सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 12 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 12 दिसंबर 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 12 दिसंबर

आज किया जाएगा भगवान शिव का फूलों से विशेष श्रृंगार


sehore news
सीहोर। भगवान शिव के साथ शनिदेव की कृपा जरूरी है, भगवान शिव की कृपा के बिना शनिदेव की कृपा नहीं मिलती है। एक माह में दो पक्ष होते हैं कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष। दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को प्रदोष व्रत किया जाता है। इस तरह से हर माह में दो प्रदोष व्रत आते हैं। प्रदोष व्रत जिस वार को पड़ता है, उसी के अनुसार उसका नाम होता है। इस बार प्रदोष व्रत शनिवार को यानी आज पड़ा है इसलिए इसे शनि प्रदोष कहा जा रहा है। प्रदोष व्रत भगवान शिव को समर्पित होता है। उक्त विचार शहर के गंगा आश्रम स्थित गोपालधाम में दो दिवसीय दिव्य अनुष्ठान के दौरान यहां पर मौजूद मंदिर के गोपाल बाबा ने कहे। शनिवार को मंदिर में भगवान भोलेनाथ का पंचतत्व से विशेष अभिषेक के साथ शनिदेव की अर्चना की गई। शनिवार को शनि प्रदोष होने के चलते परम्परानुसार शिव प्रदोष सेवा समिति और जिला संस्कार मंच के तत्वाधान में धार्मिक अनुष्ठान किया गया था। इस मौके पर समिति के पंडित कुणाल व्यास और हीरु बेलानी आदि ने पूजा अर्चना की। पंडित श्री व्यास ने कहा कि शनि प्रदोष व्रत करने से श्रद्धालुओं को भगवान शिव के साथ ही शनिदेव की कृपा प्राप्त होती है। ऐसी मान्यता है कि जो व्यक्ति प्रदोष व्रत रखता है, उसे सभी रोग-दोषों से मुक्ति मिलती है। कहते हैं कि ऐसे व्यक्ति की कुंडली के सभी दोष भी खत्म हो जाते हैं। उन्होंने बताया कि रविवार को शहर के गंगाश्रम में भगवान शिव का फूलों से श्रृंगार किया जाएगा। उन्होंने सभी श्रद्धालुओं से सुबह साढ़े आठ बजे मंदिर में आने की अपील की है। 

सर्व ब्राह्मण समाज के तत्वाधान में परिचय सम्मेलन आज

कोरोना संक्रमण को देखते हुए मास्क नहीं तो प्रवेश नहीं का दिया संदेश

सीहोर। सर्व ब्राह्मण समाज के तत्वाधान में परिचय सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। इस मौके पर बड़ी संख्या में सभी ब्राह्मण समाज के विवाह योग्य युवक-युवतियों का जीवन साथी चुनने का सुनहरा मौके के लिए एक विशेष पहल की जा रही है। लगातार तीन सालों से समाज के द्वारा उक्त कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है, लेकिन इस साल कोरोना संक्रमण काल को देखते हुए शासन की गाइड लाइन का पालन करते हुए प्रवेश द्वारा पर ही मास्क नहीं तो प्रवेश नहीं का संदेश जारी किया गया है। इस संबंध में आयोजन समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने सर्व ब्राह्मण समाज के संगठन सचिव मुकेश शर्मा के हवाले से बताया कि रविवार को श्यामपुर कृषि उपज मंडी परिसर में सुबह दस बजे से शाम चार बजे तक होने वाले भव्य परिचय सम्मेलन में ब्राह्मण समाज के सभी वर्गों का एक मंच पर मिलन किया जाएगा। पूर्व में भी परिचय सम्मेलन किया गया है, इस सम्मेलन को लंबे समय से कोरोना संक्रमण काल को देखते हुए आगे बढ़ाया गया था, पूर्व में सम्मेलन अक्टूबर को कराया जाना था, लेकिन 13 दिसंबर रविवार को शासन की गाइड लाइन का पालन करते हुए आयोजन किया जाएगा। अपील करने वालों में बंटी शर्मा, अतुल शर्मा, सुनील शर्मा, अमित शर्मा, सोनू शर्मा, शुभम शर्मा, ओमप्रकाश शर्मा, राजू, मुकेश, संजय, दीपक, नमन, वंश, आदित्य भारद्वाज, प्रशांत जोशी, राम शर्मा, राज शर्मा, विवेक शर्मा, अभिषेक तिवारी और सोनू शर्मा आदि शामिल है। 


बारिश के बावजूद साल की सबसे सफल लोक अदालत सम्पन्न
 

sehore news
माननीय सर्वोच्च न्यायालय एंव माननीय मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय जबलपुर के निर्देशानुसार माननीय जिला एंव सत्र न्यायाधीश एंव अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर श्री राजवर्धन गुप्ता के मार्गदर्शन में जिला मुख्यालय सीहोर एंव जिले की समस्त तहसीलों में आज दिनांक 12.12.2020 को प्रातः 10ः30 बजे जिला न्यायालय परिसर में देवी सरस्वती की प्रतिमाॅ के समक्ष दीप प्रज्वलित कर एंव न्यायालय परिसर में स्थापित राष्ट्रपिता महात्मा गाॅधी की प्रतिमाॅ पर पुष्प माला अर्पित कर नेशनल लोक अदालत का शुभारंभ किया गया।  गरिमामय कार्यक्रम मंें जिला एंव सत्र न्यायाधीश एंव अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर श्री राजवर्धन गुप्ता, विशेष न्यायाधीश श्री विजय चंद्र, प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय सुश्री नीना आशापुरे, द्वितीय अपर जिला न्यायाधीश श्री अशोक भारद्वाज, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री एस.के. नागौत्रा, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीमती किरण तुमराची धुर्वे एंव न्यायाधीशगण श्रीमती रीनी खान, श्रीमती जागृति एस चंद्रिकापुरे, कु. इकारा मिन्हाज, कु. के. शिवानी, श्री वैभव पटेल एंव ट्रेनी जज श्री अविनाश छारी, अनिरूद्ध कुमार एवं कु. तनु गर्ग उपस्थित रहे। अभिभाषक संघ सीहोर के अध्यक्ष श्री शरद जोशी तथा मुख्यालय सीहोर के अधिवक्तागण एंव न्यायालयीन कर्मचारीगण उपस्थित रहे।  मौसम के खराब होने व बारिश के बावजूद इस लोक अदालत में सबसे ज्यादा प्रकरणों का निराकरण किया गया। नेशनल लोक अदालत में सुश्री नीना आशापुरे प्रधान न्यायाधीश कुटुम्ब न्यायालय के यहां से  धारा 13 हि.वि.अधि. में लंबित एचएम प्र.क्र. 106/19 राहुल वि. प्रियंका मंें एवं धारा 125 द.प्र.स. एमजेसी प्र.क्र. 94/2020 पूजा गोस्वामी वि. पुरूषोत्तम उक्त दोनो प्रकरणों मे परिवार न्यायालय की समझाइश व अथक प्रयास से दोनो पक्षों के मध्य समझौता करवाया जाकर प्रकरण का निराकरण किया गया। श्रीमती रीनी खान न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी के अथक प्रयास से न्यायालय में लंबित एक 05 वर्ष पुराना प्रकरण धारा 138 पराक्राम्य लिखित अधिनियम प्र.क्र. 970/15 राहुल यादव वि. शैलेन्द्र राठौर में राशि रूपये 1,00,000/- (रूपये एक लाख) की वसूली हेतु लंबित प्रकरण में दोनो पक्षकारों के मध्य समझौता करवाया जाकर प्रकरण का निराकरण किया गया। इसी प्रकार कु. के. शिवानी न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी सीहोर के न्यायालय में धारा 138 परक्राम्य लिखित अधिनियम के प्र.क्र. 2647/14 धर्मेश राय वि. हिमांशु वर्मा में 1,00,000/- रूपये वसूली हेतु प्रकरण में समझौता करवाया जाकर उक्त दोनो प्रकरणों का निराकरण किया गया तथा उक्त प्रकरणों के पक्षकारों के चैहरे पर समझौते के परिणाम स्वरूप प्रसन्नता की झलक देखी गई।  नेशनल लोक अदालत में 19 खण्डपीठों मे 136 आपराधिक प्रकरण रखे गए थे जिनमें से 30 प्रकरणों का निराकरण किया गया। धारा 138 परक्राम्य लिखित अधिनियम के 611 रखे गए प्रकरणों में से 51 प्रकरणांे का समझौते से निराकरण किया गया जिसमें 83,43,893/- रूपये की वसूली हुई। मोटर दुर्घटना दावा के 78 प्रकरणों मे से 19 प्रकरणों का निराकरण किया गया जिसमें आवेदकगण को 34,14,500/- रूपये दिलवाये जाने के अवार्ड पारित किए गए। इसी प्रकार विद्युत चोरी से सम्बंधित रखे गए 523 प्रकरणों मे से 81 प्रकरणों का निराकरण हुआ जिनसे 7,20,327/- रूपये की राजस्व प्राप्ति हुई। हिन्दु विवाह अधिनियम के 143 प्रकरणों मे से 31 प्रकरणों का निराकरण समझौते के आधार पर किया गया।  नेशनल लोक अदालत में विद्युत चोरी से संबधित प्री-लिटिगेशन प्रकरण 6349 रखे गए थे जिनमें से 371 प्रकरणों का निराकरण किया जाकर 36,97,046/- रूपये की वसूली हुई। नेशनल लोक अदालत में नगर पालिका से सम्बंधित सम्पत्ति कर एंव जलकर के प्रकरण 665 रखे गए थे जिनमें से 394 प्रकरणों का निराकरण किया जाकर 34,15,668/- रूपये की वसूली हुई। बैंको से सम्बंधित 5838 प्रकरण रखे गए थे जिनमें से 176 प्रकरणों का निराकरण होकर 54,14,920/- रूपये की वसूली की गई। इस प्रकार प्री-लिटिगेशन मामलों में कुल 1,25,27,634/- रूपयों की वसूली हुई। कुल 1023 प्रकरणों का निराकरण प्री-लिटिगेशन स्टेज पर होकर वसूली 1,25,27,634/-- रूपये एंव न्यायालयों मे लंबित प्रकरणों मे से 240 प्रकरणों का निराकरण किया जाकर 1,25,34,520/- रूपये के अवार्ड पारित किए गए। नेशनल लोक अदालत में मौसम खराब होने की वजह से भी भारी संख्या में प्रकरणों के निराकरण में पक्षकारों एंव अभिभाषक की उत्सुकता देखी गई। अधिकांश पक्षकार अपने प्रकरण का निराकरण समझौते के माध्यम से होने से चैहरे पर मुस्कान लेकर बिदा हुए। 

कथा के पूर्व सादगी के साथ निकाली जाएगी कलश यात्रा, आज से सात दिवसीय शिव महापुराण कथा का आयोजन

sehore news
सीहोर।
इन दिनों लगातार कोरोना संक्रमण काल को देखते हुए अंतर्राष्ट्रीय कथा प्रवक्ता भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा के द्वारा आन लाइन कथा का प्रसारण किया जा रहा है। इस सिलसिले को आगे बढ़ते हुए जिला मुख्यालय के समीपस्थ रविवार से सात दिवसीय शिव महापुराण कथा का आयोजन किया जाएगा। इस मौके पर पंडित श्री मिश्रा के सानिध्य में कलश यात्रा सादगी से निकाली जाएगी। कथा शाम को चार बजे से रात्रि सात बजे तक आयोजित की जाएगी। इस संबंध में जानकारी देते हुए विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि रविवार से आरंभ होने वाली सात दिवसीय शिव महापुराण कथा के पहले दिन शिव पुराण की कथा का आयोजन किया जाएगा। जिसका सीधा प्रसारण आस्था चेनल  सहित अन्य फेबुक,यूट्यूब चैनल पर किया जाएगा। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण काल को देखते हुए अंतर्राष्ट्रीय कथा प्रवक्ता भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा के द्वारा श्रद्धालुओं को घर बैठे ही कथा का श्रवण किए जाने की व्यवस्था की गई है, शिव महापुराण का आयोजन जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितोडिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर में किया जाएगा। समिति के सभी श्रद्धालुओं ने ऑन लाइन कथा का श्रवण करने की अपील की है। कथा का आयोजन रमेशचंद्र कोशल परिवार देवास के माध्यम से किया जा रहा है।

05 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 120 है

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले पिछले 24 घंटे के दौरान 05 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर के कुल 03 संक्रमित मिले जिसमें ए-1 सिटी, वार्ड नंबर 14, फारेस्‍ट कॉलोनी से के निवासी है  एवं, श्‍यामपुर के दौराहा से 01 व्‍यक्ति तथा नसरूलागंज के लाडकुई से 1 संक्रमित‍ मिले है।   जिले में एक्टिव/संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 120  है। आज कुल 34  व्यक्तियों को रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया। कुल रिकवर की संख्या 2345  है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 394  सैम्पल लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से 41 सैम्पल लिए गए, नसरूल्लागंज 82 , आष्टा से 75, इछावर से 29, श्यामपुर से 99,  बुदनी से 68 सैम्पल लिए गए है।    आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2513 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2345 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/ पॉजीटिव की संख्या 120 है। आज 3942 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 49217 हैं जिनमें से 46239  सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 440 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 394 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति या उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है ।

नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री डंग ने ऊर्जा विकास निगम के अध्यक्ष का कार्यभार संभाला

प्रदेश के नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग ने आज 11 दिसम्बर को ऊर्जा भवन परिसर, भोपाल में मध्यप्रदेश ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड के अध्यक्ष का पदभार ग्रहण किया। इस मौके पर विभागीय प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे, निगम के प्रबंध संचालक श्री दीपक सक्सेना एवं निगम के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे। इस अवसर पर मंत्री श्री डंग ने कहा कि वे बतौर अध्यक्ष मध्यप्रदेश ऊर्जा विकास निगम उन्हें सौंपे गये इस दायित्व का पूर्ण निष्ठा के साथ निर्वहन करेंगे। श्री डंग ने कहा कि वे निगम एवं नवकरणीय ऊर्जा की योजनाओं में मध्यप्रदेश को देश का अग्रणी राज्य बनाने के लिये सभी जरूरी कदम उठायेंगे। इस मौके पर मंत्री श्री डंग ने निगम के अधिकारियों से योजनाओं के संबंध में विस्तृत जानकारी प्राप्त की और उन्हें अधिक गति से कार्य करने के निर्देश दिये। मंत्री श्री डंग ने निगम के अध्यक्ष के रूप में पदभार ग्रहण करने के बाद संचालक मण्डल की 177वीं बैठक की अध्यक्षता भी की। संचालक मण्डल की बैठक में वर्ष 2018-19 एवं वर्ष 2019-20 के लेखों का अनुमोदन भी किया गया।

आदिम-जाति कल्याण के आश्रमों, स्कूलों, छात्रावासों में सोलर गीजर लगेंगे

संचालक मण्डल की बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रदेश के आदिम-जाति कल्याण विभाग द्वारा संचालित आश्रमों, स्कूलों एवं छात्रावासों में सौर गर्म जल संयंत्र (सोलर गीजर) यथाशीघ्र लगाये जायें। साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि मध्यप्रदेश को-ऑपरेटिव डेयरी फेडरेशन के जबलपुर, उज्जैन, इंदौर एवं भोपाल में सौर गर्म जल संयंत्र लगाये जायें। इस दौरान मध्यप्रदेश ऊर्जा विकास निगम, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा विभाग के जिला कार्यालयों को कलेक्टर के अधीन कलेक्टर कार्यालय में संचालित किये जाने के निर्देश दिये गये।

न मण्डी बंद होगी, न एमएसपी - मंत्री श्री पटेल
नवीन कृषि विधेयकों से किसान बनेंगे उद्योगपति
किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा है कि नवीन कृषि विधेयक किसानों के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव लेकर आयेंगे। इन विधेयकों से किसान अब खेती के साथ-साथ कृषि आधारित उद्योग धंधे स्वयं स्थापित कर सकेंगे। वे कृषि के साथ-साथ उद्योग भी लगायेंगे और चलायेंगे। उन्होंने कहा है कि आम किसान बंधुओं को भ्रमित नहीं होना चाहिये। विधेयकों के कारण मण्डियाँ बंद नहीं होंगी, बल्कि उन्हें आदर्श और स्मार्ट मण्डी बनाया जायेगा। किसी प्रकार से भी फसलों की खरीदी संबंधी एमएसपी को समाप्त नहीं किया जायेगा। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि आजादी के बाद से ही किसान बरसों-बरस कर्जदार रहा है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान कृषि को लाभ का धंधा बनाने और किसानों के आर्थिक सशक्तिकरण के लिये कृत-संकल्पित हैं। नवीन तीनों कृषि विधेयक इसी का परिणाम हैं। इन विधेयकों के आने के बाद किसानों के आर्थिक सशक्तिकरण के द्वार खुले हैं। अब किसान अपनी उपज को घर बैठे जहाँ अधिकतम दाम मिलेगा, वहाँ विक्रय के लिये स्वतंत्र रहेंगे। किसानों को अधिकतम लाभ मिले, इसके लिये कृषि उत्पादक समूह बनाये जायेंगे। मध्यप्रदेश में प्रत्येक विकासखण्ड में 2-2 कृषि उत्पादक समूह गठित किये जा रहे हैं।

मण्डियाँ स्मार्ट होंगी, बंद नहीं
मंत्री श्री पटेल ने कहा कि किसानों को भ्रमित नहीं होना चाहिये। नवीन विधेयकों के आने से कृषि उपज मण्डियों को और अधिक स्मार्ट बनाये जाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि कृषि उपज मण्डियों का उन्नयन किया जायेगा। उन्हें आधुनिक बनाया जायेगा। मण्डियों में किसानों को अधिकतम सुविधाएँ उपलब्ध कराई जायेंगी। मण्डियों में ही किसानों को गुणवत्तापूर्ण खाद, बीज और दवाइयों की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी। मण्डियों में पेट्रोल पम्प भी स्थापित किये जायेंगे। किसानों के लिये मिलेट्री की तरह ए-क्लास कैंटीन की सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी।

किसान तय करेंगे उपज का मूल्य : उपज एमएसपी नहीं एमआरपी पर बेचेंगे
मंत्री श्री पटेल ने कहा कि नवीन विधेयकों ने किसानों को इतनी स्वतंत्रता प्रदान की है कि वे स्वयं अपनी उपज का मूल्य तय करेंगे। किसान मिनिमम सपोर्ट प्राइज (एमएसपी) पर ही नहीं, बल्कि मेक्सिमम रिटेल प्राइज (एमआरपी) पर अपने उत्पादों का विक्रय करेंगे। वे स्वयं तय करेंगे कि उन्हें अपनी उपज को कब, कहाँ और किस तरह विक्रय करना है। किसान अपनी मर्जी के मालिक रहेंगे। वे फसलों को अपने घर से भी बेच सकते हैं, खलिहान से बेच सकते हैं या अपने खेत से बेच सकते हैं। वे अपनी फसलों को मण्डी में बेच सकते हैं या मण्डी से बाहर भी बेच सकते हैं। उन्हें अपनी उपज के निर्यात की भी स्वतंत्रता प्रदान की गई है।

उद्योगपति बनेंगे किसान
मंत्री श्री पटेल ने कहा कि ग्रामीणों को 24 अप्रैल, 2020 को मिले मालिकाना हक से अपनी सम्पत्ति के आधार पर उद्योग धंधों के लिये शासकीय योजनाओं में ऋण प्राप्त करने की पात्रता मिल गई है। अब किसान कृषि से संबद्ध उद्योग धंधे स्थापित कर सकेंगे। वे स्वयं कोल्ड-स्टोरेज, वेयर-हाउस, फूड-प्रोसेसिंग प्लांट और अन्य उद्योग लगायेंगे। किसान कृषि आधारित उद्योग धंधों में भी रोजगार उपलब्ध कराने में अपनी अग्रणी भूमिका

कृषि उपज की एमआरपी निर्धारित करेंगे - मंत्री श्री पटेल

किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा है कि किसानों को अपनी उपज का अधिकतम लाभ दिलाने के लिये मेक्सिमम रिटेल प्राइस का निर्धारण किया जायेगा। श्री पटेल ने कहा कि जब कृषि उत्पादों की एमआरपी निर्धारित होने लगेगी, तो किसानों को अपने उत्पादों का अधिकतम मूल्य मिल सकेगा और खेती हर हाल में लाभ का धंधा बनेगी। उपज का अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) निर्धारित होने से एमएसपी की जरूरत ही नहीं रह जायेगी। किसान स्वयं अपनी उपज का दाम तय करेंगे। श्री पटेल ने कहा कि जरूरत होने पर एमआरपी के निर्धारण के लिये आवश्यक मेकेनिज्म तैयार किया जायेगा।

लोक सेवा प्रबंधन "सिंगल सर्विस डिलेवरी पोर्टल'' से होगा - मंत्री डॉ. भदौरिया
लोक सेवा केन्द्र अब मुख्यमंत्री नागरिक सुविधा केन्द्र होंगे
सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री डॉ. अरविन्द भदौरिया ने कहा कि लोक सेवा प्रबंधन विभाग में सिंगल सर्विस डिलेवरी पोर्टल प्राथमिकता के आधार पर तैयार कराया जायेगा। इस पोर्टल को तैयार करने के लिये एक वर्ष का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि लोक सेवा केन्द्रों पर आवेदनों की अधिकता व प्रदेश के क्षेत्रफल को दृष्टिगत रखते हुए लोक सेवा केन्द्रों की संख्या बढ़ाने के लिये सुसंगत नीति बनाई जायेगी। लोक सेवा केन्द्र अब मुख्यमंत्री नागरिक सुविधा केन्द्र के रूप में जाने जायेंगे। मंत्री डॉ. भदौरिया शुक्रवार को मंत्रालय में लोक सेवा प्रबंधन विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। मंत्री डॉ. भदौरिया ने कहा कि लोक सेवा केन्द्रों को बिजनेस मॉडल पर तैयार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रयास किया जाएगा कि लोक सेवा केन्द्र स्वयं अपनी आय जनरेट कर संचालन की व्यवस्था करें, जिससे मितव्ययिता को बढ़ाकर शासकीय व्यय को नियंत्रित किया जा सकेगा। उन्होंने सी.एम. हेल्पलाइन की कॉलर ट्यून में मुख्यमंत्री जी के संदेश के साथ ही आमजन को लाभान्वित करने के लिये योजनाओं के जानकारीपरक संदेश प्रसारण की व्यवस्था करने के निर्देश दिये।

लोक सेवा गारंटी में 77 नवीन सेवाएँ अधिसूचित
बैठक में बताया गया कि लोक सेवा केन्द्रों द्वारा लोक सेवा गारंटी अधिनियम अंतर्गत सेवाएँ, समाधान एक दिन की सेवाएँ, आधार-कार्ड बनाने एवं सुधार कार्य, राजस्व की सेवाएँ, एम.पी. ऑनलाइन की सेवाएँ, कॉमन सर्विस सेंटर की सेवाएँ तथा आयुष्मान कार्ड बनाने की सेवाएँ प्रदान की जा रही हैं। लोक सेवा गारंटी अधिनियम-2010 अंतर्गत पिछले दिनों में 77 नवीन सेवाओं को अधिसूचित किया गया है। लोक सेवा प्रबंधन विभाग द्वारा 300 लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से आधार-कार्ड तथा 426 लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से आयुष्मान भारत कार्ड बनाये जाने की सेवा प्रारंभ की गई है। इसके अलावा लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से भू-अभिलेख प्रदाय के साथ ही नागरिक सेवाओं के लिये एम.पी. लोक सेवा एवं सी.एम. हेल्पलाइन के लिये व्हाट्सअप चेट बोर्ड की सुविधा भी प्रारंभ की गई है।

लोक सेवा केन्द्रों से बने अब तक 1.70 करोड़ आयुष्मान कार्ड
बैठक में बताया गया कि लोक सेवा केन्द्रों द्वारा अभी तक लगभग 1.70 करोड़ आयुष्मान कार्ड बनाये गये हैं। एम.पी. ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल की समीक्षा में बताया गया कि प्रदेश में सी.एम. हेल्पलाइन के अंतर्गत अभी तक कुल 7.17 करोड़, समाधान एक दिन अंतर्गत 1.26 करोड़ तथा सिटीजन इंटरफेस में 3.72 लाख आवेदन निराकृत किये गये है। इसके अलावा अभी तक 40 से अधिक विभागों के लगभग एक हजार से अधिक डेशबोर्ड विकसित किये गये हैं।

लोक सेवा गारंटी में अब कुल 532 सेवाएँ
आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के रोड मेप की समीक्षा में बताया गया कि लोक सेवा गारंटी अधिनियम अंतर्गत 77 नवीन सेवाओं को अधिसूचित किया गया है। इस प्रकार अधिसूचित सेवाओं की संख्या  बढ़कर 532 हो चुकी है। पिछले 6 माह में एम.पी. ई-डिस्ट्रिक्ट पोर्टल पर 12 नवीन सेवाओं को ऑनलाइन किया गया है वहीं विभिन्न विभागों के लिये 60 नवीन डेशबोर्ड विकसित किये गये हैं। बैठक में प्रमुख सचिव श्री मनीष रस्तोगी, कार्यपालन संचालक राज्य लोक सेवा अभिकरण श्री नंदकुमारम, उप सचिव श्री रिपुदमन सिंह भदौरिया, प्रबंधक राज्य लोक सेवा अभिकरण श्री अंकित श्रीवास्तव तथा श्री मंगेश त्यागी सलाहकार अटल बिहारी वाजपेयी सुशासन एवं नीति विश्लेषण संस्थान, श्री लोकेन्द्र सिंह सरल संचालक सी.एम. हेल्पलाइन उपस्थित थे। 

सेना में जाईए पाकिस्तान चीन को मुंहतोड़ जवाब दिजीए देश धर्म की रक्षा कीजिए तब क्षत्रिय राष्ट्रवीर योद्धा कहलाएंगे

क्षत्रिय महासभा राजपूत समाज के कार्यक्रम मेें बोली सासंद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर

sehore news
सीहोर। कोलीपुरा चौराहा स्थित राजपूत धर्मशाला में क्षत्रिय महासभा    राजपूत समाज अखंड भारत के द्वारा शनिवार को आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंची सासंद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कहा की क्षत्रियों के खून में गुलामी नहीं है, शस्त्र क्षत्रियों का आभूषण होता है,हमारा प्रथम कत्र्तव्य है राष्ट्र सुरक्षा धर्म संस्कृति का संरक्षण, बुराइयों को छोड़कर अपने आप को पहचानिए अपने जाति कुल पुरखों पर गर्व कीजिए, हमारे पूर्वज केवल राजा हुआ करते थे आपके अंदर ईश्वरीय शक्ति विराजमान है देश की सुरक्षा करने के लिए अधिक से अधिक सेना में जाइए और पाकिस्तान चीन को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए अपने क्षत्रिय बल का प्रयोग कीजिए देश धर्म की रक्षा कीजिए तब आप पूरी तरह से राष्ट्रवीर योद्धा क्षत्रिय कहलायेंगे क्षत्रिय महासभा राजपूत समाज अखंड भारत महिला प्रकोष्ठ मध्य प्रदेशाध्यक्ष क्षत्राणी रमा सिंह के द्वारा आयोजित भव्य कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर विशेष अतिथि विधायक सुदेश राय,कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे राष्ट्रीय सरंक्षक चंद्रदीप नारायण एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष देव सिंह परिहार, वरिष्ठ महामंत्री जगदीश सिंह, बिहार प्रदेशाध्यक्ष राजेंद्र सिंह, राष्ट्रीय  महांमत्री महिला बिग ज्योति चौहान, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष सीताराम यादव, जिला  भाजपा  प्रवक्ता राजकुमार गुप्ता और क्षत्राणी रमा सिंह ने भगवान श्रीरामचंद जी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर किया। आयोजन मंडल पदाधिकारियों के द्वारा अतिथियों का वैच लगाकर एवं साफा बांधकर श्रीफल भेंट कर पुष्प मालाओं से स्वागत सम्मान किया गया।  

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हो गई  पागल 
सांसद साध्वी ने कहा की बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पागल हो गई है तिलमिला गई है बौखला गई है उसे समझ आ गया है कि यह भारत है पाकिस्तान नहीं है। जिस पर वह शासन कर रही है वह भारत और भारत की रक्षा करने के लिए भारत के लोग तैयार हो चुके हैं हिंदू तैयार हो चुके हैं और वह मुंहतोड़ जवाब उसको देंगे। उन्होने कहा की पश्चित बंगाल हिन्दू राज्य बनेगा भारत हिन्दू राष्ट्र बनेगा बंगाल अखंड भारत का हिस्सा है  उसको अलग करने का प्रयास ममता कर रही थी। हमारे देश भक्त यह कभी होने नहीं देंगे वे लोग जो देश का विरोधी करते हैं भाजपा के लोगों पर हमला करते  वह देश द्रोही है किसान आंदोलन में देश द्रोही घुस गए है।  

मैधावी छात्र छात्रा  सम्मानित 
कार्यक्रम के दौरान अतिथियों के द्वारा क्षत्रिय राजपूत समाज के मैधावी छात्र छात्राओं और आत्मनिर्भर महिलाओं को शील्ड और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित कर गरीब बच्चों को शिक्षा से संबंधित सामग्री का वितरण किया  गया। कार्यक्रम का संचालन प्रदीप चौहान के द्वारा किया गया। कार्यक्रम के अंत में क्षत्राणी रमा सिंह के द्वारा आभार व्यक्त किया गया। कार्यक्रम में    बड़ी संख्या में राजपूत समाज के नागरिकगण सम्मालित रहे।  

कलेक्टर द्वारा अवैध निर्माण के विरुद्ध कार्यवाही जारी

sehore news
कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देशानुसार शनिवार 12 दिसंबर को अवैध निर्माण के विरुद्ध लसूडिया परिहार में कार्यवाही की गई। हॉस्टल निर्माण के लिए दी गई स्वीकृति के स्‍‍थान पर भूमि स्वामी द्वारा होटल का संचालन किया जा रहा था। साथ ही ग्राम पंचायत द्वारा तय की गई शर्तों का उल्लंघन किए जाने के कारण अवैध निर्माण की गई संरचना मध्य प्रदेश पंचायत राज अधिनियम की धारा 55 /56 के विधान के अनुसार अतिक्रमण की श्रेणी में आती है जिसे प्रशासन द्वारा हटा दिया गया। उल्लेखनीय है कि उक्त भूमि के मालिक पर विभिन्न थानों में आपराधिक प्रकरण दर्ज हैं ।

कोई टिप्पणी नहीं: