झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 12 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 13 जनवरी 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 12 जनवरी

युवा दिवस पर धर्म रक्षक ने किया रक्तदान शिविर का आयोजन


jhabua news
पारा । धर्म रक्षक सेवा समिति पारा के तत्वादान मे आज मंगलवार को स्वामी विवेकानंद जी जयंती पर युवा दिवस पर सामुदायीक स्वास्थ्य केन्द्र पारा पर रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया जिसमे बडी संख्या मे युवाओ ने भाग लेकर रक्तदान किया। धर्म रक्षक सेवा समिति पारा ने नगर के समुदायीक स्वास्थ्य केन्द्र पर स्वामी विवेकानद जी जयंती पर रक्त दान शिविर का आयोजन किया। कार्यक्रम कि अध्यक्षता करते हुए नगर वरिष्ठ पत्रकार अमृतलाल जेन ने रक्त दान के महत्व पर प्रकाश डाला वही भाजपा नेता सोमसिह सौलकी ने स्वामी विवेकानेद के बारे मे विस्तार बताया कि किस तरह एक अकेले युवा नरेन्द्र ने समुचे विश्व मे भारत कि संस्कृति व दर्शन को किस तरह पहुचायां व भारत के दर्शन का डंका बजा कर अपना नाम अमर किया। जिला चिकित्सालय के ब्लड बैक व पेथोलाजी के चिकित्सक डाॅ राजेश डावर ने सक्दान के बारे विस्तार उपस्थित जन सुमदाय को बताया व कहा प्रत्येक स्वस्थ्य आदमी को तीन माह मे कम से कम एब बार रक्त्दान करना चाहिए। कार्यक्रम मे उपस्थित पारा पुलिस चैकि प्रभारी श्याम कुमावात ने अपने उदबोधन मे बताया कि काॅलेज के समय मे हम लोग रक्तदान शिविर का आयोजन करते रहते थै। इस  दोरान रक्तदान को लेकर मेने एक खास बात नोट कि  जिसमे जिन जिन लोगो का ब्लड ग्रुप नेगेटिव हे उन सभी लोगो को अपने जेब मे अपने ब्लड गु्रप वाले लोगो कि लिस्ट रखना चाहिए ताकि इम्रजेंसी मे कभी खुद को ब्लड कि जरुरत पडे तब अपनी जेब उपलब्ध लिस्ट से ब्लड डोनेटर को समय पर बुलाया जा सके या रक्त कि व्यवस्था कि जा सके। रक्तदान शिविर मे धर्म रक्षक प्रमुख वालसिह मसानिया पारा पुलिस चैकि प्रभारी श्याम कुमावत हेमु बसेर राजा सोनी सहीत करिब 38 युवाओ ने अपना रक्तदान किया। इस अवसर पर धर्म रक्षक के प्रमुख ने बताया कि आगामी 16 से 16 जनवरी को धर्म रक्षक द्वारा देशी खेल कब्ड्डी तीरंदाजी प्रतियोगीता का आयोजन भी पारा नगर मे किया जा रहा हे। इससे पुर्व अतिथीयो ने मा सरस्वती के चित्र पर दिप प्रज्वलित किर पुष्पा माला अर्पित कि। कार्यक्रम मे सामुदायीक स्वास्थ्य केन्द्र पारा के चिकित्सक डा के एस डोडवा व चिकित्सालय का स्टाफ सहीत बडी संख्या मे गणमान्य नागरीक ने उपस्थित थे।


स्वामी विवेकानंदजी युग पुरूष के साथ युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत -ः भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक, भाजपा मंडल झाबुआ द्वारा भाजपा जिला कार्यालय पर किया गया कार्यक्रम


jhabua news
झाबुआ। आज स्वामी विवेकानंदजी की जयंती है। इस दिन हम सभी उन्हें नमन करते है। विवेकानंदजी युग पुरूष होने के साथ युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत भी है, इसलिए आज के दिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्हांेने भारतीय संस्कृति का परचम पूरे विष्व में लहराया। उक्त उद्गार भाजपा जिला कार्यालय पर 12 जनवरी, मंगलवार को दोपहर भाजपा मंडल झाबुआ द्वारा स्वामी विवेकानंदजी की जयंती के उपलक्ष में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपसिथत भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक ने व्यक्त किए। जानकारी देते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने बताया कि प्रारंभ मंे मुख्य अतिथि भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक के साथ भाजपा मंडल झाबुआ के अध्यक्ष अंकुर पाठक एवं महामंत्री जुवानसिंह गुंडिया ने भारत माता के साथ स्वामी विवेकानंद की तस्वीर पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वजलन किया। अपने उद्बोधन में भाजपा मंडल झाबुआ के अध्यक्ष अंकुर पाठक ने स्वामी विवेकानंदजी को नमन करते हुए उपस्थित सभीजनों से उनके जीवन को आदर्ष मानते हुए उनसे प्रेरणा लेने हेतु आव्हान किया।


यह रहे उपस्थित

इस अवसर पर जिला भाजपा एवं भाजपा मंडल झाबुआ के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता बड़ी संख्या मंे उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन भाजपा मंडल महामंत्री एवं युवा पार्षद पपीष पानेरी ने किया। आभार मंडल महामंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष जुवानसिंह गुंडिया ने माना। अंत मंे सभी ने स्वामी विवेकानंद के जयघोष भी लगाए।


सिंधिया फेंस क्लब के जिलाध्यक्ष ने मंत्री एवं विधायक श्री दत्तीगांव को षिवाजी महाराज की प्रतिमा भेंट की, झाबुआ आने का दिया निमंत्रण


jhabua news
झाबुआ। मप्र शासन के उद्योग कैबिनेट मंत्री एवं बदनावर विधायक राजा राजवर्धनसिंह दत्तीगांव के जन्मदिवस पर उनसे मिलने झाबुआ से सिंधिया फैंस क्लब के जिलाध्यक्ष विश्वनाथ सोनी पहुंचे। इस दौरान श्री सोनी ने मंत्री एवं विधायक श्री दत्तीगांव को शिवाजी महाराज की प्रतिमा भेंट कर बधाई दी और उन्हें अतिषीघ्र झाबुआ आने का न्यौता दिया। जिस पर मंत्री श्री दत्तीगांव ने श्री सोनी के आग्रह पर जल्द ही झाबुआ आने हेतु आष्वास्त किया।


अखिल भारतीय आंगनवाडी कर्मचारी महासंघ कि दो विसीय बेठक भोपाल मे हुई, 15 फरवरी से किया जायेगा चरण बद्ध देश व्यापी आंदोलन


jhabua news
पारा । अखिल भारतीय आँगनबाड़ी कर्मचारी महासंघ की राष्ट्रीय कार्यसमिति की दो दिवसीय वैठक भारतीय मजदूर संघ कार्यालय ढेंगड़ी भवन भोपाल में सम्पन्न हुयी । वैठक का आयोजन मध्यप्रदेश आँगनबाड़ी महासंघ मध्यप्रदेश के द्वारा भारतीय मजदूर संघ के सानिध्य में किया गया। वैठक की अध्यक्षता राष्ट्रीय अध्यक्ष सुश्री रीता इक्का जी के द्वारा की गई देश के सभी प्रदेशों से आँगनबाड़ी महासंघ के महामंत्री एवं अध्यक्ष उपस्थित रहे।जिसमें मधयप्रदेश के प्रदेशाध्यक्ष रामेश्वरी जी, प्रदेश महामंत्री संगीता श्रीवास्तव जी एवं प्रदेश सदस्य गंगा गोयल शामिल थे।  इस कार्यसमिति वैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये प्रस्ताव रखे गये जिसमें 

यह हे प्रमुख बिषय--

1.देश की सभी आँगनबाड़ी कार्यकर्ता, मिनी कार्यकर्ता और सहायिका बहनों को शासकीय कर्मचारी घोषित करने के लिए केन्द्र सरकार तत्काल नीती वनाये एवं न्यूनतम वेतन 18000 हजार कार्यकर्ता और 9000 सहायिका को लागू करे।

2. नवीन शिक्षा नीति के चलते  जो  आँगनबाड़ी को प्री प्राइमरी स्कूल में बदलने की योजना वनी है उसमें आँगनबाड़ी कार्यकर्ता ,मिनी कार्यकर्ता को प्री प्राइमरी शिक्षिका और सहायिका को प्री प्राइमरी सहायिका नाम देकर नियमित किया जाये।

3. सभी मिनी केन्द्रों को फुल केन्द्र वनाया जाये।

4. मानदेय में हो रही कटोतरी व अनियमितता  को रोका जाए व इसकी जांच की जाए।इसप्रकार सरकार से अपनी माँगों को पूरा कराने के लिये सभी बहनो के द्वारा चरणवद्व आंदोलन  करने का निर्णय किया गया।

पहला आंदोलन 15 फरवरी 2021 को जिला स्तरीय धरना प्रदर्शन किया जायेगा जिसमें सभी आँगनबाड़ी केन्द्रों को एक दिन के लिए पूर्णतः वंद रखने का निर्णय किया गया है।यह आंदोलन पूरे देश में एकसाथ किया जाएगा क्योंकि शासन की नीति अनुसार अगर यह प्री प्राइमरी प्रोजेक्ट चलता है तो हमारी आँगनबाड़ी कार्यकर्ता पर इसका असर पडेगा जिसके चलते  कई कार्यकर्ता वेरोजगार हो सकती है और इससे भी ज्यादा संकट की बात तो यह है कि वो सभी सहायिका बहने जो पिछले 45 बर्षो से सरकार में अपनी सेवा देती आ रही है सरकार की इस नीति से वेरोजगार हो जायेगी।इसी भीषण समस्या को संगठन ने ध्यान में रखकर अपनी बहनों के हित के लिये। एक बहुत बड़े आंदोलन का विचार वनाते हुये अपने महासंघ के महामंत्री सुश्री अंजली पटेल  के द्वारा  सभी प्रदेशों से आवहन किया है कि सभी बहनें आंदोलन का हिस्सा वने क्योंकि इस आंदोलन का  एकमात्र उद्देश्य है आँगनबाड़ी बचाओ क्योंकि जब आँगनबाड़ी नही रहेगी तो हमारी बहनों की जीवनभर की मेहनत और सेवा व्यर्थ हो जायेगी।आँगनबाड़ी महासंघ मध्यप्रदेश एवं सभी प्रदेश के महासंघ और राष्ट्रीय आँगनबाड़ी महासंघ अपनी सभी बहनों से आग्रह करता है कि सभी बहनें अपना रोजगार वचाने के लिए आंदोलन को सफल वनाने के लिए अपना सहयोग प्रदान करें।प्रदेश के आँगनबाड़ी महासंघ की प्रदेश सदस्य श्रीमति गंगा गोयल ने अपनी सभी बहनों से आग्रह किया है कि सभी पूरी शक्ति के साथ अपने रोजगार को बचाने के लिये इस आंदोलन को सफल वनाये और अपनी आँगनबाड़ी बचाये।


राज्य शिक्षक संघ मप्र की जिला कार्यकारिणी की हुई घोषणा, सभी 6 विकासखंड अध्यक्षों के मनोनयन के साथ जिला कार्यकारिणी का हुआ विस्तार


झाबुआ। राज्य शिक्षक संघ मप्र की जिला कार्यकारिणी का विस्तार जिलाध्यक्ष गजेन्द्रसिंह चन्द्रावत की अध्यक्षता में स्थानीय सत्यनारायण मंदिर राजवाड़ा चैक पर अति महत्वपूर्ण बैठक के माध्यम से हुआ। जानकारी देते हुए संघ के जिला प्रवक्ता प्रमोद सिसौदिया ने बताया कि राज्य षिक्षक संघ मप्र की महत्वपूर्ण बैठक राजवाड़ा चैक पर स्थित सत्यनारायण मंदिर पर रखी गई। जिसमें जिले के सभी विकासखंड़ों के षिक्षकगण उपस्थित रहे। इस अवसर पर जिलें में षिक्षकों की विभिन्न समस्याओं के समाधान पर चर्चा की गई। प्रमुख रूप से ओल्ड़ पेंषन योजना लागू करवाने हेतु शासन स्तर पर प्रयास करने तथा माननीय न्यायालय के माध्यम से प्रयास करने, छठे वेतनमान की तृतीय किष्त के भुगतान हेतू सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग से मिलकर आदेष जारी करवाने पर विचार-विमर्ष हुआ।


ये बनाए गए ब्लाॅक अध्यक्ष

इस अवसर पर संगठन में सक्रियता लाने की दृष्टि से जिले के सभी ब्लाकों में अध्यक्ष मनोनीत किए गए। जिसमें झाबुआ विकासखंड से जाॅन भाबोर, रामा से सूर्यप्रकाष ड़ावर, रानापुर से अमरसिंह सोलंकी, मेघनगर से भारतसिंह गारी, थांदला से राजमल राठौड़ एवं पेटलावद ब्लाॅक से संजय मखौड़ अध्यक्ष बनाए गए।


जिला कार्यकारिणी में ये है सम्मिलित

इसी प्रकार जिला कार्यकारिणी में जिला उपाध्यक्ष मनवैल भूरिया, दरियावसिंह राठौर, दषमसिंह बघेल, रूपेन्द्रसिंह राठौर, जिला महासचिव कैलाष वसुनिया एवं महेन्द्र उपाध्याय, जिला सचिव दिनेष चैहान, सह-सचिव श्रीमती सीमा चैहान, मीना रावत, सुनीता वाजपेयी, लेखा बैरागी, कांता खड़िया एवं रमिला मेड़ा, कोषाध्यक्ष महेन्द्रसिंह गेहलोत, सह-कोषाध्यक्ष देवानंद बैरागी एवं रमेष गवली, जिला प्र्रवक्ता प्रमोद सिसौदिया, जिला सह-प्रवक्ता राजेष कथक एवं सुरेन्द्र द्विवेदी, जिला संयोजक विवेक दुबे, जिला संगठन मंत्री शंभुसिंह भूरिया, सीतराम भूरिया, कोमल कटारा, जगदीष देवल एवं आनंद पणदा, प्रांतीय प्रतिनिधि अबरार खान एवं पुरालाल चैहान को बनाया गया।


इनका रहा सराहनीय सहयोग

बैठक को सफल बनाने में जाॅन भाबोर, दरियावसिंह राठौर, मनवेल भूरिया, राजेष कथक, महेन्द्रसिंह गेहलोत, अबरार खान, देवानंद बैरागी, अब्दुल हमीद खान(गुड्डू भाई), सुरेन्द्र द्विवेदी, लेखा बैरागी, मीना रावत, सीमा चैहान एवं सुनीता वाजपेयी का विशेष सहयोग रहा।


जिले के सभी विकाखंड मुख्यालयों पर दिव्यांगजनांे को सहायक एवं कृत्रिम अंग उपकरण वितरण हेतु षिविरों का किया आयोजन, चयनित दिव्यांगजनों को वृहद षिविर में उपकरण प्रदान किए जाएंगे


jhabua news
झाबुआ। भारत सरकार के सामाजिक न्याय तथा अधिकारिता मंत्रालय की एडीप योजना अंतर्गत जिला कलेक्टर रोहितसिंह के निर्देशानुसार एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सिद्धार्थ जैन के मार्गदर्शन में जिले के सभी विकासखंड मुख्यालयों पर दिव्यांगजनों को सहायक एवं कृत्रिम अंग उपकरण वितरण करने हेतु चिन्हित करने के शिविर आयोजित किए गए। जिसमें एलिम्को जबलपुर एवं उज्जैन तथा जिला दिव्यांग पुनर्वास केंद्र झाबुआ के तकनीकी कर्मचारियों द्वारा दिव्यांगजनों को विभिन्न सहायक एवं कृत्रिम अंग उपकरणों के लिए चयनित किया गया। जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी तथा सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण विभाग के उप संचालक दिनेश वर्मा ने बताया कि विभिन्न जनपद स्तरों पर आयोजित शिविरों में चयनित दिव्यांगजनों को लगभग 2 करोड़ रुपए के लागत के सहायक एवं कृत्रिम अंग उपकरणों का वितरण किया जाएगा। जिसमें झाबुआ के 364 हितग्राहियों को 30.15 लाख, थांदला के 240 हितग्राहियों को 20.31 लाख, पेटलावद के 476 हितग्राहियों को 40.14 लाख, रानापुर के 490 हितग्राहियों को 43.07 लाख, रामा के 323 हितग्राहियों को 29.35 लाख एवं मेघनगर के 412 हितग्राहियों को 33.97 लाख, इस प्रकार जिले के कुल 2 हजार 304 दिव्यांग हितग्राहियों को 1.97 करोड़ राशि के सहायक एवं कृत्रिम अंग उपकरण का वितरण भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम के माध्यम से शीघ्र ही जिला स्तर पर वृहद शिविर आयोजित कर किया जाएगा

भविष्य में भी सहयोग हेतु अपील

साथ ही श्री वर्मा ने इन शिविरों में दिव्यांगजनों के हित में अपना सफल सक्रिय सहयोग करने वाली स्वयंसेवी संस्थाओं, मीडिया साथियों तथा अधिकारी-कर्मचारियों का आभार मानते हुए आगामी शिविरों में भी इसी प्रकार सक्रिय सहयोग कर सेवा में सहभागिता का आव्हान किया है।


स्वामी विवेकानंद जी की जयंती के अवसर पर जिला कांग्रेस ने किया स्मरण, स्वामी विवेकानंद एक सच्चे राष्ट्रभक्त थे - कांतिलाल भूरिया


झाबुआ 12 जनवरी - युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत एवं अपने विचारों से लोगों की जिंदगी को रोशन करने वाले स्वामी विवेकानंद का आज जन्मदिन है. उनका जन्‍म 12 जनवरी साल 1863 को कोलकाता में हुआ था। इस दिन को युवा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। स्वामी विवेकानंद श्री रामकृष्ण परमहंस के शिष्य थे। स्वामी विवेकानंद जी की जयंती के अवसर पर पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया ने स्वामी विवेकानंद जी को पुष्पांजलि अर्पित करते हुए अपने संदेश में कहा कि स्वामी विवेकानंद एक सच्चे राष्ट्रभक्त थे और उनका देश प्रेम  किसी से  छिपा नहीं है. वह लोगों की मदद करने से कभी भी पीछे नहीं हटते थे, बल्कि लोगों की सेवा करने को वह ईश्वर की पूजा करने के बराबर मानते थे। स्वामी विवेकानंद आज भी करोड़ों युवाओं को प्रेरणा देते हैं, उनके अनमोल विचारों से इंसान काफी कुछ सीख सकता है, इनके विचारों में जीवन जीने की कला और कामयाब होने के सूत्र छिपे हैं। जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता ने स्वामी जी को याद करते हुए कहा कि स्वामी जी का जीवन एक आदर्श पुरुष के रूप में स्थापित रहा है, हम सभी को स्वामी जी के जीवन से कुछ सीख लेकर समाज में अपना योगदान देना चाहिए जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भट्ट ने स्वामी जी को स्मरण करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद जी ने अपने विचारों से समाज को नई दिशा दी है, वे हमेशा युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत रहे हैं उठो जागो और तक तब तक आगे बढ़ो जब तक अपने लक्ष्य को प्राप्त न करो उनका यह संदेश आज भी हम सबके लिए प्रेरणा दायी है। युवा सन्यासी के रूप में भारतीय संस्कृति की सुगंध को संसार में बिखेरने वाले स्वामी जी के विचार हम सबके लिए हमेशा प्रेरणादायक रहेंगे। इस अवसर पर पेटलावद विधायक  वालसिंह मेडा, थांदला विधायक वीर सिंह भूरिया, पूर्व विधायक जेवियर मेडा, जिला कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्ष हेमचंद डामोर एवं रूप सिंह डामोर कांग्रेस नेता रमेश डोसी, प्रकाश रांका, आचार्य नामदेव, साबिर फिटवेल गौरव सक्सेना, आशीष भूरिया, राजेश भटट्, विजय भाबर, राय सिंह गहलोत, विनय भाबर सहित कांग्रेसजनों ने स्मरण करते हुए उनके बताए रास्ते पर चलकर समाज सेवा एवं देश सेवा करने का संकल्प लिया।


रुकेश भूरिया का इंटरनेशनल कबड्डी प्रतियोगिता में हुआ चयन’

 

jhabua news
पिटोल । अंचल के एक आदिवासी परिवार में जन्में होनहार खिलाड़ी  रुकेश  पिता नानका  भूरिया का जिला स्तरीय एवं राज्य स्तरीय  कबड्डी प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन के कारण अंडर 17 वर्ष की टीमों में राष्ट्रीय स्तर की खेल प्रतियोगिता के लिए कबड्डी प्रतियोगिता में चयन हुआ    जिस कारण गोवा में 8 जनवरी को कबड्डी की राष्ट्रीय प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल प्राप्त किया रुकेश भूरिया 25 से 28 जनवरी तक नेपाल में होने वाले अंतरराष्ट्रीय कबड्डी प्रतियोगिता में अंडर 17 वर्षों में चयन हुआ है 22 जनवरी को नेपाल के लिए रवाना होंगे!


’इस प्रकार हुआ रुकेश का चयन’

नेशनल यूथ फेडरेशन के मध्य प्रदेश के प्रभारी निवेश वानखेड़े के अनुसार राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में  अच्छे प्रदर्शन में संभावित खिलाड़ियों के साथ खेल प्रक्रिया के तहत खिलाड़ियों के अच्छे प्रदर्शन के आधार पर राष्ट्रीय राष्ट्रीय स्तर की प्रतिस्पर्धा गोवा के लिए चयन करना था उसमें संभावित खिलाड़ियों   मैं  रुकेश का चयन किया गया और गोवा में  मुकेश भूरिया के द्वारा शानदार प्रदर्शन के आधार पर अंतरराष्ट्रीय कबड्डी प्रतियोगिता में चयन हुआ पिटोल का यहां होनहार बालक पिटोल हायर सेकेंडरी स्कूल में 12 वीं कक्षा में अध्ययनरत हैं और इसकी पिताजी गांव में खेती किसान का काम करते हैं रुकेश की सफलता पर इष्ट मित्र परिवार के अलावा पिटोल नगर के सभी समाज वर्ग धर्म के लोगों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करने के लिए  पिटोल नगर का नाम रोशन करने के लिए अग्रिम बधाइयां दी है ।


जीवन ज्योति हेल्थ सर्विस ने युवक युवतियो किया जागरुक


jhabua news
झाबुआ । आज लक्ष्यगत हस्तक्षेप परियोजना जीवन ज्योति हेल्थ सर्विस टी0आई0 झाबुआ द्धारा विश्व युवा दिवसके उपलक्ष्य में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमेंटी.आई. झाबुआ के कार्यक्रम प्रबंधक ज्योति चैहान द्धारा युवक-युवतीयो को एचआईवी एडस, टीबी तथा कोरोना संबंधीतजानकारी दी गई, व आई.ई.सी मटेरियल युवक-युवतीयो को प्रदानकिया गया व एचआईवी एडस की निशुल्क जानकारी के लिए टालफी्र नं. 1097 की जानकारी दी गई। इस अवसर पर जिलाचिकित्सालय के आईसीटीसी काउन्सलर वाजीद कुरैशी तथाटी0आई से एम0एण्ड0ई महेश प्रजापति, ओ.आर.डब्ल्यू मुकेश निनामा,सपना गुण्डिया व पीयर शारदा खपेड़, संगीता भूरिया, दुर्गा खपेड़एवं चाइल्ड लाईन के सदस्य उपस्थित हुए।


जिला स्तरीय जनसुनवाई में 80 आवेदन पत्र प्राप्त हुए, संबंधित विभागों को आवेदन पत्रों का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश


झाबुआ। जनसुनवाई कार्यक्रम के अंतर्गत मंगलवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में जिला स्तरीय जनसुनवाई का आयोजन हुआ। अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल की अध्यक्षता में सम्पन्न इस जनसुनवाई में 80 आवेदन पत्र प्राप्त हुए। ग्राम सातेर के ओडी फलिया के ग्रामीणों ने प्राथमिक शाला भवन का निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण कराने, पेटलावद में बरवेट मार्ग पर बने  नया सिविल अस्पताल भवन में अस्पताल शुरू करने, राणापुर तहसील के  ग्राम छापरी के भिलाला फलिये में हैण्डपम्प खनन करने, ग्राम कुन्दनपुर के ग्रामीणों ने ग्राम कुन्दनपुर को राजस्व ग्राम बनाने, ग्राम जसोदा हिरजी पंचायत धमोई के ग्रामीणों ने होली फलिया से पिपली फलिया तक स्वीकृत रोड़ का कार्य शीघ्र शुरू कराने, ग्राम बखतपुरा के ग्रामीणों ने तालाब निर्माण के कार्य पर रोक लगाने, ग्राम पंचायत धामनी नाना द्वारा कराए गए निर्माण कार्यो की जांच कराने, थांदला तहसील के ग्राम पंचायत सुजापुर के ग्रामीणों ने पंचायत द्वारा कराए गए कुप निर्माण कार्य की जांच कराने, कस्बा पेटलावद में कब्रस्तान पर से अतिक्रमण हटाने, ग्राम अगेरा के मोहल्ला सेमली फलिया के ग्रामीणों ने पेयजल के लिए हैण्डपम्प/ट्यूबेल स्वीकृत करने के लिए आवेदन पत्र प्रस्तुत किया। इस जनसुनवाई में आर्थिक सहायता स्वीकृत करने, आवासीय पट्टे प्रदान करने, बिजली का करंट लगने पर आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने, कपील धारा योजना की राशि दिलाने, बिजली के तार हटाने, ग्रामीणों ने सहारा इंडिया की शाखा कार्यालय राजगढ़नाका से बीमा राशि दिलाने के लिए आवेदन प्रस्तुत किए गए। अपर कलेक्टर श्री बघेल ने इस जनसुनवाई में ग्रामीणों की सम्साएं सहानुभूति पूर्वक सुनी और समस्याओं का तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर संयुक्त कलेक्टर श्री सोहन कनास, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एम.एल.मालवीय, डिप्टी कलेक्टर सुश्री ज्योति परते, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा, उप संचालक कृषि श्री एन.एस.रावत, कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री एन.एस.भिन्डे, अनुविभागीय अधिकारी वन श्री कछवाह, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्री चन्दरसिंह मण्डलोई सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।


मुख्यमंत्री हेल्पलाईन की शिकायतों का तत्काल निराकरण करे -श्री सिंह


झाबुआ। समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक मंगलवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में कलेक्टर श्री रोहित सिंह की अध्यक्षता में आयोजित हुई। श्री सिंह ने इस बैठक में मुख्यमंत्री हेल्पलाईन तथा आॅन लाईन पोर्टल पर दर्ज शिकायतों की विभागवार समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे लंबित शिकायतों का शिकायतकर्ताओं से चर्चा कर संतुष्टि पूर्वक शीघ्र निराकरण सुनिश्चित करे अन्यथा शिकायतों का निराकरण समय पर नहीं करने पर संबंधित अधिकारियों पर कार्यवाही सुनिश्चित की जावेगी। इस बैठक में खाद्यी ग्रामोद्योग प्रबंधक अनुपस्थित रहने पर एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। इस बैठक में समयावधि पत्रों की भी विभागवार समीक्षा की गई और लंबित प्रकरणों का तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए। इस बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता, अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, संयुक्त कलेक्टर श्री सोहन कनास, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एम.एल.मालवीय, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला श्री अनिल भाना, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर श्री एल.एन.गर्ग, डिप्टी कलेक्टर सुश्री ज्योति परते, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी, समस्त तहसीलदार उपस्थित थे।


जिले में 2 हजार 304 दिव्यांगों का स्वास्थ्य परीक्षण, 1 करोड 97 लाख राशि के उपकरण वितरित होंगे


झाबुआ, 12 जनवरी 2021। भारत सरकार सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय (दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग) द्वारा संचालित एडिप योजना अंतर्गत भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम (एलिम्को) द्वारा दिव्यांगजनों को निःशुल्क सहायक उपकरण तथा कृत्रिम अंग प्रदान किए जाते है। कलेक्टर श्री रोहित सिंह के निर्देशानुसार तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन के मार्गदर्शन में जिले में प्रथम चरण में दिव्यांगजनो को उपकरणों तथा सहायक उपकरणों के वितरण के लिए विकास खण्ड स्तर पर शिविर आयोजित कर 2 हजार 304 दिव्यांगजनों का स्वास्थ्य परीक्षण कर चिन्हांकन किया गया है। इन दिव्यांगजनों को 1 करोड 97 लाख रूपये के उपकरण तथा कृत्रिम अंग वितरित किए जावेगें। विकास खण्ड झाबुआ में 364 दिव्यांगजनों को 30 लाख 14 हजार रूपये, थांदला में 240 दिव्यांगजनों को 20 लाख 32 हजार रूपये, पेटलावद में 476 दिव्यांगजनों को 40 लाख 15 हजार, राणापुर में 489 दिव्यांगजनों को 43 लाख 7 हजार रूपये, रामा में 323 दिव्यांगजनों को 29 लाख 35 हजार रूपये तथा मेघनगर में 412 दिव्यांगजनों को 33 लाख 97 हजार रूपये के उपकरण वितरण के लिए चिन्हांकित किया गया है।


“स्वामी विवेकानंद युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत एवं आदर्श हैं, रातीतलाई स्कूल में मनाई गई विवेकानंद जयंती”


jhabua news
झाबुआ,। स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर हायर सेकेण्डरी स्कूल रातीतलाई स्कूल में मंगलवार को विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री राजेश कुमार गुप्ता के मार्गदर्शन एवं प्राधिकरण के सचिव/अपर जिला न्यायाधीश श्री राजेश देवलिया के निर्देशन में किया गया। स्वामी विवेकानंद के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुये कार्यक्रम को संबोधित करते हुये अपर जिला जज श्री देवलिया ने कहा कि स्वामी विवेकानंद युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत एवं आदर्श हैं। स्वामी जी एक अध्यात्मिक गुरू एवं समाज सुधार थे जिन्होनें अमेरिका के शिकागो में आयोजित विश्वधर्म सम्मेलन में भारत की ओर से प्रतिनिधित्व करते हुये सनातन धर्म एवं वेदांत दर्शन का प्रसार पूरे विश्व में किया। स्वामी विवेकानंद के विचारों से बच्चों को अवगत कराया गया एवं निःशुल्क विधिक सहायता, बालकों के अधिकार, संवैधानिक कर्तव्य आदि के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई। मुख्य न्यायिक मजिस्टेªट श्री गौरव प्रज्ञानन ने शिविर को संबोधित करते हुये छात्रों को अपने उज्जवल भविष्य के लिए परिश्रम एवं लगन से अध्ययन करने और गुरूओं के सम्मान करने के लिए प्रेरित किया। न्यायिक मजिस्टेªट श्री राजकुमार चैहान ने बच्चों को बताया कि नैतिक शिक्षा और सामाजिक व्यवहार भी अध्ययन के साथ-साथ आवश्यक है। कोरोना संक्रमण रोकथाम एवं बचाव के उपाय भी बताये गये। बच्चों को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने एवं भीड़-भाड़ से बचने की समझाईस दी गई। संस्था प्राचार्य श्री रविन्द्र सिंह सिसौदिया ने छात्रों को बताया कि विधिक साक्षरता शिविर के माध्यम से  व्यक्तित्व विकास में सहायता मिलती है एवं महापुरूषों के जीवन चरित्र को पढ़ने की समझाईस दी गई। उप प्राचार्य श्रीमती सुरेखा पाठक ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। श्रीमती हिना कोठारी ने कार्यक्रम का संचालन किया। कार्यक्रम में स्कूल के छात्र, स्कूल के शिक्षक शिक्षिका, स्टाॅप एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ के कर्मचारी उपस्थित थे।


जिला स्तरीय रोजगार मेले का आयोजन अब 20 जनवरी को होगा, झाबुआ में जनपद स्तरीय रोजगार मेला 15 जनवरी को


झाबुआ,। मुख्यमंत्री द्वारा वीडियो कान्फ्रेंसिंग में आत्म निर्भर मध्य प्रदेश के अंतर्गत रोजगार सृजन किए जाने के लिए निर्देश दिए गए थे। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने इन निर्देशों के परिपालन में 20 जनवरी को शासकीय पोलेटेक्निीक काॅलेज झाबुआ में जिला स्तरीय रोजगार मेला आयोजित करने के निर्देश दिए है। इस मेले में विभिन्न पदों पर नियुक्ति के लिए पात्र अभ्यर्थियों के चयन के लिए लगभग 25 से अधिक कम्पनियों के भाग लेने की संभावना है। कलेक्टर श्री सिंह ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे इस रोजगार मेले को सफल बनाने के लिए अभी से तैयारियां सुनिश्चित करें और इसका जिले में व्याप प्रचार-प्रसार सुनिश्चित कराएं। जिला रोजगार अधिकारी श्री टी.एस.डुडवे ने अवगत कराया कि जनपद स्तरीय रोजगार मेले का आयोजन 15 जनवरी को आजीविका भवन झाबुआ में किया जावेगा। जिसमें 8 कम्पनियों के प्रतिनिधि उपस्थित होकर विभिन्न पदों पर नियुक्ति के लिए चयन की कार्यवाही की जावेगी।


प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना लागू


झाबुआ,। भारत सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना लागू की गई है। इस योजना के अंतर्गत असंगठित कामगारों की वृद्धावस्था की सुरक्षा और सामाजिक सुरक्षा के लिए है, जो अधिकतर रिक्शा चालक, फेरीवाला, मिड-डे-मील कामगार, बोझ उठाने वाले कामगार, ईट भट्ठा कामगार, मोची, कूड़ा बीनने वाले, घरेलू कामगार, धोबी, घर से काम करने वाले कामगार, खुद का काम करने वाले कामगार, खेतिहर कामगार, निर्माण कामगार, बीडी बनाने वाले कामगार, हथकरघा कामगार, चमड़ा कामगार, आॅडियो-विजुअल कामगार या इसी तरह के अन्य व्यवसायों में काम करने वालों को लाभ मिलेगा। जिनकी आयु 18 से 40 वर्ष हैं और उनकी मासिक आय 15 हजार रूपये से कम है, आयकर दाता नहीं है, असंगठित क्षेत्र में कार्यरत या आईपीएफ, एनपीएस, ईएसआईसी के सदस्य नहीं है। ऐसे कामगारों को इस योजना का लाभ मिलेगा। यह एक स्वैच्छिक और अंशदाई पेंशन योजना है। जिसके तहत पेंशनधारकों को 60 वर्ष की आयु होने के बाद न्यूनतम 3 हजार रूपये प्रतिमाह की निश्चित पेंशन मिलेगी और यदि पेंशनधारक की मृत्यु हो जाती है तो उसकी/उसके पति/पत्नी को पेंशन का 50 प्रतिशत पारिवारिक पेंशन के रूप में मिलेगा। पारिवारिक पेंशन केवल पति या पत्नी के लिए लागू है।


लाभार्थी द्वारा योगदान

इस योजना से जुडने केे बाद उनके बचत खाते/जन-धन खाते से ‘‘आॅटो-डैबिट‘‘ की सुविधा के माध्यम से चार्ट अनुसार 60 वर्ष की आयु तक पैसे कटते रहेंगे। केन्द्र सरकार भी उनके पेंशन खाते में बराबर का योगदान करेगी।


नामांकन प्रक्रिया

असंगठित कामगार निकटतम काॅमन सर्विस सेन्टर पर पहुॅंच कर, आधार कार्ड और बचत खाते/जन-धन खाते का उपयोग करके स्वयं-प्रमाण के माध्यम से पीएमएसवाईएम के लिए नामांकित हो सकते है। पहले महीने में लाभार्थी को उसका योगदान नकद करना है और उसके आगे उसकी सहमति के साथ उसके खाते से आॅटो डेबिट होगा।


अपहरण के मामलों में परिवार को मिलेगा अधिकार-पत्र

पूरी ताकत से रोकेंगे महिला अपराध, पुलिस अधिकारियों के दायित्व तय, मुख्यमंत्री श्री चैहान ने अपराध नियंत्रण में सहयोगी असली हीरो को किया सम्मानित, मिंटो हॉल में सम्मान अभियान का शुभारंभ

jhabua news
झाबुआ। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश में अपराधियों पर अंकुश लगाने का कार्य पूरी ताकत से किया जाएगा। आम लोगों को कानून के राज का एहसास करवाया जाएगा। गत 8 माह में अपराधियों के विरूद्ध की जा रही सख्त कार्यवाही का परिणाम है कि विभिन्न तरह के अपराधों में 15 से लेकर 50 प्रतिशत तक की कमी आयी है। बालिकाओं और महिलाओं से जुड़े अपराधों में लिप्त लोग नरपिशाच हैं। उन्हें किसी भी स्थिति में न छोड़ा जाए। बलात्कारियों को तो फाँसी ही मिलना चाहिए। प्रदेश में गुम बालिकाओं के संबंध में विस्तार से समीक्षा की गई है। अपहृत बच्चे की बरामदगी के लिए चैकलिस्ट के अनुसार कार्यवाही होगी। परिजनों को एक रिकार्ड पत्र दिया जाएगा जिसमें पुलिस द्वारा की जा रही विवेचना का विस्तृत विवरण होगा। अधिकार पत्र में जानकारी रहेगी कि कितने दिनों में क्या-क्या कार्यवाही की गई है। इस व्यवस्था में अब अपहृत होने वाले बच्चे के परिजन के साथ प्रत्येक 15 दिन में थाना प्रभारी और प्रत्येक 30 दिन में एसडीओपी केस डायरी के साथ बैठेंगे। इसमें यह सुनिश्चित किया जाएगा कि अधिकार पत्र के अनुसार कार्यवाही हुई है अथवा नहीं। मुख्यमंत्री श्री चैहान सोमवार को मिंटो हॉल भोपाल में प्रदेश-स्तरीय सम्मान अभियान का शुभारंभ कर रहे थे। इस अभियान का उद्देश्य महिला अपराध के उन्मूलन में समाज की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करना, महिलाओं और बालिकाओं के लिए सम्मानजनक एवं अनुकूल वातावरण तैयार करना और आम लोगों को कानूनी प्रावधानों के प्रति इस तरह जागरूक करना है कि वे महिला सुरक्षा के प्रति अपनी जिम्मेदारी को निभा सकें। कार्यक्रम में गृह विभाग के साथ ही अभियान में सहयोगी महिला एवं बाल विकास और जनसंपर्क विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने प्रदेश के 6 साहसी नागरिकों को उनके जिलों के कलेक्टर, एस.पी. के माध्यम से प्रशंसा पत्र भी प्रदान किए। इन नागरिकों द्वारा विभिन्न अपराधियों को पकड़वाने में भूमिका निभाई गई।


घट रहा अपराधों का प्रतिशत

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि नाबालिगों के साथ घटित अपराधों में वर्ष 2020 में भोपाल, छिंदवाड़ा, इंदौर और नरसिंहपुर में 5 अपराधियों को मृत्युदण्ड दिया गया। गत 9 माह में प्रदेश में बलात्कार के प्रकरणों में 19 प्रतिशत, अपहरण एवं व्यपहरण के प्रकरणों में 23 प्रतिशत, भ्रुण हत्या में 20 प्रतिशत, छेड़छाड़ और लज्जाभंग से संबंधित अपराधों में 14 प्रतिशत की कमी आयी है। बलात्कार के प्रकरणों के निराकरण के लिए दो माह की समयावधि में वर्ष 2020 की प्रथम छमाही में हुआ निराकरण प्रतिशत 44 था जो द्वितीय छमाही (जुलाई से दिसम्बर) में 65 प्रतिशत हो गया है। यौन अपराधियों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही कर भोपाल, उज्जैन, जबलपुर, छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर, धार और मुरैना जिलों में ऐसे अपराधियों की 23 करोड़ से अधिक की सम्पत्ति कब्जे से मुक्त कराई गई। इसके साथ ही इनके विरूद्ध एन.एस.ए, जिलाबदर आदि की कार्यवाही भी की गई। अपराधों में प्रयोग में लाए गए वाहनों के वाहन चालक लायसेंस भी निरस्त किए जा रहे हैं। नशे के विरूद्ध अभियान के अंतर्गत 75 करोड़ से अधिक के ड्रग्स पकड़े गए। लगभग एक लाख परिवारों को तबाह होने से बचाने में सफलता मिली। वाहनों में पैनिक बटन के माध्यम से महिलाओं को संकट की स्थिति में सूचना देने की व्यवस्था की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला अपराधों की सूचना देने के लिए वर्तमान में अलग-अलग हेल्पलाइन नंबर संचालित हैं। इनके एकीकरण पर विचार कर कदम उठाए जाएंगे।


एस.पी. से लेकर डी.जी. तक सभी करेंगे समीक्षा

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि जो बच्चियां लापता होने के प्रकरणों की समीक्षा सर्वप्रथम पुलिस अधीक्षक करेंगे। इसके पश्चात क्षेत्रीय पुलिस महानिरीक्षक जोन स्तर की समीक्षा करेंगे। प्रदेश के सभी पुलिस जोन में सम्पन्न समीक्षा के पश्चात पुलिस महानिदेशक द्वारा एकत्र जानकारी की समीक्षा की जाएगी। जनसुनवाई में पुलिस अधीक्षक कार्यालय में होने वाली जनसुनवाई में गुमशुदा बच्चों के परिजन को प्राथमिकता से सुना जाएगा। मजदूरी के लिए जिले से बाहर जाने की स्थिति में पंजीयन की व्यवस्था होगी। वन स्टाप सेंटर को सुदृढ़ बनाया जाएगा। प्रदेश में अपहृत बालिकाओं के संबंध में स्टडी भी करवाई जाएगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चैहान ने जानकारी दी कि सीधी में दुष्कर्म के दोषी अपराधियों को पुलिस द्वारा तत्परतापूर्वक गिरफ्तार कर लिया गया है। मुख्यमंत्री ने प्रभावी कार्यवाहियों के लिए मध्यप्रदेश पुलिस को बधाई भी दी।


नए कानून से नियंत्रण

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में धार्मिक स्वतंत्रता अध्यादेश 2020 लागू होने से किसी भी बेटी को डरा-धमकाकर या प्रलोभन देकर साथ ले जाने या विवाह करने वाले व्यक्ति को 10 वर्ष तक के कारावास और अर्थदण्ड का प्रावधान किया गया है। कुछ मामलों में बच्चियों को अन्य प्रदेशों से लाने में सफलता भी मिली है। प्रदेश से गायब हुई बेटियों को वापिस उनके अभिभावकों तक पहुंचाने के लिए हम संकल्पबद्ध हैं। करीब 7 हजार प्रकरणों में गुमशुदा बच्चियों को छुड़वाया गया है।


बालिका और महिला सशक्तीकरण पर सर्वाधिक ध्यान

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में कन्याओं के जन्म से लेकर उनके शिक्षण और कन्यादान तक की व्यवस्था सरकार ने की है। सर्वांगीण सशक्तीकरण के अंतर्गत महिलाओं को सामाजिक, राजनैतिक और आर्थिक सशक्तीकरण का लाभ दिलवाया जा रहा है। स्व-सहायता समूहों को जनआंदोलन का रूप दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज में बालिकाओं और महिलाओं के विरूद्ध अपराधों को सहन नहीं किया जाएगा। समाज की मानसिकता बदलने की भी आवश्यकता है। सिर्फ सरकार के स्तर पर यह कार्य नहीं हो सकता, इसमें समाज की सक्रिय भागीदारी आवश्यक है। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि उन्होंने वर्ष 2006 में लाड़ली लक्ष्मी योजना लागू की गई। इसके पश्चात बालिकाओं और महिलाओं के हित में अनेक योजनाएं लागू की गई हैं। वर्ष 2015 में बेटी बचाओं अभियान पूरे जोर-शोर से संचालित किया गया। सभी तरह के माफियाओं पर सख्त कार्यवाही करते हुए महिला अपराधों के विरूद्ध वातावरण बनाने की आवश्यकता है। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा बाल सुरक्षा समिति के गठन की कार्यवाही की जाएगीं। अन्य प्राप्त सुझावों के अनुसार बालिकाओं और महिलाओं की सुरक्षा के लिए हर आवश्यक कदम उठाया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने अपने संबोधन में कक्षा 10वीं की छात्रा सुश्री महती दीक्षित की श्पंछीश् नामक कविता का भी उल्लेख किया, जिसमें बालिकाओं को साहसी बनने का आव्हान है। मुख्यमंत्री ने इन पंक्तियों को सुनाते हुए कहा कि श्तू फूल नहीं फौलाद बन, इस देश की आवाज बन।श् यें पंक्तियां प्रदेश की बेटियों की आवाज है। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कार्यक्रम में उपस्थित सुश्री महती को तुलसी का पौधा भेंट कर सम्मानित किया।


सम्मान अभियान के चार महत्वपूर्ण अंग

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि आज प्रारंभ हुए सम्मान अभियान के चार प्रमुख अंग होंगे। इस 15 दिवसीय अभियान में महिला अपराधों के विरूद्ध सामाजिक जनचेतना, महिला सुरक्षा, और सम्मान से संबंधित विषय पर प्रतियोगिताएं सम्पन्न करवाना और सायबर सुरक्षा शामिल हैं। अभियान की शुभंकर श्गुड्डीश् एक 16 वर्षीय जागरूक बालिका है जो अपने अधिकारों के प्रति सजग है। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने अभियान के प्रतीक शुभंकर और पुस्तिका सम्मान का अनावरण किया। 


हॉट स्पॉट चिन्हित करें

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने जिलों को निर्देश दिए कि वे ऐसे हॉट स्पॉट चिन्हित करें जहाँ बालिकाओं या महिलाओं से संबंधित आपराधिक घटनाएं होती हैं। भोपाल पुलिस द्वारा इस दिशा में की गई पहल सराहनीय है। अन्य जिले भी इस तरह के कदम उठाएं।

 

महिला अपराध रोकने और अपराध के बाद पीड़िता के समर्थन में कार्य करने वाले हीरो सम्मानित

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कार्यक्रम में सागर की श्रीमती श्रीबाई, छिंदवाड़ा के श्री रोशनलाल विश्वकर्मा, सतना की श्रीमती मुन्नीबाई कौल, भोपाल के श्री मनोज गायकवाड़ और रायसेन के श्री मधुसूदन दुबे और भवानी‍सिंह को असली हीरो सम्मान से सम्मानित किया गया। इन सभी ने बालिकाओं और महिलाओं को अपराधों से बचाने और अपराध होने के बाद दोषी लोगों के विरूद्ध पुलिस को सूचित कर पकड़वाने में मदद की। मुख्यमंत्री ने इन सभी हीरो को बधाई भी दी।


गृह मंत्री का संबोधन

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चैहान के नेतृत्व में प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति को मजबूत बनाया गया है। अब महिला अपराधों में कमी आ रही है। पंचायतों, नगरीय निकायों, शिक्षण संस्थानों और पुलिस बल में महिलाओं की भागीदारी से उनकी शक्ति बढ़ी है। विकृत मानसिकता वाले लोगों के विरूद्ध निरंतर कदम उठाए जा रहे हैं। हमारी संस्कृति नारियों के सम्मान को प्रमुखता देती है। महिलाओं के सम्मान को आंच पहुंचाने वाले बख्शे नहीं जाएंगे।


बहुआयामी कार्यक्रम में हुईं अनेक गतिविधियां

मुख्यमंत्री श्री चैहान ने सम्मान अभियान के कार्यक्रम की शुरूआत कन्याओं के पूजन से की। पारम्परिक स्वागत से हटकर मुख्यमंत्री श्री चैहान और अतिथियों का तुलसी के पौधों से स्वागत किया गया। मध्यप्रदेश गान को पुलिस बैंड ने मोहक अंदाज में प्रस्तुत किया। प्रारंभ में पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी ने जागरूकता अभियान सम्मान की रूपरेखा प्रस्तुत की। कलेक्टर भोपाल ने सेफ सिटी प्रजेंटेशन दिया। महिला सुरक्षा गान की प्रस्तुति हुई। भारतीय ओलंपिक निशानेबाज मनु भाकर और अभिनेता अक्षय कुमार का बालिकाओं और महिलाओं के श्सम्मानश् पर केन्द्रित वीडियो संदेश प्रदर्शित किया गया। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने जब प्रदेश के 5 असली हीरो सम्मानित किए तब वीडियो कॉन्फ्रेंस से संबंधि‍त जिलों के कलेक्टर, एस.पी. भी उपस्थित हुए। कार्यक्रम का संचालन पुलिस महानिरीक्षक महिला अपराध श्रीमती दीपिका सूरी ने किया और आभार प्रदर्शन विशेष पुलिस महानिदेशक प्रशिक्षण श्रीमती अरूणा मोहन राव ने किया। कार्यक्रम में अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा, शौर्या दल की सदस्य, स्कूल-कॉलेज के प्राचार्यगण, एन.सी.सी और एन.एस.एस के विद्यार्थी और विभिन्न संगठनों के सदस्य उपस्थित हुए। कार्यक्रम में प्रदेश के समस्त संभागायुक्त, जोनल पुलिस महानिरीक्षक, जिला दण्डाधिकारी, पुलिस अधीक्षक एवं अन्य अधिकारी एनआईसी के माध्यम से जुड़ें। इसके अतिरिक्त कम से कम 2200 से अधिक वेबकास्ट के लिंक के माध्यम से जुड़े थे। जिसमें थाने के समस्ट स्टाफ, स्थानीय एनजीओ एवं आमजन के साथ, एसएएफ का बल, रेल पुलिस, पुलिस मुख्यालय, पुलिस प्रशिक्षण संस्थानों एवं आमजन उपस्थित थे। इस अवसर पर झाबुआ वीडियो कान्फ्रेंसिंग कक्ष में सांसद श्री गुमानसिंह डामोर, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, संयुक्त कलेक्टर श्री सोहन कनास, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री जयपाल सिंह ठाकुर, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री अजय सिंह चैहान, सहायक संचालक श्री आर.एस.बघेल सहित महिला एवं बाल विकास विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं: