सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 28 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 28 नवंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 28 नवम्बर

बरातियों से मारपीट,महिलाओं से छीने जेवर फेका ग्रहस्थी का समान,खाना कर दिया बर्बाद

पीडि़त परिवार ने एएसपी को दिया शिकायती पत्र आरोपियों पर की गई सख्त कार्रवाहीं की मांग  पीडि़त ने एएसपी को दिया घटना का वीडिया 

sehore news
सीहोर। पड़ोसियों को शादी में नहीं बुलाना कुम्हार मोहल्ला गंज के प्रजापति परिवार को भारी पड़ गया।  गुस्साएं मोहल्ले के लोगों ने दो बेटियों की शादि को तहस नहस कर दिया। यहीं नहीं बरातियों पर ईट पत्थरों से हमला किया। बारात के साथ पहुंची महिलाओं के सोने चांदी के जेवरों को लूट लिया गया। महिलाओं और युवतियों के साथ अश्लील छेड़छाड़ की गई। दहेज के लिए रखा ग्रहस्थी का समान तोड़ फोड़ दिया। बरातियों के लिए बनाया गया हजारों रूपये का खाना भी बर्बाद कर दिया गया। पीडि़त परिवार कोतवाली पहुंचा लेकिन पुलिस ने मामले को अनसुना कर दिया। पीडि़त लक्ष्मीनारायण प्रजापति ने शनिवार को जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर एएसपी समीर यादव को शिकायती पत्र देकर आरोपियों पर सख्त कर्रवाही करने की मांग की गई। कोतवाली थाना क्षेत्र के कुम्हार मोहल्ला गंज में निवासरत लक्ष्मीनारायण प्रजापति के घर 26 नवंबर गुरूवार को बड़ी पुत्री रचना प्रजापति के लिए इंदौर निवासी राजा प्रजापति और शाजापुर से छोटी बेटी आरती प्रजापति के लिए  नितेश प्रजापति बारात लेकर पहुंचे थे। दोनों बारात सत्कार और भोजन प्रजापति धर्मशाला  में रखा गया था। रात 8 बजे के दरमियान शादी में नहीं बुलाने को लेकर मोहल्ले की हीं रेखा पत्नी रघुनाथ, अमित पुत्र रघुनाथ, अर्जुन पुत्र रतिराम ,अखिलेश पुत्र लालजीराम पहंचे और गालिया देने लगे। बाराती और घराती कुछ समझपाते इससे पहले हीं उक्त लोगों के द्वारा लूटपाट शुरू कर दी गई। बारात  में  इंदौर से पहुंची सीमा प्रजापति के गले से सोने की चैन, मंगलसूत्र खेचकर लिया गया। उक्त लोगों के द्वारा मारपीट शुरू कर दी गई। बीच बचाव करने वाले स्थानीय लोगों को भी मारापीटा गया। रात में हीं माता मंदिर चौराहा पार्क के पास खड़ी बारातियों की बस में रखे दहेज के सामन को तोड़ दिया  गया। घटनाक्रम के बाद रात 9 बजे के दरमियान लक्ष्मीनारायण प्रजापति अपने रिस्तेदारों के साथ कोतवाली पहुंचे लेकिन पुलिस ने कोई तब्बजों नहीं दी गई।  काफी देर तक घायल अवस्था में  सीमा प्रजापति और दीपक प्रजापति खून से लथपत कोतवाली परिसर में खड़े रहे। पुलिस  के द्वारा  बमुश्किल रिपोर्ट दर्ज की गई लेकिन गलत बात लिखकर मामूली धाराओं में मुकदमा कायम किया  गया। जबकी पीडि़तों के द्वारा लूट महिलाओं के साथ छेडछाड़ की बात एफआईआर में लिखने के लिए  कहा जाता रहा है। मामले को लेकर शनिवार को पीडि़त लक्ष्मीनारायण प्रजापित ने एएसपी समीर यादव  को कोतवाली पुलिस के द्वारा  की गई लापरवाही का वीडियों भी जांच के लिए दिया है।


एसडीएम कार्यालय पहुंचा राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ नारेबाजी कर दिया किसान हितैशी मांगों को लेकर ज्ञापन
आंदोलन में शामिल जेल में बंद किसानों को किया जाए आजाद अन्नदाताओं पर पानी की बौछार,आसूगैस के गोले और लाठी चार्ज 

sehore news
सीहेार।
किसानों की विभिन्न समस्याओं के संदर्भ में राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ ने शनिवार को एसडीएम कार्यालय पहुंचकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया। महासंघ ब्लाक अध्यक्ष बलराम मुकाती के नेतृत्व में किसानों ने नारेबाजी कर दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे आंदोलन में शामिल पंजाब हरियाणा के किसानों को आजाद करने की मांग की गई।     राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ ने कहा की वर्तमान में दिल्ली आंदोलन में जिन किसानों को जेल में बंद कर दिये गये है । उन तत्काल रिहा किया जाये । क्योंकि यह लोकतंत्र की मर्यादा के विरुध है । दिल्ली बार्डर पर लाखो कियानों को रोक दिया गया है । देश के अन्नदाता पर पुलिस प्रशासन द्वारा अत्याचार किया जा रहा है । किसानों पर ठंड में पानी की बौछार एवं आसूगैस के गोले तथा लाठी चार्ज किया जा रहा है। शांतिपूर्वक आन्दोलन के लिये दिल्ली जा रहे किसानों को रोका जा रहा  है। श्री मुकाती ने कहा की भारत सरकार द्वारा जून 2020 को तीन कृषि अध्यादेश लेकर आयी है । जिन्हें लोक सभा राज्य रत्मा ने बहुमत से पास करवा कर लागु भी कर दिया है । उन्हें भारत सरकार तत्काल वापस ले,मण्डी मॉडल एक्ट भी लागु किया है उसे भी तत्काल खज्म  किया  जाए।    यह अध्यादेश  किसान  विरोधी है इससे मंडी व्यवस्था समाप्त हो जायेगी । मप्र सरकार ने 2010 की बीमा राशि किसानों को आज तक नहीं दिया है । अतिवृष्टि से सम्पूर्ण नष्ट हो गई फसल की बीमा राशि दी जाए।  गई है । तत्काल राहत राशि किसानों को दी जाये । ज्ञापन सौपने वालों  में जसमतसिंह मेवाहा, अर्जुन मुकाती, बाबूलाल पटेल, कमलेश गौर,रामचरण मीना, पवन परमार, राम मुकाती, पृथ्वीसिंह मेवाहा,राधेश्याम, सुखराम विश्वकप्ती, राजेन्द्र गौर , आत्माराम जी, रामविलास जाट , सत्यनारायण परमार , प्रहलादसिंह वर्मा, विष्णु जलोदिया,राधेश्याम गौर  आदि किसान शामिल रहे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज शाहगंज आएंगे

मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश शासन श्री शिवराज सिंह चौहान 29 नवंबर 2020 रविवार को सीहोर जिले के शाहगंज आएंगे। जारी दौरा कार्यक्रम अनुसार मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 29 नवंबर 2020 को प्रात: 11 बजे भोपाल से हेलीकाप्टर द्वारा प्रस्थान कर प्रात: 11:20 बजे सीहोर जिले शाहगंज आएंगे। जहां स्थानीय कार्यक्रम में भाग लेंगे। दोपहर 1:30 बजे शाहगंज से हेलीकाप्टर द्वारा भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।

कलेक्टर के निर्देश पर की गई अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही

sehore news
शनिवार को कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देशानुसार अनुविभागीय अधिकारी सीहोर श्री आदित्य जैन के नेतृत्व में शासकीय भूमि पर अवैध रूप से निर्मित भवनों पर कार्रवाई के क्रम में मंडी, सीहोर स्थित हरीश राठौर पुत्र सेवाराम के अवैध रूप से निर्मित भवन को ध्वस्त करने की कार्रवाई की गई। हरीश राठौर एवं प्रिंस राठौर पर साहूकारी अधिनियम के अंतर्गत पूर्व में 6 प्रकरण प्रचलित है एवं इनके द्वारा नजूल क्षेत्र की लगभग 1000 वर्ग फीट भूमि पर अतिक्रमण कर भवन निर्मित किया गया था जिसके विरुद्ध प्रशासन द्वारा आज कार्रवाई करते हुए भवन को ध्वस्त किया गया। इस मौके  पर नगर पुलिस अधीक्षक के साथ पुलिस बल एवं नगरपालिका के कर्मचारी भी उपस्थित थे।

आयुष्मान गोल्डन कार्ड के लिए निर्देश जारी

आयुष्मान भारत योजना का गोल्डन कार्ड प्राप्त करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। निर्देशों में बताया गया है कि आयुष्मान भारत "निरामयम्" योजना में गोल्डन कार्डधारक परिवार कोविड-19 सहित अन्य गंभीर रोगों का नि:शुल्क उपचार करा रहे हैं। कार्ड नहीं होने पर नागरिक नहीं घबराएं कॉमन सर्विस सेंटर या "लोक सेवा केन्द्र" पहुँचकर पात्रता की जाँच कराएं। 30 रूपए की फीस जमाकर गोल्डन कार्ड बनवाएं जा सकते है। गोल्डन कार्ड बनाने के लिए पारिवारिक समग्र आई.डी/मतदाता पहचान पत्र या अन्य कोई सरकारी फोटो पहचान पत्र साथ में अवश्य लेकर लोक सेवा केन्द्र जाना होगा।नागरिक अधिक जानकारी के लिए टोल फ्री नम्बर 14555 / 18002332085 पर कॉल कर सकते हैं या वेबसाइट ayushmanbharat.mp.gov.in/ पर लॉग इन करने के अलावा लोक सेवा केन्द्र या जन सेवा केन्द्र (CSC) संपर्क कर सकते हैं।

3 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 132 है

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले पिछले 24 घंटे के दौरान 3 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। इछावर स्थानीय से 1 तथा सारस से 1 एवं बुदनी के सेमरी से 1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। जिले में एक्टिव/संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 132 है। कुल रिकवर की संख्या 2171 है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 391 सैम्पल लिए गए है।  सीहोर शहरी क्षेत्र से 18 सैम्पल लिए गए, नसरूल्लागंज 92, आष्टा से 84, इछावर से 63, श्यामपुर से 100 बुदनी से 34 सैम्पल लिए गए है। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2350 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2171 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/ पॉजीटिव की संख्या 132 है। आज 391 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 44656 हैं जिनमें से 41844 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 454 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 391 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति या उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।

तीन दिसंबर को प्रस्तावित मुख्यमंत्री के कार्यक्रम की तैयारी के संबंध में बैठक आज

अपर कलेक्टर गुंचा सनोबर ने जारी आदेश में जानकारी देते हुए बताया कि 03 दिसंबर 2020 को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह का नसरुल्लागंज में कार्यक्रम प्रस्तावित है। कार्यक्रम की तैयारी के लिए जिला पंचायत सभाकक्ष में 29 नवंबर 2020 को दोपहर 12 बजे बैठक आयोजित की जाएगी।  

मध्यप्रदेश कराधान अधिनियमों की पुरानी बकाया राशि का समाधान अध्यादेश 2020

वाणिज्यिक कर विभाग द्वारा प्रशासित वेट एवं अन्य पूर्व अधिनियमों के अन्तर्गत लंबित बकाया राशि के समाधान के लिये राज्य शासन के वाणिज्यिक कर विभाग द्वारा मध्यप्रदेश कराधान अधिनियमों की पुरानी बकाया राशि का समाधान अध्यादेश 2020, 26 सितम्बर 2020 से लागू किया गया है। इस योजना में 31 मार्च 2016 की अवधि तक के कर निर्धारण प्रकरणों में निकाली गई अतिरिक्त मांग की लंबित बकाया राशि के समाधान का प्रावधान रखा गया है। यह योजना 26 सितम्बर 2020 से 23 जनवरी 2021 तक की अवधि (120 दिवस) के लिये है। योजना के समुचित क्रियान्वयन के लिये विभागीय अधिकारियों द्वारा कर सलाहकारों/सी.ए./व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ 145 से अधिक वेबिनार/सेमिनार के माध्यम से समुचित संवाद स्थापित कर बकाया समाधान योजना का अधिक से अधिक लाभ लेने का आग्रह किया गया है। इसी कड़ी में वेट के तहत पंजीयत रहे लगभग 3 लाख करदाताओं को बल्क एसएमएस के माध्यम से योजना का लाभ उठाने का अनुरोध किया गया। प्रदेश के प्रमुख समाचार पत्रों में विज्ञापन के जरिये योजना का प्रचार-प्रसार सुनिश्चित किया गया। समाधान योजना में 60 दिवस, 90 दिवस और 120 दिवस के भीतर आवेदन करने में पृथक-पृथक योजना के लाभ लिये जाने संबंधी प्रावधान किये गये हैं। योजना के 60 दिवस 24 नवम्बर 2020 को पूरे हो चुके हैं। योजना के इस प्रथम चरण में 16 हजार 500 आवेदन प्राप्त हुए हैं और इन आवेदनों के साथ 115 करोड़ 30 लाख की राशि शासकीय कोष में जमा कराई गई है।

कोई टिप्पणी नहीं: