उम्मीद है 2021 में देश से असत्य नहीं बोलेंगे मोदी : कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 1 जनवरी 2021

उम्मीद है 2021 में देश से असत्य नहीं बोलेंगे मोदी : कांग्रेस

modi-will-not-lie-in-2021-congress
नयी दिल्ली, 01 जनवरी, कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सीधा हमला करते हुए कहा है कि बीते साल वह चीनी घुसपैठ जैसे कई मुद्दों पर देश से झूठ बोलते रहे हैं लेकिन पार्टी को उम्मीद है कि 2021 में श्री मोदी किसी भी मुद्दे पर असत्य नहीं बोलेंगे। कांग्रेस ने अपने आधिकारिक पेज पर आज ट्वीट किया “हमें उम्मीद है कि श्री मोदी नये साल पर देश से चीनी घुसपैठ, पीएम केयर्स और अन्य किसी भी मुद्दे को लेकर देश से झूठ बोलना बंद कर देंगे।” पार्टी ने एक माह से अधिक समय से चल रहे किसान आंदोलन के बीच सरकार पर आम लोगों की आवाज दबाने का भी आरोप लगाया और कहा कि उसे यह भी उम्मीद है कि 2021 में सरकार समझेगी “हमारे लोगों को विरोध करने का अधिकार है। हमारे लोगों को स्वतंत्र भाषण का अधिकार है। हमारे लोगों को प्रेस की स्वतंत्रता का अधिकार है। उम्मीद है 2021 में हमारी सरकार इसे समझेगी।” पार्टी ने कहा “सशक्त नागरिक ही सशक्त राष्ट्र का निर्माण करने वाला होता है इसलिए हम मानते हैं कि हाशिए पर बैठे और कमजोर तबके के लागों को मजबूत बनाने के लिए सब काम करें। हमारा लक्ष्य कभी सत्ता और ताकत हासिल करना नहीं रहा बल्कि ऐसे समाज के निर्माण का रहा है जहां सभी नागरिकों को न्याय मिले। हमारा यह सिद्धांत हमें निरंतर प्रेरित करता है और इसी आधार पर लिया गया हमारा हर निर्णय आम आदमी के हित को साधने वाला होता है। पार्टी समानता के सिद्धांत पर विश्वास करती है और इसी सिद्धांत पर काम करती है। हमारे लिए देश का हर नागरिक महत्वपूर्ण है और हम जाति, वर्ग, पंथ, भाषा, क्षेत्र या भेदभाव के आधार पर कभी काम नहीं करते हैं।” कांग्रेस ने कहा कि देश की जनता को नये साल में ऐसे भारत के निर्माण की उम्मीद हैं जहां सरकार जनहित में निर्णय लेने में समर्थ हाेने के साथ ही उच्च आदर्श, शांति तथा समृद्धि की सोच के साथ देश को आगे बढाने के लिए काम करे।

कोई टिप्पणी नहीं: