बिहार : पुलिस ने जज की गाड़ी को न्यायालय जाने से रोका - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 25 फ़रवरी 2021

बिहार : पुलिस ने जज की गाड़ी को न्यायालय जाने से रोका

police-stop-judge-in-court-campus-bihar
सिवान : व्यवहार न्यायालय परिसर में अचानक उस समय अफरा तफरी मच गई जब समाहरणालय गेट पर तैनात पुलिसकर्मियों ने परिवार न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश की गाड़ी को रोक दिया। जिससे उन्हें पैदल न्यायालय जाना पड़ा। जिस कारण से न्यायालय कार्य में बाधा उत्पन्न हुई। जानकारी के अनुसार प्रधान न्यायाधीश ने बताया कि गेट पर तैनात सुरक्षा कर्मी न केवल मुझे रोका बल्कि जाने से मना करते हुए कहा कि कोई भी हों नहीं जाने देंगे। उन्होंने प्रशासन की इस रवैये पर काफी एतराज जताया। विदित हो कि व्यवहार न्यायालय के सड़क एवं समाहरणालय के दोनों तरफ फैले होने के कारण अधिवक्तागण एवं न्यायिक पदाधिकारियों की गाड़ियां समाहरणालय होकर वर्षों से आती जाती है। इधर कुछ दिन पूर्व से भीड़ और जाम को लेकर जिला जज एवं जिलाधिकारी के निर्देश पर अधिवक्ताओं एवं न्यायिक पदाधिकारियों की गाड़ियां हीं समाहरणालय होकर आती जाती थी। परंतु इधर कुछ दिनों से जिला प्रशासन की ओर से बिना किसी पूर्व सूचना के इस मार्ग पर स्थित समाहरणालय के दक्षिणी गेट को बंद कर दिया गया। जिससे आये दिन अधिवक्ताओं एवं न्यायिक पदाधिकारियों को जेपी चौक के महाजाम में घंटों फसना पड़ता है। इससे न्यायिक कार्य मे प्रतिदिन बाधा उत्पन्न होती है। इससे अधिवक्ताओं एवं न्यायालय कर्मियों में काफी रोष व्याप्त है। इस बावत सैकडों अधिवक्ताओं ने एक हस्ताक्षर युक्त आवेदन जिला विधिज्ञ संघ के अध्यक्ष एवं सचिव को देकर इसे अविलम्ब खोलवाने की मांग की है ।

कोई टिप्पणी नहीं: