बेतिया : अस्पताल व्यवस्था में सुधार कर मरीजों को दें बेहतर सुविधाएं : डीएम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 जनवरी 2021

बेतिया : अस्पताल व्यवस्था में सुधार कर मरीजों को दें बेहतर सुविधाएं : डीएम

  • *गर्भवती महिलाओं की देखरेख पूरी तन्मयता के साथ करें
  • *जिलाधिकारी ने किया पीएचसी, मझौलिया का निरीक्षण
  • *दवा सहित सभी प्रकार की स्वास्थ्य सुविधाएं अपडेट रखने का दिया निर्देश

betiya-dm-visit-hospital
बेतिया।  पश्चिम चम्पारण के जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार ने कहा कि अस्पताल की व्यवस्था में सुधार कर मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करायी जाय। राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के लिए कृतसंकल्पित है। दवाईयां सहित सभी प्रकार की स्वास्थ्य सुविधाएं मरीजों को हर हाल में उपलब्ध करायी जाय। जिलाधिकारी पीएचसी, मझौलिया का निरीक्षण करने के दौरान संबंधित अधिकारियों, डाॅक्टर्स को निर्देशित कर रहे थे। जिलाधिकारी द्वारा बारी-बारी से विभिन्न कक्षों यथा-ओपीडी, दवा भंडार कक्ष, भंडार कक्ष, एक्स-रे कक्ष, डेंटल रूम आदि का बारीकी से निरीक्षण किया गया तथा संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया। उन्होंने निर्देश दिया कि अस्पताल में रोस्टर वाइज डाॅक्टरों, नर्सेंज तथा अन्य कर्मियों की शत-प्रतिशत उपस्थिति होनी चाहिए ताकि मरीजों को किसी भी तरह की परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े। उन्होंने कहा कि गर्भवती महिलाओं की उचित देखरेख आवश्यक है। हर हाल में गर्भवती महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करायी जाय। इस कार्य में किसी भी स्तर पर कोताही एवं शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जायेगी। उन्होंने निर्देश दिया कि आईसीडीएस से समन्वय स्थापित कर गर्भवती महिलाओं को दी जाने वाली टीएचआर में बढ़ोतरी किया जाय तथा ससमय उन्हें सभी पोषक सामग्री, दवाइयां, चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध करायी जाय। जिलाधिकारी ने डाॅक्टरों से कहा कि अस्पताल में जो दवाई उपलब्ध नहीं है उसे पुर्जें पर घेरकर अंकित कर दिया जाय तथा अविलंब दवाई की उपब्धता सुनिश्चित करायी जाय। उन्होंने एमओआइसी को दवाओं का इंडेंट ससमय कर लेने का निर्देश दिया है।  अस्पताल प्रबंधन को सख्त हिदायत दिया गया कि समूचे अस्पताल में साफ-सफाई की उचित व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय। साथ ही मरीजों को दी जाने वाली खाने-पीने की सामग्री ससमय उपलब्ध करायी जाय। खाने-पीने की सामग्री में गुणवता का पूरा ख्याल रखा जाय।  निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने मनरेगा के तहत अस्पताल परिसर में वृक्षारोपण कराने का निर्देश दिया। साथ ही सोलर प्लेट का अधिष्ठापन, डस्टबिन की व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निदेश दिया है। वहीं आशा कार्यकर्ताओं को ससमय मानदेय उपलब्ध कराने का निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: