बिहार : लोजपा को 15 सीट देकर NDA का राजा बनना चाहते थे नीतीश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 3 फ़रवरी 2021

बिहार : लोजपा को 15 सीट देकर NDA का राजा बनना चाहते थे नीतीश

nitish-and-ljp-war
पटना : बिहार में जदयू व लोजपा के बीच राजनीतिक कलह खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। ताजा मामला जुड़ा है जदयू के महासचिव केसी त्यागी व लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष राजू तिवारी से जुड़ा है। तिवारी ने त्यागी को पत्र लिखकर जदयू के खराब प्रदर्शन का कारण बताया है। राजू तिवारी ने पत्र के माध्यम से कहा कि जदयू एनडीए में बड़ा भाई बनने के चक्कर में अपना बेड़ा गर्क की है। नीतीश कुमार के अहंकार के कारण बिहार में एनडीए का प्रदर्शन बुरा रहा। क्योंकि, इस बार जदयू की औकात 122 सीटों पर लड़ने की नहीं थी। लोजपा नेता ने बताया कि अगर जदयू कम सीटों पर चुनाव लड़ती तो आज बिहार में एनडीए की स्थिति कुछ और होती। साथ ही उन्होंने कहा कि यही नीतीश कुमार महागठबंधन में 101 सीटों पर चुनाव लड़े, लेकिन एनडीए में 122 सीट पर चुनाव लड़कर राज करना चाहते थे। लेकिन, नीतीश कुमार को इस बार जमीनी हकीकत पता ही नहीं था। राजू तिवारी ने कहा कि नीतीश कुमार लोजपा को केवल 15 सीट देना चाहते थे। भाजपा को लेकर लोजपा ने कहा कि अगर भाजपा से लोजपा अलग हो जाती तो भाजपा की भी सीटें कम होती, जो कि लोजपा नहीं चाहती थी। उन्होंने कहा कि लोजपा के अकेले लड़ने का कारण नीतीश का अहंकार है।

कोई टिप्पणी नहीं: