मुजफ्फरपुर : निबंधित लाभुकों का लगभग 56 % ही लोग कोरोना का टीका लिए - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 4 फ़रवरी 2021

मुजफ्फरपुर : निबंधित लाभुकों का लगभग 56 % ही लोग कोरोना का टीका लिए

covid-vaccine-muzaffarpur
मुजफ्फरपुर। जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर प्रणव कुमार की अध्यक्षता में उनके कार्यालय कक्ष में कोविड-19 टीकाकरण को लेकर समीक्षा बैठक आयोजित की गई। बैठक में टीकाकरण की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गई साथ ही दूसरे फेज में किए जाने वाले टीकाकरण को लेकर महत्वपूर्ण निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिए गए। स्वास्थ्य विभाग द्वारा बताया गया कि प्रथम फेज में कुल 21329 का निबंधन किया गया था जिसके विरुद्ध में 11937 टीकाकरण किया गया जो कि कुल निबंधित लाभुकों  का लगभग 56 % है। आईसीडीएस से संबंधित निबंधित किए गए कुल लाभुकों के विरुद्ध अभी तक टीकाकरण की स्थिति संतोषजनक नही पाई गई। आईसीडीएस के कर्मियों का प्रतिशत कम होने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी प्रकट की एवं डीपीओ को इसमें तेजी लाने का निर्देश दिया। सदर हॉस्पिटल में टीकाकरण  95% टीकाकरण हुआ है। वही मुरौल में  कुल निबंधित का 74%जबकि बन्दरा में 75% टीकाकरण हुआ। पीएचसी में सबसे अधिक74 प्रतिशत टीकाकरण किया गया है वही   पारु में 41 % और सरैया में 42% टीकाकरण हुआ है(कुल निबंधित का)। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिया कि निजी संस्थानों से समन्वय करते हए टीकाकरण के लक्ष्य की प्राप्ति की दिशा में कार्य करें  साथ ही टीकाकरण में लचर प्रदर्शन करने वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को लेकर उन्होंने नाराजगी प्रकट की स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिया कि उस में तेजी लाई जाए दूसरे चरण में राजस्व विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, पंचायती राज विभाग ,समाहरणालय  के कर्मियों एवं पदाधिकारीगण को टीका लगाया जाएगा। जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर प्रणव कुमार ने स्वास्थ विभाग को सख्त निर्देश दिया है कि विभिन्न विभागों से समन्वय स्थापित कर निबंधन के कार्य में गति लाएं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि कोविड-19 टीकाकरण में किसी भी स्तर पर लापरवाही /कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।स्वास्थ विभाग द्वारा टीकाकरण की गति को और बढ़ाए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि इसके लिए विभिन्न विभागों से समन्वय स्थापित करें और टीकाकरण कार्य की दिशा में पूरी तत्परता के साथ कार्य किया जाए।

कोई टिप्पणी नहीं: