बिहार : "चलनी दूसे सूप के,जेहमे खुदे बहत्तर छेद” - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 13 फ़रवरी 2021

बिहार : "चलनी दूसे सूप के,जेहमे खुदे बहत्तर छेद”

manjhi-coment-on-tejaswi
पटना. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर तंज कंसा है और कहा है कि हई देखा हो,जेकर पूरा ख़ानदान पर हर तरह के केस चल रहा है उहो सब सवाल उठा रहा है कि बिहार के मंत्री सब पर मुक़दमा दर्ज है.हमनी सब के गाँव में कहावत है ना...“चलनी दूसे सूप के,जेहमे खुदे बहत्तर छेद” "अप्पन टेटन देखे न, दूसर के फुंसी निहारे”. नीतीश मंत्रिमंडल में दागी मंत्रियों के शामिल होने के मामले पर सियासत गरमाने लगी है. इस मामले पर मुख्यमंत्री द्वारा अनभिज्ञता जाहिर करने पर बिहार विधान सभा में विरोधी दल के नेता तेजस्वी यादव ने सवाल खड़ा किया है. तेजस्वी ने अपने ट्वीट के जरिये कहा है कि बिहार का दुर्भाग्य है कि प्रदेश के महान कुर्सीवादी मुख्यमंत्री को यह पता ही नहीं है कि उनके मंत्रिमंडल में शामिल 30 में से 18 मंत्रियों के खिलाफ हत्या, लूट, डकैती, भ्रष्टाचार और यौन शोषण, आर्मस्स एक्ट , चोरी , जालसाजी , धोखाधड़ी , अवैध हथियार रखने जैसे गंभीर मामले दर्ज है. तेजस्वी ने फिर सवाल पूछा है कि क्या इतने भोले- भालेअज्ञानी अनभिज्ञ मुख्यमंत्री को कुर्सी पर बने रहने का नैतिक अधिकार है. तेजस्वी के इस ट्वीट पर पूर्व मुख्यमंत्री और हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने भी ट्वीट करके पलटवार किया है. मांझी ने अपने ट्वीट में कहा है कि हई देखा हो जेकर पूरा खानदान पर हर तरह के केस चल रहा है उहो सब सवाल उठा रहा है कि बिहारके मंत्री सब पर मुकदमा दर्ज है.हमनी सब के गांव में कहावत है ना , चलनी दूसे सूप के, जेह में खुदे बहत्तर छेद. अप्पन टेटन देखे न दूसर के फुंसी निहारे. दरअसल, एडीआर और इलेक्शन वॉच की जो रिपोर्ट आयी है उसमें मांझी के मंत्री बेटे संतोष सुमन पर भी आपराधिक मामले दर्ज होने की बात है. इससे मांझी शायद ज्यादा तिलमिलाये हुए है.

कोई टिप्पणी नहीं: