पीओके की किशोरियों को चाकन दा बाग से वापस भेजा गया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 7 दिसंबर 2020

पीओके की किशोरियों को चाकन दा बाग से वापस भेजा गया

pok-girls-sent-back-from-chakan-da-bagh
जम्मू ,07 दिसंबर, पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से गलती से सीमा पार कर भारतीय सीमा में घुसने वाली दो लड़कियां को सोमवार को जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले के चाकन दा बाग से वापस भेजा गया। आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि काहुटा तहसील के अब्बासपुर की रहने वाली दो लड़कियां लाइबा जबैर (17) और सना जबैर (13) पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से अनजाने में रविवार सुबह पुंछ में भारतीय सीमा में घुस आयी थीं। दोनों को सीमापार चाकन दा बाग सीमापार भेजा गया। उन्होंने बताया कि दोनों लड़कियों को प्रशासन की ओर से कुछ उपहार भी दिए गए।

कोई टिप्पणी नहीं: