विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 28 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 28 फ़रवरी 2021

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 28 फ़रवरी

पूर्व मुख्यमंत्री राजा दिग्विजय सिंह के जन्मदिन को श्रमिकों में मिठाई वितरण कर मनाया

 

vidisha news
विदिशा: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री राजा दिग्विजय सिंह के जन्मदिन के अवसर पर किसान नेता बलराम सिंह दांगी मित्र मंडल ने नगरपालिका के सामने रवि शंकर शुक्ल चौक पर विदिशा विधायक श्री शशांक श्री कृष्ण भार्गव जी की उपस्थिति में श्रमिकों  के साथ  पुर्व मुख्य मंत्री के जन्मदिन को  मनाया विधायक भार्गव के साथ सभी कांग्रेस नेताओं ने श्रमिकों को मिठाई बाटी एवं पूर्व मुख्यमंत्री राजा दिग्विजय सिंह जी की लंबी आयु की कामना की  श्री भार्गव ने राजा दिग्विजय सिंह जी के जीवन को एक कुशल राजनीतिक बताते हुए उनकी प्रशंसा की ओर बताया  राजा दिग्विजय सिंह जी के  मुख्यमंत्री काल में  गरीबी रेखा का  सर्वे  हुआ था  जिससे गरीबों को चिन्हित कर उनके राशन कार्ड बनाए गए थे जिन राशन कार्ड ओं पर गरीबों को राशन मिलता था और वह अपनी पेट की ज्वाला शांत करते थे जिसके बाद  आज लगभग 15 से 20 साल होने को है  भा जा पा की  सरकार ने आज तक गरीबी रेखा का सर्वे नहीं करवा है  और  जिन लोगों को राशन कार्ड के ऊपर खाद्य पर्ची जारी थी उनकी भी कई खाद्य पर्चियां निरस्त कर दी गई हैं  जिससे  गरीबों के थाली का निवाला भी आज छिनता   नजर आ रहा है ! किसान नेता बलराम दांगी ने राजा साहब के जीवन को बहुत ही धार्मिक एवम प्रजा पालक बताया उन्होंने बताया कि एक ऐसे अकेले पूर्व मुख्य मंत्री है जिन्होंने पवित्र  नदी मां नर्मादे की परिक्रमा की है जिस के पुण्य का प्रताप पूरी कांग्रेस पार्टी को मिला है । इस अवसर पर कांग्रेस कमेटी के पूर्व ब्लाक अध्यक्ष रतन सिंह यादव श्री जवाहर सिंह कुशवाहा जी श्री जितेंद्र तिवारी जी आनंद यादव अमृतलाल जी ठेकेदार राजकुमार जी डीडोत  आदि कांग्रेस नेता उपस्थित  थे 


कोविड 19 टीकाकरण अभियान का द्वितीय चरण आज से 

प्रदेश में कोविड 19 टीकाकरण अभियान का द्वितीय चरण एक मार्च से प्रारंभ हो रहा है। द्वितीय चरण के कोविड 19 टीकाकरण हेतु प्रदेश के 60 से अधिक आयु वर्ग के हितग्राही एवं 45 से 59 वर्ष के को-र्मोबिड हितग्राही पात्र होंगे। उक्त हितग्राहियों के कोविड 19 टीकाकरण के लिए शासन द्वारा व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश प्रसारित किए गए है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अपर सचिव द्वारा जारी निर्देशो के अनुपालन में जिले में भी कोविड 19 टीकाकरण अभियान का द्वितीय चरण क्रियान्वित किया जाएगा। इसके लिए पूर्व उल्लेखित आयु वर्ग के हितग्राही अपना अग्रिम पंजीयन करा सकेंगे। पात्र हितग्राही को-विन 2.0 पोर्टल के माध्यम से टीकाकरण हेतु अग्रिम पंजीयन स्वंय कर सकेंगे। सत्र स्थल पर भी पंजीयन कार्य किया जाएगा ऐेसे हितग्राही जो अग्रिम पंजीयन कराने में सक्षम नही है वे हितग्राही सत्र स्थल पर पहुंचकर ‘‘ऑन साईट रजिस्ट्रेशन’’ भी करवा कर टीकाकरण करवा सकते है।  फेसिलिटेड कोहॉर्ट रजिस्ट्रेशन की भी सुविधा हितग्र्राही को उपलब्ध कराई गई है इसके तहत हितग्राहियों को आशा एवं एएनएम के माध्यम से सत्र स्थल पर बुलाकर कोविड 19 टीकाकरण कराया जाएगा। सभी पात्र हितग्राही कोविड 19 का टीका अपने नजदीकीय स्वास्थ्य संस्थाओं में निःशुल्क एवं आयुष्मान भारत, सीजीएचएस अंतर्गत पंजीकृत अन्य निजी अस्पतालो में भारत सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम शुल्क प्रदाय कर लगवा सकते है। कोविड 19 टीकाकरण हेतु साठ से अधिक उम्र वाले हितग्राहियों को अपना फोटोयुक्त पहचान पत्र एवं 45 से 59 आयु वर्ष के हितग्राहियों को को-र्मोबिड हितग्राहियों को उक्त के अतिरिक्त मेडीकल काउंसिल आफ इंडिया से पंजीकृत द्वारा प्रदाय किया गया प्रमाण पत्र प्रारूप (संलग्न) प्रस्तुत किया जाना अनिवार्य होगा। इसके अतिरिक्त प्रथम चरण में अपंजीकृत एचसीडब्ल्यू एवं एफएलडब्ल्यू का कोविड 19 टीकाकरण सत्र स्थल पर आन साइट रजिस्ट्रेशन उपरांत द्वितीय चरण में किया जा सकता है।  

हेल्थ बुलेटिन : जिले में आज तीन सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए 

विदिशा जिले में 28 फरवरी रविवार को कुल तीन सेम्पल पॉजिटिव प्राप्त हुए है जिसमें विदिशा विकासखण्ड में दो एवं ग्यारसपुर का एक सेम्पल कोरोना पॉजिटिव चिन्हित हुआ है।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार के द्वारा जारी आज हेल्थ बुलेटिन की जानकारी में उल्लेख है कि फीवर क्लीनिक में 138 मरीजो का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है। जिले से बाहर उच्च संस्था में भर्ती मरीजो की संख्या तीन है जबकि जीएमसीएचडीयू, आईसीयू में भर्ती एक्टिव केस की संख्या एक है। मेडीकल कॉलेज में आईसोलेशन में भी एक मरीज भर्ती है।  सीएमएचओ श्री अहिरवार ने लैब रिपोर्ट की जानकारी के संबंध में बताया कि आज दिनांक तक जांच के लिए भेजे गए सेम्पलों की संख्या 94380 जबकि आज दिनांक को लिए गए सेम्पलों की संख्या 132, आज प्राप्त सेम्पल रिपोर्ट की संख्या 115 है। आज दिनांक तक 89647 सेम्पलों की रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हुई है। आज दिनांक तक लिए गए सेम्पलो की रिपोर्ट अप्राप्त संख्या 111 है। सेम्पल जो रिजेक्ट हुए है 961, कोरोना पॉजिटिव स्वस्थ व्यक्तियों की संख्या 3547, वर्तमान में कुल कोरोना पॉजिटिव एक्टिव केस हेमआइसोलेशन  की संख्या 12 है। 

छूटे फ्रंट लाइन वर्करो का भी टीकाकरण आज से 

कोविड 19 टीकाकरण अभियान का द्वितीय चरण एक मार्च से जिले में भी क्रियान्वित किया जाएगा द्वितीय चरण में ऐसे फं्रटलाइन वर्कर्स जिनका किन ही कारणो से पंजीकरण नही किया जा सका था का भी ऑन साइट पंजीयन कर टीकाकरण किया जाएगा।  अतः जिले के ऐसे समस्त छूटे हुए फ्रंटलाइन वर्कर्स का उपरोक्तानुसार पंजीकरण कर टीकाकरण कराया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। 

नेशनल वाटर अवार्ड के लिए प्रविष्टियां 10 मार्च तक आमंत्रित

जिला एवं ग्राम पंचायत स्तर के नेशनल वाटर अवार्ड 2020-21 के लिए प्रविष्टियां भारत सरकार द्वारा आमंत्रित की गई है। नेशनल वाटर अवार्ड के लिए आवेदन की अंतिम तिथि पूर्व में 10 फरवरी निर्धारित की गई थी, जिसमें 10 मार्च 2021 तक की वृद्धि की गई है।  नेशनल वाटर अवार्ड 2020-21 के लिए जिले में जल संरक्षण, संवर्धन एवं प्रबंधन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यों के संदर्भ में जिला एवं ग्राम पंचायत स्तर के नेशनल वाटर अवार्ड 2020-21 के लिए निर्धारित आवेदन पत्र में प्रविष्टियां भारत सरकार को 10 मार्च 2021 के पूर्व अनिवार्यतः भेजने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए है।  यदि जिले में किसी नगरीय निकाय, किसी उद्योग, किसी स्वयं सेवी संगठन, किसी जल उपभोक्ता संघ द्वारा जल संरक्षण, संवर्धन तथा प्रबंधन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य किये गये हैं तो वे भी नेशनल वाटर अवार्ड 2020 के लिए अपना प्रस्ताव भेज सकते हैं। नेशनल वाटर अवार्ड का उद्देश्य देश में बेहतर जल संसाधन प्रबंधन की संस्कृति के निर्माण को सुनिश्चित करने के लिए भूजल, वर्षा जल संचयन, जल के पुनर्चक्रण और अन्य कदमों के लिए नवीन प्रथाओं को अपनाने के लिए व्यक्तियों और संगठनों को प्रोत्साहित करना है। 

वृत्तिकर जमा करने की अंतिम तिथि 31 मार्च

वाणिज्यिक कर अधिकारी, ने बताया है कि मध्यप्रदेश वृत्तिकर संशोधन अधिनियम 2018 के अंतर्गत वर्ष 2020-21 के लिये वृत्तिकर जमा करने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2021 है । जीएसटी से पंजीयत व्यवसायी, निजी विद्यालयध्महाविद्यालय, कम्प्यूटर सेंटर, चिकित्सक, चिकित्सा व्यवसायी, सीए, बकील, बीमा अभिकर्ता, मदिरा दुकान संचालक, चिटफण्ड संचालित वाली संस्थायें या व्यक्ति सहकारी सोसायटी, ट्रांसपोर्टर, कोचिंग संस्थान, चिकित्सालय, जिमसेंटर, धर्मकांटा, होटल, लाज, विवाह, मंडप, टेंट, केवल आपरेटर, वीडियो पार्लर, ब्यूटी पार्लर, फाईनेंस, कम्पनी, क्लीनिक, लैब, पैथोलॉजी, नर्सिंग होम, क्योस्क सेंटर, फैशन डिजाईनर, बुटीक, टोल प्लाजा, पेट्रोल पम्प आदि 31 मार्च 2021 तक अनिवार्यतरू वृत्तिकर जमा करायें । व्यापरियों से कहा गया है कि योजना का लाभ लेकर ब्याज एवं वसूली की कार्यवाही से बचा जा सके।

31 मार्च तक निर्माण श्रमिकों के पंजीयन का अभियान चलेगा

मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण के अंतर्गत भवन एवं अन्य संनिर्माण कार्यों में सलंग्न असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के पंजीयन का कार्य 31 मार्च तक जारी रहेगा। इस आशय के निर्देंश श्रम विभाग द्वारा सभी संभागायुक्त एवं जिला कलेक्टर्स को जारी किए है। निर्माण श्रमिकों के पंजीयन के लिए 2 अक्टूबर 2020 से तीन माह का विशेष पंजीयन अभियान चलाया गया था। अभियान की अवधि 31 मार्च 2021 तक बढ़ाई गई है।

कोई टिप्पणी नहीं: