आप ने लगाया केजरीवाल को नजरबंद करने का आरोप - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 8 दिसंबर 2020

आप ने लगाया केजरीवाल को नजरबंद करने का आरोप

kejriwal-house-arrest
नयी दिल्ली, 08 दिसंबर, आम आदमी पार्टी(आप) ने आरोप लगाया कि सिंघु बाॅर्डर पर किसानों से मुलाकात कर भारत बंद का पूरी तरह से समर्थन करने के ऐलान के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश पर दिल्ली पुलिस ने नजरबंद कर लिया है। आप के मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक सौरभ भारद्वाज ने मंगलवार को यहां श्री केजरीवाल को नजरबंद करने का आरोप लगाते हुए संवाददाताओं से कहा कि पुलिस ने मुख्यमंत्री आवास के चारों तरफ बैरिकेटिंग कर दी है और किसी को भी उनसे मिलने नहीं दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री से मिलने पहुंचे ‘आप’ विधायकों को पुलिस ने पीटा और मिलने नहीं दिया, जबकि आवास पर धरना दे रहे भाजपा नेताओं की पुलिस खातीरदारी कर रही है। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार को डर है कि किसानों के भारत बंद में श्री केजरीवाल शामिल हो गए, तो उसके झूठ का पर्दाफाश हो जाएगा इसीलिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने किसानों का आंदोलन चलने तक मुख्यमंत्री को नजरबंद रखने के लिए दिल्ली पुलिस को आदेश दिया है। आप प्रवक्ता किसानों का आंदोलन जब से दिल्ली तक पहुंचा है, केंद्र सरकार काफी घबराई हुई है। केंद्र सरकार ने सोचा था कि लाखों किसानों को दिल्ली के स्टेडियमों में जेल बनाकर कैद कर लिया जाएगा लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री ने यह करने से मना कर दिया। केंद्र सरकार के दवाब के बावजूद दिल्ली में उनकी सरकार ने इसकी इजाजत नहीं दी। दिल्ली सरकार का मानना है कि किसान पिछले 6 महीने से अपने-अपने राज्यों में सड़क पर आंदोलन कर रहे हैं। केंद्र सरकार ने इनकी बात नहीं सुनी। इसलिए आज इनको दिल्ली के तरफ आना पड़ा है, ताकि केंद्र सरकार इनकी बातों को सुने। उन्होंने कहा कि श्री केजरीवाल सोमवार को अपने पूरे मंत्रिमंडल के साथ किसानों से मिलने सिंघु बॉर्डर पर पहुंचे थे। मुख्यमंत्री ने किसानों से कहा था कि वह एक सेवादार की तरह पूरी सरकार के साथ आपकी सेवा करेंगे। आपकी सहूलियतों की चिंता दिल्ली सरकार को है। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस आयुक्त को कल बताया गया था कि दिल्ली पुलिस ने चारों तरफ से मुख्यमंत्री के आवास को घेरा हुआ है। इस पर दिल्ली पुलिस के कमिश्नर ने उन पर कोई कार्रवाई नहीं करने को लेकर अपनी असमर्थता जाहिर कर दी। 

कोई टिप्पणी नहीं: