बेगूसराय : संत वासुदेव बाबू और वरिष्ठ पत्रकार राजेन्द्र पाठक की जयंती मनाई गई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 18 जनवरी 2021

बेगूसराय : संत वासुदेव बाबू और वरिष्ठ पत्रकार राजेन्द्र पाठक की जयंती मनाई गई

sant-vasudev-and-rajendra-pathak-anniversiry
अरुण कुमार ( बेगूसराय ) आज शहीद सुखदेव सिंह समिति द्वारा सुखदेव सभागार सर्वोदय नगर में एक साथ दो महापुरुषों की जयंती बड़े ही हर्ष के साथ मनाई गई।इस अवसर पर अध्यक्षता कर रहे शिक्षक नेता अमरेंद्र कुमार सिंह अपने अध्यक्षीय संबोधन में शिक्षक कहा कि वासुदेव बाबू का जन्म आज ही के दिन 1932 में बेगूसराय जनपद के वासुदेव पुर चंद्रपुरा में हुआ था।ये मार्क्सवादी नेता थे और शिक्षा जगत के संस्थापक थे,वे 1988 से 1992 तक बेगूसराय के विधायक रहे और 1996 से मृत्यु तक दरभंगा निर्वाचन क्षेत्र से विधान परिषद रहे।वासुदेव बाबू व्यवहार कुशल शिक्षक के साथ-साथ राजनीतिक क्षेत्र में तो  गरीबों,दलितों,पिछड़े और अन्य वर्ग के लिए संघर्ष करते रहे।पहले विधायक बने उसके बाद विधानपरिषद रहते हुए उनका स्वर्गवास हो गया।मैं ऐसे महान नेता को शत शत नमन करते हुए उनके याद में हर वर्ष जयंती मनाते आ रहा हूँ खासकर वरिष्ठ पत्रकार कई अखबार के चीफ ब्यूरो रह चुके राजेंद्र पाठक की 75 वीं जयंती पर उनको भी याद किया गया कहा गया कि राजेंद्र पाठक व्यक्तिगत रूप से बहुत दिनों तक पत्रकारिता एवं चीफ ब्यूरो के रूप में कार्य करते रहे इसके साथ ही सामाजिक कार्यों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते रहते थे ऐसे महापुरुषों की भी जयंती में हर वर्ष मनाते रहता हूँ।इस अवसर पर डॉक्टर चंद्रशेखर चौरसिया ने कहा कि वासुदेव बाबू शैक्षणिक और राजनीतिक पटल पर सुलझे हुए मसीहा थे और राजेंद्र पाठक पत्रकारिता क्षेत्र में अच्छे कार्य करने के लिए उनको याद किया जाता है।इस अवसर पर राम आशीष सिंह शिक्षक ने कहा कि वासुदेव बाबू से मेरा व्यक्तिगत लगाव था वह शिक्षक के साथ-साथ अनेक वर्गों के लिए संघर्ष करते रहे ऐसे महान शिक्षक नेता को मेरा शत-शत नमन करता हूँ।मौके पर फिल्म निर्देशक अरविंद पासवान,राजीव रंजन उर्फ मुन्ना,अधिवक्ता,राजेंद्र महतो जेपी सेनानी,इंजीनियर आलोक कुमार,अजय सिंह शिक्षक नेता,महिला सेल सचिव सुनीता देवी,नाथू साहू, छात्रा अनाया कुमारी,छात्रा आसमा  आदि के संग  कई शिक्षाविद् उपस्थित होकर विधान परिषद वासुदेव सिंह, पत्रकार राजेंद्र पाठक को शत-शत नमन किया उनके तैल चित्र पर माल्यार्पण की।

कोई टिप्पणी नहीं: