झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 05 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 5 नवंबर 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 05 नवम्बर

कलेक्टर श्री सिंह द्वारा विभिन्न ग्रामों का विभिन्न ग्रामों का भ्रमण निर्माण कार्यो की समीक्षा तीन सचिवों को निलंबित

jhabua news
झाबुआ,। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने बुधवार को झाबुआ तहसील के विभिन्न ग्रामों का भ्रमण किया। श्री सिंह ने रजला में ग्राम पंचायत की कलस्टर स्तर की बैठक ली। इस बैठक में मनरेगा के अंतर्गत चल रहे निर्माण कार्यो तथा आधार सिडिंग के कार्य की समीक्षा की और ग्राम पंचायत रजला, रातीमाली, बलोला ग्राम पंचायत में प्रगति कम पाए जाने पर इन ग्राम पंचायतों के सचिवों को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए। इस बैठक में रेहंदा, सीलखोदरी तथा बागलावाट भूरिया ग्राम पंचायत में प्रगति कम पाए जाने पर इन ग्राम पंचायतों के सचिवों को शौकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने जिले के सभी उचित मूल्य दुकानों को सातों दिन खोलने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने रजला पंचायत को निर्माण कार्यो, आधार सिडिंग के कार्य तथा योजनाओं के क्रियान्वयन में जिले में अग्रणी लाने के लिए निर्देश दिए। साथ ही योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के भी निर्देश दिए। श्री सिंह ने ग्राम पंचायत रजला में सड़क के निर्माण कार्य का अवलोकन किया। इसके बाद प्राथमिक विद्यालय खांडियाखाल का आकस्मिक निरिक्षण किया और ग्राम पंचायत द्वारा किए गए नवाचार के कार्यों का अवलोकन किया और इन कार्यो की सराहना की। कलेक्टर श्री सिंह ने ग्राम पंचायत गुलाबपुरा में कन्टूर टेंªच के निर्माण कार्य का अवलोकन किया और मजदूरों की संख्या बढाने के निर्देश दिए। उन्होने ग्राम पंचायत वागलावाट भूरिया कार्यालय का अवलोकन किया और पंचायत भवन जिर्णशीर्ण पाए जाने पर भवन का मरम्मत कार्य तत्काल कराए जाने के निर्देश दिए। इसके बाद छापरी (रजला) में वाझियां डुंगर पर बनी हुई नक्षत्र वाटिका का अवलोकन किया तथा नक्षत्र वाटिका में प्रकाश की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होने खरडुबड़ी में बनाए जा रहे नीरकूप का अवलोकन किया और कुए के आस-पास वाटर रिर्चाज की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कन्या शिक्षा परिसर रोटला में बने नव निर्मित भवनों को देखा और इन भवनों में पानी की व्यवस्था करने के निर्देश सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग को दिए। श्री सिंह ने ग्राम पंचायत रोटला में कलस्टर स्तर की बैठक ली और निर्माण कार्यो, आधार सिडिंग कार्य तथा आयुष्मान भारत योजना के तहत बनाए जा रहे कार्ड की समीक्षा की और आयुष्मान भारत के कार्ड शतप्रतिशत बनाने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने इसके बाद छोटी कोकावद में स्थित आरोग्य केन्द्र का अवलोकन किया और आरोग्य केन्द्र में रखी दवाईयों की जानकारी ली। साथ ही आरोग्य केन्द्र भवन की रंगाई-पुताई कराने व झुले तथा फिसल पट्टी का कलर करने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने इसके बाद रामा में स्थित जनपद पंचायत कार्यालय का जायजा लिया और जनपद पंचायत कार्यालय परिसर में साफ-सफाई व्यवस्था, भवन की रंगाई-पुताई कराने के निर्देश दिए। भ्रमण के दौरान मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्वार्थ जैन, सहायक आयुक्त श्री प्रशांत आर्या, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एम.एल.मालवी, जिला आपूर्ति अधिकारी श्री मुकुल त्यागी, अनुविभागीय अधिकारी पीआईयू श्रीमति आरती यादव, तहसीलदार श्री प्रवीण ओहरिया, जनपद पंचायत श्री एम.एल.टाॅक सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


जिले में उर्वरक की निर्वाध आपूर्ति बनाये रखनेके उद्देश्य से उर्वरक विक्रेता, उर्वरक विक्रय पी.ओ.एस. मशीन से ही करें पी.ओ.एस. मशीन एवं वास्तविक स्कन्ध में भिन्नता न रखें

झाबुआ। भारत सरकार द्वारा उर्वरक विक्रय में डी.बी.टी. योजना लागू की गई है। इसके अनुसार सभी उर्वरक विक्रेताओं को पी.ओ.एस. मशीन के माध्यम से ही उर्वरक विक्रय किया जाना अनिवार्य है। पी.ओ.एस. मशीन में प्रदर्शित स्कन्ध एवं भौतिक रूप से भण्डारित स्कन्ध में भिन्नता नहीं होना चाहिए। उर्वरक विक्रेता को इसका विशेष ध्यान रखना होगा। इसके लिए विभाग द्वारा सघन अभियान भी चलाया जा रहा है। जिले में किसी भी उर्वरक विक्रेताओं के प्रतिष्ठान पर पी.ओ.एस. मशीन में प्रदर्शित स्कन्ध एवं वास्तविक रूप से भण्डारित स्कन्ध में विसंगति पाई जाने पर उर्वरक (नियंत्रण) आदेश 1985 के तहत कार्यवाही की जावेगी। यूरिया तथा डी.ए.पी. जैसे उर्वरकों को पी.ओ.एस. मशीन के माध्यम से ही विक्रय की अनिवार्यता है। उर्वरक क्रय के लिए आने वाले क्रेता कृषक का पी.ओ.एस. मशीन में अंगूठा का निशान अंकित करवाने के उपरांत ही उर्वरक विक्रय किया जाना चाहिए। उप संचालक श्री एन.एस.रावत ने जिले के समस्त निजी उर्वरक थोक, खेरची विक्रेताओं से अपील की है कि वे शासन द्वारा निर्धारित प्रक्रिया का अनुपालन करते हुए ही उर्वरक विक्रय करें। जिले की सहकारी समितियों, विपणन संघ के उर्वरक विक्रय केन्द्रों पर भी इस प्रक्रिया का पालन करना अनिवार्य है।यूरिया, डी.ए.पी. जैसे उर्वरकों की आपूर्ति और उचित मूल्य पर विक्रय व्यवस्था निर्वाध बनाये रखने के लिए पी.ओ.एस. मशीन से विक्रय की प्रक्रिया का अनुपालन अति आवश्यक है। यदि किसी उर्वरक विक्रेता के यहाँ पी.ओ.एस. मशीन किसी कारणवश कार्य नहीं कर रही हों तो कम्प्यूटर आधारित डेस्कटाॅप वर्शन का प्रयोग कर उर्वरक विक्रय किया जा सकता है। किसी कृषक का मशीन में अगुंठा का निशान अंकन में कठिनाई होने की स्थिति में कृषक आधार नम्बर अथवा वोटर आई.डी./किसान क्रेडिट कार्ड का नम्बर उपयोग करते हुए भी यूरिया, डी.ए.पी. उर्वरक की व्यवस्था भी प्रावधानित की गई है। उप संचालक कृषि द्वारा अधिनस्त विकासखण्डों के उर्वरक निरीक्षक एवं मैदानी अमलों की जिला कार्यालय में बैठक आहुत की जाकर सघन अभियान चलाये जाने के लिए कडे़ निर्देश दिये गये है। उन्होने जिले के समस्त उर्वरक विक्रेताओं से यह भी आव्हान करता है कि निर्धारित उचित मूल्य पर ही उर्वरक का विक्रय करें। निर्धारित प्रक्रिया का उल्लंघन पाये जाने की स्थिति में संबंधित विक्रेता उर्वरक (नियंत्रण) आदेश 1985  के तहत कार्यवाही के भागीदार होगें।


नोडल तथा सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त

झाबुआ। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) श्री रोहित सिंह ने जिले में नगरीयनिकायों तथा त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन 2020-21 के लिए ैम्छैम् की गतिविधियों के संचालन एवं पर्यवेक्षण के लिए नोडल अधिकारी, सहायक नोडल अधिकारी तथा मास्टर टेªनर्स की नियुक्ति की है। त्रि-स्तरीय पंचायतों के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत तथा नगरीय निकाय मेघनगर के लिए अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत झाबुआ को जनपद पंचायत क्षेत्र झाबुआ के लिए, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत रामा के लिए, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत राणापुर को जनपद पंचायत राणापुर के लिए, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत मेघनगर को जनपद पंचायत क्षेत्र मेघनगर के लिए, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत थांदला को जनपद पंचायत क्षेत्र थांदला के लिए, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत पेटलावद को जनपद पंचायत क्षेत्र पेटलावद के लिए, और मुख्य नगरपालिका अधिकारी मेघनगर को नगरीय निकाय मेघनगर के लिए सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। श्री सिंह ने व्याख्यता श्री लोकेन्द्र चैहान, वरिष्ठ अध्यापक श्री अजय कुशवाह, श्री हरिश कुण्डल तथा उप यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री एस.के. तिवारी को त्रि-स्तरीय पंचायत एवं नगरीय निकाय मेघनगर के लिए जिला स्तरीय मास्टर टेªनर्स की  नियुक्ति की है। इसी प्रकार प्रभारी प्रार्चाय श्री मनोज खाबीया तथा उच्च श्रेणी शिक्षक श्री सुशीम जायसवाल को झाबुआ विकास खण्ड के लिए, अध्यापक श्री अबरार खाॅन तथा राजेश वर्मा को रामा के लिए, प्रभारी प्राचार्य श्री खुजेमा अली तथा श्री मनीष पवार को राणापुर के लिए, वरिष्ठ अध्यापक श्री फिरोज खाॅन तथा श्री सतीष पाटिदार को मेघनगर के लिए, प्राचार्य श्री नारायण श्रीवास्तव तथा सहायक प्राध्यापक डाॅ. पीटर डोडियार को थांदला के लिए और सहायक प्राध्यापक श्री अमृतलाल परमार, श्री कैलाश मेड़ा तथा प्राचार्य श्री औंकारसिंह मेड़ा को पेटलावद विकास खण्ड के लिए, सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। श्री सिंह ने निर्देश दिए है कि ैम्छैम् से संबंधित गतिविधियों के संचालन के लिए प्रत्येक विकास खण्ड स्तर पर एक कैलेण्डर तैयार किया जाना सुनिश्चित करें। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व तथा तहसीलदार (समस्त) सेेंस गतिविधियों का परिवेक्षण करेंगे।


रिपब्लिक भारत चैनल के चीफ एडिटर अर्नब गोस्वामी की मुंबई पुलिस द्वारा गिरफतारी पर जिला भाजपा संगठन ने जताया विरोध, भाजपा जिला मीडिया एवं जिला कार्यालय मंत्री ने जारी किया अपना व्यक्तत्व

झाबुआ। देषभर में लोकप्रिय हुए न्यूज चैनल ‘‘रिपब्लिक भारत’’ के प्रमुख, चीफ एडिटर अर्नब गोस्वामी को देष की महानगरी मुंबई में उनके निवास से महाराष्ट्र सरकार के ईषारे पर मुंबई पुलिस ने गिरफतार किया है। इस दौरान उनसे मुंबई पुलिस ने अभद्र व्यवहार करते हुए मारपीट करने तथा परिवार के साथ  भी झूमाझटकी आदि करने का जिला भाजपा संगठन ने भी विरोध जताया है तथा इसे महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस द्वारा लोकतंत्र की हत्या करने के समान बताया है। इस संबंध में अपना व्यक्तत्व जारी करते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर एवं जिला कार्यालय मंत्री पं. महेन्द्रकुमार तिवारी ने बताया कि अर्नब गोस्वामी देष के जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार है। जो देष के मुद्दों पर खुलकर अपनी राय अपने विषेष शो ‘‘पूछता है भारत’’ के माध्यम से रखकर देष की जनता तक सच पहुंचाने का कार्य बखूबी करते है। उन्होंने देष के जटिल मुद्दों मुंबई के पालघर मामले में संतों एवं साधुओं की हत्या करने के बाद फेमस युवा अभिनेता सुषांतसिंह राजपूत के हत्या केस की भी परत-दर-परत खुलासा कर रहे है तथा हत्यारों की तह तक पहुंचकर उन्हें बेनकाब करने का बखूबी प्रयास अर्नब गोस्वामी एवं उनकी न्यूज चेनल की टीम द्वारा निर्भिक रूप से किया जा रहा है।

महाराष्ट्र सरकार एवं मुंबई पुलिस को रास नहीं आ रहा

उक्त दोनो वरिष्ठ पत्रकार श्री नाहर एवं श्री तिवारी ने आरोप लगाते हुए आगे कहा कि यह महाराष्ट्र की गठबंधन उद्धव सरकार को रास नहीं आ रहा है और ना ही कांग्रेस तथा एनसीपी के गले के नीचे उतर रहा है, इसलिए वह मुंबई में पुलिस पर लगातार दबाव बनाकर एवं उनके ईषारे पर मुंबई पुलिस ‘‘रिपब्लिक न्यूज चेनल‘‘ के पत्रकारों और उक्त चेनल के प्रमुख अर्नब गोस्वामी को आए दिन टारगेट बनाते हुए पुलिस द्वारा चेनल के पत्रकारों के साथ अभद्र व्यवहार करने और उन्हंे गिरफतार करने जैसे कृत्य किए जा रहे है।

अर्नब गोस्वामी की गिरफतारी मीडिया की स्वतंत्रता का हनन

भाजपा जिला मीडिया प्रभारी श्री नाहर एवं जिला कार्यालय मंत्री श्री तिवारी ने संयुक्त व्यक्तत्व में कहा कि 4 नवंबर, बुधवार को सुबह उक्त न्यूज चेनल के प्रमुख अर्नब गोस्वामी को उनके निवास पर आकस्मिक कार्रवाई कर मुंबई पुलिस द्वारा अभ्रद व्यवहार एवं मारपीट का सहारा लेकर गिरफतार करने तथा परिवारजनांे के साथ भी झूमाझटकी करना साफ तौर पर मीडिया की स्वतंत्र का पूर्णतः हनन है। जिसका देष में जगह-जगह भाजपा, हिन्दू संगठन, करणी सेना, पत्रकार संगठन अपना विरोध दर्ज करवा रहे है। साथ ही अर्नब गोस्वामी को पुलिस गिरफत से रिहा कर उनकी स्वतंत्रता का हनन नहीं करने की मांग की जा रहीं है। इसी क्रम में जिला भाजपा ने भी अर्नब गोस्वामी की गिरफतारी का विरोध करते हुए उन्हें जल्द रिहा करने की मांग महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस से की है।

कोई टिप्पणी नहीं: