नागा साधु की बदमाशों ने पीट-पीट कर हत्या की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 23 जनवरी 2021

नागा साधु की बदमाशों ने पीट-पीट कर हत्या की

naga-sadhu-killed
पीलीभीत (उप्र) 23 जनवरी, पीलीभीत जिले के दियोरिया कला थाना क्षेत्र के सिंधौरा गांव में शनिवार को एक नागा साधु की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्‍या करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। पुलिस के अनुसार सिंधौरा गांव में नहर के किनारे बने मंदिर परिसर में नागा साधु झोपड़ी डालकर रहते थे, शनिवार सुबह साधु की भांजी खेत देखने गई तो साधु को मृत अवस्‍था में पाया। उन्होंने बताया कि सूचना मिलने पर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और विधिक प्रक्रिया पूरी कर शव को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश ने पत्रकारों को बताया कि दियोरिया पुलिस ने परिजनों से मिली तहरीर के आधार पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच प्रारम्भ कर दी। उन्‍होंने दावा किया कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। दियोरिया कोतवाली पुलिस के अनुसार बंडा थाना क्षेत्र के ताजपुर गांव निवासी सोमपाल (60) अविवाहित थे और वह लगभग 25 वर्ष पहले नागा साधु बन गये, उन्‍होंने निगोही शाखा नहर की पटरी पर छोटा सा मंदिर बनाया और वहीं झोपड़ी डालकर रहने लगे। पुलिस के मौके पर मौजूद लोगों के हवाले से बताया कि साधु काली माता के पुजारी थे और अपनी सुरक्षा के लिए दो कुत्ते भी पाल रखे थे जो हमेशा साधु के पास रहते थे और अपरिचित लोगों को कुटिया के समीप नहीं जाने देते थे। मौके पर मौजूद लोगों के हवाले से पुलिस ने बताया कि साधु का किसी से कोई विवाद नहीं था।आरोप है कि शुक्रवार रात कुछ अज्ञात बदमाशों ने कुटिया पर हमला बोल दिया और साधु की जमकर पिटाई की। पिटाई के दौरान सिर में लगी चोट से साधु ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सुबह परिजनों को पता चला तो मौके पर भीड़ जमा हो गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण किया तथा शव को पोस्टमार्टम हेतु जिला मुख्यालय भेज दिया।

कोई टिप्पणी नहीं: