सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 09 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 9 जनवरी 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 09 जनवरी

भाग्यवान वाटिका के लिए वारिष्टजनों ने किया भूमिपूजन, डाईट कॉलोनी में नागरिकों  ने किया स्वागत अभिनंदन


sehore news
सीहोर। गौरक्षा कमांडो फोर्स के आहवान पर शनिवार को महाराष्ट्र अमरावती से उत्तम स्वामी महाराज  जीपी विश्वकर्मा, निलेश विश्वकर्मा का नगर आगमन हुआ। इछावर रोड स्थित डाईट कॉलोनी में बहुजन पार्टी के महाराष्ट्र प्रदेशाध्यक्ष तपन बहुमीक का स्वागत वंदन अभिनंदन किया गया।   तत्पश्चात अतिथियों के द्वारा भाग्यवान वाटिका निर्माण के लिए पंडित कमल नागर के सानिध्य में मंत्रोच्चार के साथ भूमि पूजन किया गया। कार्यक्रम के दौरान गौरक्षा कमांडो फोर्स के जितेंद्र मालवीय, दिनेश मालवीय, प्रजातंत्रिक समाधान पार्टी के राजेश मालवीय के द्वारा अतिथियों का पुप्पमाला पहनाकर आत्मीयता से श्रीफल शॉल भेंटकर सम्मान किया। कार्यक्रम में बड़ी सख्या में श्रद्धालुगण उपस्थित रहे।


नन्ने कन्हैया की विधायक दंपत्ति ने की विधिवत पूजा अर्चना  
हर्षोउल्लास से मनाया गया भगवान श्रीकृष्णा का जन्मोत्सव, भगवान को श्रद्धालुओं ने लगाया माखन मिश्री प्रसाद भोग
sehore news
सीहोर।
हर्षोउल्लास से राय विला में शनिवार को भगवान श्रीकृष्णा का जन्मोत्सव मनाया गया। भगवान को श्रद्धालुओं ने माखन मिश्री प्रसाद भोग का भोग लगाया। जगन्नाथ का जन्म होते हीं श्रद्धालुओं ने जयकार के जयघोष किए। श्रद्धालुओं के द्वारा बधाई गीत गाए गए। कृष्णा भक्तों ने नृत्यकर जन्मोत्सव मनाया। महामण्लेश्वर पंडित अजय पुरोहित के सानिध्य में पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष राकेश राय पत्नि रोमिनी राय, वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय पत्नि नमिता राय, विधायक सुदेश राय पत्नि समाजसेवी अरूणा राय, नीलेश राय पत्नि सुषमा राय, रांझा राय पत्नि सोनाक्षी राय, राजकुमार जायसवाल रिंकू पत्नि शीतल राय ने नन्ने कन्हैया की विधिवत पूजा अर्चना कर भगवान का आशिर्वाद प्राप्त किया। स्वर्गीय सेठ गेंदालाल राय, माताश्री तारा देवी राय की परम स्मृति में विधायक निवास परिसर में संगीतमय सात दिवसीय श्रीमदभागवत कथा श्रवण महामण्डलेश्वर कथा वाचक पंडित अजय पुरोहित के द्वारा श्रद्धालुओं को कराया जा रहा है। शनिवार को समस्त देवी देवताओं का आहवान कर कथा  का  श्रीगणेश किया गया। महामण्डलेश्वर का राय  परिवार के  वरिष्ठ सदस्यों ने पुष्प मालाओं से स्वागत कर आशिर्वाद प्राप्त किया। महामण्डलेश्वर ने मधुर कृष्णभजनों के साथ श्रीकृष्णजन्म प्रसंग प्रस्तुृत किए । कथा श्रवण करने के लिए बड़ी संख्या में विशिष्टजन सम्मिलित हुए। 

लगभग 60 करोड की लागत से बनने वाले खाचरोद- सिददीकगंज के मार्ग का भूमिपूजन

08 जनवरी शुक्रवार को आष्टा के खाचरोद में विधायक श्री रघुनाथ मालवीय द्वारा लगभग 60 करोड की लागत से बनने वाले खाचरोद- सिददीकगंज के मार्ग का भूमिपूजन किया गया इस अवसर पर श्री रवि मालवीय, श्री धारासिंह पटेल, श्री भगवानसिंह मेवाडा, श्री मानसिंह ठाकुर, श्री अतुल शर्मा, श्री रकेश सुराना, श्री राजेन्द्र केशव, श्री प्रताप जाट, श्री रूपेश चदेल, श्री ब्रज सोनी, श्री लक्ष्मीनारायण पाटीदार,श्री कृपाल सिंह ठाकुल, श्री धरमसिंह आर्य, श्री सुनील परमार, श्री कुमेर सिंह ठाकुर, श्रीमती उर्मिला मरेठा, श्री देवजी पटेल, एवं श्री रामू जाट आज जनप्रतिनितधि उपस्थित थे। कलेक्टर श्री अजय गुप्ता, पुलिस अधिक्षक श्री शशीन्द्र चौहान सहित जिला प्रशासन के अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे थे

मंत्री श्री तुलसी सिलावट जल संसाधन एवं मछुआ कल्‍याण तथा मत्‍य विकास विभाग आज सीहोर आयेंगे

जारी दौरा कार्यक्रमानुसार श्री तुलसी सिलावट 10 जनवरी, 2021 को दोपहर 3 बजे सीहोर आएंगे और राज्‍य स्‍तरीय क्रिकेट टूर्नामेंट के समापन समारोह में मुख्‍य अतिथि के रूप में शामिल होंगे । श्री सिलावट दोपहर 04.00 बजे सीहोर से प्रस्‍थान करेंगे।

ऑनलाइन मध्यस्थता जागरूकता शिविर का आयोजन

म.प्र. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार एवं श्री राजवर्धन गुप्ता जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सीहोर की उपस्थिति एवं मार्गदर्शन में 09 जनवरी 2021 को एक्‍शन प्लान ऑन मीडिएशन 2021 के अनुसार ऑनलाइन मध्यस्थता जागरूकता शिविर एवं जिला मीडिएशन मॉनिटरिंग कमेटी का आयोजन किया गया। उक्त शिविर में तहसील न्यायालयों के समस्त न्यायाधीशगण, अधिवक्तागण एवं पैरालीगल वालेन्टियर्स ऑनलाइन माध्यमों से सम्मिलित हुए। ऑनलाइन शिविर में सम्बोधित करते हुए जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष द्वारा व्यक्त किया गया कि अभिभाषकों व पैरालीगल वालेन्टियर के माध्यम से मीडिएशन योजना का प्रचार-प्रसार व क्रियान्वयन किया जाकर और अधिक प्रभावी रूप से कार्य किया जा सकता है एवं तहसील न्यायालयों मे पदस्थ न्यायाधीशों से मीडिएशन योजना अंतर्गत अधिक से अधिक प्रकरण रैफर किये जाने और मध्यस्थता हेतु प्राप्त प्रकरणों मे रूचि लेकर अधिक से अधिक निराकरण कराने के निर्देश दिए गए। श्री शैलेन्द्र कुमार नागोत्रा अपर जिला न्यायाधीश/सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा मध्यस्थता के कार्य को देवीये कृत्य बताते हुए मध्यस्थता का कार्य और अधिक रूचि लेकर किये जाने का आग्रह किया गया। श्री नागोत्रा द्वारा यह भी व्यक्त किया गया कि मध्यस्थता से प्रकरण का निराकरण हो जाने पर कोर्ट फीस की वापसी हो जाती है और व्यक्तियों के मध्य समांजस्य बना रहता है क्योंकि इसमें कोई भी हारता नही है दोनो पक्षों की जीत होती है।

शासन की हितग्राही मूलक योजनाओं के क्रियान्‍वयन के लिए डोर टू डोर सर्वे के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और नगर पालिका कर्मचारियों का प्रशिक्षण संपन्‍न

sehore news
शासन की हितग्राही मूलक योजनाओं के क्रियान्‍वयन हेतु डोर टू डोर सर्वे किया जाना है इसके लिए सी.एम.ओ. नगरपालिका द्वारा आंगनबाडी कार्यकर्ता और नपा कर्मचारियों को नगर पालिका सभाकक्ष में प्रशिक्षण दिया गया।  सर्वे कार्य के लिए नगर पालिका परिषद सीहोर में वार्ड-वार सर्वे के लिए दलों का गठन किया गया जिसमें प्रत्‍येक वार्ड के लिए सुपरवाईजर, दलप्रभारी, सहयोगी कर्मचारी का दल बनाकर जिम्‍मेदारी सोंपी गई है। दल प्रभारी अपने प्रभार क्षेत्र में प्रत्‍येक परिवार से संपर्क कर हितग्राहियों की पात्रता निर्धारण हेतु App  के माध्‍यम से जानकारी संग्रहित करेंगे। सर्वे कार्य 15 जनवरी 2021 तक पूर्ण किया जाना है। वार्डो में घर-घर किये गये सर्वे के आधार पर संकलित आवेदन पत्रों को 16 जनवरी 2021 को जमा कराया जाना अनिवार्य होगा। 

11 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 79 है

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले पिछले 24 घंटे के दौरान 11 व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर के खजांची लाईन से 3, बुदनी के वार्ड नं. 4 से 2, पांगरा से 1 तथा बुदनी स्‍थानीय से 3 इस प्रकार कुल 6, आष्‍टा के बगवाडा से 1 व्‍यक्ति तथा इछावर के नयापुरा से 1 व्‍यक्ति की  रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्‍त हुई है । जिले में एक्टिव/संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 79 है। आज रिकवर हुए व्‍यक्तियों की संख्‍या 10, कुल रिकवर की संख्या 2608 है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 408 सैम्पल लिए गए है । सीहोर शहरी क्षेत्र से 23  सैम्पल लिए गए, नसरूल्लागंज 69 आष्टा से 75, इछावर से 49, श्यामपुर से 140,  बुदनी से 52 सैम्पल लिए गए है । आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2735 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2608 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 79 है। आज 408 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 60097 हैं जिनमें से 56301  सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 379 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 408 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है तथा राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु  www.esanjeevaniopd.in  पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्टेट कार्यालय में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति या उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है । 

ड्राई रन के सफलतापूर्वक संपन्न होने पर स्वास्थ्य मंत्री ने विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों को दी बधाई

राज्य के सभी 51 जिलों में शुक्रवार को सुबह 9:00 बजे से शुरू हुए कोविड-19 वैक्सीन  के ड्राई रन के  सफलतापूर्वक सम्पन्न होने पर लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने विभागीय अधिकारियों - कर्मचारियों को बधाई दी। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने एनएचएम  मुख्यालय में कोविड 19 के वेक्सिनेशन के लिए बनाए गए स्टेट कंट्रोल रूम से सभी जिलों के अधिकारियों से सीधी बातचीत की। स्वास्थ्य मंत्री ने ड्राई रन के लिए जिलों  के  वैक्सीनेशन केंद्र पर पहुंचे लाभार्थी को प्रोटोकाल के साथ की गई व्यवस्थाओं की जानकारी ली। जिलों के टीकाकरण अधिकारियों ने बताया कि आज वह सभी जिनको ड्राई रन के लिए रजिस्टर्ड किया गया था वो  समय पर पहुंचे। लाभार्थियों को केंद्र पर  पहले  प्रतीक्षा कक्ष में बिठाकर उनकी पहचान स्थापित की गई। इसके बाद उन्हें प्रोटोकॉल का पालन करते हुए वेक्सिनेशन  कक्ष में भेजा गया जहां पर  उनका रिहर्सल वैक्सीनेशन के बाद उन्हें आब्जर्वेशन कक्ष में पूरे प्रोटोकॉल के साथ बिठाया गया। ऑब्जरवेशन कक्ष  में 30 मिनट रुकने के बाद उन्हें पूरी तरह से सामान्य स्थिति में अपने घर जाने के लिए कहा गया। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने अधिकारियों से  कहा कि कुछ स्थानों पर यदि कोई कमी नजर आई हो तो  जरूर  बताएं। ड्राई रन का उद्देश्य यही है कि हम वास्तविक रूप से टीकाकरण शुरू करने के पहले यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि टीकाकरण के समय कोई कमी नहीं रह जाए।

आहार अनुदान योजना में 22 करोड़ रुपये आवंटित

आदिम-जाति कल्याण विभाग ने पी.व्ही.टी.जी. आहार अनुदान योजना में 22 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है। प्रदेश में सहरिया, भारिया एवं बैगा परिवारों को कुपोषण की समस्या से मुक्त करने के लिये विशेष पोषण-आहार योजना संचालित की जा रही है। योजनांतर्गत प्रत्येक परिवार की महिला मुखिया के खाते में प्रतिमाह एक हजार रुपये की राशि जमा की जा रही है।

तीन साल में एक करोड़ घरों तक टोंटी से जल प्रदाय होगा 
तिमाही में  डेढ़ लाख आँगनवाड़ी केन्द्रों और स्कूलों में नल कनेक्शन लगेंगे, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की जल जीवन मिशन के कार्यों की समीक्षा
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में एक करोड़ क्रियाशील घरेलू नल कनेक्शन (एफएचटीसी) का लक्ष्य तेजी से कार्य कर प्राप्त किया जाये। बैठक में बताया गया 100 दिवसीय अभियान के अंतर्गत शाला एवं आँगनबाड़ी में नल से जल पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। जनवरी से मार्च 2021 की अवधि में प्रदेश के डेढ़ लाख आँगनवाड़ी केन्द्रों और विद्यालयों में नल कनेक्शन लग जायेंगे। इसके अंतर्गत आँगनवाड़ी केन्द्रों में करीब 75 हजार नल कनेक्शन दिये जायेंगे। इसी तरह करीब 75 हजार शालाओं में भी कनेक्शन तीन माह में प्रदान किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश की आबादी को घरेलू नल कनेक्शन के माध्यम से  वर्ष 2023 तक 55 लीटर प्रति व्यक्ति प्रतिदिन के मापदंड से गुणवत्तापूर्ण पेयजल उपलब्ध करवाने का लक्ष्य प्राप्त किया जाए। बैठक में बताया गया कि प्रदेश में वर्ष 2020-21 में 26 लाख घरेलू कनेक्शन देने का लक्ष्य है। इसी तरह वर्ष 2021-22 में 33 लाख, वर्ष 2022-23 में 28 लाख और वर्ष 2023-24 में 14 लाख कनेक्शन देने का लक्ष्य हैं।  भारत सरकार से प्राप्त राशि और किए गए व्यय के आधार पर मध्य प्रदेश बड़े राज्यों में दूसरे क्रम पर है जहां 378 करोड़ रुपए की राशि व्यय की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज  जल जीवन मिशन के कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि ग्रामीण आबादी को स्वच्छ और पर्याप्त पेयजल उपलब्ध करवाने के लिये स्वीकृत योजनाओं का कार्य तेजी से पूर्ण किया जाये। जल जीवन मिशन के अंतर्गत 10 योजनाओं से 4347 ग्राम लाभान्वित होंगे। ये योजनाएं गुना, अशोकनगर, शिवपुरी, सिंगरौली, आगर, देवास, सागर और धार में क्रियान्वित होंगी।   मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निवास पर जल जीवन मिशन के कार्यों के अंतर्गत स्त्रोत आधारित समूह जल प्रदाय योनाओं के क्रियान्वयन की भी समीक्षा की। बैठक में गुणवत्ता प्रभावित बसाहटों और सांसद आदर्श ग्राम की योजनाओं में संचालित कार्यों की भी समीक्षा की गई। बैठक में अपर मुख्य सचिव श्री मलय श्रीवास्तव ने मिशन के कार्यों के संबंध में जानकारी दी।

प्रदेश-भर में धूमधाम से मनाया गया अन्न उत्सव खाद्य मंत्री श्री सिंह ने तैयार की अन्न उत्सव की रूपरेखा प्रत्येक माह वर्षभर मनाया जाएगा अन्न उत्सव

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह ने बताया कि अन्न उत्सव में 8 लाख 15 हजार परिवारों को प्रदेश भर में खाद्यान्न वितरित किया गया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा उचित मूल्य दुकान स्तर पर वर्ष के प्रत्येक माह में अन्न उत्सव मनाये जाने के निर्देश दिये हैं। इसी अनुक्रम में 7 जनवरी को प्रत्येक जिले में अन्न उत्सव मनाया गया।

36 हजार 978 मेट्रिक टन खाद्यान्न वितरित
मंत्री श्री सिंह ने बताया कि प्रदेश की 15 हजार 884 उचित मूल्य दुकानों पर इस अन्न उत्सव कार्यक्रम में 1690 के.एल. केरोसीन के अलावा 36 हजार 978 मेट्रिक टन अनाज का वितरण किया गया। इसमें 27 हजार 421 मेट्रिक टन गेहूँ, 8 हजार 76 मेट्रिक टन चावल, 189 मेट्रिक टन शक्कर और 1 हजार 292 मेट्रिक नमक का वितरण कराया गया। शेष दुकानों पर अन्न उत्सव के तहत वितरण का आयोजन 10 जनवरी तक किया जाएगा।

अन्त्योदय अन्न योजना के तहत वितरण
संचालक खाद्य श्री तरूण पिथोड़े ने बताया कि इस उत्सव में अन्त्योदय अन्न योजना के अंतर्गत प्रति परिवार 35 कि.ग्रा. खाद्यान्न एक रूपये प्रति कि.ग्रा. की दर से एक किलो शक्कर 20 रूपये प्रति कि.ग्रा., नमक प्रति परिवार एक किलो एक रूपये प्रति कि.ग्रा. की दर से और केरोसीन 3 लीटर प्रति परिवार कलेक्टर दर वितरित कराया गया। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार प्राथमिकता परिवार श्रेणी के अंतर्गत 5 कि.ग्रा. खाद्यान्न प्रति सदस्य 1 रूपये प्रति कि.ग्रा. की दर से, नमक एक रूपये प्रति किलो की दर से एवं केरोसीन दो लीटर प्रति परिवार कलेक्टर द्वारा निर्धारित दर पर वितरित कराया गया। अन्न उत्सव आयोजन में सभी उचित मूल्य दुकानों पर शासकीय कर्मचारी की नोडल अधिकारी के रूप में ड्यूटी लगाई गई थी। जहां नोडल अधिकारी का विवरण, आधार नम्बर मोबाईल नम्बर AePDS पोर्टल पर प्रविष्टि कराई गई। 

संक्रामक रोगों, महामारी नियंत्रण के लिए आवश्यक आवश्यक व्यवस्थाएं करें जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों और सिविल सर्जन को निर्देश

संक्रामक रोगों एवं महामारी की घटनाओं की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए  सतत् रूप से आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने  के लिए स्वास्थ्य आयुक्त द्वारा निर्देश दिए गए हैं। स्वास्थ्य आयुक्त  द्वारा दिए निर्देशों में कहा गया है कि एहतियाती व्यवस्थाएं होने से संक्रामक रोगों, महामारी से बचाव और नियंत्रण प्रभावी ढंग से होता है। स्वास्थ्य आयुक्त ने निर्देश में कहा है कि प्रदेश में जल-जनित रोगों के प्रकरण व महामारी की रोकथाम के लिये शुद्ध पेयजल के उपयोग करने के लिए आमजन को समझाईश दें। यह कार्य  स्वास्थ्य,  शिक्षा, मैदानी स्वास्थ्य कार्यकर्ता जैसे- आशा, आशा सहयोगी, एएनएम, एमपीडब्ल्यू, एलएचव्ही, सेक्टर सुपरवाइजर, वीईई, वीसीएमडीसीएम आदि लगातार करें। ग्रामीण क्षेत्रों में शुद्ध पेयजल सभी आमजन को उपलब्ध हो इसके लिए  जिलों में उपलब्ध सभी पेयजल स्रोतों व समस्यामूलक ग्रामों की विकासखण्ड-वार और  ग्राम-वार सूची तैयार रखें। पेयजल स्रोतों और  शुद्ध पेयजल  उपलब्धता की समीक्षा प्रत्येक माह करें। पीने के पानी के कुँओं का प्रतिमाह क्लोरीनेशन किया जाए।  इसका रिकार्ड  भी संधारित कराया जाये। दिए गए निर्देशों में कहा गया है कि आंत्रशोध  जैसी संक्रामक बीमारी के फैलने की आशंका  पर जल शुद्धिकरण प्रतिदिन कराना सुनिश्चित करें। हेण्डपम्प व अन्य जल-स्रोतों के शुद्धिकरण की व्यवस्था के लिए  लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं पंचायत विभाग से समन्वय के साथ कार्य करवाएं। प्रत्येक ग्राम आरोग्य केन्द्रवार आशा को आवश्यक औषधियों जैसे- ब्लीचिंग पाउडर, जीवन-रक्षक घोल, क्लोरीन की गोलियाँ, क्लोरोक्वीन की गोलियाँ, पेरासिटामाल की गोलियाँ, मेट्रोजिल की गोलियाँ आदि की उपलब्धता सुनिश्चित करें तथा सेक्टर मीटिंग के दौरान आशाओं का आवश्यकता अनुसार उन्मुखीकरण किया जाना सुनिश्चित करें। मेडिकल कॉलेज, जिला एवं विकासखण्ड-स्तर पर गठित की गई कॉम्बेट टीमों की अद्यतन जानकारी राज्य-स्तर पर प्रेषित करें। मेडिकल कॉलेज व जिलों की आरआरटी टीम में एक मेडिकल विशेषज्ञ, लोक स्वास्थ्य अधिकारी, एक शिशु रोग विशेषज्ञ, पैरामेडिकल एवं एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, वाहन एवं वाहन चालक रखें। विकासखण्ड-स्तर की कॉम्बेट टीम में एक मेडिकल ऑफिसर, एक कम्पाउण्डर/स्वास्थ्य कार्यकर्ता, एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, वाहन एवं वाहन-चालक रखें। जीवन-रक्षक औषधियों का पर्याप्त स्टॉक सदैव रखा जाये। ये टीमें बीमारी की सूचना प्राप्त होते ही प्रभावित क्षेत्र में उपचार एवं रोकथाम/नियंत्रण कार्य हेतु तत्काल पहुँचे। प्रचार-प्रसार के माध्यम से जन-साधारण को बीमारियों से बचाव हेतु जागरूक किया जाये। समय-समय पर ग्राम पंचायतों के सदस्यों की बैठक आयोजित कर उन्हें भी बीमारियों की रोकथाम एवं समुचित उपचार के संबंध में जानकारी दी जाये। सभी समस्यामूलक ग्रामों में आशा के पास निर्धारित आवश्यक औषधियाँ सदैव उपलब्ध रहें। ब्लॉक कम्यूनिटी मोबिलाइजर एवं जिला कम्युनिटी मोबिलाइजर सतत् मैदानी भ्रमण कर वस्तु-स्थिति ज्ञात करें एवं आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करें। आशा सहयोगी आशा के कार्य का सुपरविजन कर सहयोग प्रदान करें। खण्ड विस्तार प्रशिक्षक (बीईई) व्हीएचएसएनसी दिवस एवं समुदाय में स्वास्थ्य संबंधी जागरूकता में सहयोग करें। जिले में नगरपालिका, नगर निगम, नगर पंचायत, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग आदि द्वारा पेयजल उपलब्ध कराया जाता है। स्वास्थ्य विभाग का दायित्व है कि उपरोक्त विभागों की जल-प्रदाय में शुद्धिकरण पर सतत् निगरानी रखी जाये। आवश्यकता होने पर नियमानुसार कार्यवाही करते हुए इसकी सूचना जिला कलेक्टर एवं संचालनालय को प्रेषित करना सुनिश्चित करें। किसी भी  संक्रामक रोग एवं महामारी की रोकथाम तथा उपचार के लिये हमेशा  सतर्क रहें। यदि जिले में कोई महामारी होती है तो इसके नियंत्रण के उपाय तत्परता से किये जायें। घटना का विस्तृत विवरण और  की गई कार्रवाई  से संचालनालय को शीघ्र अवगत कराना सुनिश्चित करें।

कोई टिप्पणी नहीं: