विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 30 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 30 दिसंबर 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 30 दिसंबर

कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर विदिषा विधानसभा युवा कांग्रेस ने निकाला मषाल जूलूस 


vidisha news
विदिशाः- केन्द्र सरकार द्वारा किसानों पर थोपे जा रहे काले कृषि कानूनों को रद्द करने, संसद का शीतकालीन सत्र रद्द करने व बढती महंगाई के खिलाफ भारतीय युवा कंाग्रेस के आव्हान पर विदिषा विधानसभा युवा कांग्रेस द्वारा स्ािानीय तिलक चैक से माधवगंज तक मषाल आक्रोष जूलूस का आयोजन किया गया। सैकडों की संख्या में उपस्थित युवा, किसान व कांग्रेस कार्यकर्ता हाथों में जलती मषाल थामकर केन्द्र सरकार के विरोध में नारेबाजी करते हुए माधवगंज चैक तक पहुॅचे।  जहाॅ आयोजित नुक्कड सभा को संबोधित करते हुए विदिषा पूर्व सांसद प्रतापभानू शर्मा ने कहा कि केन्द्र सरकार देष के किसानों व आम जन भावना की अनदेखी कर काले कानून लागू करने जा रही है जो निदंनीय है। विदिषा विधायक शषांक भार्गव ने कहा कि तीनों कृषि कानूनों में यह प्रावधान भी है कि केन्द्र सरकार आवष्यक वस्तु अधिनियम हटाने जा रही है। स्टाक की सीमा हटने से बडे कारोबारी घराने खाद्यान, फल, सब्जी का असीमित भण्डारण कर इन वस्तुओं को महंगे दामों में बैंचेगें। इसका सीधा असर भारत की गरीब मध्यम वर्गीय आबादी पर पडेगा। जिला कांग्रेस अध्यक्ष कमल सिलाकारी ने कहा कि मोदी सरकार उधोगपतियों को लाभ पहुॅचाने के लिए जनता को लूटने वाला कृषि कानून लागू करने जा रही है।  युवा कांग्रेस जिला अध्यक्ष वैभव चीनू भारद्धाज व विदिषा विधानसभा अध्यक्ष संयोग राज जैन ने संबोधित करते हुए कृषि कानून रद्द करने की मांग को लेकर देष भर में किए जा रहे विरोध प्रदर्षन की गतिविधियों से अवगत कराया।  नुक्कड सभा को संबोधित कर पूर्व विधायक डाॅ. मेहताबसिंह यादव, देवेन्द्र राठौर, जिनेष जैन टिंग्गी, मोहित रघुवंषी, पंकज जैन, करतारसिंह, आनन्दप्रतापसिंह, सुजीत देवलिया, अरूण राजू अवस्थी ने भी कृषि बिल के दुष्परिणामों से अवगत कराया।  कार्यक्रम का संचालन अजय कटारे ने व आभार प्रदर्षन म.प्र. युवा कांग्रेस सचिव सुमित मोतियानी ने व्यक्त किया।  इस अवसर पर प्रमुख रूप से सचिन जैन, मानव ताम्रकार, जितेन्द्र तिवारी, अमित सोनी, दषन सक्सैना, ओ.पी. सोनी, सोनू राजपूत, शादाब शेख, संजीव प्रजापति, प्रसंग जैन, अनु जैन, सुमित पाल, दीपक दुबे, देवेष भावसार, श्रषभ पासी, साफिन पठान, देवेन्द्रसिंह राजपूत, प्रथम सक्सैना, यष शर्मा सहित सैकडों की संख्या में युवा एवं किसान उपस्थित रहे।  


स्थानीय अवकाश घोषित 


कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने विदिशा जिले के लिए वर्ष 2021 के लिए तीन स्थानीय अवकाश घोषित करने का आदेश जारी कर दिया है। उक्त अवकाश बैंक, कोषालय, उपकोषालयों पर लागू नही होगे।  कलेक्टर द्वारा सम्पूर्ण विदिशा जिले के लिए जो तीन अवकाश घोषित किए गए है उनमें 14 जनवरी गुरूवार मकर संक्रांति, छह अक्टूबर बुधवार को सर्वपितृ मोक्ष अमावस्या का तथा पांच नवम्बर 2021 शुक्रवार को दीपावली का दूसरा दिन (गोवर्धन अन्नकूट) का स्थानीय अवकाश घोषित किया गया है।


औद्योगिक क्षेत्र कंजना का भ्रमण 


vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बुधवार को बासौदा के औद्योगिक क्षेत्र कंजना में संचालित इकाईयो का भ्रमण कर जायजा लिया है।  कलेक्टर डॉ जैन ने स्टोन एक्सपोर्टस इंडिया प्रा लिमिटेड बासौदा के द्वारा तैयार किए जाने वाले स्टोन का कारखाने में पहुंचकर अवलोकन ही नही किया बल्कि अन्य विस्तृत जानकारी  प्राप्त की है जिसमें खनिज, फर्शी, पत्थर का उत्खनन कहा करते है तथा विक्रय हेतु क्या प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। निरीक्षण के दौरान जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक श्री पीडी वंशकार, सहायक प्रबंधक श्री मोहन श्रीवास्तव भी साथ मौजूद थे। 


फॉस्टर केयर एवं स्पांसरशिप पर कार्यशाला आज 


विदिशा जिला मुख्यालय पर एक दिवसीय जिला स्तरीय कार्यशाला फॉस्टर केयर एवं स्पांसरशिप पर आज 31 दिसम्बर को आयोजित की गई है। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि नवीन गाइड लाइन से अवगत कराने हेतु आयोजित उक्त कार्यशाला में समस्त परियोजना अधिकारी एवं पर्यवेक्षक मौजूद रहेंगे। कार्यशाला विदिशा जनपद पंचायत के सभागार कक्ष में दोपहर 12 बजे से शुरू होगी। 


साहूकारों के लिए वार्षिक साधारण ब्याज की दर तय 


अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने समस्त अनुविभागीय दण्डाधिकारी एवं तहसीलदारों को पत्र प्रेषित कर साहूकार अधिनियम 1934 के संबंध में राजस्व विभाग के द्वारा जारी अधिसूचना का उल्लेख करते हुए जिले के समस्त पंजीकृत साहूकार द्वारा उधारो पर 15 प्रतिशत वार्षिक साधारण ब्याज की दर से अधिक ब्याज प्रभारित नही किया जाएगा के आश्य का पालन अक्षरशः कराए जाने के निर्देश भी प्रसारित किए है।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने जारी अधिसूचना का पालन जिले में अक्षरशः कराने के निर्देश प्रसारित किए है। 


’नेशनल एडवेंचर फेस्टिवल में सहभागिता पंजीयन के लिए आज अंतिम दिन


नेशनल एडवेंचर क्लब (इंडिया) द्वारा 27 वां नेशनल एडवेंचर फेस्टिवल 2 से 10 फरवरी तक चंडीगढ़ में आयोजित होगा। इस कार्यक्रम में देशभर से बालक एवं बालिका वर्ग में 15 से 29 आयु वर्ग के कुल 350 युवक-युवती हिस्सा लेंगे। प्रत्येक राज्य से 10 बालक एवं 10 बालिका खिलाड़ियों के साथ प्रत्येक टीम में एक सुपरवाईजर तथा प्रदेश में संचालित एडवेंचर क्लब से भी एक टीम, जिसमें 7-7 बालक एवं बालिका तथा 2 सुपरवाईजर सहभागिता करेंगे। जिला खेल युवा कल्याण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार नेशनल एडवेंचर में सहभागिता करने के लिए प्रत्येक खिलाड़ी को अपना पंजीयन www.nacindia.in  वेबसाइट पर 31 दिसंबर तक कर सकते हैं। कार्यक्रम में जिले से 2-2 बालक एवं बालिकाओं का चयन किया जाएगा, जो नेशनल एडवेंचर क्लब द्वारा जारी दिशा-निर्देशानुसार होगा।


’रबी फसल का बीमा कराने की अंतिम तिथि आज


प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत सम्भाग के सभी जिले में भी रबी मौसम 2020-21 की फसलों के लिये बीमा कराने का अभियान चलाया जा रहा है। किसान 31 दिसम्बर 2020 तक अपनी फसल का बीमा करा सकते हैं। सम्बंधित जिले में एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड के माध्यम से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत रबी फसल का बीमा किया जा रहा है। ऋणी कृषकों का संबंधित वित्तीय संस्था के माध्यम से फसल बीमा किया जाएगा। अऋणी कृषक बैंक अथवा सीएससी के माध्यम से फसल का बीमा करवा सकते हैं। संयुक्त संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास ने बताया कि फसल बीमा कराने के लिये भू-अधिकार पुस्तिका, ग्राम पंचायत सचिव अथवा पटवारी द्वारा जारी बोवाई प्रमाण-पत्र, पहचान पत्र के रूप में आधारकार्ड, राशनकार्ड अथवा पेन कार्ड, बैंक पासबुक, मोबाइल फोन नम्बर के साथ पूर्णतरू भरा हुआ फॉर्म प्रस्तुत करना होगा। फसल बीमा कराए जाने पर प्राकृतिक आग (आकाशीय बिजली गिरना), बादल फटना, तूफान, ओलावृष्टि, चक्रवात, अंधड़, टेम्पेस्ट, हरीकेन, टोरनेडो, बाढ़, जल भराव, भू-स्खलन, सूखा, कीट व्याधियाँ इत्यादि से फसल को नुकसान होने पर किसान भाई फसल का बीमा प्राप्त कर सकते हैं। फसल बीमा के संबंध में किसान भाई एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड के टोल फ्री नम्बर 18002337115 पर संपर्क कर सकते हैं। रबी वर्ष 2020-21 के लिये जारी की गई अधिसूचना क्षेत्र इकाईवार ऑनलाइन http://govtpressmp.nic.in/history-gazette-extra-2020.html  लिंक पर उपलब्ध है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत फसल का बीमा करने के लिये जिले में पटवारी हलका स्तर पर गेहूँ सिंचित के लिये प्रीमियम राशि 462 रूपए प्रति हैक्टेयर व 92 रूपए प्रति बीघा निर्धारित है। इसी तरह चना के लिये 450 रूपए प्रति हैक्टेयर व 90 रूपए प्रति बीघा, सरसों के लिये 375 रूपए प्रति हैक्टेयर व 75 रूपए प्रति बीघा निर्धारित है। इसी तरह मसूर के लिये 300 रूपए प्रति हैक्टेयर व 60 रूपए प्रति बीघा प्रीमियम राशि निर्धारित की गई है। अधिसूचित फसलों के बीमा की प्रीमियम राशि बैंक अथवा सीएससी सेंटर में जमा कर किसान रसीद प्राप्त कर सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: