मधुबनी : किसान बिल के विरोध में एमएसयू ने दिया धरना - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 17 दिसंबर 2020

मधुबनी : किसान बिल के विरोध में एमएसयू ने दिया धरना

msu-protest-against-farmer-bill-madhubani
मधुबनी : मिथिला स्टूडेंट यूनियन के द्वारा आज मधुबनी समाहरणालय के आगे धरना स्थल पर एक दिवसीय उपवास कर केंद्र सरकार के द्वारा लागू किसान बिल के विरोध में एमएसयू मधुबनी जिलाध्यक्ष विजय श्री के नेतृत्व में किसानों के समर्थन में एक दिवसीय उपवास कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उक्त मौके पर उपस्थित एमएसयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष अविनाश भारद्वाज ने कहा की केंद्र सरकार चाहती है कि सारे किसान मजदूर हो जाये और अम्बानी अडानी का मजदूरी करे। वही पूर्व राष्ट्रीय सचिव राघवेन्द्र रमन ने कहा की केंद्र सरकार किसानों की आवाज को लगातार दबा रही है। ऐसे में मिथिला स्टूडेंट किसानों के पक्ष में खड़ी है, साथ ही मिथिला के तमाम किसानों को एकजुट होकर सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करने का आह्वाहन किया। वही अपने सम्बोधन में मधुबनी जिलाध्यक्ष विजय श्री टुन्ना ने कहा देश मे हो रहे किसानो के आंदोलन को सरकार चंद पूंजीपति के इशारों पर दबा रही है। हमारे क्षेत्र के किसानों को अभी भी समर्थन मूल्य से कम पर अनाजो को बेचना पड़ता है, यह काफी निंदनीय है। उक्त सभा को राष्ट्रीय संगठन मंत्री प्रियरंजन पाण्डेय, मयंक विश्वाश, अंकित आजाद, सागर नवदिया, सुजीत कुमार, अरविंद झा, छोटू जी, जॉनी मैथिल, विकास मैथिल, राजन झा, कुन्दन कश्यप, गणेश भारद्वाज समेत अन्य ने सम्बोधित किया।

कोई टिप्पणी नहीं: