सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 19 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 19 जनवरी 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 19 जनवरी

मुख्यमंत्री तक भेजेंगे विधायक राय कृषि वैज्ञानिकों, प्राध्यापकों की सातवी यू.जी.सी.वेतनमान की मांग 

  • कृषि कर्मण अवार्ड तथा सर्वोच्च कृषि विकास दर हासिल कराने में कृषि वैज्ञानिकों प्राध्यापकों  की महत्वपूर्ण भूमिका : विधायक सुदेश राय  

sehore news
सीहोर।आरए.के.कृषि महाविद्यालय के कृषि वैज्ञानिकों प्राध्यापकों ने मंगलवार को विधायक निवास पहुंचकर विधायक सुदेश राय को सातवों यूजीसी. वेतनमान मांग से अवगत कराया है। राजमाता विजयाराजे सिंधिया कृषि विवि ग्वालियर एवं जवाहरलाल नेहरू कृषि विवि जबलपुर से संबंधित  वैज्ञानिकों और प्राध्यापकों विधायक श्रीराय के मुख्यमंंत्री के नाम का ज्ञापन भी दिया है।कृषि वैज्ञानिकों प्राध्यापकों की सातवी यू.जी.सी.वेतनमान की मांग को विधायक सुदेश राय के द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक भेजा जाएंगा।  विधायक सु़देश राय ने कृषि वैज्ञानिकों प्राध्यापकों  से चर्चा के दौरान कहा की कृषि वैज्ञानिक और  प्राध्यापकों देश और राज्य की कृषि उन्नती में महत्वपूर्ण स्थान रखते है कृषि वैज्ञानिकों ने जहां अनाज  की अनेक उन्न्त किस्में दी है वहीं प्राध्यापकों ने कृषि से संबंधित छात्र छात्राओं को बेहतरीन कृषि  शिक्षा से परिपूर्ण किया है। विधायक सुदेश राय ने कहा की कृषि वैज्ञानिकों और प्राध्यापकों सहित कृषि  छात्रों को लाभ किसानों को मिल रहा है। प्रदेश को लगातार कृषि कर्मण अवार्ड तथा सर्वोच्च कृषि विकास दर हासिल कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले प्रदेश सरकार के दोनों कृषि विश्वविद्यालय के कृषि वैज्ञानिकों और प्राध्यापकों की मांग हरहाल में मुख्यमंत्री सें चर्चा कर पूरी कराई जाएंगी।   कृषि वैज्ञानिकों प्राध्यापकों ने ज्ञापन के माध्यम से विधायक  सुदेश  राय  को  बताया की राजमाता विजयाराजे सिधिया कृषि वि0वि0 ग्वालियर एवं जवाहरलाल नेहरू कृषि वि0वि0 जबलपुर के वैज्ञानिकों प्राध्यापकों द्वारा प्रदेश में कृषि शिक्षा अनुसंधान एवं कृषि की उन्नत तकनीको को कृषकों तक प्रसारित करने का कार्य पूर्ण दक्षता एवं निष्ठा के साथ निरंतर किया जा रहा है लेकिन इस के बाद भी सातवी यू.जी.सी.वेतनमान का लाभ नहीं दिया जा रहा है। वेतनमान का प्रस्ताव विगत दो वर्ष से मंत्रालय किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग एवं वित्त विभाग के बीच प्रक्रियाधीन है। शासन के दोहरे मापदण्ड भेदभाव पूर्ण रवैया से कृषि वैज्ञानिकों में असतोष व्याप्त है।


एलआईसी अधिकारियों कर्मचारियों ने की केंद्र, सरकार से शीघ्र आईपीओ वापस लेने की मांग  

भारतीय जीवन बीमा निगम का राष्ट्रीयकरण दिवस मनाया

sehore news
सीहोर। भारतीय जीवन बीमा निगम कार्यालय में मंगलवार को कर्मचारियों अधिकारियों अभिकर्ताओं ने राष्ट्रीयकरण दिवस मनाया। केंद्र सरकार से शीघ्र आईपीओ वापस लेने की मांग एलआईसी अधिकारियों कर्मचारियों के द्वारा की गई। सभा को संबोधित करते हुए यूनियन संयुक्त सचिव राजीव कुमार गुप्ता ने कहा कि निजी कृत कंपनियां जनता की संपत्ति को लूटने का काम करती थी ऐसी कंपनियों से जनता को बचाने के लिए 256 कंपनियों को मिलाकर भारतीय जीवन बीमा निगम का राष्ट्रीयकरण आज ही के दिन 64 वर्ष पूर्व किया गया था इस दौरान भारतीय जीवन बीमा निगम ने राष्ट्र की अकल्पनीय सेवा कर पूरी दुनिया में एक मिसाल कायम की है लाखों लाख करोड़ रुपए की मदद भारतीय जीवन बीमा निगम ने देश की तमाम क्षेत्रों में की है ऐसा कोई क्षेत्र अछूता नहीं है जिसमें भारतीय जीवन बीमा निगम का निवेश ना हो सभा को विकास अधिकारी संदीप द्वेवेदी गौरव वर्मा ने भी संबोधित किया। उन्होने  कहा कि हमें भारतीय जीवन बीमा निगम के राष्ट्रीय स्वरूप को हर कीमत पर बचाना है और हम सभी एलआईसी का आईपीओ लाने का पुरजोर विरोध करते हैं सरकार आईपीओ लाने से अपने आप को रोके और देश की राष्ट्रीय संपत्ति के निजी करण से बचें निजी कंपनियां अपने मुनाफे के लिए ही काम करती हैं जनहित से उनका कुछ लेना देना नहीं होता है । यूनियन सचिव गणेश प्रसाद ने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम के सभी पालिसी धारक उसके शेयर धारक हैं और 95 फ़ीसदी मुनाफा शेयरधारकों में प्रतिवर्ष बांट दिया जाता है इसलिए एलआईसी का आईपीओ लाने का कोई औचित्य नहीं बनता है । सरकार आईपीओ को वापस ले और सामाजिक सुरक्षा देने वाली एलआईसी प्रीमियम से जीएसटी को तत्काल वापस करें। कर्मचारियों ने तख्ती लेकर प्रदर्शन किया। तख्तियों पर लिखा हुआ था भारतीय जीवन बीमा निगम राष्ट्रीयकरण दिवस जिंदाबाद राष्ट्रीय संपत्तियों के निजी करण से देश को बचाओ एलआईसी का आईपीओ वापस लो एलआईसी प्रीमियम से जीएसटी वापस लो । प्रदर्शन में विजय कुमार मांझी योगेंद्र दुबे संदीप द्विवेदी संतोष परते बृजलाल पटेल गणेश प्रसाद विजय कुमार सुमित लाल के राकेश राठौर अशोक जायसवाल सुरेंद्र सिंह यादव गौरव वमाज़् मयंक जैन प्रमिला शास्त्री हेमलता वशिष्ट उमेश कुशवाहा लक्ष्मीनारायण बहादुर सिंह पौडवाल बालमुकुंद अंगद कुमार शर्मा मनोहर शर्मा चंद्रसिंह राजपूत शामिल रहे।  


ग्रामीणों ने की हकीमपुर से चांदन तक सड़क निर्माण की मांग


sehore news
सीहोर। आष्टा तहसील क्षेत्र के ग्राम पंचायत फुडरा अंतर्गत ग्राम हकीमपुर से चांदनपुर तक सड़क निर्माण  कराने की मांग की है। कच्ची सड़क होने के कारण ग्रामीणों को आवागमन में बहुत समस्या का सामना करना पड़ रहा है। सड़क नहीं होने से कई बार गांव में एम्बुलेंस तक भी नहीं पहुंच पाती है। बारिश में कच्ची सड़क पर पैदल चलना भी दुभर होता है। मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुेचकर गंामीणों ने कलेक्टर के नाम ज्ञापन दिया है। ग्रामीणों ने परेशानी से जिला पंचायत सीईओ  को भी अवगत कराया है। ज्ञापन देने वालों में  आमीन,डीमरान, सददाम, जाकीर,, मेहरबान,, यसकार आदि ग्रामीणजन शामिल है।


प्रशासन ने उद्योग स्थापना के लिए 350 ग्रामीण परिवारों को की नोटिस देने की तैयारी
झिलेला के ग्रामीणों ने की आंगनबाड़ी भवन उपस्वास्थ केन्द्र आरोग्य केन्द्र, मांगलिक भवन मैदान शमशान घाट के लिए भूमि सुरक्षित करने की मांग

sehore news
सीहोर। ग्राम झिलेला पंचायत क्षेत्र में स्थानीय प्रशासन के द्वारा निजी लोगों को उद्योग लगाने के लिए  भूमि आवंटन करने का प्लान तैयार कर लिया है। भूमि से बेदखन होने की संभावना से परेशान ग्रामीणों ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर डिप्टी कलेक्टर प्रगति वर्मा को ज्ञापन देकर भूमि का आवंटन रूकवाने और ग्राम में उपस्वास्थ केन्द्र आरोग्य केन्द्र मांगलिक भवन मैदान शमशान घाट के लिए भूमि सुरक्षित करने की मांग जिला कलेक्टर से की है। ग्रामीणों के मुताबिक उघोग लगाने के लिए पंचायत क्षेत्र की 30 एकड़ ग्राम आबादी वाली भूमि आवंटित करने के लिए कुछ ग्रामीणों को मकान खाली करने के लिए नोटिसजारी किए है। ग्राम झिलेला की 514 एकड़ भूमि राजस्व विभाग की जिला उद्योग में चली गई है जिस कारण ग्राम झिलेला मे कोई भी शासकीय भूमि उपलब्ध नहीं है। ग्राम पंचायत झिलेला की आबादी 2504 है। ग्राम झिलेला से लगे खसरा नं 649 एवं 650 पर कई वर्षों से ग्राम आबादी की बसाहट है जिस पर 55 से 60 परिवार निवासरत है। उनकी जनसख्या लगभग 300 से 350 है यह सभी अनुसुचित जाति के वर्ग में आते है।  ग्रामीणों ने अनुविभागीय अधिकारी आष्टा, तहसीलदार को भी मामले से अवगत कराया है। ग्रामीण प्रहलाद सिंह सरपंच कृपाल सिंह कैलाश चंद्र सागर नरेंद्र सिंह जीवन सिंह मदनलाल भादर सिंह विक्रम सिंह सुरेंद्र सिद्धू लाल मंदिर रूप सिंह सुरेंद्र सिंह कमल सिंह विजेंद्र बल्लू चंद्र सिंह धूप सिंह बाबूलाल मिलाप चंद लालजी राम राम सिंह आदि ने वर्षो से  भूमि पर रह रहे नहीं हटाने और ग्राम  पंचायत झिलेला में शासकीय हाई स्कूर्ल सोसायटी, गोदाम,आंगनबाड़ी भवन, उपस्वास्थ केन्द्र, आरोग्य केन्द्र, मांगलिक भवन, खेल मैदान,शमशान घाट एवं अन्य कार्य के लिए भूमि उपलब्ध कराई जाने की मांग की है।

किसानों को मंजूर नहीं शासन के द्वारा तय मुआवजा राशि, किसानों ने मांगा 25 लाख रूपये प्रति हेक्टेयर मुआवजा
  • शासन दे रहा सिंचित भूमि के प्रति हेक्ट 9 लाख, 24 हजार असिंचित के 5 लाख 61 हजार
  • प्रभावित हरनियागांव की 3 सौ एकड़ कृषि भूमि कान्याखेड़ी जलाशय में डूब जाएगी, कलेक्ट्रेट पहुंचे सैकड़ोंप्रभावित होने वाले किसान  
sehore news
सीहोर।
कान्याखेड़ी जलाशय में हरनियागांव की 3 सौ एकड़ कृषि भूमि डूब में आ रहीे है। जिले के जावर तहसील क्षेत्र में कान्याखेड़ी जलाशय निर्माण के लिए प्रस्तावति है। प्रभावित किसानों के लिए  शासन ने सिंचित भूमि पर प्रति हेक्टेयर 9 लाख 24 हजार रूपये और असिंचित भूमि के लिए के 5 लाख 61 हजार रूपये मुआवजा राशि तय की है। किसानों को उक्त मुआवजा राशि मंजूर नहीं है। किसानों का कहना है की क्षेत्र मेंं प्रति एकड़ सिंचित भूमि का मूल्य10 लाख रूपये है। किसानों  ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर कलेक्टर के नामज्ञापन दिया है। प्रभावित  किसानों  ने प्रति  हेक्टेयर 25 लाख रूपये मुआवजा प्रति किसान देने की मांग की है।   किसानों ने कहा की सिचाई विभाग द्वारा सर्वे किया है। मौखिक रूप से मुआवजा राशि  देने की बात कहंी गई है। बताई गई मुआवजा राशि काफी कम है। बाँध का निर्माण भी शुरू कर दिया गया है।  सिचाई विभाग ने अबतक कोई लिखित सूचना या नोटिस भी नहीं दिया है। बांध निर्माण का कार्य    पाँच जेसीबी से किया जा  रहा है। ग्रामवासियों में दहशत का माहौल है। सिचाई विभाग के अधिकारी कर्मचारी और ठेकेदार कोई सुनने को  तैयार नहीं है। भूमि अधिग्रहण कर ली गई है लेकिन बताया नहीं गया है। शासन के द्वारा तय मुआवजा राशि मंजूर नहीं है। प्रभावित किसानों का कहना है की कृषि  भूमि  से  हीं परिवार का भरण पोषण होता है छोटे किसान है हमारे पास आय का अन्य कोई साधन नही हैं। किसानों ने पर्याप्त मुआवजा राशि देने और प्रभावित किसान परिवार के किसी सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए। ज्ञापन देने वालों में  हरिनारायण  सिंह पटेल, मोहम्मद खां, जाकिर खां, शाबिर खां,  शहदत खां, अजीज  खां,  राम  सिंह, नरेंद्र सिंह, मेहर खान आदि कई किसान शामिल है।  

किसानों को पंजाब की कंपनी ने टिकाई लाखों, रूपयें की घटिया मिनी काम्बाईट हार्वेस्टर मशीने
  • उपसंचालक कृषि बोले हमारे विभाग का मामला नही,ं किसानों को दर्ज करानी होगी एफआइआर, 
  • कृषि विभाग कार्यालय पहुंचे थे धोकाधड़ी के शिकार हुए किसान
sehore news
सीहोर।
बढ़ा मुनाफा कमाने के चक्कर जिले के कई किसान धोकाधड़ी के शिकार हो गई है। किसानों  से लाखों रूपये वसूल कर पंजाब से संचालित विकास कंपनी, पानेश्वर कंपनी,सतनाम कंपनी ने किसानों को ट्रेक्टर के उपर कसने वाली घटिया मिनी काम्बाईट हार्वेस्टर मशीनें थमा दी। किसान कुछ समझ  पाते इस से पहले हीं कंपनी के कर्ताधर्ताओं के मोबाईल बंद हो गए और स्थानीय डिलर ने भी हाथ  खड़े कर दिए। मंगलवार को किसानों ने कृषि विभाग कार्यालय पहुंचकर उप संचालक शिव सिंह राजपूत को भी मामले से अवगत कराया है लेकिन उप संचालक कृषि श्री राजपुत का कहना था की यह मामला विभाग के अंतर्गत नहीं आता हैप्राईवेट कृषि यंत्रडीलर को हम लाइसेंस जारी नहीं करते है किसानों  के  साथ  धोका किया गया है गुणवत्ताहीन मशीने थमा  दी गई है किसानों को इस  मामले में संबंधितों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराना चाहिए। किसानों को खेत में खड़ी फसलों को काटने के लिए कड़ी मश्क्कत करनी होती है। किसानों की इस   परेशानी को भांपकर कृषि यंत्र बनाने वाली पंजाब से संचालित कपंनियों ने मिनी काम्बाईट हार्वेस्टर फसल काटने और भूसा बनाने वाली मशीनों के विज्ञापन जारी किए। ट्रेक्टर ट्रालीधारी कई किसान कंपनी के डीलरों और सेल्समेनों की बातों में आकर मिनी काम्बाईट हार्वेस्टर पांच से छ: लाख रूपये कीमत पर खरीद लिए। कंपनी का दावा पूर्ण रूप से फेल हो गया मशीनें गेंहू के दानों के टुकड़े  करने लगी, गेंहु के दाने भूसे में फेकने लगी। डीजल की खपत भी बड़ गई। मशीन से निकले भूसें को मवेशियों ने भी खाना पंसद नहीं किया। किसानों को अब भूसा फेकना या जलना पड़ रहा है। कंपनी के लोगों ने किसानों से अनेक कोरे कागजों पर पहले हीं हस्ताक्षर करवा लिये गए है। किसान अपने आप को बहुत ठगा हुआ महसूस कर रहे है। यह मशीनें ट्रेक्टर को बुरी तरह गर्म भी कर रही है। जबकी कहा गया था की ट्रेक्टर को बंद करने की जरूरत नही है डीजल की खपत 1 घंटे मे 8 से 10 लीटर की हो रही है जबकि उन्होने कहा था कि 1 घंटे में यह मशीन 5 लीटर डीजल की खपत करती है। कंपनी के लोगों और डीलर ने कहा  था  की यह मशीन 1 घंटे मे 2 एकड फसल काटेगी लेकिन यह मशीन 3 घंटे मे एक एकड फसल काट रही है। किसान ज्यादातर  एचपी के ट्रेक्टर लेकर आये पर उन पर भी मशीन नही चल पा रही है जबकि 50 एचपी के ट्रेक्टर चलाने वाले वालो के साथ ट्रक्टर में समस्या आ रही है। धोखाधडी के शिकार हुृए नितिन जयसवाल, राजेंद्र सिंह, दुर्गा प्रसाद, सुनील वर्मा, अखिलेश वर्मा, लोकपाल सिंह खाती, विजेंद्र सिंह, राजपाल ठाकुर, ब्रिज वर्मा, चोपा वर्मा, सतीश बागवान, सुनील वर्मा, रजनी बागवान, दिनेश वर्मा आदि ने धोकाधड़ी कर लाखों  रूपये  हड़पने वाली मिनी काम्बाईट हार्वेस्टर कंपनियों पर सख्त कानूनी कार्यवाही ंकरने की मांग की है। 

संबल योजना के हितग्राहियों को विधायक सुदेश राय के मुख्य अतिथ्यि में प्रदान किए 2 करोड 46 लाख रूपये

sehore news
सीहोर। मंगलवार को नगर पालिका परिसर में विधायक सुदेश राय के मुख्य अतिथ्यि में मुख्यमंत्री जन कल्याण संबल योजना अन्तगज़्त जिले के कुल 110 हितग्राहियों को लगभग 2 करोड 46 लाख रूपये की राशि वितरण कायज़्क्रम आयोजित किया गया। अनुग्रह सहायता राशि का वितरण मिंटो हॉल में आयोजित कायज़्क्रम में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा सिंगल क्लिक के माध्यम से हितग्राहियों के खातों में राशि किया गया। विधायक सुदेश राय ने बताया की जनहित में सक्रीय मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा सीहोर जिले की भागवती बाई इछावर की हरजा बाई ग्राम सिराडी रिंकू बाई ग्राम देवपुरा एवं सोरम बाई आष्टा को प्रतिकात्मक रूप से भोपाल में हितलाभ का वितरण किया गया। अनुग्रह सहायता राशि सामान्य मृत्यु के 97 प्रकरण की राशि लगभग 1 करोड 94 लाख एवं अनुग्रह सहायता राशि दुघज़्टना मृत्यु के 13 प्रकरणों में लगभग 52 लाख रूपये की राशि का वितरण किया।

श्री इंदर सिंह परमार राज्यमंत्री, स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन, आज आयेंगे सीहोर

राज्यमंत्री, स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन विभाग श्री इंदरसिंह परमार आज सीहोर आयेंगे। जारी दौरा कार्यक्रमानुसार श्री परमार 20 जनवरी, 2021 को भोपाल से 10:30 बजे सड़क मार्ग से प्रस्थान कर 11:15 बजे सीहोर आएंगे और गणेश मंदिर में दर्शन करने के उपरांत दोपहर 12:00 बजे वे महिला पॉलिटेक्निक सीहोर में आयोजित रोजगार मेला कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे । श्री परमार 03:00 बजे सीहोर से भोपाल के लिए प्रस्‍थान करेंगे।

वृहद रोजगार मेला का आयोजन आज

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश अभियान अंतर्गत माननीय मुख्यमंत्री महोदय के निर्देशानुसार वृहद रोजगार मेला का आयोजन दिनांक 20 जनवरी 2021 को प्रातः 10 बजे से 5 बजे तक शासकीय महिला पॉलिटेक्निक महाविद्यालय भोपाल नाका सीहोर में किया जा रहा है। जिसमें 32 कम्पनियों के प्रतिनिधि द्वारा लगभग 3000 पदों भर्ती किया जावेगा। मेले में आने वाली कम्पनियां वर्धमान फेब्रिक्स बुदनी, ट्राइडेण्ट कम्पनी बुदनी, सेल मेन्यूफेक्चिरिंग लिमिटेड जावर, नवकिसान बायो प्लांटेक भोपाल, चेकमेट सेक्योरिटी सर्विसेस भोपाल, आदित्य इवेंट भोपाल, शिवशक्ति बॉयो प्लांटेक भोपाल, सेनापति सेक्योरिटी सर्विसेस सीहोर, भारतीय जीवन बीमा निगम सीहोर, एस.बी.आई लाईफ सीहोर, अंश सेवा समिति बैतूल, आईएमसी हर्बल लुधियाना, एक्वाधन इन्दौर, एजुकेटेड टेक्नोलॉजी साफ्टवेयर इंस्टीटयूट सीहोर, हर्बल लाइफ न्यूट्रीशन, एर्बट टेक्नोलाजी सीहोर, जॉब फेक्टरी इन्दौर, एल एण्ड टी कंस्ट्रक्शन स्किल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट अहमदाबाद, एम.डी.ए. मसाला उद्योग सीहोर, सात्विक एग्रो फूड इंडस्ट्रीज प्रा.लि. आष्टा, प्रधानमंत्री कौशल विकास केन्द्र सीहोर, फीनिक्स जॉब कंसल्टेंट्स भोपाल, टी.क्यु.एम. इन्डस्ट्रीज, भोपाल, राइट वे एसोसिएट प्रा.लि. भोपाल, यशस्वी एकेडेमी फार टेलेन्ट मेनेजमेंट पुणे, डियरलाईफ इम्पावर इण्डिया प्रा.लि. सीहोर, लायन फेब्रिक्स प्रा.लि. श्यामपुर, क्रेमेडिन हेल्थ प्रा.लि. बुदनी, प्रातीक ट्रांसफार्मर बडियाखेड़ी, हेल्किंस इंडस्ट्रीज प्रा.लि. बडियाखेड़ी, अल्फा जिलेटिन प्रा. लि. इछावर, सोडानी अपेरल्स प्रा.लि. सीहोर द्वारा के प्रतिनिधि द्वारा साक्षात्कार लिया जाकर मशीन आपरेटर, सेल्स एक्जिक्यूटिव, सेक्योरिटी गार्ड, गनमेन, सेक्योरिटी सुपरवाईजर, ट्रेनी, कम्प्यूटर ऑपरेटर, मार्केटिंग, फाइनेंस एडवाइजर, लेखापाल, काउंसलर, टेक्निशियन, इलेक्ट्रिकल्स, टैली, सेल्स मेनेजर, एडवाइजर, डेवेलपमेंट मेनेजर, इन्डीपेंडेंट बिजनेस कंसलटेंट, हयूमन रिर्सोस, कुशल/अर्द्धकुशल श्रमिक,बेक ऑफिस, एल.सी.सी. ऑपरेटर पदों पर भर्ती की जावेगी। आवेदक www.mprojgar.gov.in पर अपना पंजीयन कर समस्त प्रमाण पत्रों सहित प्रातः 10 बजे शासकीय महिला पॉलिटेक्निक कॉलेज सीहोर में मास्क लगाकर उपस्थित होवें।

तीन आदतन अपराधीयों को छह माह के लिए कलेक्टर ने किया जिला बदर

कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री अजय गुप्ता द्वारा पुलिस अधीक्षक के प्रतिवेदन से संतुष्ट होकर मध्यप्रदेश राज्य सुरक्षा अधिनियम 1990 की धारा 5 के अंतर्गत राजा उर्फ राजकुमार आ. शिवनारायण उम्र 29 साल थाना पार्वती आष्टा, मोनू यदुवंशी आ. मस्तान सिंह उम्र 25 साल निवासी ग्राम बाबरी थाना रेंहटी और अयान उर्फ फरहान आ. रियाजुल्लाह खान उम्र 26 साल निवासी काजीपुरा थाना दौराहा जिला सीहोर को 6 माह के लिए जिला बदर किया गया है।  अपराधियों के विरूद्ध विभिन्न धाराओं में अलग-अलग प्रकार के आपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध है  जैसे गाली गलोच करने, मारपीट करने, अडीबाजी करने, दहेज प्रताड़ना, महिला से दुर्व्यवहार, सांप्रदायिक तनाव फैलाने, अवैध शराब बेचने, मानव वध करने के प्रयत्न करने आदि । राजा उर्फ राजकुमार, मोनू यदुवंशी एवं अयान उर्फ फरहान की आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए इनके विरुद्ध समय-समय पर प्रतिबंधात्‍मक कार्रवाई भी की गई फिर भी इनके  द्वारा अपनी आदत में कोई सुधार नहीं लाया गया। ये तीनों आदतन अपराधी है। राजा उर्फ राजकुमार, मोनू यदुवंशी एवं अयान उर्फ फरहान को भोपाल, रायसेन, होशंगाबाद, हरदा, देवास, शाजापुर एवं राजगढ़ जिले की राजस्व सीमाओं से 6 माह के लिए निष्कासित किया गया है। ये तीनों  जहां भी रहेंगे  वहां के पुलिस अधीक्षक को उस क्षेत्र में उपस्थिति की निरंतर सूचना देते रहेंगे यदि उनके विरुद्ध किसी न्यायालय में प्रकरण विचाराधीन हो तो उसकी सुनवाई में भी उपस्थित रहने के लिए पुलिस अधीक्षक सीहोर तथा थाना प्रभारी थाना पार्वती आष्टा, थाना रेंहटी एवं थाना दौराहा को सूचित करेंगे।

मुख्य मंत्री जन कल्याण संबल योजना अन्तर्गत 110 हितग्राहियों को लगभग 2 करोड 46 लाख अनुग्रह सहायता राशि का वितरण

मुख्य मंत्री जन कल्याण संबल योजना अन्तर्गत अनुग्रह सहायता राशि का वितरण मिंटो हॉल में आयोजित "आपका संबंल आपकी सरकार" कार्यक्रम अंतर्गत माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा सिंगल क्लिक के माध्यम से किया गया। सीहोर जिले के कुल 110 हितग्राहियों को लगभग 2 करोड 46 लाख रूपये की राशि का सीधे बैंक खाते में वितरण किया गया। मुख्य मंत्री श्री चौहान द्वारा सीहोर जिले की भागवती बाई इछावर, हरजा बाई ग्राम सिराडी, रिंकू बाई ग्राम देवपुरा एवं सोरम बाई आष्टा को प्रतिकात्मक रूप से भोपाल में हितलाभ का वितरण किया गया। अनुग्रह सहायता राशि सामान्य मृत्यु के 97 प्रकरण की राशि लगभग 1 करोड 94 लाख एवं अनुग्रह सहायता राशि दुर्घटना मृत्यु के 13 प्रकरणों में लगभग 52 लाख रूपये की राशि का वितरण किया।  नगर पालिका सीहोर में कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखा गया जिसमें सीहोर विधायक श्री सुदेश राय एवं अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।         

जनसुनवाई में आए लगभग 42 आवेदन

sehore news
राज्य शासन द्वारा आम आदमी की समस्याओं के आसानी से निराकरण के लिए प्रत्येक मंगलवार को जनसुनवाई की व्यवस्था सुनिश्चित की गयी है। मंगलवार के दिन आम आदमियों की समस्याओं से जुडे आवेदन प्राप्त कर निराकरण किए जाते हैं। जनसुनवाई के दौरान पेंशन ना मिलने, अनुदान राशि दिलाये जाने,ऋण दिलाये जाने, मुआवजा राशि ना मिलने, पटटा दिलाये जाने, जमीन से कब्जा छुड़ाने, बिजली का बिल कम करने एवं आर्थिक सहायता राशि दिलाये जाने आदि समस्याओं के आवेदनों पर आज जनसुनवाई की गयी। आज जनसुनवाई में लगभग 42 आवेदक अपनी समस्याएं लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे।

नेहरू युवा केन्द्र सीहोर द्वारा 12 से 19 जनवरी तक मनाया जा रहा है युवा सप्ताह

नेहरू युवा केन्द्र सीहोर की जिला युवा समन्वयक ने बताया कि 12 से 19 जनवरी तक नेहरू युवा केन्द्र सीहोर द्वारा युवा सप्ताह मनाया जा रहा है । इसके अंतर्गत विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। 18 जनवरी को कौशल विकास दिवस के उपलक्ष्य में ग्राम अमलाहा में महिलाओं के बीच कढ़ाई प्रतियोगिता का अयोजन किया गया जिसमें प्रतिभागियों ने रूमाल पर कढ़ाई की । प्रतिभागी महिलाएं पिछले वर्ष ने.यू.के. से कढ़ाई एवं सिलाई का प्रशिक्षण प्राप्त कर चुकी हैं। इस प्रतियोगिता में प्रथम स्थान खुश्बू द्वितीय शिवानी जायसवाल एवं तृतीय स्थान पूजा बागवान ने प्राप्त किया । आयोजन का संचालन श्रीमती निशा लखेरा ने किया कार्यक्रम में नु.यु.के. के स्वयंसेवी सददाम खान व सपना भी उपस्थिति रहे ।  

02 व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 45 है

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान 02 व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त हुई है। सीहोर के मण्डी निवासी 01 व्यक्ति तथा इछावर के वार्ड नं. 1 निवासी 01 व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव प्राप्त हुई हे । जिले में एक्टिव/संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 45 है। कुल 14 व्यक्तियों को डिस्चार्ज किया गया है कुल रिकवर की संख्या 2677 है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 422 सैम्पल लिए गए है । सीहोर शहरी क्षेत्र से 41सैम्पल लिए गए,  नसरूल्लागंज 86, आष्टा से 127, इछावर से 24, श्यामपुर से 77,  बुदनी से 67 सैम्पल लिए गए है । आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2770 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2677 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 45 है। आज 422 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 64179 हैं जिनमें से 60379  सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 477 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1030  सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। आज पॉजिटिव मिले नये कन्टेनमेंट झोन सहित समस्त कन्टेनमेंट एवं बफर जोन मे स्वास्थ्य दलों द्वारा स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है वहीं पॉजिटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्ये कन्टेनमेंट जोन मे सर्वे के लिए जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-07562 226470 है एवं 1075 नंबर पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती हैं। जिला स्तर पर मोबाइल नंबर 9425400273, 9425400453, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होन कारोन्टाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हल्पलाईन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम कारान्टाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकॉलोजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते है।  

कोई टिप्पणी नहीं: