परिपूर्ण होने के साथ ही यहां वन्य प्राणियांे की भी भरमार है। आधुनिक भारत की तर्ज पर मप्र भी आधुनिकता की ओर सत्त आगे बढ़ते हुए देष के विकासषील राज्यों में इसकी गिनती होने लगी है। साथ ही शीघ्र ही मप्र भारत का नंबर-1 राज्य भी बनेगा। रतलाम-झाबुआ-आलीराजपुर सांसद जीएस डामोर ने कहा देष के यषस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्षन एवं मप्र के मुख्यमंत्री षिवराजसिंह चैहान के नेतृत्व में पिछले 15 वर्षों से मप्र मंे निरंतर विकास की गंगा बह रहीं है और आगामी भविष्य मंे भी मप्र और यह संसदीय क्षेत्र निरंतर प्रगति के मार्ग की ओर बढ़ते हुए देष में अपनी एक अलग पहचान बनाएगा।

मालवा-निमाड़ी और विभिन्न संस्कृति से भरपूर मप्र

पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल झाबुआ, सुश्री निर्मला भूरिया पेटलावद एवं कलसिंह भाबर थांदला ने कहा कि मप्र मंे मालवा और निमाड़ जैसी देष सहित विष्व में प्रसिद्ध बोली, संस्कृति और परंपराए विद्यमान है तथा अनेकांे देव स्थल है। मप्र और झाबुआ जिले के लोग आज हर क्षेत्रों में परिपूर्ण होकर यहां की प्रतिभाएं आज संपूर्ण देष के साथ विष्व मंे भी अपना लोहा मनवा रहीं है।

झाबुआ जिले का दाल-पानिया और कड़कनाथ विष्व स्तर पर ख्याति प्राप्त

भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने मप्र के स्थापना दिवस पर प्रदेष के झाबुआ जिले के बारे में बताया कि झाबुआ जिला भी आदिवासी बाहुल्य होकर आज किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है। आज झाबुआ जिले के ही सैकड़ों होनहार छात्र-छात्राएं देष के अनेक राज्यों में उच्च पदों पर आसाीन होकर वैष्विक स्तर पर भी अपनी पहचान बना रहे है। झाबुआ जिले का दाल-पानिया और कड़कनाथ आज ना केवल भारत अपितु पूरे विष्व में सुप्रसिद्ध है। यह झाबुआ जिले की मुख्य पहचान है।

इन्होंने भी दी मप्र के स्थापना दिवस की शुभकामनाएं

मप्र के स्थापना दिवस पर समस्त प्रदेषवासियों एवं जिलेवासियांे को भाजपा के प्रदेष कार्यकारिणी सदस्य दौलत भावसार, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाष शर्मा, वरिष्ठ भाजपा नेता शैलेष दुबे, रमेष शर्मा, भाजयुमो जिलाध्यक्ष भानू भूरिया, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष धनसिंह बारिया, पूर्व नपा उपाध्यक्ष विजय चैहान, भाजपा जिला उपाध्यक्ष अजय पोरवाल एवं ओपी राय, जिला महामंत्री प्रवीण सुराना एवं श्यामा ताहेड़, जिला मंत्री संगीता पलासिया, प्रफूल्ल गादिया, जिला कार्यालय मंत्री पं. महेन्द्रकुमार तिवारी, भाजपा मंडल झाबुआ के अध्यक्ष दीपेष बबलू सकलेचा, मंडल पदाधिकारी हेमेन्द्र नाना राठौर, अंकुर पाठक, भूपेष सिंगोड़, शोभा कटारा, महेष वर्मा, मितेष गादिया, नेता प्रतिपक्ष जुवानसिंह गुंडिया, सत्येन्द्र यादव, भाजपा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष आरती भानपुरिया, जिला महामंत्री कुता सोनी, जिला मंत्री सायरा खान, जिला उपाध्यक्ष निर्मला अजनार, सुनिता वर्मा, भाजपा जिला उपाध्यक्ष मांगीलाल भूरिया, जिला महामंत्री संजय भाबोर, आईटी सेल जिला संयोजक अर्पित कटकानी, पार्षदगणों में पपीष पानेरी, अजय सोनी, नरेन्द्र राठौरिया, विवेक हेलन मेड़ा आदि ने भी अनेकांे बधाईयां प्रेषित की है।

बाल श्रमिक, बाल विवाह एवं बाल भिक्षा रोकने हेतु जिला बाल कल्याण समिति एवं चाईल्ड लाईन चलाएगी जागरूकता अभियान, महत्वपूर्ण बैठक हुई संपन्न

jhabua news
झाबुआ। जिला बाल कल्याण समिति (न्याय पीठ) झाबुआ एवं चाईल्ड लाईन झाबुआ की महत्वपूर्ण बैठक स्थानीय सीडब्ल्यूसी कार्यालय पर 2 नवंबर, सोमवार को दोपहर संपन्न हुई। इस अवसर पर जिले में बाल श्रमिकों की बढ़ती हुई संख्या, अधिक संख्या में बाल विवाह होना एवं बाल भिक्षावृत्ति पर चिंता व्यक्त की गई। साथ ही इन पर रोक लगाने हेतु कारगर उपाय करने पर भी चर्चा की गई। बैठक में न्याय पीठ के वरिष्ठ सदस्य यषवंत भंडारी, गोपालसिंह पंवार, ममता तिवारी एवं चेतना सकलेचा के साथ चाईल्ड लाईन के डायरेक्टर पीए थाॅमस, कोर्डिनेटर निधि भूरिया, काउंसलर अनिता डामोर एवं टीम मेंबर्स दीपक भूरिया की उपस्थिति में बाल श्रमिक, बाल विवाह एवं बाल भिक्षा रोकने के प्रयासांे पर गहन विचार-विमर्ष किया गया।

यह लिए गए निर्णय

बाद सीडब्ल्यूसी एवं चाईल्ड ने यह तय किया कि आगामी 9 से 14 नवंबर तक पूरे जिले मंे एक सघन जागरूकता अभियान संचालित किया जाएगा। जिसमें बाल श्रम रोकने हेतु नियोक्ताआंे को हिदायत दी जाएगी। बाल विवाह ना हो, इसके लिए जिले के ग्रामीण स्तरांे पर चाईल्ड लाईन के माध्यम से प्रचार अभियान चलाया जाएगा। साथ ही बाल भिक्षावृत्ति रोकने हेतु बाल भिक्षा करवाने वालों के विरूद्ध आवष्यक कार्रवाई की जाएगी।

कुपोषित केंद्रों का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखी जाएगी

न्याय पीठ के वरिष्ठ सदस्य यषवंत भंडारी ने बताया कि वर्तमान में कोरोनाकाल के चलते जिले मंे कुपोषित बच्चों की संख्या में भी वृद्धि हो रहंी है। जिसके लिए महिला एवं बाल विकास विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग को नियति एवं समय पर कुपोषित बच्चांे के लिए पोष्टीक आहार उपलब्घ करवाने के निर्देषित किया जाएगा। साथ ही जिले में संचालित होरहे कुपोषित बच्चांे के केंद्रो पर भी बाल कल्याण समिति के सदस्य स्वयं उपस्थित होकर यहां की गतिविधियांे तथा व्यवस्थाओं का निरीक्षण कर आवष्यक निर्देष प्रदान करेंगे। यह बैठक करीब एक घंटे तक चली। अंत में उपस्थित सभीजनांे के प्रति आभार सीब्डल्यूसी के सचिव चेतन तिवारी ने माना।

इंदौर में पाॅवर लिफटींग चैंपियनशीप-2020 में झाबुआ जिले के खिलाड़ियांे ने दिखाया अपना दम-खम, जीते 11 मेडल, दी गई शुभकामनाएं

jhabua news
झाबुआ। आरवी फिटनेस (इंदौर) के तत्वावधान में एमेचुअर पाॅवर लिफटींग चैंपियनशीप-2020, जो कि 1 नवंबर को इंदौर में आयोजित की गई। जिसमें विभिन्न जिलों के पुरूष एवं महिला खिलाड़ियांे ने अलग-अलग भार वर्गों में हिस्सा लिया। प्रतियोगिता में झाबुआ जिले के खिलाड़ियांे ने शानदार और दमदार प्रदर्षन करते हुए 11 मेडल जीते। इस ऐतिहासिक उपलब्धि पर जय बजरंग व्यायाम शाला (जीम) झाबुआ ने सभी खिलाड़ियांे का उत्साहवर्धन करते हुए उन्हें शुभकामनाएं प्रेषित की है। जानकारी देते हुए जय बजरंग व्यायाम शाला के चन्दरसिंह चंदेल एवं राजेष बारिया ने बताया कि प्रतियोगिता में झाबुआ के युवा खिलाड़ी गुलाबसिंह गुंडिया, उमेष मेड़ा, तुषार त्रिपाठी, राकेष मेड़ा द्वारा विभिन्न भार वर्ग में गोल्ड मेडल, हरिओम, बाबु खपेड़, धर्मेन्द्र गुर्जर, चिराग बारिया (थांदला) द्वारा सिल्वर मेडल तथा दिनेष सिंगाड़ (रानापुर), अबलेष शेख (मेघनगर) एवं जानिसार (मेघनगर) द्वारा ब्रांज मेडल प्राप्त किया ्रगया। इसके अतिरिक्त मेघनगर से दिपेष ब्रजवासी, विनोद डामोर, निखिल ब्रजवासी, पृथ्वीराज सिसौदिया, खवासा से पवन पाटीदार, हरिष प्रजापति, लीलाषंकर परमार और झाबुआ से कुलदीप द्वारा टाॅप-10 एवं टाॅप-6 मंे स्थान बनाकर उक्त सभी खिलाड़ियांे ने झाबुआ जिले को गौरवान्वित किया है।

निःषुल्क प्रषिक्षण दिया जा रहा है 

ज्ञातव्य रहे कि झाबुआ जिले के प्रथम पाॅवर लिफटर एवं राष्ट्रीय खिलाड़ी सुषील वाजपेयी के मार्गदर्षन मंे जय बजरंग व्यायाम शाला (जीम) झाबुआ में खिलाड़ियों को वर्षों से विभिन्न खेलों में जिसमें बाॅडी बिल्डिंग, पाॅवर लिफटींग, कुष्ती आदि हेतु निःषुल्क प्रषिक्षण प्रख्यात प्रषिक्षकों द्वारा दिया जा रहा है। जय बजरंग व्यायाम शाला जीम ‘‘स्वस्थ युवा स्वस्थ भारत’’ की परिकल्पना को सार्थक करने हेतु निरंतर अग्रसर है। जिसके परिणाम स्वरूप आज झाबुआ शहर एवं जिले से विभिन्न खेलों मंे अनेकांे खिलाड़ी तैयार होकर प्रादेषिक एवं राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्षन कर सफलता अर्जित कर अपने परिवार, समाज, जीम तथा जिले का नाम पूरे भारत में रोषन कर रहे है।

दी गई शुभकामनाएं

सभी मेडल प्राप्त एवं सर्वश्रेष्ठ प्रदर्षन करने वाले खिलाड़ियांे को जय बजरंग व्यायाम शाला के प्रेमसिंह उस्ताद, किषोर खलीफा, चंदर खलीफा, उमंग सक्सेना, नारायणसिंह ठाकुर, ललित शर्मा, राजेन्द्र यादव, मोहनभाई माहेष्वरी, प्रदीप रूनवाल, प्रकाषसिंह चैहान, मनीष व्यास, दिनेष सक्सेना, मनोज मेहता, यषवंत भंडारी, मुकुल सक्सेना, वीरसिंह भूरिया, सौरभ सोनी, राजीव शुक्ला, आलोक द्विवेदी, निकलेष डामोर, महेष राठौर, हेमेन्द्र पंवार, अनोखीलाल रावत आदि ने बधाई देकर हर्ष व्यक्त किया है।

संस्कार भारती झाबुआ की महत्वपूर्ण बैठक संपन्न, आगामी त्यौहारांे पर किए जाएंगे विभिन्न आयोजन

रांगोली का प्रषिक्षण, रांगोली प्रतियोगिता, शास्त्रीय संगीत कार्यक्रम एवं दीपावली मिलन समारोह भी मनाया जाएगा

jhabua news
झाबुआ। संस्कार भारती इकाई झाबुआ की महत्वपूर्ण बैठक 1 नवंबर, रविवार शाम 5.30 बजे से स्थानीय पैलेस गार्डन पर संपन्न हुई। अध्यक्षता संस्था अध्यक्ष प्रदीप ओएल जैन ने की। इस अवसर पर संस्था के प्रदेष स्तर से प्राप्त निर्देषों के अनुसार आगामी त्यौहारों को लेकर झाबुआ इकाई द्वारा विभिन्न आयोजन किए जाएंगे। जिसमें आगामी 8 नवंबर को एक दिवसीय रांगोली प्रषिक्षण कार्यषाला बाद ज्ञान पंचमी पर वृहद रांगोली प्रतियोगिता आयोजित होगी। इसके अतिरिक्त 22 नवंबर को शास्त्रीय संगीत का कार्यक्रम रखा गया है। साथ ही संस्कार भारती परिवार आगामी दीपावली मिलन समारोह भी मनाएगा। जानकारी देते हुए संस्कार भारती की सचिव स्मृति (मोना) भट्ट ने बताया कि बैठक में मुख्य रूप से 4 बिंदुओं पर चर्चा कर तय किया गया कि संस्था की झाबुआ इकाई द्वारा 8 नवंबर, रविवार को एक दिवसीय रांगोली प्रषिक्षण कार्यषाला का आयोजन दोपहर 11 से शाम 4 बजे तक होटल शांति निकेतन के सभा कक्ष में किया जाएगा। जिसमें प्रषिक्षणार्थियों को इंदौर से पधारी रांगोली एक्सपटर्ठ श्रीमती प्रमिला परमार प्रषिक्षण देंगी। उक्त कार्यक्रम की संयोजक श्रीमती सुनिता बाबेल एवं सुहानी बाबेल रहेंगी। कार्यषाला में भाग लेने झाबुआ शहर के प्रतिभागी सचिव श्रीमती स्मृति भट्ट से मोबाईल नंबर 95894-23066 एवं रविराजसिंह राठौर से मोबाईल नंबर 89894-52654 पर संपर्क कर सकते है। इसके साथ ही ज्ञान पंचमी पर इन प्रषिक्षणार्थियों के लिए वृहद रांगोली प्रतियोगिता का आयोजन 2 वर्गों में होगा।

शास्त्रीय संगीत का आयोजन एम-2 हाॅल में

संस्कार भारती अध्यक्ष श्री जैन ने बताया कि इसके अतिरिक्त 22 नवंबर को शास्त्रीय संगीत का भव्य कार्यक्रम का आयोजन स्थानीय बस स्टेंड के पीछे एम-2 सभा कक्ष में किया जाना तय हुआ। जिसमें इंदौर के कलाकार अपनी प्रस्तुति देंगे। इसके अतिरिक्त संस्कार भारती का दीपावली मिलन समारोह भी होगा। जिसमें मुख्य रूप से मिट्टी, गौबर एवं बांस से अलग-अलग कलाकृतिया बनाने का प्रतिभोगियों को प्रषिक्षण देकर उन्हें उक्त विद्याओ में पारंगत किया जाएगा।

यह रहे उपस्थित

यह बैठक करीब एक घंटे तक चली। इस अवसर पर विषेष रूप से संस्था के मार्गदर्षक वरिष्ठ पं. गणेषप्रसाद उपाध्याय, श्रीमती अन्नू भाबोर, सुनिता बाबेल, ज्योति रांका, कल्पना सकलेचा, प्रिया सारोलकर, रविना देषमुख, रविराजसिंह राठौर, विनोद देषमुख आदि उपस्थित थे। अंत में आभार संस्था सचिव स्मृति भट्ट ने माना।

निवसीड बचपन एवं मप्र बाल संरक्षण आयोग द्वारा बाल अधिकार मित्र सम्मान-2020 का आयोजन, बच्चांे के लिए सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाले अभ्यर्थी 8 नवंबर तक कर सकते है आवेदन, पढ़े पूरी खबर .... !

झाबुआ। निवसीड बचपन एवं मप्र बाल संरक्षण आयोग की संयुक्त पहल पर बाल अधिकार मित्र सम्मान-2020 का आयोजन किया जा रहा है। झाबुआ जिले में उक्त सम्मान हेतु अभ्यर्थियों से आवेदन सहयोगी संस्था आदिवासी चेतना षिक्षण सेवा समिति झाबुआ के माध्यम से जमा किए जा सकेंगे। आवेदन के साथ अभ्यर्थी को आवष्यक दस्तावेज भी संलग्न करना होंगे। संपूर्ण जानकारी देते हुए आदिवासी चेतना षिक्षण सेवा समिति झाबुआ के सचिव बेनेडिक्ट डामोर ने बताया कि इस सम्मान के लिए वे अभ्यर्थी पात्र होगे, जिन्होंने जिले स्तर पर बाल अधिकार, बच्चों के स्वास्थ्य, षिक्षा एवं सुरक्षा से संबंधित जमीनी स्तर पर सराहनीय कार्य किया हो। कोविड के प्रकोप के दोरान बच्चों के लिए ऐसा कोई कार्य किया हो, जो सबसे के लिए प्रेरणादायी बना हो। वंचित समुदाय के बच्चांे के लिए कार्य को प्राथमिकता दी हो। बाल मित्र सम्मान के आवेदनकर्ता की आयु 18 वर्ष से अधिक हो। सामाजिक कार्य विषेषकर बाल अधिकार के क्षेत्र में कम से कम 2 वर्षों से सक्रिय हो।

चयन समिति करेगी अभ्यर्थियों के आवेदन का अवलोकन

श्री डामोर ने आगे बताया कि प्राप्त आवेदनों मंे से चयन हेतु सहयोगी संस्था द्वारा 5 सदस्यीय चयन समिति का गठन किया जाएगा। चयन समिति में राज्य बाल अधिकार आयोग के चयनित बाल मित्र, चाईल्ड लाईन के सदस्य, सीडब्ल्यूसी के सदस्य (वर्तमान या पूर्व), महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रतिनिधि सदस्य, संस्था प्रतिनिधि, मानव अधिकार मित्र, पूर्व में सम्मानित हुए बाल मित्र में से कोई भी 5 सदस्य सम्मिलित किए जा सकेंगे। चयन किस आधार पर किया गया है, इाकी जानकारी संस्था द्वारा भोपाल भिजवाई जाएगी। जिला स्तर पर आए आवेदनों का आकलन कर सर्व सहमति से बाल अधिकार मित्र का चयन किया जाएगा। अधिक जानकारी के लिए एवं आवेदन अभ्यर्थी आदिवासी चेतना षिक्षण समिति झाबुआ के कार्यालय या ईमेल आई-डी या बेनेडिक्ट डामोर के व्हाट्स एप मोबाईल नंबर 94254-13600 पर भी भेज सकते है तथा संपर्क कर सकते है। उक्त मोबाईल नंबर पर संपर्क कर आवेदन का प्रारूप भी प्राप्त किया जा सकता है। आवेदन करने की अंतिम तिथि 8 नंवबर है।

राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की सराहनीय पहल, वयोवृद्ध श्रवण बाधित मोहनलाल को कान का उपकरण प्रदान किया

हर संभव मद्द का दिया आष्वासन

jhabua news
झाबुआ। जिले के ग्राम झकनावदा मंे पिछले लंबे समय से एक वृयोवद्ध कच्चे मकान में अकेले ही अपना जीवन यापन कर रहे है। वह घर पर ही छोटा-मोटा लुहार का व्यवासय पर प्रतिदिन दो समय की रोटी ओर अन्य खर्चें का जुगात करते है। जब राष्ट्रीय मानव अधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग के प्रतिनिधि प्रदेष अध्यक्ष मनीष कुमट को जानकारी मिली कि उक्त व्यक्ति आत्मनिर्भर होकर अपना गुजरा बुढ़ापे मंे भी कड़ी मेहनत कर स्वयं कर रहे है और वह श्रवण बाधित होकर उन्हें अपनी दैनिक दिनचर्या और व्यवसाय में इस कारण काफी दिक्कते आती है, तो उन्होंने उक्त निर्धन वर्ग के वृद्ध मोहनलाल पिता नानूराम लोहार के लिए कान में सुनने की मषीन की व्यवस्था कर यह मषीन 1 नवंबर, रविवार को मप्र के स्थापना दिवस पर इन बुजुर्ग के जज्बे को सलाम कर उन्हें यह मषीन स-सम्मान आयोग के प्रतिनिधि प्रदेश अध्यक्ष मनीष कुमट (जैन) के साथ संभागीय सचिव गोपाल विश्वकर्मा ने भेंट की। इस अवसर पर क्षेत्र के समाजसेवी राजेंद्र मिस्त्री, पंकज राठौड़ एवं हीरालाल मेघवाल भी उपस्थित रहे।

मोहनलाल के हौंसले और जज्बे को किया सलाम

सभी ने मोहनलाल के जज्बे को सलाम करते हुए भविष्य में भी कोई जरूरत होने पर हर संभव मद्द करने हेतु आष्वास्त किया। ज्ञातव्य रहे कि आयोग के पदाधिकारी एवं सदस्य समय-समय पर निर्धन वर्ग के महिला-पुरूषांे के साथ दिव्यांगजनांे की भी मद्द करते हुए उन्हंे ट्रायसिकल, वृद्धांे को वृद्धावस्था पेंषन एवं विधवा महिलाओं को विधवा पेंषन दिलवाने के साथ शासन की समस्त योजनाओं का लाभ दिलवाने हेतु भी कृत-संकल्पित रहते है।

वरिष्ठ पत्रकार सुरेन्द्र छाजेड़ का हुआ सम्मान, प्रेस क्लब रतलाम ने किया सम्मान समारोह-2020 का आयोजन

jhabua news
झाबुआ। प्रेस क्लब रतलाम द्वारा रतलाम शहर में पत्रकार सम्मान समारोह-2020 का आयोजन किया गया। इस अवसर पर रतलाम जिले के वरिष्ठ पत्रकार सुरेन्द्र छाजेड़ का अतिथियांे ने भावभरा सम्मान किया। उक्त गरिमामय एवं भव्य समारोह में वरिष्ठ पत्रकार श्री छाजेड़ का सम्मान होने पर उन्हें रतलाम जिले के पत्रकार, पत्रकार संगठनों के साथ झाबुआ जिले के भी पत्रकारों तथा अनेक संस्थाओं ने शुभकामनाएं प्रेषित की है। आयोजित समारोह में अतिथि के रूप में रतलाम कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक के साथ वरिष्ठ प्राध्यापक अजहर हाषमी उपस्थित थे। पत्रकारांे के सम्मान के क्रम में वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय एवं समर्पित वरिष्ठ पत्रकार श्री छाजेड़ का भी सम्मान शाल ओढ़ाकर एवं अभिनंदन-पत्र देकर अतिथियों द्वज्ञरा किया गया।

पिताजी का मिला सदैव मार्गदर्षन

अपने सम्मान के प्रति उत्तर में श्री छाजेड ने कहा कि उनका यह सम्मान वह अपने स्व. पिताजी को समर्पित करते है, जिन्होंने उन्हें इस क्षेत्र में आने की राह दिखाकर उनका मार्गदर्षन सदैव उन्हंे मिलता रहा। ज्ञातव्य रहे कि सुरेन्द्र छाजेड़ वर्तमान में साप्ताहिक समाचार-पत्र उपग्रह के प्रधान संपादक है। यह समाचार-पत्र वर्ष 1963 से रतलाम शहर से लगातार प्रकाषित होता आ रहा है।

दी गई शुभकामनाएं

श्री छाजेड़ को यह सम्मान प्राप्त होने पर उन्हें रतलाम जिले के पत्रकार, पत्रकार एसोसिएषन के साथ झाबुआ जिले से प्रेस क्लब के अध्यक्ष मनोज मेहता, ओमप्रकाष शर्मा, मनोज भानपुरिया, दौलत भावसार, यषवंत भंडारी, भाजपा जिला मीडिया प्रभारी एवं वरिष्ठ पत्रकार योगेन्द्र नाहर, मनीष कुमट, दौलत गोलानी, अभा राजेन्द्र जैन नवयुवक परिषद् से चिराग नाहर, मालवा जैन महासंघ, श्वेतांबर जैन श्री संघ, अभा नाहर बंधु महासंघ, भारतीय जैन संगठना आदि ने बधाई प्रेषित करते हुए हर्ष व्यक्त किया है।

मुनि श्री जनकचन्द्र विजयजी ‘‘तपस्वी रत्न’’ की उपाधि से अलंकृत, झाबुआ श्री संघ ने हर्ष व्यक्त कर तप की अनुमोदना की

jhabua news
झाबुआ। देष के प्रसिद्ध जैन तीर्थ मोहनखेड़ा में विराजित गच्छाधिपति ज्योतिष सम्राट पूज्य आचार्य श्री ऋषभचन्द्र सूरीष्वरजी मसा के सुषिष्य श्री पुष्पेन्द्र विजयजी एवं जनकचन्द्र विजयी मसा इन दिनों चातुर्मास हेतु जावरा नगर में विराजमान है। चातुर्मास काल मंे पूज्य मुनिराज जनकचन्द्र विजयजी मसा ने श्री वर्धमान तप की 56वीं एवं 57वीं ओलीजी कर लगातार 113 आयंबिल तप की तप आराधना की। उक्त जानकारी देते हुए परम् गुरू भक्त रिंकू रूनवाल ने बताया कि जैन धर्म में आयंबिल तप का विषेष महत्व है। इस तप के अंतर्गत तपस्वी 24 घंटे में केवल एक बार उबला हुआ आहार ग्रहण करता है। पूज्य जनकचन्द्र विजयजी मसा ने उक्त उग्र एवं दीघ्र तपस्या कर सत्त 113 दिन आयंबिल तप कर श्री वर्धमान तप की ओलीजी की आराधना की।

गच्छाधिपति एवं जावरा श्री संघ ने दी ‘‘तपस्वी रत्न’’ की उपाधि

आपके तप की अनुमोदना करते हुए पूज्य गच्छाधिपति आचार्य श्री ऋषभचन्द्र सूरीष्वरजी मसा ने कहा कि मुनिश्री द्वारा ज्ञान-ध्यान एवं तप कर विष्व में शांति एवं सद्भाव का संदेष दिया है, जो अनुमोदनीय है। जनकचन्द्र विजयजी की इस तपस्या पर आचार्य श्रीजी एवं जावरा श्री संघ ने उन्हें ‘‘तपस्वी रत्न’’ की उपाधि से अलंकृत किया है।

झाबुआ श्री संघ ने हर्ष व्यक्त किया

विगत 3 वर्ष पूर्व झाबुआ मंे गच्छाधिपति ़ऋषभचन्द्र सूरीजी मसा के साथ मुनि जनकचन्द्र विजयजी मसा ने भी चातुर्मास किया था। आचार्य एवं मुनिश्री की झाबुआ श्री संघ पर विषेष कृपा एवं आर्षीवाद सदैव बना रहा है। आपकी दीर्घ तपस्या एवं ‘‘तपस्वी रत्न’’ से अलंकृत होने पर मालवा जैन महासंघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं जयंत सेन विहार धाम के अध्यक्ष यषवंत भंडारी, श्वेतांबर जैन श्री संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुभाष कोठारी, श्री राज आयंबिल पुष्प खाता भवन के अध्यक्ष अषोक राठौर, सिरोही जैन श्री संघ अध्यक्ष मनोहर मोदी, भारतीय जैन संघटना के जिलाध्यक्ष सुनिल संघवी, जिला महामंत्री राजेन्द्र आर भंडारी, मालवा जैन मालवा के जिला प्रभारी योगेन्द्र नाहर, महावीर बाग समिति के अभय धारीवाल, तीर्थेन्द्र सूरी समिति के अनिल राठौर एवं संजय कांठी, हेमेन्द्र सूरी युवा मंडल के शालिन धारीवाल, युवा जैन संघ के अध्यक्ष कुलदीप राठौर, श्री संघ के वरिष्ठ सदस्य सुरेन्द्र कांठी, जितेन्द्र चैधरी, विमल कांठी, जितेन्द्र जैन गुड्डू, गोलू राठौर आदि ने मुनि श्रीजी की तप की अनुमोदना करते हुए हर्ष व्यक्त किया है।

कोई टिप्पणी नहीं: