सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 25 फ़रवरी 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 25 फ़रवरी

लोकल मुददों पर लड़ा जाएगा नगरीय निकाय चुनाव, भाजपा का घोषणा पत्र हीं होगा प्रत्याशी संकल्प पत्र

  • संपूर्ण जिले के नगरीय निकाय में खिलाएंगे कमल -विधायक सुदेश राय

sehore news
सीहोर। भाजपा ने नगरीय निकाय चुनावों के लिए रणनीति बनाना शुरू कर दिया है। भाजपा नगरीय निकाय चुनाव लोकल मुददों पर हीं लड़ेगी। घोषणा पत्र में लोकल समस्याओं को स्थान दिया जाएगा भाजपा का घोषणा पत्र हीं प्रत्याशी का संकल्प पत्र होगा। राविंद्र संस्कृतिक भवन टॉउन हाल में नगरीय निकाय चुनावों को लेकर आयोजित हुई भाजपा की जिला स्तरीय बैठक में सीहोर विधायक सुदेश राय ने कहा की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा संपूर्ण जिले में विकास कार्य प्राथमिकता के साथ कराए जा रहे है। यहीं कारण है की नागरिकों में भाजपा के प्रति श्रद्धाभाव और समर्पण बना हुआ है। नगरीय निकाय चुनावों में फिर नगर पालिका सीहेार में कमल खिलेगा। विधायक सुदेश राय ने कहा की भाजपा के सभी मंडल अध्यक्षों और पदाधिकारियों सहित पूर्व भाजपा के नगर पालिका एवं नगर पारिषद अध्यक्षों के महत्वपूर्ण सुझावों के बाद नगर पालिका क्षेत्र सीहेार और आष्टा के लिए घोषणा पत्र तैयार होंगे। नगर परिषदों के लिए पृथक से स्थानीय समस्याओं को लेकर घोषणा संकल्प पत्र संगठन के द्वारा तय किए जाएंगे। कामकाजी भाजपा की जिला स्तरीय बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व पीडब्ल्यूडी मंत्री रामपाल सिंह राजपूत सम्मिलित हुए। पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए उन्होने कहा की स्थानीय समस्याओंंं को जानना और समझना है जनहित में इन मुददों को भाजपा के घोषणा पत्र में शामिल कराना है।  समस्याओं का निराकरण क्यों नहीं हुआ इस पर भी मंथन करना है। भाजपा प्रत्याशी का घोषणा पत्र हीं संकल्प पत्र होगा। भाजपा जिलाध्यक्ष रवि मालवीय, वरिष्ठ भाजपा नेता रघुऩाथ भाठी आष्टा विधायक रघुनाथ मालवीय सीहेार विधायक सुदेश राय ने भी संबोधित किया। जिला बैठक में प्रमुख रूप से पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष सीताराम यादव, ललित नागौरी, भाजपा युवामोर्चा जिलाध्यक्ष राजेश राजपूत, वरिष्ठ भाजपा नेता राजेश राठौर, भाजपा जिला प्रवक्ता राजकुमार गुप्ता, भाजपा सीहेार मंडल अध्यक्ष पिं्रस राठौर, कमलेश कटारे सहित सभी मंडल अध्यक्ष और वरिष्ठ पदाधिकारीगण शामिल रहे।


विश्वकर्मा धर्मशाला निर्माण के लिए विधायक सुदेश राय ने की 1 लाख रूपये देने की घोषणा

  • देवनगर कॉलोनी में समारोह पूर्वक हर्षोउल्लास से मनाई गई भगवान विश्वकर्मा जी की जयंती

sehore news
सीहोर। भगवान विश्वकर्मा जी की जयंती गुरूवार को हर्षोउल्लास पूर्वक देवनगर कॉलोनी स्थित भगवान विश्वकर्मा मंदिर परिसर में श्री गौड़ विश्वकर्मा सुतार समाज संगठन के द्वारा मनाई गई। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित विधायक सुदेश राय के निर्देशानुसार प्रतिनिधि राजकुमार जायसवाल रिंकु के द्वारा विश्वकर्मा धर्मशाला निर्माण के लिए विश्वकर्मा समाज को विधायक निधि से एक लाख रूपये देने की घोषणा की गई। विश्वकर्मा जयंती समारोह में विशेष अतिथि के रुप में भाजपा नेता पंकज गुप्ता भी पहुंचे। श्री गुप्ता के द्वारा भगवान विश्वकर्मा की पूजा अर्चना की गई। विश्वकर्मा समाजजनों को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि श्री जायसवाल ने भगवान विश्वकर्मा के श्रीचरणों में नमन करते हुए कहा की विश्वकर्मा समाज में जन्म लेने वाले बालक बालिका जन्म से हीं इंजीनियर होते है भगवान विश्वकर्मा का उन्हे वरदान प्राप्त होता है सभी क्षेत्रों में विश्वकर्मा समाज बंधू सफलता प्राप्त कर रहे है यह सराहनीय है। विश्वकर्मा समाज के लिए लिए हमेशा विधायक जी तत्पर रहे है। सर्वपयोगी विश्वकर्मा समाज धर्मशाला के लिए निर्माण मेंं किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। कार्यक्रम का शुभारंभ भगवान विश्वकर्मा की विधिवत पूजा अर्चना कर की गई। भगवान विश्वकर्मा जी की जयंती के उपलक्ष्य में भजन कीर्तन सत्संग और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। मुख्य अतिथि समाजसेवी राजकुमार जायसवाल रिंकु का श्री गौड़ विश्वकर्मा सुतार समाज संगठन अध्यक्ष मदनलाल विश्वकर्मा, पूर्व अध्यक्ष डॉ सुरेश विश्वकर्मा शिवजी विश्वकर्मा, मदनलाल पिपलोदिया, राकेश विश्वकर्मा, राजेश विश्वकर्मा, रामस्वरूप विश्वकर्मा, कमल विश्वकर्मा आदि ने पुष्प मालाओं से स्वागत सम्मान किया। कार्यक्रम में सीहोर सहित आसपास के गांवों कस्बों के विश्वकर्मा बंधु बड़ी संख्या में सम्मिलित हुए सामाजिक चर्चा के उपरांत कार्यक्रम का समापन किया गया।


भारतीय खाद्य सेवा केन्‍द्रों का किया शुभारंभ, स्व-सहायता समूह की महिलाएं करेंगी केन्द्रों का संचालन


sehore news
भारतीय खाद्य सेवा केंद्र की अनूठी पहल जिसमें विकासखण्‍ड सीहोर के बिलकिसगंज, बरखेड़ी एवं सीहोर (लुनिया चौराहा) केंद्रों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में सस्ते एवं उचित दरों पर राशन तथा रोजमर्रा से जुड़े 50 से अधिक उत्पाद ग्राहकों को मुहैया हो सके इस हेतु बीच की कड़ियों को हटाते हुए प्राप्‍त होने वाला लाभ सीधे ग्राहकों को प्रदाय किये जाने के उददेश्‍य से यह कार्य किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में इसके आउटलेट खोले जा रहे हैं जिसमें प्रत्येक परिवार को एक माह में लगने वाले राशन एवं अन्य सामग्रियों को ऑनलाइन ऐप के माध्यम से उनका राशनिंग कोटा मॉनिटरिंग किया जाएगा। इस अनूठी पहल को मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन जिला सीहोर ने इनोवेशन के रूप में लिया है जिसमें ग्रामीण क्षेत्रों में स्व सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं को उद्यमिता विकास और आजीविका संवर्धन से जोड़ते हुए रोजगार प्रदान करने के उददेश्‍य से यह आउटलेट खोले जा रहे हैं ताकि गरीब ग्रामीणों तक उचित एवं सस्ती दरों पर सामग्री उपलब्ध हो सके इन आउटलेट्स पर समूह द्वारा निर्मित सामग्री का भी विक्रय होगा जिससे विभिन्न कंपनियों द्वारा तैयार उत्पाद के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में तैयार किए जा रहे हैं उत्पाद के विक्रय हेतु उचित स्थान भी उपलब्ध होगें। प्रदेश में नवाचार के रूप में पहली बार रोजमर्रा के सामान की आपूर्ति हेतु आजीविका मिशन सीहोर एवं भारतीय खाद्य सेवा केंद्र भोपाल के माध्यम से उचित एवं सस्ते दामों पर राशन की सामग्री ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है जिसमें मुख्य रुप से रोज उपयोग में आने वाली सामग्री की उत्पादक कंपनियां, एग्रीगेटर ,ट्रांसपोर्टर र्और ऑनलाइन टेक्नोलॉजी का उपयोग करते हुए अधिकतम लाभ उपभोक्ता को पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है जिसमें उपभोक्ता को 10 से लेकर 25% तक का लाभ इन केंद्रों के माध्यम से दिया जाएगा। वर्तमान में इस नवाचार अंतर्गत सीहोर जिले में तीन आउटलेट शुरू कर आगामी एक माह में 100 नवीन आउटलेट खोले जाने की योजना है।


विशेषताएं :-

·        ग्रामीणों को सस्ता एवं उचित सामग्री उपलब्ध होना ।

·        सीधे उपभोक्ता को 10% से 25% का लाभ होना ।

·        ऑनलाइन तकनीक के माध्यम से स्टॉक और सेल को नियंत्रण करना ।

·        आउटलेट के संचालनकर्ता की उद्यमिता बढ़ाना।

·        समूह के परीसंघों के नियंत्रण में एवं मार्गदर्शन में कार्रवाई होना।

·        ग्रामीण क्षेत्रों में समूह द्वारा उत्पादित सामग्री को इन आउटलेट पर विक्रय कराना।


खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह। 27 फरवरी को सीहोर आएंगे


खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मध्यप्रदेश शासन मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह शनिवार 27 फरवरी को सीहोर आएंगे। जारी दौरा कार्यक्रमानुसार मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह प्रात: 10 बजे भोपाल से कार द्वारा प्रस्थान कर 10.45 बजे सीहोर सर्किट हाउस में जनप्रतिनिधि, पदाधिकारी/कार्यकर्ताओं तथा जिला प्रशासन अधिकारियों के साथ चर्चा करेंगे। 11.30 बजे संत रविदास जयन्ती के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे। दोपहर 12.30 बजे शासकीय महिला पॉलीटेक्निक महाविद्यालय में डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम में भाग लेंगे। 1.30 बजे स्‍टेशन रोड सीहोर पर आयोजित स्वागत समारोह में सम्मिलित होंगे। मंत्री श्री सिंह दोपहर 2.00 बजे सीहोर से भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।  


वीरपुर डेम बिलकीसगंज मार्ग रेत से भरे वाहनों हेतु पूर्णत: प्रतिबंधित


जिला दण्डाधिकारी श्री अजय गुप्ता द्वारा भारतीय दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 133 के अन्तर्गत जनसामान्य के हित एवं लोक शांति की व्यवस्था हेतु वीरपुर डेम से बिलकिसगंज आबिदाबाद मार्ग पर रेत खनिज परिवहन हेतु रेत से भरे वाहनों का आवागमन पूर्णत: प्रतिबंधित कर दिया गया है। यदि कोई वाहन रेत खनिज का परिवहन मालीबाया- वीरपुर डेम- बिलकिसगंज मार्ग पर करते हुए पाया जाता है तो भारतीय दण्ड विधान के अधीन धारा 188 का उल्लघन माना जाकर दंडनीय अपराध की श्रेणी में आयेगा एवं उक्त वाहन पर नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजनान्तर्गत बिलकिसगंज से लावाखेड़ी (वीरपुर डेम) मार्ग का कार्य प्रगतिरत है। मार्ग से रेत का परिवहन भारी वाहनों से होने के कारण पूर्व में भी मार्ग क्षतिग्रसत हो गया था। वर्तमान मे मार्ग के उन्नयनीकरण का कार्य प्रगतिरत है। मार्ग से पुन: रेत का परिवहन होने के कारण निर्माणधीन मार्ग क्षतिग्रस्त हो रहा है। पूर्व मे उक्त मार्ग से भारी वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित करने हेतु बेरिकेड लगाया गया था किन्तु वाहन चालकों द्वारा बेरिकेड को तोड दिया गया जिससे कि मार्ग क्षतिग्रस्त हो रहा है।


प्रदेश में कोरोना संबंधी सभी सावधानियाँ बरती जाए, थोड़ी भी लापरवाही भारी पड़ सकती है

  • मजदूर मजदूरी के लिए अन्य राज्यों में न जाएँ, गाँव में ही मिलेगा रोजगार, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना की स्थिति की समीक्षा की

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कुछ दिनों से प्रदेश में कोरोना के प्रकरण बढ़ रहे हैं। ऐसे में कोरोना संबंधी सभी सावधानियाँ बरती जाये। मास्क अनिवार्य रूप से लगाया जाए, फिजिकल डिस्टेंसिंग रखी जाए, हाथ बार-बार धोएँ, सोशल डिस्टेंसिंग रखें और थोड़े भी लक्षण होने पर तुरंत जाँच कराकर इलाज लें। थोड़ी भी लापरवाही भारी पड़ सकती है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों के मजदूर मजदूरी के लिए अन्य राज्यों में न जाएँ, उन्हें मनरेगा के अंतर्गत गाँव में ही रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। आर्थिक गतिविधियाँ प्रभावित न हों, इसके लिए प्रदेश में लॉकडाउन नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलों में कोरोना की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान, अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा आदि उपस्थित थे।


मेले स्थगित

कोरोना के प्रकरण बढ़ने पर पचमढ़ी, बैतूल, छिंदवाड़ा आदि में लगने वाले मेले स्थगित कर दिए गए हैं। साथ ही यहाँ सभी प्रकार की सावधानियाँ बरतने के निर्देश दिए गए हैं।


गाँव में ही दिलवाये कार्य

बालाघाट, सिवनी, बैतूल आदि सीमावर्ती जिलों से मजदूर रोज महाराष्ट्र कार्य के लिए जाते हैं। मनरेगा में इन्हें गाँव में ही कार्य दिलाए जाने के निर्देश मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दिए।


महाराष्ट्र से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग अवश्य करें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि महाराष्ट्र से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग प्रदेश की सीमा पर अनिवार्य रूप से की जाए। कोविड निगेटिव व्यक्तियों को ही प्रदेश में प्रवेश दिया जाएगा।


प्रदेश में 2270 सक्रिय प्रकरण

प्रदेश में कोरोना के सक्रिय प्रकरणों की संख्या 2270 हो गई है। प्रदेश में कोरोना के नए 344 प्रकरण आए हैं, वहीं 223 मरीज ठीक हुए हैं। प्रदेश की पॉजिटिविटी रेट 2 प्रतिशत हो गई है।


प्रभारी अधिकारी सतर्क हो जाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि कोरोना के लिए हर जिले के लिए बनाए गए वरिष्ठ प्रभारी अधिकारी सतर्क हो जाएँ। वे अपने प्रभार के जिलों की निरंतर मॉनीटरिंग करें और कोरोना से बचाव व उपचार की व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करें।


जागरूकता फैलाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी कलेक्टर्स अपने जिलों में कोरोना से बचाव के लिए जागरूकता अभियान चलाएँ। इसके अंतर्गत "रोको-टोको" की रणनीति अपनाई जाए। प्रत्येक व्यक्ति मास्क लगाए तथा एक-दूसरे के बीच पर्याप्त दूरी का पालन करें।


क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप निर्णय लें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी कलेक्टर्स अपने जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में कोरोना नियंत्रण संबंधी निर्णय लें। किसी भी प्रकार का लॉकडाउन अथवा नाइट कर्फ्यू के संबंध में राज्य सरकार की अनुमति लेना आवश्यक है।


60 वर्ष वालों को पहले लगेगा टीका

अपर मुख्य सचिव श्री सुलेमान ने बताया कि भारत सरकार के नए निर्णय अनुसार 60 वर्ष से अधिक उम्र वालों को कोरोना वैक्सीन पहले लगायी जाएगी।


गुरू-शिष्य परम्परा के अंतर्गत छात्रवृत्ति हेतु आवेदन 28 फरवरी तक


मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद के अंतर्गत संचालित उस्ताद अलाउद्दीन खाँ संगीत एवं कला अकादमी की ओर से गुरू-शिष्य परम्परा के तहत ध्रुपद गायन का प्रशिक्षण ध्रुपद केन्द्र में दिया जायेगा।  केन्द्र में प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिये आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी, 2021 की गई है। पूर्व में आवेदन जमा करने की तिथि 31 जनवरी 2021 थी। प्रशिक्षण की अवधि चार वर्ष रहेगी। चयनित प्रतिभागी को प्रतिमाह 3 हजार रूपये बतौर छात्रवृत्ति प्रशिक्षण अवधि में दी जायेगी। आवेदक की उम्र 16 से 25 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिये। उल्लेखनीय है कि भारतीय संस्कृति में गुरु-शिष्य परम्परा प्रतिष्ठित है। इसी परम्परा के निर्वहन के उद्देश्य से यह प्रशिक्षण दिया जायेगा। अधिक जानकारी के लिये अकादमी की वेबसाइट एवं अन्य माध्यम से डाउनलोड की जा सकती है। आवेदन-पत्र की फोटो प्रतियाँ (ए-4 साइज) भी स्वीकार की जायेगी।  


अरबी, फारसी और उर्दू कक्षाओं में एक वर्षीय प्रवेश प्रारंभ, 28 फरवरी तक जमा कर सकते है प्रवेश पत्र


मध्यप्रदेश उर्दू अकादमी संस्कृति परिषद की निगरानी में चल रहे कौमी कौंसिल बराए फरोगे उर्दू जबान, भारत सरकार के पाठ्यक्रम अरबी भाषा का एक वर्षीय प्रमाण-पत्र फारसी (परशियन) कोर्स और एक वर्षीय उर्दू डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश प्रारंभ हो गये हैं। अरबी, फारसी और उर्दू भाषा सीखने के इच्छुक इस पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए आवेदन कर सकते है। प्रवेश-पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 28 फरवरी, 2021 नियत है। अरबी कोर्स में प्रवेश के लिये उर्दू की प्रारंभिक शिक्षा के अतिरिक्त उर्दू लिखने और समझने का ज्ञान भी आवश्यक है। फारसी कोर्स में प्रवेश के लिये उर्दू एवं अंग्रेजी लिखने और पढ़ने का ज्ञान आवश्यक है। उर्दू डिप्लोमा कोर्स में शैक्षणिक योग्यता की कोई शर्त नहीं है। तीनों पाठ्यक्रमों में आयु सीमा की बाध्यता नहीं है। प्रति कोर्स 200 रुपये पंजीयन शुल्क जमा होंगे। इसके अलावा अन्य कोई फीस नहीं ली जायेगी। कोर्स की किताबें नि:शुल्क मिलेंगी। प्रवेश सीमित हैं। प्रवेश-पत्र की छाया-प्रति स्वीकार नहीं की जायेगी। फार्म मध्यप्रदेश उर्दू अकादमी के कार्यालय, मुल्ला रमूजी संस्कृति भवन, बाणगंगा रोड, भोपाल में कार्यालयीन समय में प्राप्त एवं जमा किये जा सकते हैं। अन्य जानकारी के लिये अकादमी के दूरभाष क्रमांक 0755-2551691 पर कार्यालयीन समय में सम्पर्क किया जा सकता है।


"प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि" आजाद भारत में सबसे बड़ा उपहार


किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के दो वर्ष पूर्ण होने पर प्रदेश के किसानों की ओर से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि आजाद भारत में किसानों के लिये यह योजना सबसे बड़ा उपहार है। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि 24 फरवरी किसानों के लिये ऐतिहासिक एवं स्वर्णिम दिवस है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत देश के 11 करोड़ किसानों को अब तक एक लाख करोड़ रूपये की राशि वितरित की जा चुकी है। योजना के अंतर्गत किसानों के खाते में प्रतिवर्ष दो-दो हजार रूपये की तीन किश्तों में कुल छरू हजार रूपये की राशि जमा करायी जा रही है। प्रधानमंत्री श्री मोदी की किसान हितैषी योजना से प्रेरित होकर मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना शुरू की है। इसके अंतर्गत प्रदेश में अब तक 37 लाख 50 हजार से अधिक पात्र किसानों को दो-दो हजार के मान से 750 करोड़ रूपये का भुगतान ऑनलाइन किया गया है। श्री पटेल ने कहा कि लघु एवं मध्यम किसानों को संबल देने वाली यह योजना किसानों के लिये मील का पत्थर साबित होगी।


आज किसी भी व्यक्ति की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त नही हुई, वर्तमान में कोरोना एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 23


मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधीर कुमार डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटे के दौरान किसी भी व्यक्ति की जांच रिपोर्ट पॉजीटिव प्राप्त नहीं हुई है। वर्तमान में जिले में एक्टिव/पॉजिटिव की संख्या 23 है। अब तक कुल रिकवर की संख्या 2762  है। 48 संक्रमितों की उपचार के दौरान मृत्यु हुई है। आज 255 सैम्पल लिए गए है। सीहोर शहरी क्षेत्र से 40, सैम्पल लिए गए,  नसरूल्लागंज 40, आष्टा से 64, इछावर से 27, श्यामपुर से 59,  बुदनी से 25 सैम्पल लिए गए है । आज पॉजीटिव मिले नए कंटेनमेंट जोन सहित समस्त कंटेनमेंट एवं बफर जोन में स्वास्थ्य दलों द्वारा सघन स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है। वहीं पॉजीटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्येक कंटेनमेंट जोन में सर्वे के लिए एक से दो दल लगाए गए है । सर्वे दल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को बनाया गया है तथा स्वास्थ्य सर्वे दल में ए.एन.एम. आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की ड्यूटी लगाई गई है। जिले में कुल कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों की संख्या 2833 है जिसमें से 48 की मृत्यु हो चुकी है 2762 स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो गए है तथा वर्तमान में एक्टिव/पॉजीटिव की संख्या 23 है। आज 255 सैंपल जांच हेतु लिए गए। कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 74012 हैं जिनमें से 70160 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। आज 286 सेंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 948 सेंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। आज पॉजिटिव मिले नये कन्टेनमेंट झोन सहित समस्त कन्टेनमेंट एवं बफर जोन मे स्वास्थ्य दलों द्वारा स्वास्थ्य सर्वे किया जा रहा है वहीं पॉजिटिव मिले व्यक्तियों के करीबी संपर्क वाले व्यक्तियों की पहचान कर उनकी सूची तैयार की जा रही है। प्रत्ये कन्टेनमेंट जोन मे सर्वे के लिए जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-07562 226470 है एवं 1075 नंबर पर कॉल कर जानकारी ली जा सकती हैं। जिला स्तर पर मोबाइल नंबर 9425400273, 9425400453, 9479595519 पर कॉल सेंटर पर संपर्क किया जा सकता है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104 नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। होन कारोन्टाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हल्पलाईन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। होम कारान्टाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकॉलोजीकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से नि:शुल्क प्राप्त कर सकते है। 

कोई टिप्पणी नहीं: