बिहार : पहली बार विधानसभा लाइब्रेरी में सरस्वती पूजा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 16 फ़रवरी 2021

बिहार : पहली बार विधानसभा लाइब्रेरी में सरस्वती पूजा

sarswati-puja-in-bihar-assembly
पटना : राजधानी पटना में विद्यार्थियों के बीच सरस्वती पूजा का उत्साह तो है ही, राजनीतिक गलियारों में भी इसकी खूब चहल पहल है। इस बीच बिहार के इतिहास में पहली बार विधानसभा की लाइब्रेरी में सरस्वती पूजा का आयोजन किया गया। विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा खुद पूजा में शामिल हुए और मां सरस्वती की आराधना किया। इस मौके पर विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि यहां सब कुछ ज्ञान पर ही चलता है। इससे पहले यहां आयोजन नहीं होता था, लेकिन ज्ञान का काम यहां ज्यादा होता रहा है। ऐसे में इस आयोजन को करना बहुत जरूरी था, ताकि लोगों में ज्ञानवर्धन हो, लोग भाईचारे के साथ काम करें। उन्होंने कहा कि मैने सरस्वती विद्या एवं ज्ञान की देवी हैं। विधानसभा पुस्तकालय ज्ञान का अनूठा भंडार है और यहां माता की पूजा से सकारात्मक ऊर्जा पैदा होती है।इसके साथ ही माहौल भी उत्साहजनक रहेगा। उन्होंने कहा कि मां सरस्वती से हमने बिहार वासियों के लिए कामना किया है कि मां की कृपा पुरे बिहार के लोगों पर बनी रहे।सभी के जीवन में ज्ञान सुख और खुशहाली आए। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि 21वीं सदी में बिहार अपने गौरवशाली आत्मनिर्भर बन सकें इसकी कामना की है।इस मौके पर विधानसभा के सचिव राज कुमार सिंह समेत सचिवालय के पदाधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं: