अब मंदिर भी सुरक्षित नहीं - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 10 जनवरी 2021

अब मंदिर भी सुरक्षित नहीं

temple-not-safe-women-rape
नागपट्टिनम। अब भगवान के घर में भी सुरक्षा नहीं मिल पा रही है। उत्तरप्रदेश के बदायूं में मंदिर के पुजारी और उनके सहायकों ने मिलकर जघन्य वारदात का अंजाम दे दिया।वहीं तमिलनाडु के नागपट्टिनम में निर्माण मजदूर के रूप में काम करने वाली 40 वर्षीय विधवा के साथ एक मंदिर में कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किया गया। पुलिस ने शुक्रवार को कलहा कि इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि बृहस्पतिवार रात इन दोनों लोगों ने अपनी बहन के घर की ओर जा रही विधवा का पीछा किया और कथित तौर पर उसे चाकू की नोक पर मंदिर में घसीटा। पुलिस ने कहा कि वहां दोनों ने कथित तौर पर आज तड़के तक उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया और घटनास्थल से भाग गये। उन्होंने कहा कि महिला को कई चोटें आईं और वह बेहोश हो गई। उन्होंने कहा कि इलाके में रहने वाले लोगों ने उसे बचाया और उसे नागपट्टिनम जिला सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने कहा कि बलात्कार पीड़िता ने कहा कि दोनों आरोपी शराब के नशे में थे। उन्होंने कहा कि पूजा स्थल में उसे घसीटने के बाद उन्होंने उसकी पिटाई की, उसके साथ दुष्कर्म किया और घटना के बारे में खुलासा न करने की धमकी दी। दोनों ने उसके पास जो पैसे थे, उन्हें भी ले लिया। उन्होंने कहा कि आगे की जांच चल रही है। पीड़िता के पति की दो साल पहले मौत हो चुकी है और उसके दो बच्चे हैं। उत्तरप्रदेश के बदायूं में हुई जघन्य वारदात की तरह अब तमिलनाडु के नागपट्टिनम में भी मंदिर में महिला से सामूहिक दुष्कर्म की घटना हुई है। वहां श्रमिक के रूप में काम करने वाली एक विधवा महिला इसकी शिकार हुई निर्माण मजदूर के रूप में काम करने महिला से सामूहिक दुष्कर्म  किया गया। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने कहा कि इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि बृहस्पतिवार रात इन दोनों लोगों ने अपनी बहन के घर की ओर जा रही महिला का पीछा किया और कथित तौर पर उसे चाकू की नोक पर मंदिर में घसीटा।  पुलिस ने कहा कि वहां दोनों ने कथित तौर पर उसके साथ सामूहिक  किया और घटनास्थल से भाग गए। उन्होंने कहा कि महिला को कई चोटें आईं और वह बेहोश हो गई। इलाके में रहने वाले लोगों ने उसे बचाया और उसे नागपट्टिनम जिला अस्पताल में भर्ती कराया।  पुलिस ने कहा कि पीड़िता ने कहा कि दोनों आरोपी शराब के नशे में थे। पूजा स्थल में उसे घसीटने के बाद उन्होंने उसके साथ मारपीट की और उसके साथ दुष्कर्म किया। घटना के बारे में खुलासा नहीं करने की धमकी दी गई। दोनों ने उसके पास जो पैसे थे, वह भी लूट लिए। मामले की जांच चल रही है। पीड़िता के पति की दो साल पहले मौत हो चुकी है और उसके दो बच्चे हैं। गौरतलब है कि यूपी के बदायूं में बीते दिनों इसी तरह मंदिर में एक महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या की जघन्य वारदात हुई है। मामले में मंदिर के पुजारी व अन्य आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

कोई टिप्पणी नहीं: