विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 09 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 9 जनवरी 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 09 जनवरी

वर्डफ्लू के चार सैंपल पॉजिटिव प्राप्त हुए


vidisha news
विदिशा जिले के आठ सैंपल राज्य पशु रोग अनुसंधान प्रयोगशाला भोपाल को  वर्डफ्लू के परीक्षण हेतु भेजे गए थे। पशु चिकित्सा सेवाएं विभाग के प्रभारी उप संचालक डॉ पीके मिश्रा ने बताया कि प्रयोगशाला से प्राप्त रिपोर्ट अनुसार जिले के आठ सैंपलों में से  चार  सैंपलों रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई हैं। वर्डफ्लू कीपॉजिटिव प्राप्त रिपोर्ट में एक विदिशा नगर ईदगाह चौराहा यात्रा चौकी के पीछे के क्षेत्र में कबूतर का सैंपल तथा तीन पठारी में पॉजिटिव पाए गए हैं उनमें एक कौआ का तथा दो जंगली पक्षी के सैंपल शामिल हैं । उपसंचालक श्री मिश्रा ने बताया कि वर्डफ्लू से बचाव के संबंध में शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों की एडवाइजरी के अनुसार पॉजिटिव पाए गए स्थान के एक किलोमीटर परिधि को सैनिटाइजर करने की कार्रवाई क्रियान्वित की जा रही है । इसके अलावा संबंधित स्थल क्षेत्रों के जीवित पक्षियों के सैंपल जांच हेतु राज्य पशु रोग अनुसंधान प्रयोगशाला भोपाल को भेजने की प्रक्रिया क्रियान्वित  की जा रही है। उपरोक्त कार्यो के संपादन हेतु आरआरटी का गठन किया जा चुका है।

सफलता की कहानी  : अभियान से लाभांवित हुए 51 बच्चे 

vidisha news
आईसीडीएस परियोजना विदिशा शहरी में वजन अभियान के माध्यम से बच्चो की लंबाई, ऊंचाई एवं वजन लिया गया था जिसमें 78 बच्चे अति गंभीर कुपोषित (सेम) चिन्हित हुए थे जिनका अभियान के तहत स्वास्थ्य परीक्षण, टीकाकरण तथा मल्टी विटामिन, आयरन, एल्बेडाजोल एवं फॉलिक एसिड दवाईयां उम्र एवं वजन के आधार पर दी गई। कार्यकर्ताओ के द्वारा प्रति सप्ताह बच्चो का फालोअप कर सम्पर्क एप में फीडिंग की गई है। सभी अतिकुपोषित बच्चे (सेम) और सामान्य श्रेणी कुपोषित बच्चे (मेम) को सुंगधित दूध के पैकेट एवं टीएचआर प्रदाय कर नियमित सेवन की पहल पर विगत तीन माह में लगातार निगरानी फलस्वरूप 51 बच्चों की श्रेणी परिवर्तन हो चुकी है। क्षेत्र के परियोजना अधिकारी श्री संजय सिंह का कहना है कि सभी के प्रयासो से 32 बच्चे मध्यम श्रेणी एवं 19 बच्चे सामान्य श्रेणी में परिवर्तित हुए है। आंगनबाडी केन्द्र क्रमांक 120 लुंहागी की सबसे अधिक कुपोषित कुमारी आरोही की तीन माह में पांच किलो आठ सौ ग्राम वजन में वृद्वि हुई है।  

सफलता की कहानी : स्वनिधि योजना ने पुनः स्वरोजगारी बनाया 

vidisha news
पीएम स्ट्रीट वेण्डर आत्म निर्भर स्वनिधि योजना से लाभंवित दिव्यांग श्री विनोद सोनी की जीविका उपार्जन गतिविधियां पुनः संचालित हुई है। लॉकडाउन में जहां स्व-रोजगार बंद हुआ वही बेरोजगार होने से अनेक छोटी-बडी मुसीबतो को झेल रहे दिव्यांग हितग्राही के लिए पीएम स्वनिधि योजना से आत्मबल ही नही बढा है बल्कि रोजगार क्षेत्र में वृद्वि हुई है।  दिव्यांग विनोद सोनी बस स्टेण्ड पुरानी नगरपालिका परिसर में छोटी से पान की गुमठी का संचालन कर अपनी जीविका उपार्जन कर है उनका कहना है कि शासन की मदद ने समय पर उन्हें पुनः मुझे रोजगार से जोडा है अब ऐसे दिन कभी ना आए की मैं बेरोजगार हूं। केनरा बैंक के माध्यम से दस हजार का लोन मिलने से दुकान में विक्रय की आवश्यक सामग्री का भण्डारण करा पाया हूॅ जिससे मुझे हर रोज दो से तीन सौ रूपए की आमदनी हो रही है।

सीएम हेल्पलाइन शिकायते अब वाट्सएप के जरिए भी

राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री हेल्पलाइन अब आमजन वाट्सएप के जरिए भी अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है। अब तक सीएम हेल्पलाइन 181 पर दर्ज की जाती थी पर अब वाट्सएप नम्बर 7552555582 पर भी प्रदेशवासी अपनी शिकायत दर्ज करा सकते है। वाट्सएप के माध्यम से प्रदेशवासी अपना जाति, आय प्रमाण पत्र भी एक दिन में प्राप्त कर सकेंगे। उपरोक्त प्रमाण पत्र वाट्सएप के जरिए मिलने वाला मध्यप्रदेश राज्य का पहला राज्य बन गया है। 

प्रसव केन्द्रो का निरीक्षण विशेषज्ञो द्वारा

जिले में प्रस्तावित नवीन 22 डिलेवरी पाइंटो का भ्रमण 11 एवं 12 जनवरी को मेडीकल कॉलेज के विशेषज्ञो द्वारा किया जाएगा। ततसंबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार के द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश संबंधितों के लिए जारी किए गए है।  अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय विदिशा के गाइनिंग डिपार्टमेंट के विशेषज्ञ चिकित्सा अधिकारी जिन डिलेवरी पाइंटो का भ्रमण कर जायजा उपरांत आवश्यक सुझावो से अवगत कराएंगे उनमें स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ स्वाति सोलंकी तथा रेणु सोनकर 11 जनवरी को सियलपुर, भौरिया, बामोरीशाला, बलरामपुर, कालादेव, महावन, दनवास डिलेवरी पाइंट का इसी प्रकार पीजीएमओ स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ वंदना सोनकेशरिया, डॉ ममता परते 11 जनवरी को ही मोहनाखेजडा, खिरियाजागीर, खेरावदा और सौंथर केन्द्र का, इसके अलावा 12 जनवरी को स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग की डॉ गायत्री भारती, डॉ रेणु सोनकर बागरी, अहमदपुर, बिछिया, ऐचदा, सोमवारा का तथा डॉ ज्योतिबाला तिवारी और डॉक्टर ममता परते क्रमशः अंडियाकलां, गंज, मसूदपुर, रूसिया एवं शहरवासा डिलेवरी पाइंट का भ्रमण 12 जनवरी को करेंगी।

लाड़ली लक्ष्मी भुगतान सूची प्रस्तुत करने के निर्देश 

जिला पंचायत सीइ्रओ श्रीमती नीतू माथुर ने महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश प्रसारित किए है कि लाडली लक्ष्मी योजना के भुगतान हेतु लंबित प्रकरणो की सूची तैयार कर तीन दिवस में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें साथ ही इस वित्तीय वर्ष में स्वीकृति उपरांत कितनी अवधि के लंबित प्रकरणो का भुगतान किया गया है कि भी सूची पृथक से उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया गया है।  जिपं सीईओ श्रीमती माथुर के द्वारा जारी पत्र में उल्लेख है कि जिले में लाड़ली लक्ष्मी येजना अंतर्गत भुगतान हेतु प्रेषित नस्तियों में जिला कार्यक्रम अधिकारी के द्वारा विगत पांच वर्षो से अधिक के स्वीकृत प्रकरणो में भुगतान विलंब से किया जा रहा है। उपरोक्त त्रुटि के लिए संबंधित दडित ना करते हुए आंगनबाडी कार्यकर्ता का सात दिवस का वेतन काटने की कार्यवाही की गई है। ततसंबंध में भी वस्तुस्थिति से अवगत कराने हेतु निर्देशित किया गया है। 

रोजगार मेला 13 को एसटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में
 
जिले के शिक्षित बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने हेतु 13 जनवरी को रोजगार मेले का आयोजन किया गया है। उक्त मेला एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में आयोजित किया गया है। जिला स्तरीय उक्त रोजगार मेले में समस्त तहसीलो के आवेदक शामिल हो सकेंगे। रोजगार मेला में जिला एवं प्रदेश की प्रतिष्ठित कंपनियों के प्रतिनिधियों द्वारा पांचवी से स्नातक स्नातकोत्तर, तकनीकी शिक्षा योग्यताधारी युवक युवतियां जिनकी आयु 18 से 32 वर्ष है का विभिन्न पदो हेतु चयन किया जाएगा। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने रोजगार मेला आयोजन को सुव्यवस्थित रूप से सम्पादित कराने हेतु विभिन्न अधिकारियों को दायित्व सौंपे है और उन्हें निर्देशित किया है कि कोरोना वायरस कोविड 19 की जारी गाइड लाइन का पालन कराते हुए रोजगार मेले का आयोजन किया जाए।  कलेक्टर डॉ जैन के द्वारा रोजगार मेला आयोजन हेतु जिन विभागो के अधिकारियो को दायित्व सौंपे गए है उनमें जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक श्री पीडी वंशकार को राज्य तथा अन्य राज्यों में उद्योगो, संभावित नियोक्ताओं से सम्पर्क स्थापित कर रिक्तियां दर्ज कराना तथा रोजगार मेले में उपरोक्तानुसार उद्योग संस्थाओं की उपस्थिति सुनिश्चित कराने का दायित्व सौंपा गया है। इसके अलावा जिला रोजगार अधिकारी, आईटीआई प्राचार्य एवं मॉडल कैरियर सेन्टर के प्रबंधक को संयुक्त रूप से रोजगार मेला हेतु व्यवस्था करना, मेले में पंजीयन का डाटा एवं चयनित युवाओं की सूची कंपनियों से प्राप्त करना, मेले में उपस्थित होने वाले युवाओं का पंजीयन, काउंसलिग कराने की जबावदेंही सौंपी गई है।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को रोजगार मेला स्थल पर कोविड 19 सुरक्षा की दृष्टि को ध्यानगत रखते हुए सेनेटाईजर एवं अन्य संसाधन की व्यवस्थाएं तथा समस्त जनपदो के सीईओ तथा एसआरएलएम के जिला परियोजना प्रबंधक को रोजगार मेला का व्यापक प्रचार प्रसार करने की तथा विदिशा मुख्य नगरपालिका अधिकारी को आयोजन स्थल पर स्वच्छ पेयजल तथा साफ सफाई के प्रबंध क्रियान्वित करने की जबावदेंही सौंपी गई है। एसएटीआई के संचालक को आयोजन स्थल कैलाश सत्यार्थी भवन को उपलब्ध एवं स्थानीय व्यवस्था की आवश्यक कार्यवाही करने तथा थाना प्रभारी देहात थाना को मेला में सुरक्षा व्यवस्था एवं कोविड 19 के दृष्टिगत सोशल डिस्टेन्सिग का पालन कराए जाने की जबावदेंही सौंपी गई है।  

पालन प्रतिवेदन उपलब्ध कराने के निर्देश 

अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने निधि कम्पनीज के विरूद्व कार्यवाही करने हेतु संस्थागत वित्त संचालनालय के द्वारा जारी पत्र के परिपालन में सम्पादित कराने के लिए एक दिसम्बर को पत्राचार किया गया था किन्तु उपरोक्त निधि कम्पनी के विरूद्व की गई कार्यवाही का पालन प्रतिवेदन अब तक अनुविभागीय दण्डाधिकारी, विदिशा, शमशाबाद के द्वारा उपलब्ध नही कराया गया है अतः संबंधितों को पालन प्रतिवेदन यथाशीघ्र उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया गया है। 
है।

स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति स्वीकृत

पशु चिकित्सा सेवाएं के उप संचालक डॉ एससीएल वर्मा के द्वारा शासकीय सेवा से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति प्रदान करने की स्वीकृति प्राप्त होने के उपरांत पशु चिकित्सा सेवाएं के उप संचालक का प्रभार डॉ पीके मिश्रा को सौंपा गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: