बिहार : स्वास्थ्य विभाग में रजिस्टार की स्थायी नियुक्ति शीघ्र हो : सिसिल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 12 फ़रवरी 2021

बिहार : स्वास्थ्य विभाग में रजिस्टार की स्थायी नियुक्ति शीघ्र हो : सिसिल

demand-ragistrar-in-health-department
पटना. बिहार नर्सेज रजिस्ट्रेशन कांउसिल की रजिस्टार स्मृति रेखा रॉय सेवानिवृत हो गयी हैं.उनके बदले में किसी को पदभार संभालने के लिए कह दिया गया.पदभार करने के बाद कहती हैं हम तो परदेसी की तरह हैं.आज हैं कल नहीं रह सकते हैं.उनका भी मानना है कि जबतक किसी की स्थायी तौर निबंधक (रजिस्टार) पद पर पदस्थापन नहीं होता है तो जाहिर सी बात है कि कार्य प्रभावित होगा. बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी ‘‘अल्पसंख्यक विभाग’’ के उपाध्यक्ष सिसिल साह ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि  बिहार के स्वास्थ्य विभाग में रजिस्टार के नियुक्ति में हो रहे विलम्ब से लोग परेशान हो रहे हैं.इस बाबत दुःख व्यक्त करते हुए कहा कि विगत कई महीनों से वैश्विक महामारी के चलते बहुत सा काम अधूरा रह गया है.जनवरी माह में रजिस्टार के सेवानिवृत होने पर अभी तक रजिस्टार का नियुक्ति नहीं हो पाया है,जिसके कारण बिहार राज्य से बाहर एवं अन्य राज्यों व विदेशों में रहने वाले नर्सो का बिहार नर्सेज रजिस्ट्रेशन कांसिल से सार्टिफिकेट का नवीकरण नही हो पा रहा है, जिसके चलते उनके सार्टिफिकेट निष्कृय हो गया है,जिसके कारण उन्हें काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है. आगे साह ने कहा कि रजिस्टार के अनुपस्थिति में ही नर्सिंग परीक्षा का काॅपी जांच चल रही है जो न्यायसंगत नहीं है. साह ने बिहार के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री मंगल पाण्डे से मांग किया है कि इस मामले में अविलम्ब हस्तक्षेप करते हुए जो नर्स वैश्विक महामारी से समय अपनी जान एवं परिवार की चिन्ता न करते हुए करोना को हराने में आगे आये. अतः अविलम्ब रजिस्टार की नियुक्ति की जाय, ताकि नर्सेज का सार्टिफिकेट नवीकरण एवं अन्य स्वास्थ्य विभाग का काम सुचारू रूप से चल सके.

कोई टिप्पणी नहीं: