मधुबनी : दिशाहीन और निराशाजनक बजट : शीतलाम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 23 फ़रवरी 2021

मधुबनी : दिशाहीन और निराशाजनक बजट : शीतलाम्बर

shitlambar
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) प्रो शीतलाम्बर झा अध्यक्ष जिला कांग्रेस  मधुबनी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर राज्य का आम बजट पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि बजट दिशाहीन,निराशाजनक, गाँव, गरीब, किसान, मजदूर, बेरोजगार विरोधी बजट है। वित्तीय वर्ष 2021 एवम 2022 का यह बजट में कोई विजन नही दिखता है जो पिछड़े बिहार को आगे लेजा सके,शिक्षित नौजवानों के लिए कुछ भी नही है,विहार में पांच लाख पद खाली रहते हुए भी इसे नियुक्ति कर भरने का कोई प्रावधान नही किया,चुनाव के समय बीजेपी एवम जदयू 20 लाख लोगों को नौकरी देने का वादा किया था जो इस बजट में नही दिखता,किसानों एवम मजदूरों को तो फिर से नीतीश कुमार सरकार ने ठगने का ही काम क्या किसानों को न किसान क्रेडिट कार्ड न एम एस पी देने की चर्चा तक भी नही है न विजली बिल में कटौती करेगी,मजदूरों का पलायन जारी है सरकार काम सृजन के दिशा में कोई ठोश उपाय नही क्या है ,बेरोजगारों के लिए कुछ भी नही है प्राइमरी शिक्षकों का 94 हजार नियुक्ति का भी जिक्र ठीक से नही क्या गया। मिथिलांचल एवम मधुबनी को निराशा ही हाथ फिर से लगी ,मिथिलांचल के विकास के लिए कुछ भी नही है बाढ़, सुखार एक प्रकार से सरकार के एजेंडा है ही नही लगती,पंडौल सुता फैक्ट्री, लोहट,सकरी, रैयाम चीनी मील को फिर से चालू करने का कोई जिक्र नही है,घरेलू उद्योग को बढ़ावा देने का कोई प्रावधान नही है मधुबनी एवम मिथिलांचल को एक साजिश के तहत उद्योग विहीन कर दिया  जो मिथिलांचल नीतीश सरकार को बनाने में प्रमुख भूमिका का निर्वहन किया है, स्वास्थ्य के क्षेत्र को भगवान भरोसे छोड़ दिया डॉक्टर की हजारों पद खाली रहते उसे भरने का कोई भरोशा नही है कुल मिलाकर यह सरकार मधुबनी एवम मिथिलांचल विरोधी बजट लाई है।

कोई टिप्पणी नहीं: