काले कानूनों को खत्म क्यों नहीं करते प्रधानमंत्री : कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 20 जनवरी 2021

काले कानूनों को खत्म क्यों नहीं करते प्रधानमंत्री : कांग्रेस

why-not-pm-roll-back-black-law-congress
नयी दिल्ली, 20 जनवरी, कांग्रेस ने किसान संगठनों के साथ बातचीत में सरकार की ओर से तीनों कृषि कानूनों को डेढ़ साल के लिए निलंबित करने की पेशकश को लेकर बुधवार को उस पर निशाना साधा और सवाल किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीनों ‘काले कानूनों’ को खत्म क्यों नहीं करते। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ‘‘मोदी जी, आप और आपके मंत्री! बरगलाएं मत। तीनों काले क़ानूनों को डेढ़ साल के लिए निलंबित करने से क्या होगा ? सारी ख़ामियां जस की तस रह जाएंगी। आप इन तीनों क़ानूनों को ख़त्म क्यों नहीं करते ? ये कैसा अहंकार है? संघर्ष कर रहे सभी अन्नदाताओं के जज़्बे को सलाम। जीतेगा किसान !’’ उल्लेखनीय है कि तीन कृषि कानूनों के खिलाफ लगभग दो महीने से चल रहे किसान आंदोलन को समाप्त करने के एक प्रयास के तहत केंद्र सरकार ने बुधवार को आंदोलनकारी किसान संगठनों के समक्ष इन कानूनों को एक से डेढ़ साल तक निलंबित रखने और समाधान का रास्ता निकालने के लिए एक समिति के गठन का प्रस्ताव रखा। किसान नेताओं ने सरकार के इस प्रस्ताव को तत्काल तो स्वीकार नहीं किया लेकिन कहा कि वे आपसी चर्चा के बाद सरकार के समक्ष अपनी राय रखेंगे। अब 11वें दौर की बैठक 22 जनवरी को होगी।

कोई टिप्पणी नहीं: