सड़क के नहीं बनने पर दी जाए सामूहिक आत्मदाह की अनुमति : वीआईपी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 23 जनवरी 2021

सड़क के नहीं बनने पर दी जाए सामूहिक आत्मदाह की अनुमति : वीआईपी

demand-sucide-permission-for-road
अरुण कुमार ( बेगूसराय ) वीर कुंवर सिंह चौक को पन्हास से जोड़ने वाली  तीन प्रखंडों की लाइफ लाइन सड़क के निविदा होने के बावजूद नहीं बनने पर विकासशील इंसान पार्टी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने जिला पदाधिकारी बेगूसराय को पत्र लिखकर सामूहिक आत्मदाह की मांगी अनुमति। मौके पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए समीर सिंह चौहान ने कहा  की महीनों पूर्व निविदा होने के बावजूद सड़क का निर्माण कार्य शुरू नहीं होने से प्रशासनिक उदासीनता परिलक्षित होती है।लगातार विकासशील इंसान पार्टी के कार्यकर्ता सड़क निर्माण की मांग कर रहे हैंl वीर कुंवर सिंह चौक को पन्हास से  जोड़ने वाली सड़क को बने हुए 17 वर्षों से अधिक का समय हो गयाl पिछले तीन-चार वर्षो से यह सड़क अपनी बदहाली पर आंसू बहा रही हैl सड़क में गड्ढा है या गड्ढे में सड़क कुछ पता ही नहीं चलताl इस सड़क से होकर प्रतिदिन सूजा, पहाड़चक,भर्रा,सांख,तुलसीपुर सहित दर्जनों गांव के सैकड़ों यात्री रोज सफर करते हैं।चांदपुरा और बखरी जाने के लिए भी लोग शॉर्टकट के रूप में इस सड़क का प्रयोग करते हैं।यह एक अति व्यस्त महत्वपूर्ण सड़क है।आए दिन इस सड़क पर छोटी-मोटी दुर्घटनाएं घटती रहती है।क्षेत्रवासी लंबे समय से इस सड़क के जीर्णोद्धार की मांग कर रहे हैं।सड़क बनने की दिशा में पहल नहीं होने पर मजबूर होकर विकासशील इंसान पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आज जिला पदाधिकारी से सामूहिक आत्मदाह की अनुमति मांगी है।कार्यक्रम का नेतृत्व ठाकुर कुंदन कुमार शर्मा ने किया।मौके पर सुनील साहनी अखिलेश दास कैलाश यादव रंजीत कुमार रोशन कुमार नंदन कुमार ओंकार रजक सुरेश साहनी अंकेश कुमार विमलेश कुमार मोहम्मद जब्बार मोहम्मद अशरफुल मोहम्मद सत्तार दिनेश साहनी मिथिलेश रजक शत्रुघ्न सदा सुकेश सदा  के साथ अन्य लोग उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: