प्रधानमंत्री की भूमिका सराहनीय : राजनाथ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 जनवरी 2021

प्रधानमंत्री की भूमिका सराहनीय : राजनाथ

rajnath-appriciate-pm-modi
नयी दिल्ली 16 जनवरी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि जिस दृढ़ता और संकल्प के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वैक्सीन के निर्माण से लेकर टीकाकरण अभियान को दिशा दी है उसके लिए उनकी जितनी भी सराहना की जाए कम है। प्रधानमंत्री द्वारा शनिवार को देश भर में कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरूआत किये जाने के बाद श्री सिंह ने टि्वट कर कहा , “ आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत करके कोरोना संकट पर विजय पाने के दिशा में निर्णायक कदम उठाया गया है। पहले चरण में तीन करोड़ लोगों तक वैक्सीन पहुँचाने का संकल्प लिया गया है। ” कोरोना वैक्सीन बनाने से लेकर टीकाकरण अभियान की शुरूआत में प्रधानमंत्री की भूमिका की सराहना करते हुए उन्होंने कहा , “ कोरोना के ख़िलाफ़ भारत की स्वदेशी वैक्सीन तैयार करने में जिन वैज्ञानिकों की भूमिका रही है उनका सारा देश अभिनंदन करता है। जिस दृढ़ता और संकल्प के साथ प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वैक्सीन के निर्माण से लेकर टीकाकरण अभियान को दिशा दी उसके लिए उनकी जितनी भी सराहना की जाए कम है।” उन्होंने कहा कि देश के स्वास्थ्यकर्मियों तथा अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं को आज कोरोना के खिलाफ सुरक्षा कवच मिलने जा रहा है। उन्होंने कहा , “ हमारे देश के डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, पुलिसकर्मी और अन्य फ़्रंटलाइन वर्कर जिन्होंने कोरोना के ख़िलाफ़ जंग छेड़ी उन्हें अब वैक्सीन के रूप में सुरक्षा कवच मिलने जा रहा है। अगले चरण में तीस करोड़ लोगों तक टीकाकरण अभियान पहुँचेगा। निश्चित रूप से यह बहुत बड़ी उपलब्धि होगी।” उल्लेखनीय है कि श्री मोदी ने आज वीडियो कांफ्रेन्स के माध्यम से देश भर में कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम की शुरूआत की। 

कोई टिप्पणी नहीं: