यकायक वोट पलटने से सुबोध की डूबने से मौत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 फ़रवरी 2021

यकायक वोट पलटने से सुबोध की डूबने से मौत

  • जानकार लोगों का कहना है कि यहां हादसा होते रहता है 

 

subodh-died-boat-accident
चेलिडंगा। आसनसोल धर्मप्रांत में है चेलिडंगा।यहां तारसीसीउस गतानो और रोसा गतानो के पुत्र सुबोध गतानो सुदंर वन घुमने गये थे। वोट पर सवार होकर सुंदर वन का मनोहर दृश्य निहार रहे थे। इस बीच यकायक वोट पलट गयी. जिसके कारण सुबोध गतानो की डूबने से असामयिक मौत हो गयी. वे 70 साल के थे।  बताया जाता है कि सुबोध गतानो अपने बड़े बेटे के पास गये थे। वहीं पर प्लान बना कि दुनिया के सबसे बड़े मैंग्रोव जंगल के रूप में जाने वाले सुंदरवन नेशनल पार्क में घुमने चला जाएं। सुंदरवन नेशनल पार्क भारत के पश्चिम बंगाल राज्य में स्थित है। यह सुंदरवन नेशनल पार्क एक टाइगर रिज़र्व और एक बायोस्फीयर रिज़र्व भी है, यहाँ आने वाले पर्यटकों यहाँ ‘रॉयल ​​बंगाल टाइगर्स’ से लेकर खूबसूरत स्वर निकालने वाली नदियों और खूबसूरत प्रकृतिक परिवेश का आनंद उठा सकते हैं। सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान सुंदरवन डेल्टा का अहम भाग हैं, जोकि मैंग्रोव वन और बंगाल टाइगर्स की सबसे बड़ी आबादी के रूप में जाना जाता हैं। वर्ष 1987 में सुन्दर वन नेशनल पार्क को यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया था। वर्ष 1966 के बाद से ही सुंदरवन एक वन्यजीव अभयारण्य के रूप में जाना गया हैं। लगभग 400 से अधिक रॉयल बंगाल टाइगर हैं और 30000 से अधिक चित्तीदार हिरण क्षेत्र में पाए गए थे। गंगा नदी एक आकर्षित डेल्टा बनाती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: