बिहार : इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 1 फरवरी 2021 से 13 फरवरी 2021 तक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 29 जनवरी 2021

बिहार : इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 1 फरवरी 2021 से 13 फरवरी 2021 तक

  • ●इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा  1 फरवरी से 13 फरवरी तक आयोजित किया जा रहा है
  • ●इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए कुल 66 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं
  • ●इस परीक्षा में जूता मोजा पहन कर परीक्षा केंद्र प्रवेश करना वर्जित रहेगा
  • ●सभी परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र पर परीक्षा प्रारंभ होने से 10 मिनट पूर्व ही अपने-अपने परीक्षा केंद्र पर पहुंचना सुनिश्चित करेंगे
  • ●सभी परीक्षार्थियों को पूर्वाहन 9:20 तक ही अपने-अपने परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया जाएगा
  • ●परीक्षा के सफल आयोजन के लिए सभी परीक्षा केंद्रों के 200 मीटर के दायरे में धारा 144 अंर्तगत निषेधाज्ञा लागू रहेगा
  • ●परीक्षा केंद्र के आसपास के सभी फोटो कॉपी की दुकानें परीक्षा अवधि में पूर्ण रुप से बंद रहेगा

bihar-inter-exam-starts-from-1st-fab
गया।  बिहार विद्यालय परीक्षा समिति पटना द्वारा आयोजित होने वाली इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2021 के अवसर पर स्वच्छ एवं कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन के लिए समुचित विधि व्यवस्था संधारण, परीक्षा संचालन तथा गोपनीयता बनाए रखने के लिए जिला दंडाधिकारी सह मुख्य जिला परीक्षा नियंत्रक श्री अभिषेक सिंह की अध्यक्षता में गया कॉलेज अवस्थित मुंशी प्रेमचंद्र सभागार में जोनल दंडाधिकारी, सुपर जोनल दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी, जिला स्तरीय पदाधिकारी तथा सभी केन्द्राधीक्षकों स्टेटिक दंडाधिकारी के साथ ब्रीफिंग की गई। ब्रीफिंग में बताया गया कि इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 1 फरवरी 2021 से 13 फरवरी 2021 तक आयोजित की जाएगी। यह परीक्षा दो पालियों में संपन्न कराया जाएगा प्रथम पाली पूर्वाह्न 9:30 बजे से अपराह्न 12:45 तक चलेगी तथा द्वितीय पाली अपराह्न 1:45 से अपराहन 5:00 बजे तक चलेगी। परीक्षा के सफल संचालन के लिए पूरे जिले में कुल 66 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। गया सदर अनुमंडल अंतर्गत कुल 50, टिकारी अनुमंडल अंतर्गत 4, शेरघाटी अनुमंडल अंतर्गत 7 तथा नीमचक बथानी अनुमंडल अंतर्गत 5 परीक्षा केंद्र निर्धारित किए गए हैं। बैठक में बताया गया कि सभी परीक्षार्थियों के लिए जूता मोजा पहन कर परीक्षा केंद्र में प्रवेश करना वर्जित रहेगा। किसी भी स्थिति में कोई भी परीक्षार्थी जूता मोजा पहन कर परीक्षा में नहीं बैठेंगे। बैठक में जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा में कुल 4 आदर्श परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जिनमें सदर अनुमंडल अंतर्गत अनुग्रह कन्या इंटर विद्यालय गया, शेरघाटी अनुमंडल अंतर्गत रंग लाल इंटर विद्यालय शेरघाटी, टिकारी अनुमंडल अंतर्गत टिकारी राज इंटर विद्यालय टिकारी तथा नीमचक बथानी अनुमंडल अंतर्गत प्रोजेक्ट कन्या इंटर विद्यालय खिंजरसराय हैं। उन्होंने बताया कि सभी परीक्षा केंद्रों पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी, वीक्षक एवं अन्य महिला पदाधिकारी पूर्वाहन 7:45 तक अनिवार्य रूप से उपस्थित रहना सुनिश्चित करेंगे। जिला पदाधिकारी ने सभी केंद्राधीक्षकों को निर्देश दिया कि परीक्षा केंद्र में परीक्षार्थियों के प्रवेश के समय मुख्य द्वार पर ही फ्रिस्किंग की व्यवस्था अनिवार्य रूप से करेंगे। महिला परीक्षार्थियों का फ्रिस्किंग कपड़े से घेरकर अस्थाई छोटा सा घेरानुमा पंडाल में ही करेंगे। उन्होंने निदेश दिया कि केंद्राधीक्षक के अलावा किसी भी कर्मी के पास परीक्षा भवन में मोबाइल फोन नहीं रहेगा। उन्होंने बताया कि कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन के उद्देश्य से सभी परीक्षा केंद्रों के महत्वपूर्ण स्थानों पर सीसीटीवी कैमरा लगाये जाएंगे। उन्होंने बताया कि प्रत्येक 25 परीक्षार्थियों पर एक वीक्षक की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। प्रत्येक बेंच पर अधिकतम दो ही परीक्षार्थी बैठेंगे इसके लिए सभी परीक्षा केंद्रों पर पर्याप्त बेंच उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने सभी जोनल दंडाधिकारी, सुपर जोनल दंडाधिकारी, स्टैटिक दंडाधिकारी, केंद्राधीक्षक, वीक्षक एवं परीक्षा केंद्र पर उपस्थित कर्मियों को निर्देश दिया कि सभी व्यक्ति अपना अपना फोटोयुक्त आई कार्ड पहनकर ड्यूटी करेंगे। परीक्षा के सफल संचालन करने के उद्देश्य से जिला नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है जिसके वरीय प्रभार में वरीय उप समाहर्ता दुर्गेश नंदनी रहेंगी। जिला नियंत्रण कक्ष का दूरभाष संख्या 0631-22222 53 है।  कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए परीक्षा में सम्मिलित होने वाले सभी परीक्षार्थियों पदाधिकारी एवं कर्मी मास्क लगाकर तथा हाथ को सैनिटाइज कर ही परीक्षा केंद्र पर उपस्थित हो यह सुनिश्चित करे। परीक्षा को कदाचार मुक्त संचालन तथा परीक्षा केंद्रों पर विधि व्यवस्था बनाए रखने हेतु कुल 20 जोनल पदाधिकारी प्रतिनियुक्त किए गए हैं, जिनमें उप विकास आयुक्त श्री सुमन कुमार, जिला भू अर्जन पदाधिकारी श्री राम निरंजन चौधरी, निदेशक डीआरडीए श्री संतोष कुमार, जिला पंचायत राज पदाधिकारी श्री सुनील कुमार, कार्यपालक पदाधिकारी नगर पंचायत बोधगया, जिला परिवहन पदाधिकारी श्री जनार्दन कुमार, उपनिदेशक कृषि अभियंत्रण भूमि संरक्षण श्री बालेश्वर प्रसाद सिंह, वरीय उप समाहर्ता मोहम्मद शाहबाज खान, जिला योजना पदाधिकारी मोहम्मद इरफान अकबर, जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी श्री जितेंद्र कुमार, वरीय उप समाहर्ता सुश्री अमृता ओशो, कार्यपालक अभियंता सिंचाई प्रमंडल गया श्री अजय कुमार, कार्यपालक अभियंता लघु सिंचाई प्रमंडल श्री अरविंद कुमार सिंह, जिला प्रोग्राम पदाधिकारी आईसीडीएस गया श्रीमती किशलय शर्मा, कार्यपालक अभियंता ग्रामीण कार्य विभाग कार्य प्रमंडल टिकारी श्री अरशद आलम, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी परैया श्रीमती ज्योति सिन्हा, कार्यपालक अभियंता ग्रामीण कार्य विभाग कार्य प्रमंडल शेरघाटी श्री रणवीर कुमार, बाल विकास परीयोजना पदाधिकारी बांके बाजार श्रीमती मंजू कुमारी, कार्यपालक अभियंता ग्रामीण कार्य विभाग कार्य प्रमंडल नीमचक बथानी श्री उपेंद्र कुमार शर्मा तथा बाल विकास परियोजना पदाधिकारी परैया श्रीमती सूची स्मिता पदम है। सभी परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र में परीक्षा प्रारंभ होने से 10 मिनट पूर्व ही अपने-अपने परीक्षा केंद्र पर पहुंचना सुनिश्चित करेंगे। परीक्षा प्रारंभ होने के बाद किसी भी स्थिति में परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। सभी परीक्षार्थी पूर्वाहन 9:20 तक अपने-अपने परीक्षा केंद्र में प्रवेश करना सुनिश्चित करेंगे। परीक्षा प्रारंभ के बाद किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा समाप्त होने के पहले बाहर जाने की अनुमति नहीं होगी। सभी परीक्षा केंद्रों पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था, पानी की व्यवस्था तथा शौचालय की साफ सफाई रखने का निर्देश केंद्राधीक्षकों को दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: