देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार गिरावट जारी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 5 जनवरी 2021

देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार गिरावट जारी

covid-reducing-in-india
नयी दिल्ली, 05 जनवरी, देश में पिछले छह महीनों के बाद इस समय कोरोना वायरस के सक्रिय मामलों की संख्या ढाई लाख से भी कम रह गई है और इसमें लगातार गिरावट जारी है। पिछले 11 दिनों से लगातार प्रतिदिन होने वाली मौतों की संख्या भी 300 से कम दर्ज की जा रही है। स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि देश में कोरोना वायरस की समग्र पाजिटिविटी दर 5.87 प्रतिशत है और पिछले सप्ताह यह 1.97 प्रतिशत थी। उन्होंने बताया कि इस समय देश में 43.96 प्रतिशत सक्रिय मामले हैं जो विभिन्न स्वास्थ्य संबंधी सुविधा केन्द्रों तथा अस्पतालों में हैं और 56.04 प्रतिशत मरीज घरों पर आइसोलेशन में हैं। देश में प्रति 10 लाख की आबादी में कोरोना मामलों की संख्या 7504 है जबकि रूस में 22339, अमेरिका में 61204 है तथा प्रति 10 लाख आबादी में कोरोना वायरस से होने वाली मौतों का आंकड़ा भारत में 108,रूस में 404, अमेरिका में 1050 और इटली में 1245 हैं। देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामलों की संख्या 167 प्रति 10 लाख हैं और तुर्की में यह संख्या 1032 तथा अमेरिका में 24863 हैं। भारत में पिछले सात दिनों में इसी आबादी के अनुपात में कोरोना वायरस के नये मामलों की संख्या 96 दर्ज की गई है जबकि ब्राजील में 1179, अमेरिका में 4325 और ब्रिटेन में 5398 मामले दर्ज किए गए हैं।


श्री भूषण ने बताया कि देश में प्रति 10 लाख लोगों में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या की संख्या विश्व में सबसे कम यानी एक है जबकि ब्राजील में 23, अमेरिका में 55 और ब्रिटेन में प्रति 10 लाख लोगों में 63 मरीजों की कोरोना वायरस से मौत हो रही है। उन्होंने कोविड वैक्सीन डिलीवरी मैनेजमेंट सिस्टम की जानकारी देते हुए कहा कि वैक्सीन निर्माता कंपनियों से वैक्सीन विमानों के जरिए प्राथमिक वैक्सीन सेंटर (जीएमएसडी) में पहुंचाई जाएगी और इसके बाद इसे राज्यों के वैक्सीन स्टोर में रखा जाएगा फिर इसे जिला वैक्सीन स्टोर से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में ले जाया जाएगा। इस पूरी प्रकिया में वातानुकूलित वाहनों के तापमान रखरखाव पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। लाजिस्टिक मैनेजमेंट रियल टाइम रिमोट टेमप्रेचर मानिटरिंग की सुविधा मौजूदा 29000 कोल्ड चेन प्वाइंट में हैं। उन्होंने बताया कि कोराना वैक्सीन के लिए स्वास्थ्य कर्मियों और अग्रिम पंक्तियों के यौद्धाओं को कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए अलग से पंजीकरण की जरूरत नहीं हैं क्योंकि इनका डाटा सरकार के पास पहले से ही है। आम लोगों को पंजीकरण की आवश्यकता है। जिन लोगों को टीका लगाया जाना है, उन्हें पहले अपना पंजीकरण कराना अनिवार्य है और इसके बाद उन्हें टीकाकरण सत्र के बारे में जानकारी दी जाएगी और फिर वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए उन्हें अपना पहचान पत्र रखना रखना होगा और दोनों डोज दिए जाने पर उन्हें मोबाइल पर क्यू आर डिजीटल सर्टिफिकेट मिलेगा। कोरोना वैक्सीन टीम में वैक्सीनेटर समेत पांच लोग शामिल किए गए हैं। गौरतलब है कि भारत में कोविड-19 संक्रमण से मुक्‍त होने वाले लोगों की कुल संख्‍या मंगलवार को 99.75 लाख से अधिक (99,75,958) हो गई। इससे संक्रमण से मुक्‍त होने (रिकवरी) की दर भी बढ़कर 96.32 प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटे में कुल 29,091 लोग कोविड-19 संक्रमण से मुक्‍त हुए हैं। देश में कोविड-19 के संक्रमित मरीजों की संख्‍या घटकर आज 2,31,036 रह गई और यह अब तक के कुल संक्रमित मामलों का मात्र 2.23 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में 29,091 लोग स्‍वस्‍थ हुए और देश में संक्रमण के केवल 16,375 नये मामले सामने आये हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: