मधुबनी : जल-जीवन-हरियाली दिवस का प्रसारण - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 2 फ़रवरी 2021

मधुबनी : जल-जीवन-हरियाली दिवस का प्रसारण

jal-jivan-hariyali-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता), आज दिनांक 02.02.2021 को जल-जीवन-हरियाली दिवस प्रत्येक माह के प्रथम मंगलवार को आयोजित किया जाता है। इस कार्यक्रम को मुख्य कार्यक्रम अधिवेशन भवन, पटना में आयोजित किया गया जिसका प्रसारण विस्वान के माध्यम से बिहार के सभी जिलों एवं प्रखण्डों में दिखाया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रधान सचिव, वन एवं पर्यावरण विभाग, पटना, प्रधान सचिव, ग्रामीण विकास विभाग, पटना, प्रधान सचिव, वन विभाग, पटना एवं आयुक्त मनरेगा, पटना शामिल हुए। कार्यक्रम के दौरान जिला पदाधिकारी, मधुबनी, उप विकास आयुक्त, मधुबनी, जिला पंचायत राज पदाधिकारी, मधुबनी, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, मधुबनी, वन संरक्षक पदाधिकारी, मधुबनी एवं इस अभियान के सभी 14 विभाग के पदाधिकारी उपस्थित थे।  आज के कार्यक्रम का मुख्य एजेण्डा पौधाशाला का निर्माण एवं शघन वृक्षारोपण, पौधाशाला का लक्ष्य खाद्य पौधा तैयार करना तथा वन विभाग को 1 लाख 37 हजार 5 सौ पौधा लगाना है। इसके अतिरिक्त मनरेगा से 9 लाख 58 हजार सभी प्रजातियों का पौधा इस वर्ष लगााना है। पौधा निजी भूमि एवं जल संरचनाओं, गामीण कार्य विभाग के सड़क किनारे लगाना है। इस अभियान को सफल बनाने के लिए जीविका दीदी भी पौधा लगाने में सहयोग कर रहें है इसके साथ-साथ आम-जन का भी सहयोग मिल रहा है। कार्यक्रम के बाद जिला पदाधिकारी, मधुबनी ने कहा कि इस कार्यक्रम में हमलोग दूसरी बार उपस्थित हुए है। तथा कुछ आवश्यक दिशा दिर्नेश भी दिए की 09 अगस्त, 2021 (पृथ्वी दिवस) तक 9 लाख 58 हजार वृक्षारोपण करना है। पौधा को 3 फिट की दूरी पर लगाना है।, जीविका दीदियों के द्वारा सभी पंचायत में 2400 पौधा लगाना है। तथा जिले में जितना भी तालाब है निरीक्षण करके चिन्हीत भी करना है।

कोई टिप्पणी नहीं: