गांगुली को बुधवार को मिलेगी अस्पताल से छुट्टी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 5 जनवरी 2021

गांगुली को बुधवार को मिलेगी अस्पताल से छुट्टी

ganguly-release-hospital-on-wednesday
कोलकाता, 05 जनवरी, टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरभ गांगुली को बुधवार को अस्पताल से छुट्टी मिलेगी। वुडलैंड्स हॉस्पिटल ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी। गांगुली को शनिवार को जिम करते वक्त सीने में दर्द की शिकायत के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। गहन चिकित्सा के बाद पता चला कि उन्हें हल्का दिल का दौरा पड़ा था है और उनकी धमनी में तीन ब्लॉक पाए गए हैं। इस बीच प्रसिद्ध कार्डियोलॉजिस्ट देवी शेट्टी ने अस्पताल पहुंच पूर्व कप्तान की चिकित्सा की। गांगुली की पत्नी डोना ने अस्पताल में उनसे मुलाकात की। अस्पताल सूत्रों ने बताया कि गांगुली ने डॉक्टरों और अपने परिवार से बातचीत की। गौरतलब है कि मेडिकल टीम ने सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए डॉ शेट्टी से बात की थी। वुडलैंड्स अस्पताल की सीईओ डॉ रुपाली बासु ने कहा, “गांगुली की हालत अब स्थिर है। वह रात को अच्छे से सोए और उन्होंने नाश्ता भी किया। गांगुली ने हम लोगों से बात की। डॉ शेट्टी यहां हैं और उन्होंने ना सिर्फ गांगुली के साथ समय बिताया बल्कि उनकी चिकित्सा कर रहे डॉक्टरों से भी मुलाकात की।” उन्होंने कहा, “गांगुली के धमनी में तीन ब्लॉक हैं और एक बार यह ठीक हो गया तो उनका दिल भी अन्य लोगों की तरह सामान्य हो जाएगा। टीम के सभी डॉक्टरों की राय के बाद हमने फैसला लिया है कि गांगुली को बुधवार को अस्पताल से छुट्टी दी जाएगी। हालांकि घर में रोजाना डॉक्टर और नर्स उनकी चिकित्सा करेंगे।” डॉ शेट्टी ने कहा, “गांगुली को कई बड़ी दिक्कत नहीं है। यह ऐसी दिक्कत है जो ज्यादातर भारतीयों को किसी ना किसी मोड़ पर होती है। उनके दिल को क्षति नहीं पहुंची है और सिर्फ ब्लॉकेज है। लेकिन उन्हें सही समय पर अस्पताल ले जाया गया और उन्हें सही इलाज मिला। उनका हृदय मजबूत है।”

कोई टिप्पणी नहीं: