सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 29 जनवरी 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जनवरी

 फरियादियों ने की कलेक्ट्रेट पहुंचकर आरोपियों पर सख्त कार्रवाहीं की मांग


sehore news
सीहोर। काजीखेड़ी आष्टा में हाईवे से लगी जमीन को हड़पने की साजिश रचने का मामला सामने आया है। फरियादियों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर आरोपियों पर सख्त कार्रवाहीं की मांग की है। अलीपुर निवासी मो. वसीम खां, रईस खां पिता इब्राहिम खां ने डिप्टी कलेक्टर को शिकायती पत्र में बताया की पिता के स्वत्व एवं आधिपत्य कि ग्राम काजीखेड़ी स्थित कृषि भूमि खसरा नं. 152/1 रकबा 61 डेसीमल, पटवारी हल्का नं 96 पर कुछ लोगों के द्वारा अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया है। हाईवे रोड़ से लगी जमीन को हड़पने की साजिश की जा रहीं है। कई बार फरियादियों ने अपनी जमीन से कब्जा हटाने के लिए कहा है लेकिन उक्त लोग कुछ भी सुनने को तैयार नहीं है। जबकी जमीन के सभी दस्तावबेज फरियादियों पास मौजूद है। फरियादियों ने कहा की उक्त लोगों द्वारा गाली गलौच कर मारने पीटने की धमकी भी लगातार दी जा रहीं है तहसीलदार आष्टा और अनुविभागीय अधिकारी को भी शिकायत की गई है लेकिन अबतक उक्त लोगों के खिलाफ कोई कार्रवाहीं नहीं की गई है। फरियादियों ने जिला प्रशासन से शीघ्र जमीन खाली कराने और कब्जा दिलाने सहित उक्त लोगों पर अपराधिक प्रकरण दर्ज कराने की मांग की है।  

स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों की स्मृति में 30 जनवरी को रखा जाएगा दो मिनिट का मौन

भारत के स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों की स्मृति में 30 जनवरी 2021 को मौन धारण  किया जायेगा। शहीद दिवस पर कोविड-19 के संबंध में शासन द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित किया जायेगा। प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी 30 जनवरी को प्रातः 11 बजे सम्पूर्ण देश में, भारत के स्वतंत्रता संग्राम में अपने जीवन का बलिदान करने वाले शहीदों की स्मृति में दो मिनिट का मौन रखा जाएगा। शासन के निर्देशानुसार दिनांक 30 जनवरी को प्रातः 11 बजे जिले भर में कार्य और अन्य गतिविधियां रोक कर दो मिनिट का मौन रखा जाएगा। दो मिनट का मौन शुरू होने तथा समाप्त होने की सूचना सायरन बजाकर दी जायेगी। शासन के निर्देशानुसार शहीद दिवस 30 जनवरी को दो मिनट का मौन शुरू होने की सूचना 10.59 बजे से 11.00 बजे तक सायरन बजाकर दी जाएगी और फिर दो मिनट बाद 11.02 बजे से 11.03 बजे तक ऑल क्लियर सायरन बजाया जाएगा। सिग्नल सुनकर सभी व्यक्ति अपना कार्य रोककर खड़े हो जाएंगे तथा मौन धारण करेंगे। जिले की समस्त शैक्षणिक संस्थाओं तथा निजी एवं सार्वजनिक उपक्रमों को शहीद दिवस संपूर्ण गरिमा के साथ मनाए जाने के निर्देश दिए गए हैं। कठिनाई से प्राप्त की गई स्वतंत्रता की सुरक्षा, संरक्षण तथा उसकी समृद्धि के प्रति सजग रहना प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य और उसका नैतिक उत्तरदायित्व है।

चौक-चौराहों पर संचालित हो रहा टीबी हारेगा, देश जीतेगा अभियान का जनजागरण

sehore news
मिशन संचालक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निर्देश पर आत्म निर्भर भारत अभियान के अंतर्गत टीबी हारेगा देश जीतेगा अभियान का प्रचार-प्रसार चौक चैराहों पर किया जा रहा है। कोतवाली चैरोहा पर केनोपी के माध्यम से जनजागरूकता अभियान संचालित कर क्षय उन्मूलन कार्यक्रम की जानकारी जनसामान्य को प्रदान की जा रही है। जिला क्षय नियंत्रण अधिकारी डॉ. जेडी कोरी ने बताया कि दो सप्ताह से अधिक की खांसी अथवा अधिकतर शाम के समय बुखार आना या भूख ना लगना, एवं वजन घटना, बलगम में खून आना, या छाती के एक्सरे में खराबी ये लक्षण टीबी के हो सकती है। डॉ.कोरी ने बताया कि टीबी की जांच एवं उपचार स्वास्थ्य केन्द्रों पर निःशूल्क की जाती है। टीबी के नियमित उपचारकों को 500 रूपए प्रतिमाह पोषण आहार के लिए दिए जाते उन्होंने बताया कि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया के मार्गदर्शन में टीबी हारेगा देश जीतेगा अभियान से सामाजिक संगठन भी जुडकर जागरूकता अभियान में सहभागिता दे रहे है।

अनुशासन, शिष्टाचार और सेवा भाव से कार्य करें पैरालीगल वालेंटिर्स, प्रशिक्षण कार्यक्रम में बोले जिला न्यायाधीश

sehore news
जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष श्री राजवर्धन गुप्ता के  कुशल मार्गदर्शन एवं गरिमामयी उपस्थिति में 29 जनवरी को एडीआर सेंटर के सभागृह में पैरालीगल वालेंटियर्स का एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम में श्री एस0के0 नागोत्रा अपर जिला न्यायाधीश/ सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर एवं श्री अनीस उद्दीन अब्बासी जिला विधिक सहायता अधिकारी तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से संबद्ध पैरालीगल वालेंटियर्स सम्मिलित हुए। जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष श्री राजवर्धन गुप्ता द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम में उपस्थित पैरालीगल वालेंटियर्स को लोक उपयोगी सेवाओं की लोक अदालत की प्रक्रिया के बारे में जानकारी देते हुए व्यक्त किया कि लोक उपयोगी लोक अदालत के पीठासीन अधिकारी सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण होते हैं जिनकी खण्डपीठ की प्रत्येक शुक्रवार को बैठक आयोजित होती है। लोक उपयोगी लोक अदालत के अंतर्गत वायु, सड़क या जल मार्ग द्वारा यात्रियों या माल के परिवहन के लिए यातायत सेवा, डाक-तार या टेलीफोन सेवा, जनता को विद्युत, प्रकाश या जल प्रदाय या स्वच्छता प्रणाली, अस्पताल या औषधालय सेवा से संबंधित विषय आते हैं। प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला न्यायाधीश द्वारा लोक उपयोगी सेवाओं की लोक अदालत के अधिकाधिक प्रचार प्रसार किये जाने एवं पैरालीगल वालेंटियर्स को अपना कार्य अनुशासन, शिष्टाचार और सेवा भाव से करने के निर्देश दिये। श्री एस.के. नागोत्रा अपर जिला न्यायाधीश/सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम में उपस्थित पैरालीगल वालेंटियर्स को मध्यस्थता योजना, लोक अदालत योजना, म0प्र0पीड़ित प्रतिकर योजना 2015, विवाद विहीन ग्राम योजना, नालसा आपदा पीड़ित योजना, घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम 2005 व संविधान द्वारा प्रदत्त मूल अधिकार व मूल कर्तव्य के बारे में  विस्तार से जानकारी दी गई। श्री अनीस उद्दीन अब्बासी जिला विधिक सहायता अधिकारी द्वारा पैरालीगल वालेंटियर्स को विधिक सहायता एवं सलाह योजना, माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों का भरण-पोषण तथा कल्याण अधिनियम 2007, बालविवाह प्रतिशेध अधिनियम 2006, लीगल एड क्लीनिक योजना विनियम 2011 के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। प्रशिक्षण कार्यक्रम में 23 पैरालीगल वालेंटियर्स सम्मिलित हुए। कार्यक्रम के अंत में उच्च न्यायालय जबलपुर से संबद्ध संस्था म0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर द्वारा जारी प्रशस्ति पत्र, वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण के कारण लॉकडाउन की अवधि में गरीब, असहाय व जरूरतमंद व्यक्तियों तक पहुंच बनाकर उनकी सहायता करने वाले पैरालीगल वालेंटियर्स श्री आबिद खान, श्री योगश यादव, श्री भैयालाल सोलंकी, कु0 मोना प्रजापति एवं  कु0 नेहा मालवीय को  जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर श्री राजवर्धन गुप्ता के द्वारा प्रदान किये गये। इस कार्यक्रम में कोरोना वायरस कोविड-19 के प्रोटोकाल (सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, सेंनेटाईजर का उपयोग कर) का पालन किया गया।

आज किसी की भी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त नहीं हुई वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 18 है

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान 00 व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। वर्तमान में जिले में एक्टिव/पॉजिटिव की संख्या 18 है। कुल 11 व्यक्तियों को रिकवर होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया है कुल रिकवर की संख्या 2725  है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 223 सैम्पल लिए गए है । सीहोर शहरी क्षेत्र से 26 सैम्पल लिए गए,  नसरूल्लागंज 40, आष्टा से 58, इछावर से 13, श्यामपुर से 60,  बुदनी से 26 सैम्पल लिए गए है । आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2791 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2725 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 18  है। आज 223 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 67726 हैं जिनमें से 63715 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 258 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 891  सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। आज पॉजिटिव मिले नये कन्टेनमेंट झोन सहित समस्त कन्टेनमेंट एवं बफर जोन मे स्वास्थ्य दलों द्वारा स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है वहीं पॉजिटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्ये कन्टेनमेंट जोन मे सर्वे के लिए जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-07562 226470 है एवं 1075 नंबर पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती हैं। जिला स्तर पर मोबाइल नंबर 9425400273, 9425400453, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होन कारोन्टाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हल्पलाईन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम कारान्टाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकॉलोजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते है।  

अब तक 4952 स्वास्थ्य कर्मियों को लगाया गया कोविड का टीका

sehore news
कोविड-19 का टीका शुक्रवार के शाम 5.30 बजे तक तक 4952 स्वास्थ्य कर्मियों को लगया जा चुका है। 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान की शुरूआत 4 स्वास्थ्य संस्थाओं में की गई थी। निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए द्वितीय सप्ताह में सत्रों की संख्या 7 और फिर बढ़ाकर 16 तथा 23 की गई। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.एम.के.चंदेल ने जानकारी दी कि अब तक आष्टा सिविल अस्पताल में आयोजित टीकाकरण सत्र में 628 कर्मचारी, आष्टा-2 में 96, आष्टा-3 में 12, कोठरी में 67, मैना 82, सीएचसी जावर 241, सिद्धिकगंज 87, सीएचसी बुदनी 438, सीएचसी रेहटी 118, पीएचसी शाहगंज 27, बकतरा 62, सीएचसी इछावर 280, रामनगर 80, दिवड़िया 93, पीएचसी अमलाहा 86, कोलार डैम 90, सिविल अस्पताल नसरूल्लागंज 330, नसरूल्लागंज सीएच-2 में 78, लाडकुई 154, इटावा ईटारसी 161, सीएचसी श्यामपुर 463, बिल्सिकगंज 139, दोराहा 191, अहमदपुर 103, सीहोर ग्रामीण जिला चिकित्सालय 70, सीहोर शहरी क्षेत्र डीएच-1 में 567, शहरी क्षेत्र डीएच-2 में 138 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र डीएच-3 में 71 स्वास्थ्य कर्मचारियों तथा अधिकारियों को कोविड-19 का टीका लगाया जा चुका है। शनिवार को भी चिन्हित स्वास्थ्य संस्थाओं पर कोविड-19 का टीका लगाया जाएगा।

बेटियों के साथ दुष्कर्म करने वालों को फांसी मिले: मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गुजरात के मुख्यमंत्री से की चर्चा
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने झाबुआ ज़िले की निवासी एक बेटी के साथ गुजरात के मोरवी में हुई दरिंदगी की घटना को दुखद और घृणित बताया है। उन्होंने घटना के संदर्भ में बेटी के पिता से बात की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि दुख की इस घड़ी में वे उनके साथ हैं। उन्होंने परिवार को ढांढस बंधाया और कहा कि परिवार की हरसंभव मदद की जाएगी। परिवार को 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मंजूर की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस घटना के संदर्भ में गुजरात के मुख्यमंत्री  श्री विजय रुपाणी से बात की और अपराधी को फांसी से कम सजा न हो, इस दिशा में कड़ी कार्यवाई करने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने ऐसी दरिंदगी करने वाले अपराधियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई के स्थाई निर्देश दिए हैं। इस संबंध में कानूनों को भी सख्त बनाने की पहल हुई है।

मंथन 2021 के उद्घाटन के लिए केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री को आमंत्रण
  • चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग की केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री से मुलाकात
  • सभी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालयों में बीएसएल-3 स्तर की लेब्रोटरी स्थापित किये जाने की मांग
चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास कैलाश सारंग ने नई दिल्ली में केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से मुलाकात कर प्रदेश में आगामी 19 और 20 फरवरी को चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित मंथन 2021 के उद्घाटन समारोह के लिए आमंत्रित किया। उन्होंने बताया कि इसमें देश के चिकित्सा शिक्षा क्षेत्र में कार्य कर रहे प्रतिष्ठित विशेषज्ञों की सहभागिता होगी। साथ ही प्रदेश को आत्म-निर्भर बनाने के लिए ईज ऑफ हेल्थ सर्विसेज की दिशा में उठाये गये कदमों की विस्तार से जानकारी दी।  श्री सारंग ने बताया कि कोविड-19 के दौरान विभिन्न स्वास्थ्य सेवाओं एवं संक्रामक बीमारियों की टेस्टिंग के लिए आधारभूत संरचना का विकास किये जाने की जरूरत महसूस की गई। उन्होंने आग्रह किया कि सभी 13 शासकीय चिकित्सा महाविद्यालयों में बीएसएल-2 स्तर की लेब्रोटरी उन्नयन कर बीएसएल-3 स्तर की लेब्रोटरी स्थापित किये जाने की मांग की। इसके लिए तकनीकी और वित्तीय सहायता उपलब्ध कराने का अनुरोध किया। साथ ही राज्य में वैक्सीन निर्माण के क्षेत्र में नवाचार एवं भविष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए प्रदेश में राज्य स्तर के फार्मेसी संस्था को विकसित किये जाने की आवश्यकता जताई। श्री सारंग ने राज्य में जन स्वास्थ्य एवं एपीडोमाइलोजी के क्षेत्र में वर्तमान परिदृष्य में अनुसंधान की आवश्यकता बतायी। इसके लिए राज्य में चिकित्सा अनुसंधान को प्रोत्साहित एवं सुदृढ़ करने की जरूरत बताते हुए कहा कि इसके लिए रिसर्च सेंटर फार पब्लिक हेल्थ एण्ड एपीडोमाइलोजी को केन्द्र सरकार द्वारा स्थापित करने के लिए तकनीकी और वित्तीय सहायता प्रदान करने की मांग की।

टी.आई. स्तर के अधिकारियों को उच्च पद का प्रभार दिया जायेगा-गृह मंत्री डॉ. मिश्रा

गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने कहा है कि सरकार पुलिस रेग्युलेशन एक्ट-1972 में संशोधन करने जा रही है। मार्च-2021 तक इसे अमली जामा पहनाया जायेगा। विभाग द्वारा तैयार किये गये नये प्रस्ताव के अंतर्गत कांस्टेबल से लेकर टी.आई. स्तर तक के अधिकारियों को उच्च पद का प्रभार सौंपा जायेगा। डॉ. मिश्रा ने कहा कि इससे एक ओर जहाँ पुलिस विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों का मनोबल बढ़ेगा, वहीं दूसरी ओर सरकार पर किसी प्रकार का वित्तीय भार भी नहीं आयेगा। विभागीय तौर पर सभी तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

तीन साल में पूरी आबादी तक पहुँचाये पेयजल : मुख्यमंत्री श्री चौहान
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यों की समीक्षा में दिये निर्देश
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नागरिकों को शुद्ध और पर्याप्त  पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए समयबद्ध प्रयास किए जाएं।  मंत्रालय में  लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए  कि वर्ष 2023 तक शत प्रतिशत ग्रामीण घरों में पेयजल उपलब्धता सुनिश्चित करने की दिशा में कार्य किया जाए। पेयजल योजनाओं के संधारण  के कार्य सुचारू रूप से हों। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि विभागीय संरचना को अधिक सक्षम बनाने के प्रयास हों।

आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के लिए विभाग का रोड मैप
प्रदेश में वर्ष 2020-21 में दिसम्बर माह तक 11 लाख 63 हजार घरों में कनेक्शन दिया जा चुका है। वर्ष 2023 तक प्रदेश के सभी ग्रामीण घरों में पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। प्रदेश में इस वित्त वर्ष के अंत तक 14 लाख 71 हजार घरों तक नल से जल प्रदाय का लक्ष्य है। अगले तीन वर्ष में करीब सवा करोड़ ग्रामीण परिवारों तक यह सुविधा पहुंचाने का प्रयास है। जनवरी 2021 तक  31 लाख 61 हजार घरों तक पेयजल प्रदाय की यह व्यवस्था हो चुकी है। नल, बिजली आदि की मरम्मत के लिए 50 हजार मैकेनिक अगले 3 वर्ष में प्रशिक्षत किए जाएंगे। प्रदेश में इस वित्त वर्ष में 1219 मैकेनिक मानव संसाधन प्रशिक्षण ले चुके हैं। राष्ट्रीय कौशल विकास केन्द्र के माध्यम से भी इन्हें प्रशिक्षत किया जायेगा। 

मुख्यमंत्री के निर्देश
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शहरों में भी जल क्रांति के अंतर्गत प्रत्येक परिवार तक शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने की व्यवस्था की जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि मॉडल के तौर पर किसी एक जिले में शत प्रतिशत आबादी को पेयजल उपलब्ध कराने का कार्य किया जाए। इस मॉडल का विस्तार इसके पश्चात अन्य जिलों में किया जाए। हैंडपंप में गड़बड़ी होने पर सुधार की कार्रवाई तत्काल की जाए।विभाग के अधिकारी उपभोक्ताओं से संवाद रखें। ग्रामीण क्षेत्रों में हैंडपंप बिगड़ने की शिकायतों को तत्काल दूर किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग और जल जीवन मिशन की गतिविधियां सराहनीय हैं। आमजन तक इन कार्यों के संबंध में जानकारी प्रेषित की जाए। अपर मुख्य सचिव लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री मलय श्रीवास्तव ने प्रेजेंटेशन दिया। बैठक में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी राज्य मंत्री श्री बृजेंद्र सिंह यादव, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस उपस्थित थे।

समस्या के  निराकरण में अव्वल है विभाग
बैठक में बताया गया कि सीएम मानिट और सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों के निराकरण में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग प्रथम स्थान पर है। विभाग ने 123 मामले हल कर ए-प्लस श्रेणी आर्जित की है। मुख्यमंत्री की घोषणाओं को पूरा करने में भी विभाग सक्रिय है। सीएम हेल्पलाइन के मामलों को हल करने में विभाग प्रथम है। गत 7 माह में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को 85.67 अंक प्राप्त हुए हैं। निरंतर ए रेटिंग प्राप्त हो रही है। कुल 14 हजार 284 प्राप्त शिकायतों में से 12 हजार 401 शिकायतों का निराकरण किया जा चुका है।

कोई टिप्पणी नहीं: