कोविड-19 टीकाकरण जल्द शुरू होगा : हर्षवर्धन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 9 जनवरी 2021

कोविड-19 टीकाकरण जल्द शुरू होगा : हर्षवर्धन

covid-19-vaccine-soon-harshwardhan
नयी दिल्ली, नौ जनवरी, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने शनिवार को कहा कि देश में कोविड-19 टीकाकरण जल्द शुरू होगा और भारत समूचे विश्व को ‘‘किफायती, सुरक्षित तथा प्रभावी’’ टीके उपलबध कराने की दिशा में भी काम करेगा। हर्षवर्धन ने 16वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2021 को संबोधित करते हुए कहा कि महीनों तक सहयोगपूर्ण मंथन और टीका वितरण विशेषज्ञता पर काम करने के बाद भारत ने कोविड-19 टीकाकरण प्रक्रिया को सुगठित किया है। उन्होंने कहा, ‘‘भारत ने अंतत: कोविड-19 टीका प्रदायगी के लिए अत्याधुनिक डिजिटल मंच ‘कोविन’ बना लिया है। टीकाकरण के बाद किसी प्रतिकूल घटनाक्रम की संभावना जैसी स्थिति में टीकों की सुरक्षा में विश्वास कायम रखना हमारी रणनीति का महत्वपूर्ण हिस्सा है।’’ स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण जल्द शुरू होगा। उन्होंने कहा, ‘‘भारत को अंतत: शीर्ष नियामक से दो टीकों के आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है और हम बहुत जल्द टीकाकरण अभियान शुरू कर देंगे।’’ मंत्री ने पूरी दुनिया को किफायती, सुरक्षित और प्रभावी टीके उपलब्ध कराने का देश का संकल्प भी व्यक्त किया। उन्होंने कहा, ‘‘महामारी के खिलाफ लड़ाई अभी खत्म नहीं हुई है। भारत सरकार हरसंभव कदम उठा रही है, लेकिन अपनी सुरक्षा यहां तक कि टीकाकरण के बाद भी ढिलाई के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए।’’ इस बीच, केंद्र सरकार ने आज एक बयान में कहा कि देश में कोविड-19 टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू होगा और इस दौरान करीब तीन करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों एवं अग्रिम मोर्चे पर कार्यरत कर्मियों को प्राथमिकता दी जाएगी। इसमें कहा गया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कोविड-19 संबंधी परिस्थितियों और तैयारियों की समीक्षा किए जाने के बाद यह निर्णय लिया गया। प्रवासी दिवस सम्मेलन में मौजूद विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने कहा कि जब बात वैश्विक सहयोग की होती है तो भारत हमेशा अग्रिम मोर्चे पर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत ने अपने यहां आवश्यक वस्तुओं की कमी से जुड़ी समस्या का समाधान करते हुए 150 से अधिक देशों को दवाओं, जांच किट और सुरक्षा संबंधी अन्य चीजें उपलब्ध कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। सम्मेलन को विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने भी संबोधित किया।

कोई टिप्पणी नहीं: