जमुई : वरीय उप समाहर्त्ता ने किया अस्पताल का औचक निरीक्षण। - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 14 दिसंबर 2020

जमुई : वरीय उप समाहर्त्ता ने किया अस्पताल का औचक निरीक्षण।

adm-visit-hospital-jamui
जमुई (आर्यावर्त संवाददाता) जिला पदाधिकारी के निर्देश पर वरीय उप समाहर्त्ता भारती राज ने गिद्धौर स्थित दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र  का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने निरीक्षण के क्रम में अस्पताल में उपलब्ध  व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा आवश्यक निर्देश दिये। भारती राज ने मौके पर अस्पताल में चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या , दवा की उपलब्धता और रख - रखाव , स्वच्छता , पेयजल , शौचालय आदि सेवाओं की गम्भीरता से जानकारी लेते हुए कहा कि चिकित्सालय मानव जीवन का एक अभिन्न अंग है। इसका सफल संचालन जिला प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। वरीय उप समाहर्त्ता भारती राज ने दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में   एक्सरे , अल्ट्रासाउंड मशीन , पैथोलोजिकल जांच के लिए जरूरी उपकरण आदि आवश्यक यंत्रों के आभाव को गम्भीरता से लेते हुए अस्पताल के चिकित्सक से इस विंदु पर चर्चा की और वस्तुस्थिति से अवगत हुईं। उन्होंने इस दिशा में कारगर कदम उठाए जाने की बात कही। भारती राज ने अस्पताल के लिए नामित रोगी कल्याण समिति के निष्क्रिय रहने पर आश्चर्य प्रकट करते हुए कहा कि अस्पताल के बेहतर प्रबंधन के लिए इसे गतिशील बनाये जाने की जरूरत है। उन्होंने इस अवसर पर चिकित्सक , स्वास्थ्य कर्मियों के साथ कई रोगियों और स्थानीय नागरिकों से भी संवाद स्थापित किया और अस्पताल के संचालन की जानकारी ली।  चिकित्सकों ने अस्पताल को चहारदीवारी की जरूरत बताते हुए कहा कि यहां पार्किंग , कैंटीन के साथ सुरक्षा गार्ड की कमी को दूर किया जाना हितकारी होगा। वरीय उप समाहर्त्ता भारती राज ने अस्पताल प्रबंधन पर संतोष प्रकट करते हुए कहा कि इसे और बेहतर किये जाने की जरूरत है। उन्होंने इस दिशा में कारगर पहल किये जाने की बात कही।

कोई टिप्पणी नहीं: