बिहार : करीब एक दर्जन दुकानदारों के गोदाम में आग लग गई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 2 दिसंबर 2020

बिहार : करीब एक दर्जन दुकानदारों के गोदाम में आग लग गई

ten-shop-burn-in-fire-bihar
पटना। दीघा थाना क्षेत्र के दीघा हाट पर लक्ष्मी सिंह मार्केट के पीछे मंगलवार की शाम करीब एक दर्जन दुकानदारों के गोदाम में आग लग गई। करीब एक घंटे बाद आग पर काबू पाया जा सका। घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। दुकानदारों ने बताया कि गोदाम में फल, सब्जी, फर्नीचर, कपड़ा रखे हुए थे। दीघा हाट के पास त्रिलाेकी सिंह और निहाेरा यादव मार्केट के पीछे बने अनाज एवं फल दुकान के गाेदाम से लेकर कई झाेपड़ियाें में मंगलवार की शाम आग लग गई। आग कैसे लगी, इसे लेकर खुलासा नहीं हाे सका है। यह माना जा रहा है कि शाॅर्ट सर्किट या सिगरेट या बीड़ी की चिंगारी से आग लगी हाे। इस अगलगी में देखते ही देखते करीब 10 गाेदाम के साथ फल दुकानदाराें, फर्नीचर की दुकान भी चपेट में आ गई। पास में लगी आधा दर्जन बाइक व स्कूटी काे भी आग ने अपनी चपेट में ले लिया। आग चपेट में आए दर्जनभर झाेपड़ियाें में रखे एक-दाे छाेटे सिलेंडर भी ब्लास्ट हाेने की बात सामने आई है। हालांकि, पुलिस सिलेंडर फटने की बात से इनकार कर रही है। सूचना मिलने के बाद दीघा, दानापुर और लोदीपुर फायर स्टेशन से छह दमकल की गाड़ी मौके पर पहुंच गई। करीब दाे घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। जिन लाेगाें का नुकसान हुआ, उनमें फल दुकानदार लालबाबू चाैधरी, शिवा कुमार, सुनील चाैधरी, साेनी देवी के अलावा शृंगार दुकानदार चंदन व फर्नीचर दुकानदार प्रभु मिस्त्री की दुकान है। इन सभी के मुताबिक अगलगी में करीब 4.25 लाख की संपत्ति का नुकसान हुआ है। इनके अलावा मनीष कुमार, चंदन सिंह, चेतु कुमार, प्रवीण कुमार, ललन राय, राजकपूर, बबलू कुमार व टिंकू समेत अन्य की दुकान और गाेदाम में भी खासा नुकसान हुआ।


जिस वक्त आग लगी, उस वक्त दीघा हाट के पास काफी भीड़ थी। लाेग सब्जी व जरूरत की सामान खरीद रहे थे। सड़क पर वाहनाें की कतार लगी थी। इस वजह से दाे दमकल करीब 20 मिनट तक जाम में फंस गए। किसी तरह दीघा थानेदार मनाेज कुमार सिंह व सुरक्षा कर्मियाें ने किसी तरह दमकल काे निकाला और घटनास्थाल पर पहुंचा दिया।  थानेदार ने बताया कि त्रिलाेकी सिंह और निहाेरा यादव के पीछे गाेदाम व झाेपड़ियाें में आग लगी। शार्ट सर्किट या फिर सिगरेट की चिंगारी से आग लगने की बात सामने आई है।शाम करीब एक दर्जन दुकानदारों के गोदाम में आग लग गई। घटना की सूचना मिलते ही दीघा थानेदार और पुलिस बल मौके पर पहुंचे। थोड़ी देर में ही दीघा, दानापुर और लोदीपुर फायर स्टेशन से छह दमकल की गाडियां घटनास्थल पर पहुंच गईं। करीब एक घंटे बाद आग पर काबू पाया जा सका। घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। दुकानदारों ने बताया कि गोदाम में फल, सब्जी, फर्नीचर, कपड़ा रखे हुए थे। आग से आधा दर्जन बाइक और स्कूटी भी जल गई। आग लगने से भारी मात्रा में संपत्ति का नुकसान हुआ है। आग लगने के पीछे शार्ट-सर्किट बताया जा रहा है, हालांकि कुछ दुकानदारों का कहना था कि उसमें बिजली कनेक्शन नहीं था। घटना शाम करीब साढ़े पांच बजे की है। मार्केट के बाहर फुटपाथ पर दुकानें सजी थीं और अन्य दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ जुटी थी। अचानक गोदाम से आग की लपटें उठने लगीं। यह देख आसपास के दुकानदार गोदाम में लगी आग को बुझाने का प्रयास करने लगे। इतने में किसी ने दीघा थाना पुलिस को खबर कर दी। दीघा थाने की पुलिस दमकल की दो छोड़ी गाड़ी लेकर मौके पर पहुंच गई। अंदर के करीब 12 गोदाम की सभी झोपड़ी आग की चपेट में आ गई। इस बीच मार्केट में अफरातफरी मच गई। सभी दुकानदार दुकान बंद कर गोदाम में लगी आग को बुझाने में जुट गए। घटना के कुछ देर बाद ही लोदीपुर फायर स्टेशन और दानापुर से चार दकमल की गाड़ी पहुंच गई। इस बीच मार्केट के बाहर सैकड़ों लोग जुट गए। सड़क पर जाम होने की वजह से दो दमकल की गाड़ी जाम में ही फंसी रह गईं। जाम से उसे निकलने में करीब 20 मिनट लग गया। शाम करीब साढ़े छह बजे आग पर काबू पाया जा सका। आग से दुकानदार मनीष कुमार, चंदन सिंह, चैतु कुमार, प्रवीण कुमार, ललन राय, राजकपूर, बबलू कुमार, समुंदर कुमार, टिंकू, सोनी देवी, शिवा कुमार सहित अन्य का गोदाम जलकर राख हो गया।  दीघा हाट में मार्केट के पीछे रात में फल गोदाम में आग लगी।आज भाकपा माले की टीम घटना स्थल पर पहुंची।गरीबों की पूंजी का बहुत बड़ा नुकसान हुआ है।विधायक जी ने बड़ी बड़ी बात अखबार में  कर दिए लेकिन अभी तक गरीबों को कोई राहत नहीं मिला है। भाकपा माले टीम प्रशासन से मांग करती हैं कि पीड़ित लोगों को तत्काल राहत दे अन्यथा आंदोलन किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: