“छठ पूजा" के अवसर पर ‘माई स्टाम्प’ का विमोचन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 20 नवंबर 2020

“छठ पूजा" के अवसर पर ‘माई स्टाम्प’ का विमोचन

my-stamp-on-chhath-bihar
पटना, 19 नवंबर, केन्द्रीय संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी और विधि एवं न्याय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने “छठ पूजा" के अवसर पर बृहस्पतिवार को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए “माई स्टाम्प" का विमोचन किया। मुख्य डाक महाध्यक्ष (बिहार परिमंडल) अनिल कुमार ने बताया कि प्रसाद ने महान लोक पर्व “छठ पूजा" के अवसर पर बृहस्पतिवार को नई दिल्‍ली से वीडियो कांफ्रेंस के जरिए “माई स्टाम्प" का विमोचन किया। उन्होंने बताया कि “माई स्टाम्प" किसी विशेष व्यक्ति अथवा विशिष्ट महत्व वाले अवसरों, सांस्कृतिक एवं आध्यात्मिक विरासतों आदि के प्रसंग में उनके महत्व को दर्शाते हुए यादगार बनाने के लिए एवं उनसे जुड़ी विशिष्ट बातों के माध्यम से जन-मानस को संदेश देने के लिए भारतीय डाक विभाग की एक अनोखी पहल है। अनिल ने कहा कि इसके महत्व का अनुमान इसी बात से लगाया जा सकता है कि बिहार परिमंडल में “छठ पूजा" के माई स्टाम्प का विमोचन इस प्रकार का मात्र दूसरा विमोचन है। इसके पहले “बोधगया" की विशिष्टता को प्रदर्शित करने वाले माई स्टाम्प का विमोचन किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि "माई स्टाम्प" लोगों को अपने जीवन से जुड़े महत्वपूर्ण अवसरों जैसे बच्चे का जन्मोत्सव, विवाहोत्सव तथा उनके जीवन का अभिन्‍न अंग बन चुके ऐसे अन्य आनंददायक अवसरों को यादगार बनाने का अनूठा अवसर प्रदान करता है। इन डाक टिकटों को उपहारस्वरुप देने के साथ-साथ डाक शुल्क के रूप में प्रयोग किया जा सकता है। अनिल ने कहा कि माई स्टाम्प योजना का उद्देश्य ग्राहकों को निजी पसंद के अनुसार डाक टिकट बनवाने का अवसर प्रदान करना है, जिस पर वे अपनी अथवा अपने प्रियजनों के फोटो अथवा हैरीटेज भवन, उनके प्रतीक चिन्ह आदि के फोटो का अंकन करा सकते हैं। इसके लिए कोई व्यक्ति अपने नजदीकी डाकघर से संपर्क कर सकता है और महज 300 रुपए शुल्क पर अपने सपने को साकार कर सकता है।उन्होंने कहा कि छठ पर्व के अवसर पर बिहार डाक परिमंडल द्वारा निकाले गये एक विशेष आवरण जिसका विमोचन बांकीपुर एवं दीघा के विधायक नीतिन नवीन एवं संजीव कुमार चौरसिया ने किया।

कोई टिप्पणी नहीं: