बेतिया : चुनाव का अनुभव सकारात्मक एवं छू जाने वाला रहा : मदन मोहन तिवारी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 13 नवंबर 2020

बेतिया : चुनाव का अनुभव सकारात्मक एवं छू जाने वाला रहा : मदन मोहन तिवारी

madan-mohan-tiwari
बेतिया।  बेतिया- मझौलिया विधानसभा सीट से पराजित कांग्रेसी मदन मोहन तिवारी ने हाथ जोड़कर  आज बेतिया- मझौलिया की जनता और लोकतंत्र को नतमस्तक होकर प्रणाम किए है। उन्होंने कहा कि इस चुनाव का अनुभव सकारात्मक एवं दिल को छू जाने वाला रहा। यह स्पष्ट है की बेतिया -मझौलिया की जनता को भी मुझसे कितनी उम्मीदें हैं, कितना प्रेम है।चुनाव की हार -जीत से मैं विचलित नहीं हूँ, बल्कि और भी दृढंसंकल्पित हूँ। उन्होंने कहा कि मैं बेतिया की जनता के बीच किसानों और युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए और भी तत्परता से कार्य करता रहूँगा। मैं महागठबंधन के शीर्ष नेतृत्व को ह्रदय से धन्यवाद देता हूँ और यह विश्वास दिलाता हूँ की मैं महागठबंधन बेतिया के संगठन को और मजबूत करने की दिशा की ओर समर्पित रहूँगा।मैं भाजपा की नवनिर्वाचित विधायक रेणु देवी जी की जीत पर बधाई देता हूँ और यह अपेक्षा करता हूँ की वह बेतिया की उन्नति और सौहार्द कायम रखने के लिए काम करेंगी।    मैं पुनः बेतिया मझौलिया विधानसभा क्षेत्र की जनता को धन्यवाद देता हूँ और कार्यकर्ता के रूप में कांग्रेस के और माननीय नेता मेडम सोनिया गांधी, राजीव गांधी और तेजस्वी यादव जी द्वारा दिखाए मार्ग पर चल कर जनता की सेवा में समर्पित रहूँगा।कांग्रेसी मदन मोहन तिवारी के साथ मिलकर कार्य करने वाले कांग्रेसी गोडेन अंथौनी ठाकुर ने कहा कि चुनाव में जय-पराजय लगी रहती है।हमलोग निराश और न हताश हैं।एक दिन समय आएगा। कौरातुलेन खान ने कहा कि अगर मुझे सच में किसी के लिए अफसोस है तो वह सिर्फ दो व्यक्ति हैं। एक आप मदन मोहन तिवारी और दूसरा ढाका विधायक फैसल रहमान साहब। हमेशा आप हम सबके लिए हम सब के साथ हमारे सुख-दुख में खड़े रहे, हम भी आपके साथ खड़े हैं और साथ ही रहेंगे और आशा करते हैं कि आप हार नहीं मानेंगे। कोशिश करने वालों की हार नहीं होती। आपके कार्यों के लिए तथा आपके वैचारिक और व्यवहारिक व्यक्तित्व के लिए सहृदय धन्यवाद। सुरज कुमार का स्पष्ट कहना है कि आप मदन मोहन तिवारी जी यह माने या ना माने,आपने महागठबंधन को साथ लेकर नहीं चले।केवल कांग्रेस पार्टी और उसके कार्यकर्त्ता पर ही ज्यादा ध्यान दिए।जिसके कारण आपका संगठन कमजोर हो गया।और कुछ ऐसे भी लोग जो हमेशा साथ रहे,उन्हें पार्टी से नहीं आपके पैसो और पावर का लालच था।जिसके परिणामस्वरूप आपको असफलता मिली। आगे से आप इन छोटी -छोटी बातों पर जरूर ध्यान दें। मो. कैफ ने कहा कि बेतिया - मझौलिया विधानसभा क्षेत्र के लिए आपने जो किया है उसको कभी भुलाया नहीं जा सकता। आपने जितना मेहनत किया है उसका फल नहीं मिला है। खैर , कोई बात नहीं आने वालें दिनों में उसका फल जरुर मिलेगा और हम लोग आपके साथ कदम से कदम मिलाकर चलेंगे और अल्लाह ने चाहा तो आने वाले दिनों में आपकी जीत पक्की होगी मदन मोहन तिवारी जिंदाबाद। यदुवंशी संतोष ने यहां पर यह सवाल उठाया कि सरायरंजन विधानसभा क्षेत्र में 900 पोस्टल बैलेट रद्द किये गये।क्या पढ़े-लिखे सारे कर्मचारी मूर्ख थे जिन्हें वोट नहीं करने आया..??

कोई टिप्पणी नहीं: