कोरोना वैक्सीन के लिए बिहार तैयार, प्रथम चरण में 6 से 7 लाख टीका : चौबे - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 12 दिसंबर 2020

कोरोना वैक्सीन के लिए बिहार तैयार, प्रथम चरण में 6 से 7 लाख टीका : चौबे

bihar-ready-for-vaccine
पटना : केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने आज बिहार में कोरोना वैक्सीन आम लोगों तक पहुंचाने की तैयारियों का जायजा लिया। इस संबंध में बिहार के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ आज राजकीय अतिथिशाला में हुई बैठक के बाद चौबे ने कहा कि कोरोना वैक्सीन को संग्रहण, कोल्ड चेन, जरूरतमंदों को देने के बारे में देने और इसके लिए पर्याप्त श्रमशक्ति की व्यवस्था के संबंध में बिहार पूरी तरीके से तैयार है। चौबे ने कहा कि सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों को और कोरोना वारियर्स को वैक्सीन दिया जाएगा। जिसमें डॉक्टर, नर्स और स्वास्थ्य से जुड़े अन्य कर्मचारी शामिल होंगे। इसके लिए डाटा बेस बनाया जा रहा है। इसके बाद फ्रंटलाइन वर्कर्स यानि पुलिस, सेना और अर्ध सैनिक बल से जुड़े लोगों को यह दिया जाएगा। इसके लिए भी डेटाबेस बना रहा है। कोरोना वैक्सीन को स्टोर करने के लिए 38 जिलों में इसकी व्यवस्था की जा रही है। प्रथम चरण में 6 से 7 लाख की संख्या में आनेवाले वैक्सीन के लिए बिहार में व्यवस्था पर्याप्त है। दूसरे चरण में जो वैक्सीन आएगा उसके लिए बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति ने भारत सरकार से दो वॉकिंग फ्रिज, दो वॉकिंग कूलर तथा 900 डीप फ्रीजर/ आईएलआर की मांग की है जिसको देने के लिए भारत सरकार व्यवस्था कर रही है। ये भी व्यवस्था हो जाने पर दूसरे चरण में आनेवाले 1 करोड़ वैक्सीन के संग्रहण के लिए बिहार में कोल्ड चेन तैयार रहेगा। चौबे ने पूरे बिहार में वैक्सीन के सुचारू तरीके से लोगों तक पहुंचाने के लिए सभी जिलों की तैयारियों के बारे में विस्तार से चर्चा कर पूरी जानकारी ली। इस संबंध में उन्होंने अधिकारियों से कहा कि केंद्र सरकार इस सम्बंध में सभी सहायता करने को तैयार है। बैठक में बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति के प्रबंध निदेशक मनोज कुमार, स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव बैजनाथ यादव, बी एम एस आई एल के प्रबंध निदेशक प्रदीप झा, इसके जी एम संजीव रंजन, सहित स्वास्थ्य विभाग के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: