जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल सर्विस रांची का 59वाँ दीक्षांत समारोह - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 17 जनवरी 2021

जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल सर्विस रांची का 59वाँ दीक्षांत समारोह

xevier-college-function-ranchi
रांची। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि शनिवार को ज़ेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल सर्विस (एक्सआईएसएस), रांची के 59वां दीक्षांत समारोह में सम्मिलित होने का सौभाग्य मिला। इस अवसर पर पासआउट होने वाले सभी युवाओं, कॉलेज के फैकल्टीज और कॉलेज प्रबंधन को अनेक-अनेक शुभकामनाएं और जोहार ! जेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल सर्विस (एक्सआइएसएस) रांची का 59वाँ दीक्षांत समारोह का आयोजित फादर माइकल वेन डेन बोगार्ट एसजे मेमोरियल ऑडिटोरियम में किया गया। कोविड-19 महामारी के कारण इस साल के दीक्षांत समारोह का आयोजन वर्चुअल माध्यम से किया जा रहा है। इस समारोह के मुख्य अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शिरकत किया। कार्यक्रम के दौरान वर्ष 2018-2020 बैच के विद्यार्थियों के बीच ऑनलाइन डिप्लोमा प्रमाण पत्र का वितरण किया गया। इस ऑनलाइन वर्चुअल समारोह में देश के सभी कोनों से स्नातक छात्र, उनके माता-पिता एवं प्रतिष्ठित पूर्व छात्र संघ एवं अन्य भी इस कार्यक्रम से जुड़ रहे हैं। इस दीक्षांत कार्यक्रम का सीधा प्रसारण एक्सआइएसएस के यूट्यूब चैनल पर किया जा रहा है। इस समारोह में कुल 304 विद्यार्थियों को डिप्लोमा दिया गया है। इसमें कुल 26 विद्यार्थियों के बीच 11 स्वर्ण, 8 को रजत, 5 विद्यार्थियों को कांस्य पदक एवं 2 विद्यार्थियों को नकद राशि एवं प्रमाण पत्र शामिल है। आकाश सिंह ने कहा कि आप की सरकार बनाने में सबसे बड़ा झारखंड के युवाओं का हाथ था बहुत उम्मीद और भरोसा के साथ आप की सरकार को यहां के युवाओं ने बनवाया मगर आज युवा बहुत दुखी हैं आपको सिर्फ दो कार्य करने की जरूरत है झारखंड में एक कानून व्यवस्था को कंट्रोल कर लीजिए और दूसरा युवाओं को नौकरी दीजिए बहुत जरूरी है बाकी जिस प्रकार से पुरानी सरकार की कार्य चल रही है उसे चलने दीजिए और कुछ भी नहीं चाहिए झारखंड के लोगों को मगर आप हैं कि खजाना खाली है खजाना खाली है कि बात में लगे हुए हैं जबकि आपकी गठबंधन पार्टी के एक नेता बोल चुके हैं कि उनके दल के जो मंत्री लोग हमें दिल्ली तक पैसा पहुंचा रहे हैं हमको लगता है इसीलिए खजाना खाली होगी आप ऐसा सब दिल्ली और पटना जा रहा है युवाओं के भरोसा और उम्मीद को मत तोड़िए रोजगार नौकरी के क्षेत्र में कार्य कीजिए बस यही आग्रह है। आप खुद बोले थे 1 साल में 500000 नौकरी देंगे भैया 500000 नौकरी नहीं मैं जानता हूं चुनाव जीतने के लिए ऐसी घोषणाएं की जाती है मगर 5000 कम से कम 1 साल में दे दिए होते।

कोई टिप्पणी नहीं: