सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 6 नवंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 नवम्बर

12 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 77 है


sehore news
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान 12 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर के अवधपुरी से 1, गल्ला मंडी से 2, दांगी स्टेट से 2 तथा नरेन्द्र नगर से 1 व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। नसरुल्लागंज स्थानीय से 1 तथा गिल्लोर एवं नीलकंठ से 1-1 व्यक्ति, बुदनी के वार्ड नंबर 10, मथनी एवं श्यामपुर के आमाझिर से 1-1 व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। जिले में एक्टिव/ पॉजीटिव की संख्या 77 है। आज 7 व्यक्तियों को रिकवर होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। जिले में कुल डिस्चार्ज/रिकवर व्यक्तियों की संख्या 2035 है। संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु संख्या 41 है। आज 445 सैम्पल लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से 44 सैम्पल लिए गए, नसरूल्लागंज 63, आष्टा से 151, इछावर से 62, श्यामपुर से 71, बुदनी से 54 सैम्पल लिए गए हैं। आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2153 है जिसमें से 41 की मृत्यु हो चुकी है 2035 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/ पॉजीटिव की संख्या 77 है। आज 445 सैंपल जांच हेतु लिए गए। जांच के लिए अब तक भेजे गए कुल सेंपलों की संख्या 36542 है। कुल निगेटिव सेंपलों की संख्या 33872 है। आज 400 सेंपलों की जांच निगेटिव प्राप्त हुई है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति या उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।


विदेशी निर्मित पटाखे बेचने पर होगी कानूनी कार्यवाही


कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने पुलिस अधीक्षक सहित जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि चीनी एवं अन्य विदेशी पटाखों का आयात बिना लायसेंस पूर्णत: वर्जित किया जाए। डायरेक्टर जनरल फारेन ट्रेड (डीजीएफटी) द्वारा चीनी अथवा विदेशी पटाखों के आयात के लिए कोई लायसेंस भी जारी नहीं किए है। त्यौहार के दौरान जिले में चीनी एवं अन्य विदेशी पटाखों का विक्रय नहीं होना सुनिश्चित करें। कलेक्टर श्री गुप्ता द्वारा जारी आदेश में चीनी एवं अन्य विदेशी निर्मित सभी प्रकार के पटाखों का भण्डारण, परिवहन तथा विक्रय पूर्ण रूप से वर्जित है। इनका आधिपत्य, परिवहन एवं विक्रय पूर्ण रूप से अवैध है। विस्फोटक अधिनियम की धारा 9 बी(1) (बी) के अंतर्गत इस प्रकार के अवैध पटाखों के भण्डारण, वितरण, विक्रय तथा उपयोग किये जाने पर 2 साल तक की सजा का प्रावधान है। कार्यपालिक दण्डाधिकारी को कहा है कि नियम 84 (विस्फोटक अधिनियम अंतर्गत प्रभावशील नियम) में ऐसे विदेश में निर्मित पटाखों के लिए अस्थाई लायसेंस जारी नहीं किए जाए। चीनी एवं अन्य विदेशी पटाखों के भण्डारण, परिवहन तथा विक्रय करने पर कानूनी प्रावधानों के अंतर्गत सख्त कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। उपरोक्त निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाए।


शासकीय सेवक की सेवाकाल में मृत्यु होने पर अनुकम्पा नियुक्ति के संशोधित नियम जारी


शासकीय सेवक की सेवाकाल में मृत्यु होने पर अनुकंपा नियुक्ति के लिये नये नियम जारी किये गए है। पूर्व में जारी किये गये निर्देशो के क्रम में संशोधित निर्देश स्थापित किये गये है। जिसके अंतर्गत अनुकंपा नियुक्ति के लिए आवेदन पत्र संशोधित परिशिष्ठ 01 प्रति स्थापित किया जाता है। शेष निर्देश और नियम यथावत रहेंगे। इसी प्रकार अनुकंपा नियुक्ति प्राप्तकर्ता पेशनर है, तो उसके द्वारा संशोधित परिशिष्ठ 01 में दी गई जानकारी के आधार पर नियुक्ति अधिकारी का यह दायित्व होगा कि वह संबंधित बैंक/जिला कोषालय अधिकारी को नियुक्ति आदेश प्रष्ठाकित करे। जिससे उसका पीपीओ, बैंक खाता क्रमांक तय मप्र शासन वित्त विभाग के परिपत्र 19 अप्रैल 2007 के तहत संबंधित को परिवार पेंशन पर राहत देय नही करने हेतु सूचित करें।


अभी तक 401 ग्राम पंचायतों में किया गया किसान खेत पाठशाला का आयोजन


sehore-news
किसान कल्याण तथा कृषि विकास उपसंचालक श्री एसए.एस. राजपूत ने जानकारी देते हुए बताया कि जिले में किसान खेत पाठशाला का आयोजन निरंतर जारी है। अभी तक सीहोर विकासखंड की 116, आष्टा की 103, इछावर की 60, बुधनी की 56 एवं नसरुल्लागंज की 66 ग्राम पंचायतों इस प्रकार कुल 401 ग्राम पंचायतों में खेत पाठशालाओं का आयोजन सफलतापूर्वक संपन्न हो चुका है। यह पाठशालाएं है 9 नवंबर 2020 तक आयोजित होंगी। पाठशालाएं अब कृषकों के खेतों पर, पशुशाला में, बगीचों में एवं गांव की चौपालों पर आयोजित की जा रही हैं क्योंकि इस समय बोनी का कार्य चल रहा है ऐसे में दर्शकों को प्रायोगिक तौर पर भी उपचार उर्वरक का उपयोग बीच के बीच मात्र वेस्ट कंपोजर कंपोस्ट खाद तैयार करने की विधि के साथ पशुशाला में पशुओं का स्वास्थ्य परीक्षण कर बीमार पशुओं का टीकाकरण किया जा रहा है। पाठशाला में उन्नत कृषि यंत्रों का उपयोग तथा उनके रखरखाव की जानकारी दी जा रही हैं। सार्वजनिक स्थल पर कृषकों को फलदार पौधों का रोपण भी किया जा रहा है जिन किसानों ने गत वर्ष गेहूं चना में अच्छा उत्पादन लिया है उनके अनुभव अन्य कृषकों को साझा करवाया जा रहा है। कृषि में महिलाओं का योगदान देता है अतः पाठशाला में महिलाओं को भी शामिल कर उन्हें उन्नत खेती की जा रही है। 

मलेरिया ट्रीटमेंट प्रोटोकाल पर प्रशिक्षण संपन्न


sehore news
वर्षाकाल के दौरान एवं वर्षा उपरांत मलेरिया, डेंगू आदि मच्छरजन्य बीमारियों में इजाफा होता है। कोविड-19 के संक्रमण के साथ इन बिमारियों के फैलने की भी संभावनाए बढ़ जाती है। अतः इनका सही समय पर जाँच, निदान एवं पूर्ण उपचार अत्यंत आवश्यक होता है। इसी दृष्टिगत जिला मलेरिया कार्यालय द्वारा जिला स्तरीय 1 दिवसीय मेडीकल आफिसर का भारत सरकार की गाइडलाईन अनुसार ट्रीटमेंट एवं प्रोटोकाल की जानकारी हेतु डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला की अध्यक्षता में प्रशिक्षण आयोजित किया गया। इस कार्यशाला में जिला की स्वास्थ्य संस्थाओं के मेडिकल आफिसर को संभागीय वरिष्ठ एण्टेमोलाजिस्ट डॉ. एम.एम. महोलिया के द्वारा विस्तृत रूप से मलेरिया ट्रिटमेंट मलेरिया उन्मुलन प्रोटोकाल एवं ट्रीटमेंट पालिसी/दिशानिर्देश की जानकारी प्रदान की गयी। कार्यशाला में समस्त मेडिकल आफिसर द्वारा उत्सुकतापूर्वक भागीदारी ली गयी एवं अनेक सवाल पूछे जिसका निराकरण वरिष्ठ एण्टेमोलाजिस्ट एवं जिला मलेरिया अधिकारी के द्वारा किया गया। समस्त सेक्टर मेडिकल अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि आपके अधीनस्थ संचालित फीवर क्लीनिक पर प्रत्येक बुखार के मरीज की आर.डी.टी. कीट के द्वारा मलेरिया की जाँच अनिवार्य रूप से की जावे एवं संभावित डेंगू/चिकनगुनिया के मरीजों के ब्लड सेम्पल लेकर जिला चिकित्सालय में एजिला जांच के लिए भिजवाया जावे।  

 “सफलता की कहानी” :

स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए सरकार ब्रांडिंग में भी सहयोग करेगी- मुख्यमंत्री

समूह की महिलाओं ने शुभ दीपावली गिफ्ट बॉक्स मुख्यमंत्री को किया भेंट

sehore news
मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन सीहोर अंतर्गत संचालित स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के आवास पर जाकर शुभ दीपावली गिफ्ट बॉक्स भेंट किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा स्व-सहायता समूह की महिलाओं को दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए महिलाओं की इस मेहनत की काफी सराहना की। समूह की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार कार्य कर रही है और संवहनीय आजीविका पर जोर देने की बात की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत बनाने के संकल्प को साकार करती स्वयं समूह की महिलाओं द्वारा गौशालाओं में पंचगव्य से बनी सामग्री, हवन सामग्री, पूजन सामग्री एवं धन की देवी लक्ष्मी जी की प्रतिमा आधारित एक शुभ दीपावली गिफ्ट बॉक्स तैयार किया गया है। इस गिफ्ट बॉक्स में समूह की महिलाओं द्वारा दीपावली पूजन में लगने वाली 26 प्रकार की सामग्री है रखी गई है। गिफ्ट पैक की कीमत बाजार में ₹ 399 में आजीविका रूरल मार्ट लुनिया चौराहा सीहोर व  आजीविका मार्ट ऐप के माध्यम से ऑनलाइन बुकिंग कर प्राप्त की जा सकेगी। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आजीविका मिशन को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाए ताकि गरीब और वंचित परिवारों को स्थाई आजीविका दी जा सके। इस अवसर पर महिलाओं के साथ कलेक्टर श्री अजय गुप्ता, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री हर्ष सिंह, जिला परियोजना प्रबंधक एनआरएलएम श्री दिनेश बरफा उपस्थित थे।

एमपी वनमित्र पोर्टल 7 नवम्बर तक खोला गया


सहायक आयुक्त आदिवासी विकास से प्राप्त जानकारी अनुसार वन अधिकार अधिनियम 2006 के तहत एमपी वनमित्र पोर्टल को 7 नवम्बर तक पुनः खोला गया है। अतः पूर्व में निरस्त किये गये दावों में वंचित रहे दावेदारों के आवेदन पत्रों को उक्त तिथि तक प्रविष्ट किया जा सकेगा। इस संबंध में समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एंव मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत को निर्देशित किया है कि वे अपने अधिनस्थ समस्त पटवारी, पंचायत सचिव, ग्राम रोजगार सहायको के माध्यम से पूर्व के निरस्त समस्त दावेदारों के आवेदन की ऑनलाइन प्रविष्ट करवाना सुनिश्चित करें। जिससे पूर्व में दावा किये जाने से वंचित रहे दावेदारों के आवेदन पर उचित कार्यवाही हो सके। 


सीहोर में 19 संस्थागत प्रसव केंद्र 29 नवम्बर से हर हाल में शुरू करें-सम्भागायुक्त श्री कियावत लापरवाही पर जिम्मेवार बर्खास्त होंगे


sehore news
सम्भाग के सीहोर जिले के दूरस्थ इलाको में 29 नवम्बर से 19 नए संस्थागत प्रसव सेंटर प्रारम्भ हो जाएंगे । सम्भागायुक्त श्री कवींद्र कियावत ने शुक्रवार को सीहोर कलेक्ट्रेट में समीक्षा करते हुए स्पष्ट रूप से कहा है कि केंद्र शुरू नहीं करने और मुख्यालय पर उपस्थित नहीं रहने वाले अमले को टर्मिनेट किया जाएगा । बैठक में कलेक्टर श्री अजय गुप्ता सहित जिला पंचायत, राजस्व, स्वास्थ्य, महिला बाल विकास के अधिकारी उपस्थित थे । श्री कियावत ने पिछली बैठक में नए केंद्र बनाने के लिए 15 दिन में सेंटर के चयन के निदेश दिए थे । उन्होंने जिला स्तरीय बैठक के अलावा सभी तहसील में उपस्थित सम्बंधित अमले से भी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा की ।श्री कियावत ने निर्देश दिए हैं कि 7 नवंबर को जिला स्तर के अधिकारियों की एक टीम बनाकर चिन्हित प्रसव केंद्रों का भ्रमण कर  प्रारंभ किए जाने वाले  केंद्रों की पर्याप्त व्यवस्था, सामग्री, उपकरण, बिल्डिंग की स्थिति, स्टाफ की व्यवस्था, आईईसी सामग्री का प्रदर्शन आदि सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि 29 नवंबर तक हर स्थिति में चिन्हित 19 उप स्वास्थ्य केंद्रों को प्रसव केंद्रों एल-1 के रूप में उन्नयन करना है । जिला चिकित्सालय सीहोर, इछावर, आष्टा व नसरुल्लागंज में 4 केंद्रों के माध्यम से चिन्हित एवं चयनित प्रसव केंद्रों की एएनएम, सीएचओ की एसबीए ट्रेनिंग होगी । इसके लिए प्रशिक्षण केंद्रों में पदस्थ स्त्री रोग विशेषज्ञ, महिला मेडिकल ऑफिसर, वहां प्रसव करा रही स्टाफ नर्स उन्हें प्रशिक्षित करेंगी।प्रशिक्षण 14 दिवस का होगा । सम्भागयुक्त ने हिदायत दी कि प्रसव केंद्रों की सभी एएनएम, स्टाफ नर्स एवं स्टाफ मुख्यालय पर रहेगा यदि मुख्यालय पर नहीं रहता है तो उसकी सेवा समाप्ति की कार्यवाही कलेक्टर एवं अध्यक्ष जिला स्वास्थ्य समिति करेंगे । उपयंत्री एन एच एम को निर्देशित किया गया कि 29  प्रसव केंद्र व्यवस्थित करे और इसके लिए संबंधित ठेकेदार को ताकीद करे।एसडीएम, बीएमओ तथा सीडीपीओ संयुक्त बैठक कर स्थानीय स्तर पर महिला बाल विकास एवं स्वास्थ्य विभाग के अमले को बैठक में शामिल कर बैठक के दिशा-निर्देशों से एवं उनके कार्य दायित्वों से अवगत करा दें । लापरवाही किसी भी स्तर पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी ।प्रस्तावित प्रसव केंद्रों के लिए वार्मर की व्यवस्था अन्य स्वास्थ्य संस्थाओं से की जाएगी। पूर्व के वार्मर देख लें तथा इसकी प्रोसीजर भी क्रय की शुरू कर दें । एसडीएम, सीडीपीओ, सीईओ जनपद पंचायत भी एस बी ए प्रशिक्षण का निरीक्षण करेंगे वहां की व्यवस्था, प्रशिक्षण का स्किल तथा प्रशिक्षु एएनएम सी एच ओ वहां निवास पर प्रशिक्षण प्राप्त कर रही है अथवा नहीं इसकी मॉनिटरिंग करेंगे । जिम्मेदारी तय होगी और लापरवाही होने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी । 

कोई टिप्पणी नहीं: